Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

12 December 2021

संयुक्त राष्ट्र महासभा ने ‘अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन’ को पर्यवेक्षक का दर्जा दिया

संयुक्त राष्ट्र महासभा ने ‘अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन’ (ISA) को पर्यवेक्षक का दर्जा दिया है। ‘अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन’ एक संधि-आधारित अंतर-सरकारी संगठन है, जिसका प्राथमिक कार्य वित्तपोषण एवं प्रौद्योगिकी की लागत को कम करके सौर विकास को उत्प्रेरित करना है। पेरिस में वर्ष 2015 के जलवायु परिवर्तन सम्मेलन के दौरान भारत और फ्राँस द्वारा सह-स्थापित ‘अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन’ वैश्विक जलवायु नेतृत्वकर्त्ता की भूमिका में भारत का महत्त्वपूर्ण प्रयास है। ‘अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन’, ‘वन सन, वन वर्ल्ड, वन ग्रिड’ (OSOWOG) को लागू करने हेतु नोडल एजेंसी है, जिसका उद्देश्य एक विशिष्ट क्षेत्र में उत्पन्न सौर ऊर्जा को किसी दूसरे क्षेत्र की बिजली की मांग को पूरा करने के लिये स्थानांतरित करना है।

कैथरीन रसेल को यूनिसेफ का प्रमुख नियुक्त किया गया

महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने कैथरीन रसेल (Catherine Russell) को संयुक्त राष्ट्र बच्चों की एजेंसी यूनिसेफ के प्रमुख के रूप में नियुक्त किया है। कैथरीन रसेल अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन की सहायक हैं। वह White House Office of Presidential Personnel की प्रमुख हैं। 2013-2017 से, उन्होंने वैश्विक महिलाओं के मुद्दों के लिए विदेश विभाग के राजदूत के रूप में भी काम किया है। रसेल हेनरीटा फोर (Henrietta Fore) का स्थान लेंगी, जिन्होंने जुलाई 2021 में पारिवारिक स्वास्थ्य समस्या के कारण इस्तीफा दे दिया था। यूनिसेफ को “संयुक्त राष्ट्र बाल कोष” के रूप में भी जाना जाता है। यह एक संयुक्त राष्ट्र एजेंसी है, जो दुनिया भर में बच्चों को मानवीय और विकासात्मक सहायता प्रदान करने के लिए जिम्मेदार है। यह दुनिया के सबसे व्यापक सामाजिक कल्याण संगठनों में से एक है। यह 192 देशों और क्षेत्रों में मौजूद है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने उत्तर प्रदेश के बलरामपुर जिले में सरयू नहर राष्ट्रीय परियोजना का लोकार्पण किया

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने उत्तर प्रदेश के बलरामपुर जिले में सरयू नहर राष्ट्रीय परियोजना का लोकार्पण किया। इस परियोजना से पूर्वी उत्तर प्रदेश के नौ जिलों की 14 लाख हेक्टेयर से अधिक भूमि को सिंचाई सुविधा प्राप्त होगी। इस परियोजना से 6,200 से अधिक गांवों के 29 लाख से अधिक किसानों को लाभ मिलेगा। सरयू नहर राष्ट्रीय परियोजना में पांच नदियों घाघरा, सरयू, राप्ती, बाणगंगा और रोहिणी को पूर्वी उत्तर प्रदेश में सिंचाई के लिए आपस में जोड़ा गया। यह परियोजना प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के तहत शामिल की गई 99 सिंचाई परियोजनाओं में सबसे बड़ी है। इससे नौ जिले बहराईच, श्रावस्ती, बलरामपुर, गौंडा, सिद्धार्थ नगर, बस्ती, सन्त कबीर नगर, गोरखपुर और महाराजगंज को लाभ मिलेगा।

भारतीय मूल के गौतम राघवन व्हाइट हाउस कार्मिक कार्यालय में प्रमुख नियुक्त

भारतीय मूल के गौतम राघवन को व्हाइट हाउस कार्मिक कार्यालय में प्रमुख नियुक्त किया गया है। वह कैथरीन रूसल का स्थान लेंगे। कैथरीन रूसल को यूनिसेफ का कार्यकारी निदेशक बनाया गया है। श्री राघवन इसी कार्मिक कार्यालय में उप प्रमुख के रूप में कार्य कर रहे थे।

भारत ने मानवीय सहायता के रूप में चिकित्‍सा आपूर्ति अफगानिस्‍तान भेजी

भारत ने मानवीय सहायता के अन्‍तर्गत चिकित्सा आपूर्ति अफगानिस्तान को भेजी। इन दवाओं को काबुल में विश्व स्वास्थ्य संगठन के प्रतिनिधियों को सौंपा जाएगा और काबुल के इंदिरा गांधी बाल अस्पताल में भेजी जाएंगाी। राहत सामग्री उसी विमान से भेजी गई, जिसमें कल अफगानिस्तान में फंसे 104 लोगों को भारत लाया गया (ऑपरेशन देवी शक्ति) था। उड़ान में 10 भारतीयों और 94 अफगान नागरिकों को लाया गया, जिनमें अफगान अल्पसंख्यक समुदाय के सदस्य भी शामिल थे। इस विमान में गुरु ग्रंथ साहिब की दो प्रतियां और कुछ प्राचीन हिंदू पांडुलिपियां भी लाई गईं हैं। विदेश मंत्रालय ने कहा कि ऑपरेशन देवी शक्ति के अर्न्‍तगत अब तक कुल 6 सौ 69 लोगों को अफगानिस्तान से निकाला गया है।

सउदी अरब सरकार ने तब्लीगी जमात को आतंकवादी संगठन मानते हुए इस पर प्रतिबंध लगा दिया

सउदी अरब सरकार ने तब्लीगी जमात को आतंकवादी संगठन मानते हुए इस पर प्रतिबंध लगा दिया है। सउदी अरब के इस्लामिक मामलों के मंत्रालय ने मस्जिदों को निर्देश दिया है कि वे शुक्रवार की नमाज के दौरान लोगों को तब्लीगी जमात के प्रति आगाह करें और उन्हें समाज को तब्लीगी जमात के संभावित खतरे के बारे में जागरूक करें। सरकार ने आम जनता से भी कहा है कि वह खुद को तब्लीगी जमात से दूर रखे।

भारत ने पोखरण रेंज से स्वरदेशी टैंक रोधी मिसाइल का सफल परीक्षण किया

रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन - डीआरडीओ और भारतीय वायुसेना ने पोखरण में हेलीकॉप्टर लॉन्च स्टैंड-ऑफ एंटी-टैंक (एसएएनटी) मिसाइल का सफल परीक्षण किया। यह परीक्षण पूरी तरह से सफल रहा और इसने अपने सभी लक्ष्य हासिल किए। इस मिसाइल में अत्याधुनिक मिलीमीटर वेव सीकर लगे हैं जो एक सुरक्षित दूरी से इसे सटीक निशाना लगाने में सक्षम बनाते हैं। यह मिसाइल दस किलोमीटर तक मार कर सकती है। स्टैंड-ऑफ एंटी-टैंक मिसाइल को हैदराबाद के अनुसंधान केंद्र (आरसीआई) और डीआरडीओ की प्रयोगशालाओं के समन्वय एवं उद्योगों की भागीदारी के साथ डिजाइन तथा विकसित किया गया है।

पिनाका ई आर, मल्‍टी बैरल राकेट लान्‍चर प्रणाली का सफलतापूवर्क परीक्षण किया

पिनाका ई आर ,मल्‍टी बैरल राकेट लान्‍चर प्रणाली का पोखरन रेंज में सफलता परीक्षण किया गया है। पिनाका एक्‍सटेन्‍डेड रेंज-पिनाका-ई आर, एरिया डेनियल म्‍यूनिटेशन्‍स- ए डी एम और स्‍वदेश में विकसित फयूजों का विभिन्‍न परीक्षण रेंजो में परीक्षण किया गया । रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन -पुणे और उच्च ऊर्जा सामग्री अनुसंधान प्रयोगशाला- पुणे की प्रयोगशालाओं द्वारा इस प्रणाली को संयुक्त रूप से डिज़ाइन किया गया । पिनाका पुराने संस्करण का ही उन्नत संस्करण है और यह पिछले एक दशक से भारतीय सेना के साथ सेवा में कार्य कर रहा है। इस प्रणाली को उन्नत प्रौद्योगिकियों के साथ उभरती आवश्यकताओं को देखते हुए बनाया गया है।

विश्व प्रतिभा रैंकिंग रिपोर्ट जारी की गई

IMD वर्ल्ड कॉम्पिटिटिव सेंटर ने 9 दिसंबर, 2021 को अपनी “वर्ल्ड टैलेंट रैंकिंग रिपोर्ट” (World Talent Ranking Report) प्रकाशित की। यह रिपोर्ट IMD World Competitive Centre द्वारा प्रतिवर्ष प्रकाशित की जाती है। यह रिपोर्ट 64 अर्थव्यवस्थाओं निम्नलिखित कारकों की एक श्रृंखला के आधार पर ग्रेड करती है:

  1. अर्थव्यवस्थाएं कैसे स्थानीय कर्मियों में निवेश करती हैं और उनका विकास करती हैं
  2. कुशल श्रमिकों को आकर्षित करने और बनाए रखने की उनकी क्षमता
  3. घरेलू प्रतिभा पूल की गुणवत्ता
इस रिपोर्ट में 2021 में रैंकिंग में यूरोप का दबदबा रहा है। इस सूची में टॉप 10 देश इसी क्षेत्र से हैं। स्विट्जरलैंड ने अपना शीर्ष स्थान बरकरार रखा है। यूएई ने अपनी वैश्विक प्रतिभा रैंकिंग में सुधार जारी रखा है। इसकी रैंकिंग एक स्थान से सुधरकर 23वें स्थान पर आ गई है । 2019 में, इसे 30वें स्थान पर रखा गया था। अरब जगत में यूएई ने अपना शीर्ष स्थान बनाए रखा। मध्य पूर्व और उत्तरी अफ्रीका में, संयुक्त अरब अमीरात ने इज़रायल (इस क्षेत्र में पहला) के बाद अपना दूसरा स्थान बनाए रखा है। इजरायल 22वें स्थान पर है। ताइवान को एशिया में तीसरे स्थान पर जबकि कुल मिलाकर 16वें स्थान पर रखा गया है। 2020 की तुलना में इसकी रैंकिंग में चार स्थान का सुधार हुआ है। एशिया में, ताइवान को हांगकांग (11) और सिंगापुर (12) से पीछे रखा गया है, लेकिन यह दक्षिण कोरिया (34), चीन (36), और जापान (39) से आगे है। भारत इस सूची में 56वें स्थान पर है।

सातवां भारतीय अंतर्राष्‍ट्रीय विज्ञान महोत्‍सव गोआ के पणजी में शुरू

10 दिसंबर, 2021 को इंडिया इंटरनेशनल साइंस फेस्टिवल (IISF) का सातवां संस्करण गोवा के पणजी में शुरू हुआ, जिसमें मध्य प्रदेश सरकार के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री ओमप्रकाश सखलेचा ने शिरकत कर कई सत्रों का शुभारंभ किया।। इस अवसर पर मुख्‍यमंत्री प्रमोद सावंत, केन्‍द्रीय मंत्री श्रीपद नाइक और अन्‍य गण्‍यमान्‍य व्‍यक्ति उपस्थित रहेंगे। इस महोत्‍सव का आयोजन भूगर्भ-विज्ञान मंत्रालय, विज्ञान तथा प्रौद्योगिकी विभाग, विज्ञान भारती, राष्‍ट्रीय ध्रुवीय तथा समुद्री अनुसंधान संस्‍थान और गोआ सरकार ने मिलकर किया है। चार दिन (10 से 13 दिसंबर, 2021) के इस महोत्‍सव में देश भर से दस हजार से अधिक विद्यार्थियों के भाग लेने की संभावना है। महोत्‍सव का आयोजन वर्चुअल और ऑफलाइन दोनों माध्‍यम से किया जाएगा। इस महोत्‍सव का विषय है- विज्ञान में रचनात्‍मकता का उत्‍सव। इसमें विज्ञान और प्रौद्योगिकी प्रदर्शनियों सहित 12 कार्यक्रम होंगे।

संपन्न परियोजना के माध्यम से एक लाख से अधिक लोगों को सीधे उनके बैंक खातों में पेंशन दी जा रही

SAMPANN (सिस्टम फॉर अकाउंटिंग एंड मैनेजमेंट ऑफ पेंशन) परियोजना के माध्यम से एक लाख से अधिक लोगों को सीधे उनके बैंक खातों में पेंशन दी जा रही है। इसे वर्ष 2018 में लॉन्च किया गया था। यह दूरसंचार विभाग के पेंशनभोगियों के लिये एक सहज ऑनलाइन पेंशन प्रसंस्करण और भुगतान प्रणाली है। यह पेंशनभोगियों के बैंक खातों में पेंशन का सीधा क्रेडिट प्रदान करता है। यह संचार मंत्रालय द्वारा कार्यान्वित की जा रही एक महत्वाकांक्षी परियोजना है। इस प्रणाली ने विभाग को पेंशन मामलों के तेज़ी से निपटान, बेहतर समाधान/लेखापरीक्षा और लेखांकन को आसान बनाने में मदद की है। इसके द्वारा 6 महीने की अल्प अवधि में ही भारत संचार निगम लिमिटेड (BSNL) की स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना 2019 के करीब 76,000 मामलों को निपटाने में भी महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाई है। यह एक लचीली डिज़ाइन वाली प्रणाली है जो इसे लगातार बढ़ती आवश्यकताओं को समायोजित करने में सक्षम बनाती है।

विश्व को उसके कार्यों के लिये जवाबदेह ठहराने हेतु पृथ्वी का एक ब्लैक बॉक्स

ऑस्ट्रेलियाई वैज्ञानिक और कलाकार विश्व को उसके कार्यों के लिये जवाबदेह ठहराने हेतु पृथ्वी का एक ब्लैक बॉक्स (Earth’s Black Box) बनाने जा रहे हैं। इस बॉक्स का निर्माण दक्षिण तट से दूर एक ऑस्ट्रेलियाई द्वीप राज्य तस्मानिया में किया जाएगा। इसे 3 इंच मोटे स्टील से बनाया जाएगा और सोलर पैनल से कवर किया जाएगा। यह काफी हद तक एक प्लेन फाइट रिकॉर्डर( plane’s flight recorder) की तरह कार्य करेगा, जो दुर्घटनाग्रस्त होने से पहले एक विमान के अंतिम क्षणों की गतिविधियों को रिकॉर्ड करता है। अर्थ ब्लैक बॉक्स के अंदर स्टोरेज ड्राइव को लगभग 30 से 50 वर्षों तक सक्रिय रहने हेतु डिज़ाइन किया गया है। ब्लैक बॉक्स एक सिटी-बस के आकार का होगा और इसके अंदर स्टोरेज ड्राइव होंगे जो जलवायु परिवर्तन की तथा वायुमंडलीय कार्बन डाइऑक्साइड के स्तर तथा औसत तापमान को रिकॉर्ड करेंगे। तस्मानिया को इसके सापेक्ष भू-राजनीतिक और पर्यावरणीय सुरक्षा के लिये चुना गया था, तथा मोनोलिथ को चक्रवातों, भूकंपों एवं इसकी ढलान वाली दीवारों के साथ, बर्बर हमलों सहित खतरों के खिलाफ लचीला होने के प्रति डिज़ाइन किया जाएगा।

बिजली मंत्रालय ने 15,893 करोड़ रुपये की अंतरराज्यीय परियोजनाओं को मंजूरी दी

केंद्रीय बिजली मंत्री आर.के. सिंह ने 15,893 करोड़ रुपये की 23 नई अंतर-राज्यीय पारेषण प्रणाली परियोजनाओं को मंजूरी दी। 23 ISTS अंतर-राज्यीय पारेषण प्रणाली (Inter-State Transmission System – ISTS) परियोजनाओं में से 13 परियोजनाओं की अनुमानित लागत 14,766 करोड़ रुपये है। इन परियोजनाओं को टैरिफ आधारित प्रतिस्पर्धी बोली (Tariff Based Competitive Bidding – TBCB) के तहत विकसित किया जाएगा। जबकि 1,127 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत वाली 10 परियोजनाओं को विनियमित टैरिफ तंत्र के तहत विकसित किया जाएगा। नई पारेषण परियोजनाओं से निम्नलिखित सुविधा होगी:

  1. राजस्थान में 14 गीगावाट नवीकरणीय परियोजनाओं के लिए निकासी प्रणाली
  2. गुजरात में 5 गीगावॉट आरई परियोजनाएं
  3. मध्य प्रदेश के नीमच में 1 गीगावाट का सोलर पार्क
  4. जम्मू में एक सियोट सब-स्टेशन की स्थापना

Indian Institute of Human Brands (IIHB) का वार्षिक सर्वेक्षण

Indian Institute of Human Brands (IIHB) द्वारा जारी सालाना सर्वे के नतीजों के मुताबिक, रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी और उनकी पत्नी नीता अंबानी ने पावर कपल की लिस्ट में पहला स्थान हासिल किया है। दूसरे नंबर पर रणवीर सिंह और दीपिका पादुकोण हैं। तीसरे स्थान पर विराट कोहली और अनुष्का शर्मा हैं। कॉरपोरेट जगत के पांच अन्य जोड़े, जिन्होंने इस सूची में जगह बनाई है, वे हैं:

  1. इंफोसिस के संस्थापक नारायण मूर्ति और सुधा मूर्ति 10वें स्थान पर हैं
  2. अदार और नताशा पूनावाला (सीरम संस्थान के प्रमुख) 11वें स्थान पर हैं
  3. अजीम प्रेमजी और यासमीन (विप्रो के प्रमुख) 16 वें स्थान पर हैं
  4. आनंद और अनुराधा महिंद्रा (महिंद्रा समूह के प्रमुख) 19वें स्थान पर हैं
  5. कुमार मंगलम और नीरजा बिड़ला (आदित्य बिड़ला समूह के प्रमुख) 20वें स्थान पर हैं
यह परिणाम 25-40 वर्ष की आयु के 1,362 उत्तरदाताओं के नमूने के आकार को कवर करने के बाद तैयार किया गया था।

ART और सरोगेसी पर बिल राज्यसभा द्वारा पारित किये गये

राज्यसभा ने 8 दिसंबर, 2021 को विपक्ष की अनुपस्थिति में सहायक प्रजनन प्रौद्योगिकी (विनियमन) विधेयक, 2020 और सरोगेसी (विनियमन) विधेयक, 2020 पारित किया। इस बिल ने एकल पुरुषों, लिव-इन जोड़ों और LGBT समुदाय को बाहर रखा है। केंद्र सरकार 2008 से ART (Assisted Reproductive Technology) उद्योग को विनियमित करने के लिए विधेयक पर काम कर रही थी। इस विधेयक का मसौदा सबसे पहले भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) ने तैयार किया था। इसे पहली बार 2020 में लोकसभा में पेश किया गया था लेकिन इसने बिल को एक स्थायी समिति के पास भेज दिया। इस विधेयक में सभी चिकित्सा पेशेवरों और क्लीनिकों के लिए “राष्ट्रीय रजिस्ट्री और पंजीकरण प्राधिकरण” (National Registry and Registration Authority) स्थापित करने का प्रस्ताव है। यह प्राधिकरण क्षेत्र में काम करने वाले सभी क्लीनिकों और पेशेवरों के डेटाबेस को बनाए रखने में मदद करेगा। पंजीकरण प्रक्रिया को सुविधाजनक बनाने के लिए राज्य सरकारों द्वारा पंजीकरण अधिकारी नियुक्त किए जाएंगे। यह विधेयक सहायक प्रजनन प्रौद्योगिकी (ART) क्लीनिकों और ART बैंकों को विनियमित और पर्यवेक्षण करने, सुरक्षित और नैतिक प्रथाओं को अपनाने और दुरुपयोग को रोकने का भी प्रयास करता है। इसमें एक राष्ट्रीय बोर्ड के गठन का भी प्रस्ताव है। यह बोर्ड भौतिक बुनियादी ढांचे, नैदानिक ​​उपकरण, विशेषज्ञ जनशक्ति और प्रयोगशाला के न्यूनतम मानक तय करेगा। यह विधेयक लिंग चयन और मानव भ्रूण या युग्मक की बिक्री करने वाले लोगों के लिए कड़ी सजा की व्यवस्था करता है। इस बिल में पहली बार के अपराधियों के लिए 5 लाख रुपये से 10 लाख रुपये के जुर्माने का प्रावधान है। बाद के उल्लंघनों में 8 से 12 साल की कैद और 10 से 20 लाख रुपये के बीच जुर्माना हो सकता है।

नीति आयोग जम्मू-कश्मीर में 1,000 अटल टिंकरिंग लैब स्थापित करेगा

नीति आयोग ने जम्मू-कश्मीर में 1000 अटल टिंकरिंग लैब (ATL) स्थापित करने की योजना बनाई है। वित्तीय वर्ष 2021-22 के अंत तक 1000 अटल टिंकरिंग प्रयोगशालाओं में से 187 की स्थापना की जाएगी। 187 ATL में से 31 जम्मू-कश्मीर के सरकारी स्कूलों में स्थापित किए जा रहे हैं, जबकि 50 KV, JNV और निजी स्कूलों जैसे कई शैक्षणिक संस्थानों में स्थापित किए जाएंगे। शेष 106 लैब स्थापित करने की प्रक्रिया जल्द शुरू की जाएगी। इसके अलावा विभाग को अन्य सरकारी विभागों के अनुरूप इन केंद्रों के बुनियादी ढांचे के साथ-साथ उपकरणों का नियमित रखरखाव सुनिश्चित करने के लिए भी कहा गया है। ATL भारत में केंद्र सरकार के अटल इनोवेशन मिशन (AIM) के तहत एक उप-मिशन है। यह AIM की प्रमुख पहल है, जो पूरे भारत में हाई स्कूल के छात्रों के बीच एक अभिनव मानसिकता का पोषण करने का प्रयास करती है। यह नीति आयोग के तहत प्रशासित एक महत्वपूर्ण सरकारी योजना है। यह पहल बच्चों के बीच संज्ञानात्मक विकास (cognitive development) को बढ़ावा देने का भी प्रयास करती है जहां उन्हें वैज्ञानिक विचारों पर अपनी समझ को व्यापक बनाने के अवसर प्रदान किए जाते हैं।

यूनिसेफ इंडिया पंचवर्षीय योजना शुरू करेगा

यूनिसेफ इंडिया एक महत्वाकांक्षी और अभिनव पांच वर्षीय कार्यक्रम तैयार कर रहा है, जिसमें सभी क्षेत्रों में प्राथमिकता के रूप में सामाजिक नीति शामिल है। नए कार्यक्रम को डिजाइन करते समय, यूनिसेफ सभी हितधारकों के साथ बात करना चाहता था और इस बारे में विवरण प्राप्त करना चाहता था कि नए वातावरण में COVID-19 के बाद क्या बेहतर किया जा सकता है और जहां जलवायु परिवर्तन एक प्रमुख प्राथमिकता थी। कोविड-19 और जलवायु परिवर्तन ने सीखने के संकट को बढ़ा दिया था। भारत में लगभग 286 मिलियन बच्चे प्रभावित हुए थे। सामाजिक सुरक्षा पर यूनिसेफ की समग्र दृष्टि बच्चों के लिए समावेशी सामाजिक सुरक्षा कार्यक्रमों तक पहुंच और गरीबी से मुक्त रखनेकी थी। उदाहरण के लिए, COVID-19 के कारण अपने माता-पिता को खोने वाले बच्चों को सरकार का नकद अनुदान।

दिव्यांश सिंह पंवार ने राष्ट्रीय निशानेबाजी चैम्पियनशिप प्रतियोगिता में जूनियर और सीनियर एयर राइफल स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता

निशानेबाज़ी में विश्व के पूर्व नंबर एक खिलाड़ी दिव्यांश सिंह पंवार ने भोपाल में 64वीं राष्ट्रीय निशानेबाजी चैम्पियनशिप प्रतियोगिता में शानदार प्रदर्शन करते हुए जूनियर और सीनियर एयर राइफल स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता। सीनियर वर्ग के क्वालिफिकेशन राउन्ड में छह सौ 30 दशमलव तीन अंकों के साथ शीर्ष पर रहने के बाद दिव्यांश ने महाराष्ट्र के रुद्रांक्श पाटिल पर दशमलव सात अंकों की बढ़त बनाकर स्वर्ण पदक हासिल किया। हृदय हज़ारिका ने शाहू तुषार को हराकर कांस्य पदक पर कब्जा किया।

नॉर्वे के शतरंज मास्टर्स मैग्नस कार्लसन ने फिडे विश्व चैंपियनशिप का खिताब जीता

नॉर्वे के शतरंज मास्टर्स मैग्नस कार्लसन ने फिडे विश्व चैंपियनशिप का खिताब जीत लिया है। उन्होंने रूस के इयान नेपोमनियाच्ची को 7.5-3.5 से हराकर खिताब पर कब्‍जा किया। कार्लसन का यह पांचवां विश्व खिताब है।

राष्ट्रमंडल-भारोत्तोलन चैंपियनशिप में, भारत के जेरेमी लालरिनुंगा ने स्वर्ण पदक जीता

राष्ट्रमंडल-भारोत्तोलन चैंपियनशिप में, पुरूषों के 67 किलोग्राम भारवर्ग में भारत के जेरेमी लालरिनुंगा ने स्वर्ण पदक अपने नाम किया। 19 वर्षीय जेरेमी ने कल ताशकंद में स्नैच और क्लीन एंड जर्क स्पर्धा में कुल 305 किलोग्राम वजन उठाकर पदक जीता। जेरेमी वर्ष 2018 में युवा ओलिम्पिक के भी स्वर्ण पदक विजेता हैं। कल उन्होंने स्नैच स्पर्धा में राष्ट्रीय रिकॉर्ड भी बनाया। इससे पहले, पुरुषों के 61 किलोग्राम भारवर्ग में गुरू राजा ने रजत पदक जीता था। राष्ट्रमंडल चैंपियनशिप के साथ विश्व चैंपियनशिप भी चल रही है। राष्ट्रमंडल चैंपियनशिप में प्रत्येक श्रेणी के स्वर्ण पदक विजेता भारोत्तोलकों को अगले वर्ष बर्मिंघम में होने वाले राष्ट्रमंडल खेलों में सीधे प्रवेश मिलेगा। बाकी भारोत्तोलकों को राष्ट्रमंडल रैंकिंग के आधार पर प्रवेश दिया जाएगा।

थाईलैंड में एशियाई रोइंग चैंपियनशिप में भारत के अर्जुन लाल जाट और रवि की की जोड़ी ने स्वर्ण पदक जीता

थाईलैंड में एशियाई रोइंग चैंपियनशिप में पुरुष डबल्‍स में भारत के अर्जुन लाल जाट और रवि की की जोड़ी ने स्वर्ण पदक अपने नाम किया, जबकि सिंगल स्कल्स में परमिंदर सिंह ने रजत पदक जीता। अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता में परमिंदर का पहला पदक है। प्रतियोगिता के अंतिम दिन ओलंपिक में भाग लेने वाले अरविंद सिंह पुरुषों की कॉक्सलेस क्वाड्रपल स्कल्स और लाइटवेट सिंगल स्कल्स में हिस्‍सा लेंगे। अरविंद सिंह इस स्‍पर्धा में पदक के प्रबल दावेदार माने जा रहे हैं।

प्रणब मुखर्जी की जयंती

11 दिसंबर, 2021 को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की जयंती पर उन्हें पुष्पांजलि अर्पित की। भारतीय राष्ट्रीय काॅन्ग्रेस के पूर्व नेता प्रणब मुखर्जी ने वर्ष 2012 से वर्ष 2017 तक बतौर राष्ट्रपति अपनी सेवाएँ दी थीं। इससे पूर्व उन्होंने वित्त मंत्री के तौर पर भी कार्य किया और अपने राजनीतिक जीवन में उन्होंने विदेश मामलों, रक्षा एवं वाणिज्य मंत्रालयों का भी कार्यभार संभाला। बंगाल के बीरभूम ज़िले में जन्मे प्रणब मुखर्जी ने कलकत्ता विश्वविद्यालय से राजनीति विज्ञान में मास्टर डिग्री प्राप्त की और कानून की भी पढ़ाई की। राजनीति में आने से पहले उन्होंने विद्यानगर कॉलेज में राजनीति विज्ञान के प्रोफेसर के रूप में और बंगाली पत्रिका 'देशेर डाक' के पत्रकार के रूप में भी काम किया। राष्ट्रीय राजनीति में मुखर्जी की शुरुआत वर्ष 1969 में हुई, जब वे पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के मार्गदर्शन में राज्यसभा के लिये चुने गए। प्रधानमंत्री ‘पी.वी. नरसिम्हा राव’ के कार्यकाल के दौरान उन्हें योजना आयोग का प्रमुख नियुक्त किया गया और बाद में वे विदेश मंत्री के रूप में भी नियुक्त किये गए। अपने समग्र राजनीतिक कार्यकाल के दौरान प्रणब मुखर्जी ने सूचना के अधिकार, रोज़गार के अधिकार, मेट्रो रेल और इसी तरह के कई अन्य घटनाक्रमों में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाई।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2022 RajasthanGyan All Rights Reserved.