Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

25 November 2021

आईएनएस ‘वेला’ नौसेना में कमीशन

स्वदेशी रूप से निर्मित स्कॉर्पीन श्रेणी की पनडुब्बी ‘वेला’ को हाल ही में आधिकारिक तौर पर नौसेना में कमीशन कर लिया गया है। इस पनडुब्बी का निर्माण ‘मैसर्स नेवल ग्रुप’ (फ्राँस) के सहयोग से ‘मझगाँव डॉक शिपबिल्डर्स लिमिटेड’ (मुंबई) द्वारा किया गया है। ‘मझगाँव डॉक लिमिटेड’ शिपयार्ड रक्षा मंत्रालय के तहत एक सार्वजनिक क्षेत्र का उपक्रम है। ध्यातव्य है भारतीय नौसेना के कार्यक्रम ‘प्रोजेक्ट-75’ के तहत छह ‘स्कॉर्पीन श्रेणी’ की ‘अटैक सबमरीन’ का निर्माण किया जाना है। कलवरी, खंदेरी और करंज के बाद आईएनएस वेला इस शृंखला की चौथी पनडुब्बी है। इसके निर्माण के विभिन्न चरणों के दौरान रक्षा उत्पादन विभाग (रक्षा मंत्रालय) और भारतीय नौसेना द्वारा समर्थन प्रदान करना है। मई 2019 में लॉन्च की गई सबमरीन ‘वेला’ ने कोविड-प्रेरित प्रतिबंधों के बावजूद हथियार और सेंसर परीक्षणों सहित सभी प्रमुख बंदरगाह एवं समुद्री परीक्षणों को पूरा कर लिया है। ‘प्रोजेक्ट-75’ के तहत शामिल स्कॉर्पीन श्रेणी की पनडुब्बियाँ ‘डीज़ल-इलेक्ट्रिक प्रोपल्शन सिस्टम’ द्वारा संचालित होती हैं। स्कॉर्पीन सर्वाधिक परिष्कृत पनडुब्बियों में से एक है, जो एंटी-सरफेस शिप वॉरफेयर, पनडुब्बी-रोधी युद्ध, खुफिया जानकारी एकत्र करने और क्षेत्र विशिष्ट निगरानी जैसे मिशनों को पूरा करने में सक्षम है।

37वाँ भारत-इंडोनेशिया कॉर्पेट

भारतीय नौसेना और इंडोनेशियाई नौसेना के बीच भारत-इंडोनेशिया समन्वित गश्ती (इंडो-इंडोनेशिया कॉर्पेट) का 37वाँ संस्करण आयोजित किया जा रहा है। इस अभ्यास में दोनों राष्ट्रों के समुद्री गश्ती विमान हिस्सा लेंगे। यह दोनों देशों की नौसेनाओं के बीच आपसी विश्वास, तालमेल और सहयोग को रेखांकित करता है। समुद्री संपर्कों को सुदृढ़ करने हेतु दोनों नौसेनाएँ वर्ष 2002 से वर्ष में दो बार अपनी अंतर्राष्ट्रीय समुद्री सीमा रेखा के साथ ‘कॉर्पेट’ अभ्यास का संचालन कर रही हैं। इस अभ्यास का उद्देश्य हिंद महासागर क्षेत्र को वाणिज्यिक नौवहन, अंतर्राष्ट्रीय व्यापार और वैध समुद्री गतिविधियों के संचालन के लिये सुरक्षित करना है। ‘कॉर्पेट’ अभ्यास नौसेनाओं के बीच समन्वय एवं अंतःक्रियाशीलता के निर्माण में मदद करता है और मछली पकड़ने की अवैध व अनियंत्रित गतिविधियों की रोकथाम तथा दमन, मादक पदार्थों की तस्करी, समुद्री डकैती की रोकथाम हेतु सूचनाओं के आदान-प्रदान, अवैध प्रवासन तथा समुद्र में खोज एवं बचाव कार्यों हेतु महत्त्वपूर्ण है।

त्रिपक्षीय अभ्यास 'दोस्ती': भारत-मालदीव-श्रीलंका

भारत, मालदीव और श्रीलंका के बीच द्विवार्षिक त्रिपक्षीय तटरक्षक अभ्यास 'दोस्ती' के 15वें संस्करण का आयोजन मालदीव में किया गया। इस अभ्यास ने वर्ष 2021 में 30 वर्ष पूरे कर लिये हैं। अभ्यास 'दोस्ती' को वर्ष 1991 में भारत और मालदीव के तटरक्षकों के बीच शुरू किया गया था। श्रीलंका पहली बार वर्ष 2012 में इस अभ्यास में शामिल हुआ था। पिछले दस वर्षों में आयोजित अभ्यासों ने समुद्री दुर्घटनाओं की स्थिति में सहायता प्रदान करने, समुद्री प्रदूषण को समाप्त करने और तेल रिसाव जैसी स्थितियों के दौरान तटरक्षक की प्रक्रिया पर ध्यान केंद्रित किया है। इस अभ्यास (2021) के लिये भारतीय तटरक्षक पोत वज्र और अपूर्वा (Vajra and Apoorva) को तैनात किया गया है। भारत-मालदीव-श्रीलंका त्रिपक्षीय अभ्यास ‘दोस्ती’ का उद्देश्य संबंधों को मज़बूत करना, आपसी सहयोग व क्षमता बढ़ाना तथा भारत, मालदीव और श्रीलंका के तटरक्षकों के बीच सहयोग स्थापित करना है।

एक्रॉस योजना को जारी रखने की मंज़ूरी

आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने पांँच वर्ष (2021-2026) के अगले वित्त (15वें) चक्र के लिये अपनी आठ उप-योजनाओं के साथ-साथ ‘एटमॉस्‍फेयर एंड क्‍लाइमेट रिसर्च-मॉडलिंग आब्ज़र्विंग सिस्‍टम्‍स एंड सर्विसेज़’ (Atmosphere & Climate Research-Modelling Observing Systems & Services- ACROSS) योजना को जारी रखने की मंज़ूरी दे दी है। एक्रॉस योजना, पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय (एमओईएस) के वायुमंडलीय विज्ञान कार्यक्रमों से संबंधित है और यह मौसम एवं जलवायु से जुड़ी सेवाओं के विभिन्न पहलुओं पर ध्यान केंद्रित करती है। इनमें से प्रत्येक पहलू को ‘एक्रॉस’(ACROSS) की समग्र योजना के तहत आठ उप-योजनाओं के रूप में शामिल किया गया है, निम्नलिखित आठ योजनाओं के माध्यम से उपर्यक्त कार्यों को पूरा करने के लिये प्रत्येक संस्थान की एक निर्दिष्ट भूमिका है।

  1. पोलारिमेट्रिक डॉप्लर वेदर रडार- DWRs
  2. पूर्वानुमान प्रणाली का उन्नयन- IMD
  3. मौसम एवं जलवायु से जुड़ी सेवाएंँ- IMD
  4. वायुमंडलीय प्रेक्षण नेटवर्क- IMD
  5. मौसम एवं जलवायु की संख्यात्मक मॉडलिंग- NCMRWF
  6. मानसून मिशन III
  7. मानसून संवहन, बादल और जलवायु परिवर्तन- MC4
  8. उच्च प्रदर्शन वाली कंप्यूटिंग प्रणाली- HPCS
यह योजना पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय (MoES) द्वारा भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD), राष्ट्रीय मध्यम अवधि मौसम पूर्वानुमान केंद्र (NCMRWF), भारतीय उष्णदेशीय मौसम विज्ञान संस्थान (IITM) और भारतीय राष्ट्रीय महासागर सूचना सेवा केंद्र (INCOIS) जैसी इकाइयों के माध्यम से कार्यान्वित की जा रही है। यह योजना मौसम, जलवायु एवं समुद्र के बारे में बेहतर तरीके से पूर्वानुमान एवं सेवाएंँ और अन्य जोखिम संबंधी सेवाएंँ प्रदान करेगी। इसमें चक्रवात, तूफानी लहरों, हीट वेव और तड़ित झंझा से संबंधित चेतावनी शामिल होगी। पूर्वानुमान से जुड़ी सूचनाओं को तैयार करने से लेकर इनके वितरण तक की पूरी प्रक्रिया में हर स्तर पर काफी संख्या में श्रमशक्ति की ज़रूरत होती है, जिससे कई लोगों के लिये रोज़गार के अवसर पैदा होते हैं।

अमेरिका ने ताइवान को लोकतंत्र के लिए शिखर सम्मेलन में आमंत्रित किया

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने ताइवान को 100 से अधिक देशों के साथ वर्चुअल समिट के लिए आमंत्रित किया है। अमेरिका ने इस बैठक के लिए चीन और रूस को आमंत्रित नहीं किया। भले ही अमेरिका ताइवान को एक स्वतंत्र देश के रूप में मान्यता नहीं देता, लेकिन उसने ताइवान को आमंत्रित किया है। अमेरिका ताइवान को आदर्श लोकतंत्र के रूप में मानता है। पहली बार “लोकतंत्र के लिए शिखर सम्मेलन9 और 10 दिसंबर, 2021 को ऑनलाइन आयोजित किया जायेगा। इस शिखर सम्मेलन की व्यक्तिगत बैठक 2022 में इसके दूसरे संस्करण में आयोजित की जाएगी। इस शिखर सम्मेलन का आयोजन इसलिए किया जा रहा है क्योंकि लोकतंत्र को असफलताओं का सामना करना पड़ा है। उन देशों में जहां अमेरिका को बड़ी उम्मीदें थीं। अमेरिका के नाटो सहयोगी तुर्की को इस सूची में शामिल नहीं किया गया है। तुर्की के राष्ट्रपति, रेसेप तईप एर्दोगन को अमेरिकी राष्ट्रपति द्वारा “निरंकुश” करार दिया गया था। मध्य पूर्व में, केवल इज़रायल और इराक को सूची में जोड़ा गया है। अमेरिका के पारंपरिक अरब सहयोगी मिस्र, जॉर्डन, सऊदी अरब, कतर और संयुक्त अरब अमीरात सभी अनुपस्थित हैं। अमेरिका ने ब्राजील को भी आमंत्रित किया है। अफ्रीकी पक्ष में केन्या, कांगो, दक्षिण अफ्रीका, नाइजीरिया और नाइजर को आमंत्रित किया गया है।

रक्षा अधिग्रहण परिषद ने रूस के साथ AK-203 सौदे को मंजूरी दी

रक्षा अधिग्रहण परिषद (Defence Acquisition Council – DAC) ने AK-203 राइफलों के बड़े पैमाने पर उत्पादन की अनुमति दी है। DAC ने भारतीय वायु सेना (IAF) के लिए एक स्वतंत्र उपग्रह को भी मंजूरी दी है। यह फैसला रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की भारत की यात्रा से पहले लिया गया है। उनका दौरा पांच दिसंबर से शुरू होगा। यह डील 2018 से रुकी हुई थी। DAC की बैठक की अध्यक्षता रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने की। इस बैठक के दौरान, मंत्री ने ‘मेक इन इंडिया’ पहल के तहत भारतीय वायुसेना के लिए 7.5 लाख AK-203 असॉल्ट राइफलों के निर्माण की अनुमति दी। 5,000 करोड़ रुपये से अधिक के अनुबंध पर हस्ताक्षर किए गए थे। इससे 10 साल की अवधि के लिए 6,014,427 AK-203 का निर्माण होगा।

अभिजीत बनर्जी ने Cooking to Save your Life नामक पुस्तक लिखी

भारतीय मूल के अमेरिकी अर्थशास्त्री और नोबेल पुरस्कार विजेता, अभिजीत बनर्जी ने Cooking to Save your Life नामक एक नई किताब (रसोई की किताब) लिखी है। फ्रांस स्थित चित्रकार चेयेने ओलिवर (Cheyenne Oliver) द्वारा सचित्र पुस्तक जुगर्नॉट बुक्स (Juggernaut Books) द्वारा प्रकाशित की गई है। उन्होंने वैश्विक गरीबी को कम करने के लिए उनके प्रयोगात्मक दृष्टिकोण के लिए एस्थर डुफ्लो (Esther Duflo) और माइकल क्रेमर (Michael Kremer) के साथ 2019 में आर्थिक विज्ञान में नोबेल मेमोरियल पुरस्कार जीता।

बान की मून ने अपनी आत्मकथा Resolved: Uniting Nations in a Divided World का विमोचन किया

Resolved: Uniting Nations in a Divided World नामक पुस्तक संयुक्त राष्ट्र के पूर्व महासचिव बान की मून (Ban Ki-moon) की आत्मकथा है। इसमें जीवन के अनुभव और चुनौतियाँ शामिल हैं जिनका लेखक ने अपने जीवन में सामना किया और संयुक्त राष्ट्र (यूएन) में अपने कार्यकाल को विस्तृत किया। उन्होंने दो 5 साल के कार्यकाल (2007-2016) के लिए संयुक्त राष्ट्र के 8 वें महासचिव के रूप में कार्य किया। हार्पर कॉलिन्स इंडिया (HarperCollins India) द्वारा प्रकाशित 'रिज़ॉल्व्ड: यूनाइटिंग नेशंस इन ए डिवाइडेड वर्ल्ड' में, बान ने वर्णन किया है कि कैसे वह "युद्ध के बच्चे (child of war)" से "शांति के व्यक्ति (man of peace)" बन गए। संयुक्त राष्ट्र के पूर्व महासचिव बान की मून की पहली राजनयिक पोस्टिंग भारत में हुई थी और उन्होंने एक ऐसा विशेष संबंध विकसित किया कि 50 साल बाद भी, वे भारतीय लोगों को बताते हैं कि उनका आधा "दिल उनके देश में है"।

रूस ने इजरायल-फिलिस्तीनी संघर्ष के दो-राज्य समाधान पर जोर दिया

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने जोर देकर कहा है कि, रूस इजरायल-फिलिस्तीनी संघर्ष के “दो-राज्य समाधान” का पालन करता है। यह दुनिया भर में सबसे स्थायी संघर्षों में से एक है। यह संघर्ष वेस्ट बैंक और गाजा पट्टी पर इजरायल के कब्जे के साथ शुरू हुआ और अब अपने 54वें वर्ष में पहुंच गया है । इजरायल-फिलिस्तीनी शांति प्रक्रिया के एक भाग के रूप में संघर्ष को हल करने के लिए कई प्रयास किए गए हैं। जॉर्डन नदी और भूमध्य सागर के बीच भूमि के एक टुकड़े के लिए यहूदियों और अरबों के बीच 100 वर्षों से संघर्ष चल रहा है। 1882 से 1948 के दौरान, दुनिया भर के यहूदी फिलिस्तीन में एकत्र हुए। इस आंदोलन को अलियाह कहा गया। 1917 में, यूके ने फिलिस्तीन पर नियंत्रण प्राप्त कर लिया, क्योंकि प्रथम विश्व युद्ध के बाद ओटोमन साम्राज्य का पतन हो गया था। यूके के नियंत्रण के बाद, फिलिस्तीन में यहूदियों के लिए घर स्थापित करने के उद्देश्य से बालफोर घोषणा (Balfour Declaration) जारी की गई थी। हालाँकि, उस अवधि के दौरान, फिलिस्तीन में अरब बहुसंख्यक थे। यहूदियों ने इस विचार का समर्थन किया लेकिन फिलिस्तीनियों ने इसे खारिज कर दिया। फिर, यहूदियों ने फिलिस्तीन को अरबों के साथ अपना प्राकृतिक घर होने का दावा किया। यहूदियों को अंतर्राष्ट्रीय समुदाय का समर्थन मिला। इज़रायल अभी भी वेस्ट बैंक को नियंत्रित कर रहा है लेकिन गाजा से बाहर निकल गया है। संयुक्त राष्ट्र अभी भी उस भूमि के टुकड़े को कब्जे वाले क्षेत्र के हिस्से के रूप में मान्यता देता है। इज़रायल पूरे यरुशलम को अपनी राजधानी के रूप में दावा करता है, जबकि फिलिस्तीन पूर्वी यरुशलम को भविष्य के फिलिस्तीनी राज्य की राजधानी के रूप में दावा करता है। नतीजतन गाजा, वेस्ट बैंक और पूर्वी यरुशलम में रहने वाले इजरायल और फिलिस्तीनियों के बीच अक्सर तनाव अधिक होता है।

अब्दुल्ला हमदोक फिर से बने सूडान के पीएम

सूडान के हटाए गए प्रधान मंत्री अब्दुल्ला हमदोक (Abdalla Hamdok) को हमदोक और अब्देल फत्ताह अल-बुरहान (Abdel Fattah Al-Burhan) सूडानी सशस्त्र बल के जनरल कमांडर द्वारा वर्तमान राजनीतिक संकट को समाप्त करने के लिए एक राजनीतिक घोषणा पर हस्ताक्षर करने के बाद फिर से नियुक्त किया गया। प्रधान मंत्री बनने से पहले, हमदोक ने अफ्रीका के लिए संयुक्त राष्ट्र आर्थिक आयोग, अफ्रीकी विकास बैंक और इथियोपिया में व्यापार और विकास बैंक में एक विशेष सलाहकार के रूप में काम किया।

रुपे क्रेडिट कार्ड के लिए BOB फाइनेंशियल सॉल्यूशंस ने NPCI से समझौता किया

बैंक ऑफ बड़ौदा (BoB) की सहायक कंपनी BOB फाइनेंशियल सॉल्यूशंस (BFSL) ने RuPay प्लेटफॉर्म पर BoB क्रेडिट कार्ड (ईज़ी और प्रीमियर वेरिएंट) लॉन्च करने के लिए नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ़ इंडिया (National Payments Corporation of India - NPCI) के साथ साझेदारी की है। BoB क्रेडिट कार्ड के ईज़ी और प्रीमियर दोनों वेरिएंट को JCB इंटरनेशनल नेटवर्क पर लॉन्च किया गया है और दोनों कार्ड वैश्विक स्वीकृति का समर्थन करते हैं। BoB क्रेडिट कार्ड के ईज़ी और प्रीमियर दोनों वेरिएंट को JCB इंटरनेशनल नेटवर्क पर लॉन्च किया गया है और दोनों कार्ड वैश्विक स्वीकृति का समर्थन करते हैं। ये कार्ड चुनिंदा मर्चेंट कैटेगरी पर 5X रिवॉर्ड पॉइंट, फ्यूल सरचार्ज वेवर, प्री-और पोस्ट-परचेज ईएमआई ऑफर, परिवार के सदस्यों के लिए तीन कॉम्प्लिमेंट्री ऐड-ऑन क्रेडिट कार्ड और BFSL और NPCI दोनों द्वारा सक्षम कई रोमांचक मर्चेंट ऑफर जैसे लाभों के साथ आते हैं।

एलेक्जेंडर ज्वेरेव ने डेनियल मेदवेदेव को हराकर एटीपी फाइनल्स खिताब जीता

टेनिस में, जर्मनी के एलेक्जेंडर ज्वेरेव (Alexander Zverev) ने इटली के ट्यूरिन में आयोजित 2021 एटीपी फाइनल खिताब (ATP Finals title) जीतने के लिए पुरुष एकल फाइनल में रूस के विश्व नंबर 2 डेनियल मेदवेदेव (Daniil Medvedev) को 6-4, 6-4 से हराया। 2018 में पहली बार जीतने के बाद यह ज्वेरेव का दूसरा निटो एटीपी फाइनल खिताब है। फ्रांस के पियरे ह्यूज हरबर्ट (Pierre-Hugues Herbert) और निकोलस माहूट (Nicolas Mahut) ने यूएस के राजीव राम (Rajeev Ram) और यूके के जो सेलिसबरी (Joe Salisbury) को हराकर पुरुषों का डबल खिताब जीता।

नासा ने लॉन्च किया दुनिया का पहला DART मिशन

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने जानबूझकर एक अंतरिक्ष यान को दुर्घटनाग्रस्त करके एक क्षुद्रग्रह का मार्ग बदलने के लिए DART नाम से अपनी तरह का पहला मिशन शुरू किया है। DART का मतलब डबल क्षुद्रग्रह पुनर्निर्देशन परीक्षण (Double Asteroid Redirection Test) है। 325 मिलियन डॉलर का डार्ट मिशन 24 नवंबर, 2021 को कैलिफोर्निया के वैंडेनबर्ग स्पेस फोर्स बेस से स्पेसएक्स फाल्कन 9 रॉकेट के ऊपर से कक्षा में लॉन्च किया गया था। मिशन का उद्देश्य क्षुद्रग्रह-विक्षेपण तकनीक का परीक्षण करना है। मिशन का उद्देश्य क्षुद्रग्रह में एक अंतरिक्ष जांच को दुर्घटनाग्रस्त करना है ताकि इसकी गति और पाठ्यक्रम में परिवर्तन किया जा सके ताकि इसे पृथ्वी से टकराने से रोका जा सके। नासा अपनी तरह के पहले मिशन से यह जांच करना चाहता है कि एक अंतरिक्ष यान को जानबूझकर दुर्घटनाग्रस्त करके एक क्षुद्रग्रह को विक्षेपित किया जा सकता है । मिशन एक ग्रह रक्षा रणनीति का परीक्षण करने के लिए एक दुर्लभ, वास्तविक दुनिया का मौका प्रदान करता है जो भविष्य में संभावित विनाशकारी टक्कर से पृथ्वी की रक्षा कर सकता है।

वित्तीय स्थिरता बोर्ड: जेपी मॉर्गन दुनिया का सबसे व्यवस्थित बैंक नामित

वैश्विक नियामकों द्वारा शीर्ष ऋणदाताओं की नवीनतम वार्षिक रैंकिंग के अनुसार, जेपी मॉर्गन चेज़ (JPMorgan Chase) को एक बार फिर व्यापक वित्तीय प्रणाली के स्वास्थ्य के लिए दुनिया का सबसे महत्वपूर्ण बैंक नामित किया गया है। G20 देशों के नियामकों से बने वित्तीय स्थिरता बोर्ड (Financial Stability Board - FSB) ने दुनिया के 30 सबसे व्यवस्थित बैंकों की अपनी नवीनतम तालिका प्रकाशित की। 30 उधारदाताओं को चार "श्रेणी" के बीच विभाजित किया गया है कि वे कितने व्यवस्थित, अंतर्राष्ट्रीय, परस्पर और जटिल हैं, जेपी मॉर्गन अपने निकटतम साथियों की तुलना में एक उच्च श्रेणी में है। तालिका में शामिल होने का अर्थ है एक दशक पहले बैंकिंग संकट में करदाताओं के बेलआउट की पुनरावृत्ति से बचने के लिए अतिरिक्त पूंजी रखना और अधिक गहन पर्यवेक्षण से गुजरना। व्यवहार में, ऋणदाता आमतौर पर पूंजी बफर रखते हैं जो पहले से ही FSB आवश्यकताओं से ऊपर हैं।

इंदौर के रेलवे स्टेशन का नाम ट्राइबल आइकॉन तांत्या भील के नाम पर रखा गया

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इंदौर के पातालपानी रेलवे स्टेशन (Patalpani railway station) का नाम आदिवासी आइकन तांत्या भील के नाम पर रखने की घोषणा की है, जिन्हें आदिवासियों द्वारा 'इंडियन रॉबिन हुड (Indian Robin Hood)' के नाम से जाना जाता था। सीएम ने यह भी घोषणा की कि इंदौर में 2 अन्य स्थलों, भंवर कुआं चौराहे (Bhanwar Kuan intersection) और एमआर 10 बस स्टैंड का नाम भी तांत्या भील के नाम पर रखा जाएगा। विशेष रूप से, भोपाल के हबीबगंज रेलवे स्टेशन का नाम हाल ही में एक आदिवासी रानी कमलापति (Rani Kamalapati) के नाम पर रखा गया था। तांत्या भील को उन क्रांतिकारियों में से एक के रूप में जाना जाता है जिन्होंने 12 साल तक ब्रिटिश शासन के खिलाफ सशस्त्र संघर्ष किया। कहा जाता है कि तांत्या ब्रिटिश सरकार के खजाने को लूट कर गरीबों में बांट दिया करते थे।

RBI ने PMC बैंक के समामेलन के लिए एक मसौदा योजना का खुलासा किया

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने पंजाब और महाराष्ट्र सहकारी (Punjab and Maharashtra Cooperative - PMC) बैंक को दिल्ली स्थित यूनिटी स्मॉल फाइनेंस बैंक लिमिटेड (Unity Small Finance Bank Ltd - USFB) के साथ समामेलित करने के लिए एक मसौदा योजना का खुलासा किया। यूनिटी स्मॉल फाइनेंस बैंक सेंट्रम ग्रुप और भारतपे के बीच एक संयुक्त उद्यम है। इसने 1 नवंबर, 2021 से एक लघु वित्त बैंक के रूप में परिचालन शुरू किया है। समामेलन की मसौदा योजना के अनुसार, यूनिटी द्वारा जमा सहित पीएमसी बैंक की संपत्ति और देनदारियों का अधिग्रहण जमाकर्ताओं के लिए अधिक से अधिक सुरक्षा प्रदान करेगा। मसौदा योजना के सुझाव और आपत्तियां 10 दिसंबर, 2021 तक खुली हैं। मुंबई, महाराष्ट्र में स्थित पीएमसी बैंक लिमिटेड को धोखाधड़ी के कारण 23 सितंबर, 2019 को बैंकिंग विनियमन (बीआर) अधिनियम, 1949 की धारा 56 के साथ पठित धारा 35-ए की उप-धारा (1) के तहत सभी समावेशी निर्देशों के तहत रखा गया था, जिससे इसकी निवल संपत्ति में भारी गिरावट आई है। आरबीआई की योजना में यह भी कहा गया है कि संस्थागत जमाकर्ताओं के लिए बकाया राशि का 80 प्रतिशत बकाया गैर-संचयी वरीयता शेयरों (Perpetual Non-Cumulative Preference Shares - PNCPS) में परिवर्तित कर दिया जाएगा, जिसमें सालाना एक प्रतिशत का लाभांश देय होगा।

SBI ने पांडिचेरी को-ऑप मिल्क प्रोड्यूसर्स यूनियन लिमिटेड के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए

भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने व्यक्तिगत डेयरी किसानों को 3 लाख रुपये तक के वित्तपोषण के लिए पांडिचेरी को-ऑप मिल्क प्रोड्यूसर्स यूनियन लिमिटेड (PONLAIT) के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं। ऋण एसबीआई बैंक के योनो एप्लिकेशन (YONO application) के माध्यम से उपलब्ध कराया जाएगा। एसबीआई ने नियमित आधार पर वाणिज्यिक डेयरियों को दूध की आपूर्ति करने वाले व्यक्तिगत डेयरी किसानों के वित्तपोषण के लिए 'सफल- सरल और तेज कृषि ऋण (SAFAL- Simple And Fast Agriculture Loan)' नामक एक प्रौद्योगिकी उत्पाद पेश किया है। PONLAIT की 98 प्राथमिक दुग्ध समितियों को दूध की आपूर्ति करने वाले लगभग 3,500 डेयरी किसान इस व्यवस्था से लाभान्वित होंगे। यह बैंक के चेन्नई सर्कल में हस्ताक्षरित पहला समझौता ज्ञापन था, जो डेयरियों को दूध की आपूर्ति करने वाले किसानों को वित्तपोषित करने के लिए पूरे देश में वाणिज्यिक डेयरियों के साथ इस तरह के समझौते करने की योजना बना रहा है। बैंक ऋण की मदद से दूध उत्पादन को बढ़ावा देने की मौजूदा व्यवस्था से केंद्र शासित प्रदेश के प्रशासन को दूध की दैनिक आवश्यकता को पूरा करने में मदद मिलेगी।

एस के सोहन रॉय नाइटहुड ऑफ पार्ट गुल्फा से सम्मानित होने वाले पहले भारतीय

केरल के डॉ एस के सोहन रॉय , सीईओ और एरीज़ ग्रुप ऑफ़ कंपनीज़ के संस्थापक, व्यापार और फिल्मों में उनके मानवीय और पर्यावरण संरक्षण प्रयासों के लिए नाइटहुड ऑफ पार्ट गुल्फा (Knighthood of Parte Guelfa) से सम्मानित होने वाले पहले भारतीय बन गए हैं। "नाइट ऑफ़ पार्ट गुल्फा" की मानद उपाधि उन्हें एनुस डोमिनी 2021 के पार्ट गुल्फा के निवेश के दौरान आयोजित सम्मेलन समारोह में प्रदान की गई है और यह बेसिलिका के सांता क्रोस (Basilica of Santa Croce) और पलागियो डि पार्ट गुल्फा (Palagio di Parte Guelfa) फ्लोरेंस, इटली में आयोजित किया गया था।

मध्य सीरिया पर इजरायल की एयरस्ट्राइक : मुख्य बिंदु

सीरिया की सेना के अनुसार, इजरायली लड़ाकू विमानों ने 23 नवंबर, 2021 को उसके मध्य क्षेत्र में सेना की चौकियों पर हमला किया। इस हमले में दो नागरिकों की मौत हो गई और सात लोग घायल हो गए, जिनमें से छह सैनिक हैं। रिपोर्ट के अनुसार, युद्धक विमानों ने लेबनान के हवाई क्षेत्र के ऊपर से उड़ान भरते समय मिसाइलें दागीं। सीरिया की वायु रक्षा ने अधिकांश मिसाइलों को मार गिराया। इजरायल ने सालों से सरकार के नियंत्रण वाले सीरिया के ठिकानों पर सैकड़ों हमले किए हैं। लेकिन इसने शायद ही कभी इस तरह के ऑपरेशनों को स्वीकार किया हो। हालाँकि, इज़रायल ने स्वीकार किया है कि वह ईरान-सहयोगी मिलिशिया के ठिकानों को निशाना बनाता है, जैसे लेबनान का हिज़्बुल्लाह समूह जिसने सीरिया में लड़ाके तैनात किए हैं। 1948 में इज़रायल की स्थापना के बाद से इज़रायल और सीरिया एक सतत युद्ध में शामिल रहे हैं। दोनों देशों के बीच सबसे महत्वपूर्ण और प्रत्यक्ष सशस्त्र संघर्ष 1948-1949 में प्रथम अरब-इजरायल युद्ध, 1967 का तीसरा अरब-इजरायल युद्ध था। साथ ही 1973 का चौथा अरब-इजरायल युद्ध। इसके अलावा, लेबनानी गृहयुद्ध और युद्ध के दौरान इजरायल और सीरियाई बलों ने एक-दूसरे के खिलाफ व्यापक लड़ाई की।

Maritime SheEO Conference का दूसरा संस्करण

Maritime SheEO Conference का दूसरा संस्करण 25 नवंबर, 2021 को आयोजित किया जायेगा। परिवर्तन निर्माताओं, विविधता और स्थायी समाधानों का जश्न मनाने के लिए यह सम्मेलन आयोजित किया जाएगा। इसकी संकल्पना संजम शाही गुप्ता ने की है, जो Maritime SheEO के संस्थापक हैं। इस सम्मेलन के मुख्य वक्ताओं में शामिल हैं:

  • किटक लिम, जो International Maritime Organization (IMO) के महासचिव हैं
  • नतासा पिलाइड्स, जो साइप्रस गणराज्य की ऊर्जा, वाणिज्य और उद्योग मंत्री हैं
  • ब्योर्नर सेल्नेस स्कजोरन, जो नॉर्वे के मत्स्य पालन और महासागर नीति मंत्री हैं।

2025 एशियाई युवा पैरा खेलों की मेजबानी ताशकंद, उज्बेकिस्तान द्वारा की जाएगी

एशियाई युवा पैरा खेलों 2025 के 5वें संस्करण की मेजबानी उज्बेकिस्तान की राजधानी ताशकंद (Tashkent) करेगा और इसकी मंजूरी एशियाई पैरालंपिक समिति (Asian Paralympic Committee’s - APC) के कार्यकारी बोर्ड द्वारा दी गई। पहली बार 'एशियन यूथ गेम्स 2025' और 'एशियन यूथ पैरा गेम्स 2025' का आयोजन एक ही शहर और एक ही जगह पर किया जाएगा।

सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी फाइनल: तमिलनाडु ने कर्नाटक को हराया

क्रिकेट में तमिलनाडु ने 152 रनों का पीछा करते हुए कर्नाटक को हराकर सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी (Syed Mushtaq Ali Trophy) अपने नाम कर ली है। दिल्ली के अरुण जेटली स्टेडियम में शिखर संघर्ष में चार विकेट की रोमांचक जीत के साथ तमिलनाडु को टी -20 खिताब की रक्षा करने में मदद करने के लिए बल्लेबाज एम शाहरुख खान ने एक नाटकीय आखिरी गेंद पर छक्का लगाया। यह तीसरी बार है जब तमिलनाडु ने सैयद मुश्ताक अली टूर्नामेंट जीता है, इससे पहले 2006-07 और 2020-21 में इसे जीता था। पक्ष ने 2019-20 सीज़न में भी फाइनल में जगह बनाई थी और कर्नाटक के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा था।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2022 RajasthanGyan All Rights Reserved.