Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

26 October 2021

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 18वें आसियान भारत सम्‍मेलन को संबोधित करेंगे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस महीने की 28 तारीख को वर्चुअल रूप से 18वें आसियान-भारत शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे। प्रधानमंत्री को ब्रुनेई के सुल्तान ने निमंत्रण दिया है। शिखर सम्मेलन में आसियान देशों के राष्ट्राध्यक्ष और शासनाध्यक्ष भाग लेंगे। 18वें आसियान-भारत शिखर सम्मेलन में आसियान और भारत की रणनीतिक साझेदारी की समीक्षा की जाएगी साथ ही कोविड-19 तथा स्वास्थ्य, व्यापार और वाणिज्य, सम्‍पर्क, शिक्षा और संस्कृति सहित प्रमुख क्षेत्रों में हुई प्रगति की समीक्षा की जाएगी। महामारी के बाद आर्थिक सुधारों सहित महत्वपूर्ण क्षेत्रीय और अंतर्राष्ट्रीय मुद्दों पर भी चर्चा होगी। आसियान-भारत शिखर सम्मेलन प्रतिवर्ष आयोजित किया जाता है, जिससे भारत को आसियान देशों से जुड़ने का अवसर मिलता हैं। प्रधानमंत्री ने पिछले वर्ष नवंबर में वर्चुअल रूप से आयोजित किए गए 17वें आसियान-भारत शिखर सम्मेलन में भी भाग लिया था। वर्ष 2022 में आसियान-भारत संबंधों के 30 वर्ष पूरे होंगे। विदेश मंत्री डॉ. एस. जयशंकर ने इस वर्ष अगस्त में आसियान देशों के विदेश मंत्रियों की बैठक और पूर्वी एशिया शिखर सम्‍मेलन- ईएएस के विदेश मंत्रियों की बैठक में भाग लिया था। वाणिज्य और उद्योग राज्यमंत्री अनुप्रिया पटेल ने पिछले महीने आसियान देशों के वित्‍त मंत्रियों के साथ परामर्श में भाग लिया था, इसमें सभी देशों ने परस्‍पर आर्थिक सहयोग सुदृढ करने की अपनी प्रतिबद्धता की पुष्टि की। प्रधानमंत्री इस महीने की 27 तारीख को होने वाले 16वें पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन में भी भाग लेंगे। पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन भारत-प्रशांत देशों का मंच है। 2005 में अपनी स्थापना के बाद से, इसने पूर्वी एशिया के रणनीतिक और भू-राजनीतिक विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। इसमें आसियान के दस सदस्य देशों के अलावा, पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन में भारत, चीन, जापान, दक्षिण कोरिया, ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, संयुक्त राज्य अमेरिका और रूस हैं। भारत, पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन का संस्थापक सदस्य है और पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन को मजबूत करने तथा समकालीन चुनौतियों से निपटने के लिए इसे और अधिक प्रभावी बनाने के लिए प्रतिबद्ध है। आसियान यानी एसोसिएशन ऑफ साउथ ईस्ट एशियन नेशन 10 अहम देशों का एक समूह है। 8 अगस्त 1967 को आसियान का गठन किया गया था। उस समय इंडोनेशिया, मलयेशिया, फिलीपींस, सिंगापुर और थाईलैंड ने इस संगठन की शुरुआत की थी। बाद में इसके सदस्य देशों में ब्रुनेई, कंबोडिया, लाओस, म्यांमार और वियतनाम को शामिल किया गया।

महान अभिनेता रजनीकांत को प्रतिष्ठित दादा साहब फाल्के पुरस्कार से नवाजा गया

उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने नई दिल्‍ली में विशेष समारोह में 67वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार प्रदान किये। प्रख्‍यात अभिनेता सुपर स्टार रजनीकांत को भारतीय सिनेमा में उनके उत्कृष्ट योगदान के लिए प्रतिष्ठित दादा साहब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया गया। प्रियदर्शन के निर्देशन में बनी मलयालम फिल्म 'मरक्कर अरबीकादिलिंते सिंघम' को सर्वश्रेष्ठ फीचर फिल्म का तथा संजय पूरन सिंह चौहान को हिंदी फिल्म 'बहत्तर हुरैन' के लिए सर्वश्रेष्ठ निर्देशन का पुरस्कार दिया गया। अभिनेता मनोज बाजपेयी को हिंदी फिल्म 'भोंसले' के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का पुरस्कार और धनुष को तमिल फिल्म 'असुरन' के लिए पुरस्कार दिया गया। कंगना रनौत को उनकी फिल्म 'मणिकर्णिका-द क्वीन ऑफ झांसी' और 'पंगा' के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का पुरस्‍कार मिला। तमिल फिल्म 'सुपर डीलक्स' के लिए विजया सेतुपति को सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता और पल्लवी जोशी को हिंदी फिल्म 'द ताशकंद फाइल्स' के लिए सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री का पुरस्कार दिया गया। बी. प्राक को हिंदी फिल्म 'केसरी' के गाने "तेरी मिट्टी" के लिए सर्वश्रेष्ठ पुरुष पार्श्वगायक का पुरस्कार मिलेगा। सावनी रवींद्र को मराठी फिल्म 'बार्डो' के गीत "रण पेटला" के लिए सर्वश्रेष्ठ महिला पार्श्व गायिका का पुरस्कार दिया गया। डी. इम्मान को तमिल फिल्म 'विश्वसम' में उनके गीतों के लिए सर्वश्रेष्ठ संगीत निर्देशन का पुरस्कार प्रदान किया गया। प्रबुद्ध बनर्जी को बांग्ला फिल्म 'ज्येष्ठपुत्र' में पार्श्व संगीत के लिए पुरस्कार मिला। मलयालम फिल्म 'कोलांबी' के लिए सर्वश्रेष्ठ गीतकार का पुरस्कार प्रभा वर्मा को दिया गया। तेलुगु फिल्म 'महर्षि' के लिए राजू सुंदरम को सर्वश्रेष्ठ कोरियोग्राफी का पुरस्कार मिला। सिक्किम को सर्वाधिक फिल्म अनुकूल राज्य का पुरस्कार मिलेगा। सर्वश्रेष्ठ गैर फीचर फिल्म का पुरस्कार हेमंत गाबा की फिल्म 'एन इंजीनियर्ड ड्रीम' को दिया गया। सर्वश्रेष्ठ फिल्म समीक्षक का पुरस्कार सोहिनी चट्टोपाध्याय को दिया गया। गैर-फीचर फिल्म श्रेणी में सर्वश्रेष्ठ एनिमेशन फिल्म 'राधा' को दिया गया। सर्वश्रेष्ठ कला और संस्कृति फिल्म का पुरस्कार उड़िया गैर-फीचर फिल्म 'श्रीक्षेत्र रु सहिजाता' को दिया गया। गैर-फीचर फिल्मों के लिए सर्वश्रेष्ठ कथन का पुरस्कार सर डेविड एटनबरो द्वारा 'वाइल्ड कर्नाटक' (अंग्रेजी) को दिया गया। गैर-फीचर फिल्मों में सर्वश्रेष्ठ संगीत निर्देशन का पुरस्कार बिशाखज्योति द्वारा 'क्रांति दर्शी गुरुजी- अहेड ऑफ टाइम्स' (हिंदी) को दिया गया। सिनेमा पर सर्वश्रेष्ठ पुस्तक का पुरस्कार संजय सूरी द्वारा लिखित 'ए गांधीयन अफेयर: इंडियाज क्यूरियस पोर्ट्रेट ऑफ लव इन सिनेमा' को दिया गया।

सरकार ने, टाटा संस के एयर इंडिया में निवेश के लिए शेयर खरीद समझौते पर हस्‍ताक्षर कर दिए

सरकार ने टाटा संस के एयर इंडिया में निवेश के लिए शेयर खरीद समझौते पर हस्‍ताक्षर कर दिए हैं। इस महीने की 11 तारीख को टाटा संस के एयर इंडिया में विनिवेश हस्‍तांतरण की सफल बोली के सम्‍बंध में पत्र जारी किया गया था। एयर इंडिया विनिवेश के लिए मेसर्स टाटा संस की ओर से मेसर्स टेलेक प्राइवेट लिमिटेड की सफल बोली को सरकार ने इस महीने की आठ तारीख को 18 हजार करोड़ रुपए मूल्‍य की निविदा के लिए मंजूरी दे दी थी।

प्रधानमंत्री ने वाराणसी में प्रधानमंत्री आयुष्‍मान भारत बुनियादी ढांचा मिशन का शुभारंभ किया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वाराणसी में महत्‍वाकांक्षी प्रधानमंत्री आयुष्‍मान भारत बुनियादी ढांचा मिशन का शुभारंभ किया। इस परियोजना की कुल लागत 64 हजार एक सौ 80 करोड रुपये है। परियोजना की शुरूआत करने के बाद वाराणसी के मेहंदीगंज में एक जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री आयुष्‍मान भारत बुनियादी ढांचा मिशन का उद्देश्‍य अगले चार-पांच वर्षों में गांवों से ब्‍लॉक, जिले से क्षेत्रीय और राष्‍ट्रीय स्‍तर तक महत्‍वपूर्ण स्‍वास्‍थ्‍य नेटवर्क को मजबूत करना है। उन्‍होंने कहा कि इस मिशन के तहत गांवों और शहरों में स्‍वास्‍थ्‍य तथा अरोग्‍य केंद्र खोले जाएंगे तथा इन केंद्रों में मुफ्त चिकित्‍सा परामर्श, जांच और दवा जैसी सुविधाएं उपलब्‍ध होंगी। श्री मोदी ने कहा कि गंभीर बिमारियों के लिए छह सौ जिलों में 30 हजार नए क्रिटिकल केयर से संबंधित बिस्‍तर जोडे जा रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि देश के सात सौ 30 जिलों को एकीकृत जन-स्‍वास्‍थ्‍य प्रयोगशाला और तीन हजार प्रखंडों में प्रखंड स्‍तर पर जन-स्‍वास्‍थ्‍य इकाइयां खोली जाएंगी। इस अवसर पर राज्‍यपाल आनंदीबेन पटेल, मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ तथा केंद्रीय और स्‍वास्‍थ्‍य परिवार कल्‍याण मंत्री मनसुख मांडविया भी उपस्थित थे।

केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने महात्मा गांधी राष्ट्रीय फैलोशिप के दूसरे चरण की शुरूआत की

केंद्रीय कौशल विकास और उद्यमिता मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने महात्मा गांधी राष्ट्रीय फैलोशिप के दूसरे चरण का शुभारंभ किया। इससे युवा और प्रतिभाशाली लोगों में कौशल विकास के लिए बुनियादी स्‍तर पर योगदान करने के अवसर मिल सकेंगे। दो वर्ष की इस फेलोशिप में भागीदार के रूप में भारतीय प्रबंधन संस्थान, कक्षा सत्रों के अलावा ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार, आर्थिक उत्पादन बढ़ाने और आजीविका को प्रोत्‍साहित करने में बाधाओं की पहचान करेगा।

अबुधाबी वार्ता के छठे मंत्रिस्‍तरीय परामर्श में भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्‍व विदेश राज्‍यमंत्री वी. मुरलीधरन करेंगे

विदेश राज्‍यमंत्री वी मुरलीधरन दुबई में से शुरू हो रहे अबुधाबी वार्ता के दो दिवसीय छठे मंत्रिस्‍तरीय परामर्श में भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्‍व करेंगे। अबुधाबी वार्ता एशियाई देशों के श्रमिक स्रोत और उनके गंतव्य के बीच एक क्षेत्रीय, स्वैच्छिक तथा बंधन रहित परामर्श प्रक्रिया है। संविदात्‍मक श्रमि‍क आवागमन, उत्‍कृष्‍ट अनुभवों को साझा करने तथा एक दूसरे के अनुभव से सीखने में क्षेत्रीय सहयोग देने की सुविधा के लिए एक मंच के रूप में कार्य करता है। यात्रा के दौरान, विदेश राज्‍यमंत्री अन्य मंत्रियों के साथ द्विपक्षीय बैठकें करेंगे। वह दुबई एक्सपो 2020 भी जाएंगे।

स्वदेशी विमानवाहक पोत ‘विक्रांत’ का दूसरा समुद्री परीक्षण किया जाएगा

भारत के पहले स्वदेशी विमानवाहक पोत ‘विक्रांत’ का जल्द ही भारतीय नौसेना द्वारा दूसरा समुद्री परीक्षण किया जाएगा। यह दूसरा परीक्षण कोच्चि में आयोजित किया जाएगा। भारत में निर्मित सबसे बड़े और सबसे जटिल विमानवाहक पोत ने इसी वर्ष अगस्त में पाँच दिवसीय पहला समुद्री परीक्षण सफलतापूर्वक पूरा किया था। इस विमानवाहक पोत का वज़न लगभग 40,000 टन है। इस युद्धपोत का निर्माण लगभग 23,000 करोड़ रुपए की लागत से किया गया है और इसने भारत को उन चुनिंदा देशों के समूह में शामिल कर दिया है जिनके पास अत्याधुनिक विमान वाहक के निर्माण की क्षमता है। इस युद्धपोत पर मिग-29K लड़ाकू जेट, कामोव-31 हेलीकॉप्टर, एमएच-60R मल्टीरोल हेलीकॉप्टर को तैनात किया जाएगा। इसमें 2,300 से अधिक कम्पार्टमेंट्स हैं, जिन्हें लगभग 1,700 लोगों के दल के लिये डिज़ाइन किया गया है, इसमें महिला अधिकारियों हेतु विशेष केबिन भी बनाए गए हैं। भारत के पास वर्तमान में केवल एक ही विमानवाहक पोत है- आईएनएस विक्रमादित्य

बांग्लादेश के नौसेनाध्यक्ष एडमिरल एम. शाहीन इक़बाल भारत की सात दिन की यात्रा पर हैं

बांग्लादेश की नौसेना के अध्यक्ष एडमिरल एम शाहीन इकबाल भारत की सात दिन की आधिकारिक यात्रा पर हैं। 23 अक्तूबर से शुरू हुई उनकी यात्रा 29 अक्तूबर तक रहेगी। वे भारत के नौसेना प्रमुख तथा चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ सहित अन्य उच्च अधिकारियों के साथ विचार-विमर्श करेंगे। इस दौरान अंतरराष्ट्रीय समुद्री सीमा रेखा के साथ समन्वित गश्त, द्विपक्षीय अभ्यास नौसैनिक प्रशिक्षण के संचालन और दोनों देशों के प्रतिनिधिमंडलों एक दूसरे देशों में यात्रा जैसे संयुक्त प्रयासों से संबंधित मुद्दों पर विचार किया जाएगा। इस वर्ष 1971 के बांग्लादेश मुक्ति संग्राम में भारत और बांग्लादेश संयुक्त रूप से विजय का स्वर्ण जयंती समारोह मना रहे हैं और कई संयुक्त गतिविधियों का आयोजन किया गया है जिसमें दोनों नौसेनाओं के एक-दूसरे के जहाजों के निरीक्षण और बांग्लादेश सशस्त्र बलों की टुकड़ी द्वारा नई दिल्ली में गणतंत्र दिवस परेड 2021 में भाग लेना भी शामिल हैं।

सरकार ने निपुण भारत मिशन के कार्यान्वयन के लिए राष्ट्रीय संचालन समिति की स्थापना की

स्कूल शिक्षा और साक्षरता विभाग ने 5 जुलाई 2021 को बेहतर समझ तथा संख्यात्मक ज्ञान के साथ शिक्षा में प्रवीणता के लिये राष्ट्रीय पहल- निपुण भारत मिशन शुरू किया था, जिसका उद्देश्य ग्रेड 3 तक हर बच्चे के लिए मूलभूत साक्षरता और संख्यात्मकता में सार्वभौमिक दक्षता के लक्ष्य को प्राप्त करना है, जैसा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 में परिकल्पित किया गया है। दिशा-निर्देशों में निर्धारित मानदंड के अनुसार निपुण भारत मिशन के कार्यान्वयन के लिए एक राष्ट्रीय संचालन समिति (एनएससी) का गठन 25 अक्टूबर 2021 को केंद्रीय शिक्षा मंत्री श्री धर्मेंद्र प्रधान की अध्यक्षता और शिक्षा राज्य मंत्री श्रीमती अन्नपूर्णा देवी की सह-अध्यक्षता में किया गया है।
निपुण भारत मिशन के लिए एनएससी की भूमिकाएं और जिम्मेदारियां निम्नलिखित हैं:

  1. मूलभूत साक्षरता और संख्यात्मकता पर राष्ट्रीय मिशन की प्रगति की निगरानी करना और नीतिगत मुद्दों पर मार्गदर्शन प्रदान करना।
  2. 2026-27 में राष्ट्रीय स्तर पर हासिल किए जाने वाले लक्ष्य पर पहुंचने के लिए कार्य करना।
  3. दिशा-निर्देशों के अनुरूप कार्यक्रम में वार्षिक प्रगति के मापन के लिए उपकरणों का प्रसार करना।
  4. प्रत्येक राज्य/केंद्र शासित प्रदेश के लिए केआरए के साथ एक राष्ट्रीय कार्य योजना (राज्य की कार्य योजनाओं के आधार पर) तैयार करना और अनुमोदन करना, अंतराल के लिए जिम्मेदार कारकों (यानी फंड की कमी, रिक्तियों, शिक्षकों, जनसांख्यिकी, स्थानीय मुद्दों, शिक्षकों के लिए प्रशिक्षण आवश्यकता, पाठ्यचर्या और शिक्षाशास्त्र संबंधी कार्य) को देखना।
  5. कार्यक्रम संबंधी और वित्तीय मानदंडों की समय-समय पर समीक्षा करना ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि वे हासिल किए जाने वाले लक्ष्यों के साथ तालमेल बिठा रहे हैं।
  6. प्रगति का विश्लेषण करने और राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों को फीडबैक प्रदान करने के लिए मूल्यांकन की पद्धति विकसित करना।

अमेरिका ने हाइपरसोनिक मिसाइल प्रौद्योगिकी का सफल परीक्षण किया

अमेरिका ने 20 अक्टूबर, 2021 को हाइपरसोनिक मिसाइल तकनीक का सफलतापूर्वक परीक्षण किया है। हाइपरसोनिक मिसाइल प्रौद्योगिकी एक नई हथियार प्रणाली है जिसे पहले से ही रूस और चीन द्वारा तैनात किया जा रहा है। यह परीक्षण वर्जीनिया के वॉलॉप्स में नासा की फैसिलिटी में आयोजित किया गया था। यह नौसेना द्वारा डिज़ाइन की गई सामान्य हाइपरसोनिक मिसाइल के विकास में एक महत्वपूर्ण कदम है। पारंपरिक बैलिस्टिक मिसाइल जैसी हाइपरसोनिक मिसाइलें ध्वनि की गति से पांच गुना यानी मैक 5 की गति से उड़ सकती हैं। चीन ने अगस्त, 2021 में परमाणु क्षमता वाली हाइपरसोनिक मिसाइल का परीक्षण किया था। चीन की हाइपरसोनिक मिसाइल ने लैंडिंग से पहले पृथ्वी का एक चक्कर पूरा किया। हालांकि, यह अपने लक्ष्य से चूक गयी थी।

हरियाणा ने मुफ्त शिक्षा योजना की घोषणा की

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने राज्य में शिक्षा के स्तर को बढ़ावा देने के लिए राज्य में मुफ्त शिक्षा योजना की घोषणा की। यह योजना उन लोगों के लिए घोषित की गई है जिनकी पारिवारिक आय 1.80 लाख रुपये प्रति वर्ष से कम है। यह घोषणा मुख्यमंत्री द्वारा की गई थी, जब वह पंचकूला में आयोजित एक सम्मान कार्यक्रम के दौरान सिविल सेवा परीक्षा-2020 और JEE एडवांस परीक्षा-2021 को पास करने वाले छात्रों के साथ बातचीत कर रहे थे। हरियाणा के ‘सुपर 100 कार्यक्रम’ के तहत घोषणा की गई। इस योजना के माध्यम से, राज्य सरकार यह सुनिश्चित करना चाहती है कि गरीब परिवार से संबंधित कोई भी प्रतिभाशाली छात्र अपने सपनों को पूरा करने का मौका न खोए।

कोविड के कारण भारत में जीवन प्रत्याशा में 2 साल की गिरावट आई : अध्ययन

इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट फॉर पॉपुलेशन स्टडीज (IIPS) के वैज्ञानिकों के अनुसार, कोविड-19 महामारी ने दुनिया भर के लोगों के जीवन को प्रभावित किया है। वैज्ञानिकों के अनुसार, भारत में, कोविड-19 महामारी के कारण जीवन प्रत्याशा (life expectancy) में लगभग दो वर्षों की गिरावट आई है। यह रिपोर्ट पुरुषों के साथ-साथ महिलाओं में जन्म के समय जीवन प्रत्याशा में गिरावट को दर्शाती है। वर्ष 2019 में, जन्म के समय जीवन प्रत्याशा पुरुषों के लिए 69.5 वर्ष जबकि महिलाओं के लिए 72 वर्ष थी। वर्ष 2020 में पुरुषों के लिए इसे घटाकर 67.5 वर्ष और महिलाओं के लिए 69.8 वर्ष कर दिया गया है। इस अध्ययन के अनुसार, कोविड-19 के कारण सबसे ज्यादा 39-69 आयु वर्ग के लोगों की मृत्यु हुई है। वर्ष 2020 में, 35-79 आयु वर्ग में सामान्य वर्ष की तुलना में कोविड-19 के कारण अधिक मौतें देखी गईं। जन्म के समय जीवन प्रत्याशा की गणना एक नवजात बच्चे के अनुमानित जीवन के वर्षों की औसत संख्या के आधार पर की जाती है।

गोवा ने ODF और हर घर में बिजली प्रदान करने का लक्ष्य हासिल किया

सूचना और प्रसारण मंत्री, अनुराग ठाकुर (Anurag Thakur) ने हाल ही में गोवा को बधाई दी क्योंकि गोवा ने ODF और हर घर के लिए बिजली प्रदान करने का लक्ष्य हासिल किया। गोवा “हर घर जल मिशन” के तहत हर घर को नल का पानी उपलब्ध कराने वाला पहला राज्य भी बन गया है। इसके अलावा, गोवा ने गरीबों और जरूरतमंदों को मुफ्त राशन उपलब्ध कराने का 100% लक्ष्य हासिल किया। इसने सभी योग्य लोगों को कोविड-19 टीकाकरण की पहली खुराक भी दे दी है। मूल ODF प्रोटोकॉल वर्ष 2016 में जारी किया गया था। इसके अनुसार, एक शहर या वार्ड को ODF शहर या वार्ड के रूप में अधिसूचित किया जाता है यदि दिन के किसी भी समय एक भी व्यक्ति खुले में शौच नहीं करता है। स्वच्छ भारत मिशन के तहत ओडीएफ टैग प्रदान किया गया है।

सऊदी ग्रीन इनिशिएटिव फोरम

क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान ने 23 अक्टूबर, 2021 को “सऊदी ग्रीन इनिशिएटिव फोरम” शुरू किया। इस फोरम को सऊदी अरब के नए “हरित” उद्देश्यों की घोषणा के साथ रियाद में लॉन्च किया गया। यह फोरम अंतर्राष्ट्रीय हस्तियों और हाई-प्रोफाइल सरकारी नेताओं के साथ सऊदी अरब द्वारा किए गए पर्यावरणीय प्रयासों पर चर्चा करेगा। इस मंच में, सऊदी अरब ने पर्यावरण की रक्षा और जलवायु परिवर्तन का सामना करने के लिए सऊदी अरब के रोडमैप की भी घोषणा की। क्राउन प्रिंस ने सऊदी अरब के ग्लोबल मीथेन प्लेज (Global Methane Pledge) में शामिल होने की भी घोषणा की। यह प्रतिज्ञा दुनिया भर में मीथेन उत्सर्जन को 30% तक कम करने के उद्देश्य से शुरू की गई थी। उन्होंने सऊदी अरब के ग्लोबल ओशन एलायंस, स्पोर्ट्स फॉर क्लाइमेट एक्शन एग्रीमेंट, एलायंस टू एलिमिनेट प्लास्टिक वेस्ट इन ओशन्स एंड बीच्स के साथ-साथ सस्टेनेबल टूरिज्म के लिए एक वैश्विक केंद्र स्थापित करने के इरादे की भी घोषणा की।

RBI ने AIFI के लिए न्यूनतम 11.5% पूंजी का प्रस्ताव रखा

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने चार अखिल भारतीय वित्तीय संस्थानों (All India Financial Institutions – AIFI) के लिए न्यूनतम 11.5% पूंजी का प्रस्ताव रखा। तनाव की अवधि में AIFI के लचीलेपन को बढ़ाने के लिए बेसल III ढांचे के अनुसार यह न्यूनतम पूंजी प्रस्तावित की गई थी। वित्तीय वर्ष 2022 से राष्ट्रीय आवास बैंक, एक्ज़िम बैंक, भारतीय लघु उद्योग विकास बैंक और राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक पर सख्त पूंजी मानदंड लागू होंगे। RBI के अनुसार, इन संस्थानों के पास 1 अप्रैल, 2022 से न्यूनतम कुल पूंजी 9% और न्यूनतम पूंजी बफर 2.5% होनी चाहिए। इन संस्थानों की न्यूनतम सामान्य इक्विटी टियर 1 (CET1) पूंजी 5.5% होगी, दूसरी ओर न्यूनतम टियर 1 पूंजी आवश्यकता 7% प्रस्तावित की गई है। इन संस्थाओं को बाजार जोखिम और ऋण जोखिम के लिए पूंजी प्रभार के मापन के लिए मानकीकृत दृष्टिकोण अपनाने की आवश्यकता है। RBI ने सख्त पूंजी मानदंड प्रस्तावित किए क्योंकि जैसे-जैसे भारतीय अर्थव्यवस्था बढ़ रही है, AIFI को उन आर्थिक क्षेत्रों में प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष ऋण के प्रवाह को बढ़ावा देने के लिए एक प्रमुख संस्थान के रूप में माना जा रहा है, जिन्हें वे सेवाएं प्रदान करते हैं। इस प्रकार, AIFI को बेसल III पूंजी ढांचा प्रस्तावित किया गया है।

चीन का नया शिक्षा कानून

चीन ने अपना नया शिक्षा कानून 23 अक्टूबर, 2021 को मुख्य विषयों में होमवर्क और ऑफ-साइट ट्यूटरिंग के “दोहरे दबाव” को कम करने के उद्देश्य से पारित किया। नए कानून ने स्थानीय सरकारों को यह सुनिश्चित करने के लिए जिम्मेदार बनाया है कि बच्चों पर दोहरा दबाव कम हो। यह कानून माता-पिता से दबाव कम करने और इंटरनेट के अत्याधिक उपयोग से बचने के लिए उचित आराम और व्यायाम के लिए अपने बच्चों के लिए समय की व्यवस्था करने के लिए भी कहता है। इस नए कानून ने होमवर्क पर भी कटौती की और सप्ताहांत और छुट्टियों पर कुछ प्रमुख विषयों के लिए स्कूल के बाद ट्यूशन पर प्रतिबंध लगा दिया। हाल के महीनों में, चीन के शिक्षा मंत्रालय ने नाबालिगों के लिए गेमिंग के घंटे सीमित कर दिए हैं। यह उन्हें शुक्रवार, शनिवार और रविवार जैसे दिनों में केवल एक घंटे के लिए ऑनलाइन खेलने की अनुमति देता है।

नूरी : दक्षिण कोरिया का पहला स्वदेशी अंतरिक्ष रॉकेट

दक्षिण कोरिया ने अपना पहला अंतरिक्ष रॉकेट लॉन्च किया। यह दक्षिण कोरिया में पूरी तरह से विकसित और निर्मित पहला रॉकेट है। हालांकि, यह एक परीक्षण उपग्रह को कक्षा में सफलतापूर्वक तैनात करने में विफल रहा। इस रॉकेट को “नूरी” कहा जाता है। यह 47 मीटर का रॉकेट है। इस रॉकेट को दक्षिण कोरिया के नारो स्पेस सेंटर से लॉन्च किया गया था। यह अंतरिक्ष केंद्र दक्षिण कोरिया के दक्षिणी तट पर एक छोटे से द्वीप पर स्थित है। नूरी दक्षिण कोरिया का पहला अंतरिक्ष प्रक्षेपण यान है, जिसे पूरी तरह से दक्षिण कोरियाई तकनीक का उपयोग करके विकसित और निर्मित किया गया था। यह तीन चरणों वाला रॉकेट है और इसके पहले और दूसरे चरण पांच रॉकेट इंजनों द्वारा संचालित है। रॉकेट के अंतिम चरण में एक अन्य इंजन का उपयोग किया जाता है। इस रॉकेट को पृथ्वी से 600 से 800 किलोमीटर के बीच की कक्षा में लगभग 1.5 टन के पेलोड को ले जाने के लिए डिज़ाइन किया गया है।

DAY-NRLM के तहत 152 सक्षम केन्द्रों का उद्घाटन किया गया

ग्रामीण विकास मंत्रालय ने दीनदयाल अंत्योदय योजना-राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (DAY-NRLM) के तहत 152 सक्षम केंद्रों को लांच किया। इन केंद्रों को आजादी का अमृत महोत्सव के एक भाग के रूप में लॉन्च किया गया है। 4 से 8 अक्टूबर, 2021 के दौरान 13 राज्यों के 77 जिलों में लगभग 152 वित्तीय साक्षरता और सेवा वितरण केंद्र (या सक्षम केंद्र) शुरू किए गए। ये केंद्र ग्रामीण क्षेत्रों में स्वयं सहायता समूह (SHG) परिवारों की बुनियादी वित्तीय जरूरतों के लिए वन स्टॉप सॉल्यूशन या सिंगल विंडो सिस्टम के रूप में कार्य करेंगे। इन केंद्रों को वित्तीय साक्षरता प्रदान करने और क्रेडिट, बचत, पेंशन, बीमा इत्यादि जैसी वित्तीय सेवाओं के वितरण को सुविधाजनक बनाने के उद्देश्य से लॉन्च किया गया था। ये सुविधाएं स्वयं सहायता समूह सदस्यों और ग्रामीण गरीबों को प्रदान की जाएंगी। इन केंद्रों का प्रबंधन “क्लस्टर लेवल फेडरेशन (CLFs)” के स्तर पर स्वयं सहायता समूह नेटवर्क द्वारा किया जाएगा। प्रशिक्षित सामुदायिक संसाधन व्यक्ति (Community Resource Persons – CRPs) भी केंद्रों को बनाए रखने में मदद करेंगे।

एडिडास ने दीपिका पादुकोण को बनाया ग्लोबल ब्रांड एंबेसडर

जर्मन स्पोर्ट्सवियर ब्रांड एडिडास ने बॉलीवुड अभिनेत्री दीपिका पादुकोण को महिला खेलों के लिए वैश्विक एंबेसडर बनाया है। वह विश्व स्तर पर एडिडास महिलाओं का प्रतिनिधित्व करेंगी। वह भारत में एडिडास की महिला ब्रांड एंबेसडर की कुलीन सूची में शामिल हो गई, जिसमें मीराबाई चानू, मुक्केबाज लवलीना बोरगोहेन, निकहत जरीनसिमरनजीत कौर; धावक हिमा दास, और स्क्वैश खिलाड़ी दीपिका पल्लीकल भी शामिल हैं।

विश्व पोलियो दिवस: 24 अक्टूबर

पोलियो टीकाकरण और पोलियो उन्मूलन के लिए जागरूकता बढ़ाने के लिए प्रतिवर्ष 24 अक्टूबर को विश्व पोलियो दिवस (World Polio Day) मनाया जाता है। रोटरी इंटरनेशनल द्वारा इस दिवस की स्थापना जोनास सॉल्क (Jonas Salk) के जन्म के उपलक्ष्य में की गई थी, जिन्होंने पोलियोमेलाइटिस (poliomyelitis) के खिलाफ एक टीका विकसित करने वाली पहली टीम का नेतृत्व किया था। विश्व पोलियो दिवस के लिए 2021 की थीम Delivering on a Promise है। पोलियो एक अपंग और संभावित घातक संक्रामक रोग है। इसका कोई इलाज नहीं है, लेकिन सुरक्षित और प्रभावी टीके हैं। टीकाकरण द्वारा पोलियो से बचा जा सकता है। पोलियो का टीका, कई बार दिया जाता है, लगभग हमेशा एक बच्चे को जीवन भर बचाता है।

विश्व विकास सूचना दिवस: 24 अक्टूबर

संयुक्त राष्ट्र का विश्व विकास सूचना दिवस हर साल 24 अक्टूबर को आयोजित किया जाता है। इस दिन का उद्देश्य विकास की समस्याओं के लिए विश्व जनमत का ध्यान आकर्षित करना है और समग्र विकास और विकास के लिए उन्हें हल करने के लिए अंतर्राष्ट्रीय सहयोग को मजबूत बनाना है। विश्व विकास सूचना दिवस की स्थापना संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा 1972 में संयुक्त राष्ट्र दिवस के अवसर पर की गई थी। संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 1972 में विकास समस्याओं के लिए दुनिया का ध्यान आकर्षित करने और उन्हें हल करने के लिए अंतर्राष्ट्रीय सहयोग को मजबूत करने की जरुरत के लिए विश्व विकास सूचना दिवस की शुरुआत की थी। असेंबली ने फैसला किया कि दिन की तारीख संयुक्त राष्ट्र दिवस, 24 अक्टूबर के साथ मेल खाना चाहिए, जो 1970 में दूसरे संयुक्त राष्ट्र विकास दशक के लिए अंतर्राष्ट्रीय विकास रणनीति को अपनाने की तारीख भी है ।

अंतर्राष्ट्रीय राजनयिक दिवस: 24 अक्टूबर

अंतर्राष्ट्रीय राजनयिक दिवस (International Day of Diplomats) हर साल 24 अक्टूबर को मनाया जाता है। इस दिन का उद्देश्य प्राचीन काल से दुनिया को आकार देने और हमारे ग्रह को एक बेहतर स्थान बनाने में राजनयिकों द्वारा किए गए योगदान को याद करना है। इसका उद्देश्य आम जनता के बीच राजनयिकों के जीवन की धारणा और वास्तविकता में अंतर को मिटाना है। 24 अक्टूबर 2017 को ब्रासीलिया (Brasília) में राजनयिकों का पहला अंतर्राष्ट्रीय दिवस मनाया गया। यह दिन भारतीय कवि-राजनयिक अभय के (Abhay K) द्वारा प्रस्तावित किया गया था और इसमें बांग्लादेश, फ्रांस, घाना, इज़राइल, इटली, मैक्सिको, दक्षिण अफ्रीका और तुर्की के राजनयिकों ने भाग लिया था।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2021 RajasthanGyan All Rights Reserved.