Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

16 December 2021

बंगाल की दुर्गापूजा को यूनेस्को ने दिया सांस्कृतिक विरासत का दर्जा

विश्व प्रसिद्ध बंगाल की दुर्गा पूजा को यूनेस्को ने सांस्कृतिक विरासत का दर्जा दिया है। संयुक्त राष्ट्र संघ की सांस्कृतिक इकाई (यूनेस्को) ने बंगाल की दुर्गा पूजा को मानवता की अमूर्त सांस्कृतिक विरासत की प्रतिनिधि सूची में शामिल करने का एलान किया है। भारत की ओर से यूनेस्को से दुर्गा पूजा को विरासत का दर्जा देने की मांग रखी थी। इसे यूनेस्को ने मंजूरी दे दी है। पेरिस में 13 से 18 दिसंबर तक आयोजित हो रही अंतर सरकारी समिति के 16 वें सत्र के दौरान दुर्गा पूजा को यूनेस्को की मानवता की अमूर्त सांस्कृतिक विरासत की प्रतिनिधि सूची में शामिल किया गया है। धर्म, लिंग और आर्थिक तबके की बाधाओं को पार करते हुए इसके सर्व-समावेशी दृष्टिकोण के लिए इसकी विशेष रूप से प्रशंसा की गई है। दरअसल, दुर्गा पूजा के दौरान बंगाल की राजधानी कोलकाता के मध्य से शुरू कर पूर्व से लेकर पश्चिम तक और उत्तर से लेकर दक्षिण तक धूमधाम से बनाई जाती है। सांस्कृतिक विरासत केवल निशानियों और वस्तुओं का संकलन नहीं है, इसमें परंपराएं और हमारे पूर्वजों की भावनाएं भी शामिल हैं, जो आने वाली पीढ़ियों को मिलती हैं।

महाराष्ट्र के स्कूलों में यूनिसेफ जलवायु परिवर्तन पाठ्यक्रम

महाराष्ट्र सरकार अगली पीढ़ी में जलवायु-जागरूकता और हरित मूल्यों को विकसित करने के लिए ग्रेड I-VIII के लिए एक व्यापक पाठ्यक्रम शुरू करने की प्रक्रिया में है। यह नया पाठ्यक्रम पर्यावरण और जलवायु परिवर्तन विभाग और यूनिसेफ द्वारा विकसित किया गया है। इस पाठ्यक्रम को “माझी वसुंधरा पाठ्यक्रम” नाम दिया गया है। इसे ग्रेड I-VIII के छात्रों के बीच जलवायु परिवर्तन जैसे मुद्दों पर जागरूकता पैदा करने के उद्देश्य से पेश किया जा रहा है। पारंपरिक और स्थानीय ज्ञान के बीच संतुलन बनाकर छात्रों के बीच यह जागरूकता बढ़ाई जाएगी। माझी वसुंधरा पाठ्यक्रम महत्वपूर्ण है क्योंकि, जलवायु आपातकाल की इस घड़ी में, पृथ्वी पर मनुष्यों का अस्तित्व पूरी तरह से हमारे कार्यों पर निर्भर करता है। यह पाठ्यक्रम बच्चों को अपने पर्यावरण के साथ बेहतर तरीके से इंटरैक्ट करने में मदद करने के बारे में है। यह पर्यावरण के सम्मान, रक्षा और बचाने के लिए युवाओं को तैयार करने में मदद करेगा।

म्यांमार: National Unity Government ने आधिकारिक तौर पर टेदर (Tether) क्रिप्टोकरेंसी को स्वीकार किया

म्यांमार की National Unity Government ने टेदर (Tether) नामक दुनिया की सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी के उपयोग की अनुमति दी है। टेदर (Tether) क्रिप्टोकरेंसी का उपयोग आधिकारिक मुद्रा के रूप में किया जाएगा। इस कदम से फंड जुटाने और भुगतान करने में आसानी होगी। National Unity Government (NUG) में लोकतंत्र समर्थक समूह और म्यांमार के नागरिक प्रशासन के कुछ सदस्य शामिल हैं। NUG म्यांमार में सत्तारूढ़ सैन्य सरकार को गिराने की अपनी क्रांति के लिए धन जुटाने के लिए काम कर रहा है। दूसरे कदम में, सैन्य सरकार ने NUG को एक आतंकवादी के रूप में नामित किया है। टेदर एक क्रिप्टोकरेंसी है, जिसे एथेरियम ब्लॉकचेन पर होस्ट किया जाता है। इसके टोकन टेदर लिमिटेड द्वारा जारी किए जाते हैं। Tether Limited को Bitfinex के मालिकों द्वारा नियंत्रित किया जाता है। टेदर को एक स्थिर मुद्रा कहा जाता है, क्योंकि इसे मूल रूप से हमेशा $ 1 के बराबर होने के लिए डिज़ाइन किया गया था। इसे बिटकॉइन जैसी क्रिप्टोकरेंसी की तरह ही ट्रांसफर किया जा सकता है। इस प्रकार, सरकारों और अन्य प्राधिकरणों के लिए भुगतानों को ट्रैक करना या रोकना मुश्किल हो जाता है।

सरकार ने बिहार के मिथिला मखाना को जीआई टैग देने की याचिका स्वीकार की

केंद्रीय वाणिज्य मंत्रालय के तहत भौगोलिक संकेत रजिस्ट्री (GIR) ने बिहार मखाना का नाम बदलकर मिथिला मखाना करने की याचिका को स्वीकार कर लिया है और इसके मूल को बेहतर ढंग से दर्शाने के लिए ब्रांड लोगो में और बदलाव का सुझाव दिया है। इसने अपने मूल को उजागर करने और उत्पाद के भौगोलिक संकेत (जीआई) अधिकारों की रक्षा के लिए ब्रांड लोगो में संशोधन का भी सुझाव दिया।

2021 के लिए टाइम मैगजीन का 'पर्सन ऑफ द ईयर': एलोन मस्क

प्रतिष्ठित टाइम पत्रिका (TIME magazine) ने टेस्ला के सीईओ एलोन मस्क को 2021 पर्सन ऑफ द ईयर के रूप में नामित किया है। 2021 में, यूएस-आधारित इलेक्ट्रिक-वाहन स्टार्टअप टेस्ला $ 1 ट्रिलियन कंपनी बन गई क्योंकि मस्क लगभग 255 बिलियन अमेरिकी डॉलर की अनुमानित संपत्ति के साथ दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति बन गए है। मस्क रॉकेट कंपनी स्पेसएक्स (SpaceX) के संस्थापक और सीईओ भी हैं, और ब्रेन-चिप स्टार्ट-अप न्यूरालिंक और इंफ्रास्ट्रक्चर फर्म द बोरिंग कंपनी का नेतृत्व करते हैं। टाइम पत्रिका ने अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) और उपराष्ट्रपति कमला हैरिस (Kamala Harris) को 2020 के लिए पर्सन ऑफ द ईयर के रूप में नामित किया।

आपराधिक मामलों में पारस्परिक कानूनी सहायता के लिए भारत और पोलैंड के बीच संधि को मंजूरी

मंत्रिमंडल ने भारत और पोलैंड के बीच आपराधिक मामलों में पारस्परिक कानूनी सहायता के लिए संधि को मंजूरी दे दी है। इस संधि से पारस्परिक कानूनी सहायता के माध्यम से आतंकवाद से जुड़े अपराधों सहित अन्‍य मामलो की जांच और पैरवी करने में आपसी क्षमता तथा प्रभावशीलता में वृद्धि होगी। संधि का उद्देश्य अंतरराष्ट्रीय अपराधों और आतंकवाद के साथ इसके संबंधों के संदर्भ में अपराध की जांच तथा पैरवी में दोनों देशों की प्रभावशीलता को बढ़ाना है।

केन्द्र ने प्याज, आलू और दालों इत्‍यादि की कीमतों पर नियंत्रण के लिए मूल्य स्थिरीकरण कोष का गठन किया

केंद्र ने उपभोक्ताओं के हितों की रक्षा के लिए प्याज, आलू और दाल जैसी कृषि उत्‍पादों की कीमतों में उतार-चढ़ाव से निपटने के लिए मूल्य स्थिरीकरण कोष की स्थापना की है। उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने आज लोकसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में यह जानकारी दी। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि कीमतों को नियंत्रित करने के लिए मूल्य स्थिरीकरण कोष के तहत दालों और प्याज का बफर स्टॉक रखा जाता है।

राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने बांग्लादेश के राष्ट्रपति मोहम्मद अब्दुल हामिद के साथ ढाका में प्रतिनिधि स्तरीय वार्ता की

राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने बंगभवन में बांग्लादेश के राष्‍ट्रपति मोहम्मद अब्दुल हामि‍द के साथ प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता की। बंगभवन पहुंचने पर श्री हामिद ने राष्ट्रपति कोविंद का औपचारिक स्वागत किया। इस दौरान बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना भी उपस्थित थीं। राष्ट्रपति कोविंद ने 1971 में इस्तेमाल किए गए मिग-21 का एक छोटा-सा मॉडल दोनों देशों के बीच मित्रता के प्रतीक के रूप में भेंट किया। राष्ट्रपति कोविंद और प्रधानमंत्री शेख हसीना ने दोनों देशों के बीच आपसी हित तथा द्विपक्षीय सहयोग के मुद्दों पर चर्चा की। इस दौरान बहुआयामी और व्यापक द्विपक्षीय संबंधों में हुई प्रगति की भी समीक्षा की गई। दोनों नेताओं ने 1971 के मुक्ति संग्राम का स्‍मरण किया और 6 दिसंबर 1971 को बांग्लादेश को भारत द्वारा दी गई मान्यता को याद करते हुए मैत्री दिवस के संयुक्त उत्सव पर प्रसन्‍नता व्यक्त की। राष्ट्रपति कोविंद, विजय दिवस के अवसर पर 16 दिसंबर को बांग्लादेश की स्वतंत्रता की स्वर्ण जयंती और बंगबंधु शेख मुजीबुर रहमान के जन्म शताब्दी वर्ष के समारोह में विशिष्ट अतिथि के रूप में शामिल होंगे। इस अवसर पर भारतीय सशस्त्र बलों से 122 सदस्यीय त्रि-सेवा दल भी परेड में भाग लेगा।

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 2021-26 के लिए प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के कार्यान्वयन को स्वीकृति दी

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडल समिति ने 93,068 करोड़ रुपये के प्रावधान के साथ 2021-26 के लिये प्रधानमंत्री कृषि संचाई योजना (पीएकेएसवाई) के क्रियान्वयन को मंजूरी दे दी है। सीसीईए ने राज्यों के लिये 37,454 करोड़ रुपये की केंद्रीय सहायता तथा पीएमकेएसवाई 2016-21 के दौरान सिंचाई विकास के लिये भारत सरकार द्वारा लिये गये ऋण को चुकाने के सम्बंध में 20,434.56 करोड़ रुपये मंजूर किये हैं। त्वरित सिंचाई लाभ कार्यक्रम (एआईबीबी), हर खेत को पानी (एचकेकेपी) और भूमि, जल व अन्य विकास घटकों को 2021-26 में जारी रखने को भी मंजूरी दी गई। त्वरित सिंचाई लाभ कार्यक्रम, केंद्र सरकार का प्रमुख कार्यक्रम है। इसका उद्देश्य सिंचाई परियोजनाओं को वित्तीय सहायता प्रदान करना है। एआईबीपी के अंतर्गत 2021-26 के दौरान कुल अतिरिक्त सिंचाई क्षमता को 13.88 लाख हेक्टेयर तक करना है। दो राष्ट्रीय परियोजनाओं के लिए जल निकायों के 90 प्रतिशत केंद्रीय वित्त पोषण का प्रावधान किया गया है। ये परियोजनाएं हिमाचल प्रदेश की रेणुकाजी बांध और उत्तराखंड में लखवार बहुउद्देशीय परियोजना हैं।

चीन और रूस का 'अच्‍छे पडोसी तथा मैत्रीपूर्ण सहयोग संधि' को प्रत्‍येक 5 वर्ष पर बढाने का निर्णय

चीन के राष्‍ट्रपति षी जिगपिंग ने अपने समकक्ष रूस के राष्‍ट्रपति ब्‍लादिमीर पुतिन से वर्चुअल माध्‍यम से बातचीत की और दोनों देशों के बीच आपसी संबंधों को मजबूत करने की प्रतिबद्धता को दोहराया है। राष्‍ट्रपति षी जिगपिंग ने कहा है कि दोनों देश महत्‍वपूर्ण मुद्दों एक-दूसरे का समर्थन करते हैं और राष्‍ट्रीय गरिमा और हितों की रक्षा करते हैं। चीन के राष्‍ट्रपति, चीन और रूस के बीच अच्‍छे पडोसी तथा मैत्रीपूर्ण सहयोग संधि की बीसवीं वर्षगांठ मना रहे हैं। दोनों पक्षों ने प्रत्‍येक पांच वर्ष पर इस संधि को बढाने का निर्णय लिया है। उन्‍होंने कहा कि चीन और रूस को वैज्ञानिक और तकनीकी क्रांति तथा औद्योगिक परिवर्तन के दौर में लाए गए अवसरों का उठाना चाहिए। 2021 की पहली तिमाही में दोनों देशों के बीच व्‍यापार पहली बार 100 अरब डॉलर से ऊपर हो गया है।

स्‍कूलों में दोपहर भोजन योजना के राष्‍ट्रीय कार्यक्रम का नाम बदलकर प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण किया गया

केन्‍द्र ने बताया कि कोविड-19 महामारी के चलते स्‍कूल बंद होने के कारण सभी पंजीकृत छात्रों को दोपहर भोजन योजना के बदले सीधा लाभ हस्‍तांतरण के अंतर्गत नकद राशि का भुगतान किया जा रहा है। राज्‍यसभा में एक लिखित उत्‍तर में शिक्षा राज्‍य मंत्री अन्‍नपूर्णा देवी ने बताया कि वर्ष 2020-21 और 2021-22 के दौरान राज्‍यों और केन्‍द्र शासित प्रदेशों द्वारा स्‍कूल बंद होने के कारण छात्रों को राशन या खाद्य सुरक्षा भत्‍ता दिया जा रहा है। शिक्षा राज्‍य मंत्री ने कहा कि इन भत्‍तों का मूल्‍य खाद्यान्‍न और उसको पकाने की कीमत के बराबर दिया जा रहा है। उन्‍होंने कहा कि अब राज्‍यों द्वारा स्‍कूल खोले जा रहे हैं और दोपहर भोजन योजना शुरू की जा रही है। केन्‍द्र द्वारा संचालित स्‍कूलों में दोपहर भोजन योजना के राष्‍ट्रीय कार्यक्रम का नाम बदलकर प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण कर दिया गया है।

पत्‍तन, पोत और जलमार्ग मंत्रालय ने मैरीटाइम इंडिया विजन 2030 तैयार किया

केंद्रीय पत्‍तन, पोत और जलमार्ग मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने कहा है कि भारत का उद्देश्य आपूर्ति श्रृंखला में कार्यक्षमता को बढ़ाने और रसद लागत को कम करना है जिससे देश को 2025 तक पांच ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था का लक्ष्य प्राप्त करने में सुविधा होगी। नई दिल्ली में वर्चुअल माध्यम से सीआईआई पार्टनरशिप समिट 2021 को संबोधित करते हुए श्री सोनोवाल ने कहा कि भारत दुनिया में सबसे बड़ी आपूर्ति श्रृंखला और रसद क्षेत्रों में से एक है जो तेज गति से आगे बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि अर्थव्यवस्था के सभी क्षेत्रों की प्रतिस्पर्धा में सुधार के लिए कुशल रसद पारिस्थितिकी तंत्र को प्रेरक माना जाता है। श्री सोनोवाल ने कहा कि मंत्रालय ने अगले दशक से भारत में वैश्विक समुद्री क्षेत्र में समन्वित और शीघ्र विकास को सुनिश्चित करने के लिए एक खाका मैरीटाइम इंडिया विजन 2030 तैयार किया है।

भारत की पहली; और दुनिया की सबसे बड़ी ग्रीन हाइड्रोजन माइक्रोग्रिड परियोजनाओं में से एक की शुरुआत सिम्हाद्री में हो रही है

एनटीपीसी ने सिम्हाद्री (विशाखापत्तनम के पास) के एनटीपीसी गेस्ट हाउस में इलेक्ट्रोलाइजर का उपयोग करके हाइड्रोजन उत्पादन के साथ ही "एकल ईंधन-सेल आधारित माइक्रो-ग्रिड" परियोजना की शुरुआत की है। यह भारत की पहली हरित हाइड्रोजन आधारित ऊर्जा भंडारण परियोजना है। इसकी बड़े पैमाने पर हाइड्रोजन ऊर्जा भंडारण परियोजनाओं में अग्रणी भूमिका होगी और यह देश के विभिन्न ऑफ ग्रिड तथा महत्वपूर्ण स्थानों में माइक्रोग्रिड की स्थापना एवं अध्ययन के लिए उपयोगी साबित होगी। परियोजना के तहत नजदीक के फ्लोटिंग सोलर प्रोजेक्ट से इनपुट पावर लेकर उन्नत 240 किलोवाट सॉलिड ऑक्साइड इलेक्ट्रोलाइजर का उपयोग करके हाइड्रोजन का उत्पादन किया जाएगा। धूप रहने के समय के दौरान घंटों तक उत्पादित हाइड्रोजन को उच्च दबाव में संग्रहित किया जाएगा और फिर 50 किलोवाट ठोस ऑक्साइड ईंधन सेल का उपयोग करके इसे विद्युतीकृत किया जाएगा। यह प्रणाली शाम 5 बजे से सुबह 7 बजे तक एकल आधार पर कार्य करेगी।

चीनी सब्सिडी पर भारत का विश्व व्यापार संगठन विवाद

विश्व व्यापार संगठन (WTO) में, भारत चीनी निर्यात की सब्सिडी पर विवाद निपटान पैनल के साथ विवाद हार गया है। विवाद निपटान पैनल ने ब्राजील, ऑस्ट्रेलिया और ग्वाटेमाला द्वारा दायर एक शिकायत पर भारत के खिलाफ फैसला सुनाया है। हालांकि, यह फैसला तत्काल प्रभाव से लागू नहीं होगा, क्योंकि भारत इस रिपोर्ट के खिलाफ अपील दायर करेगा। इसके अलावा, विश्व व्यापार संगठन में कार्यात्मक अपीलीय निकाय की कमी है। इस प्रकार, इस मामले पर अंतिम निर्णय जल्द ही नहीं होगा। 2014-15 से 2018-19 के बीच लगातार पांच चीनी मौसमों के लिए, भारत ने गन्ना उत्पादकों को गन्ना उत्पादन के कुल मूल्य के अनुमत 10 प्रतिशत के स्तर से अधिक गैर-छूट उत्पाद-विशिष्ट घरेलू समर्थन ( non-exempt product-specific domestic support) प्रदान किया था। इस प्रकार, निपटान पैनल की रिपोर्ट में पाया गया कि, भारत कृषि समझौते के अनुच्छेद 7.2 (बी) के तहत प्रदान किए गए अपने दायित्वों के साथ असंगत रूप से कार्य कर रहा था। भारत इस क्षेत्र को वित्तीय सहायता प्रदान करके चीनी निर्यात को प्रोत्साहित करता है। यह क्षेत्र उत्तर प्रदेश और महाराष्ट्र जैसे राज्यों में 50 मिलियन से अधिक किसानों को रोजगार देता है।

भारत, ईरान और उज्बेकिस्तान ने चाबहार बंदरगाह के संयुक्त उपयोग पर चर्चा की

भारत, ईरान और उज्बेकिस्तान ने चाबहार बंदरगाह (Chabahar Port) के संयुक्त उपयोग पर बातचीत की। उन्होंने क्षेत्रीय संपर्क को बढ़ाने में बंदरगाह द्वारा निभाई गई महत्वपूर्ण भूमिका को भी रेखांकित किया। इस बैठक के दौरान, तीनों देशों ने इस बंदरगाह के पार परिवहन गलियारे के विकास पर चर्चा की। रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण इस बंदरगाह के विकास पर उनके बीच यह दूसरी ऐसी वर्चुअल बैठक थी। भाग लेने वाले देशों ने चाबहार बंदरगाह पर शहीद बेहेस्ती टर्मिनल के माध्यम से दक्षिण एशिया और मध्य एशिया के बीच पारगमन यातायात में वृद्धि पर भी प्रकाश डाला। उन्होंने ट्रांसपोर्ट कॉरिडोर के विकास पर भी चर्चा की। चाबहार बंदरगाह पर शाहिद बेहेश्ती टर्मिनल रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण है क्योंकि इसने रूस, ब्राजील, जर्मनी, थाईलैंड, ओमान, यूक्रेन, बांग्लादेश, रोमानिया, कुवैत, ऑस्ट्रेलिया, कुवैत, यूएई और उजबेकिस्तान जैसे देशों से शिपमेंट और ट्रांस-शिपमेंट को संभाला है।

यूरोपीय संघ: माल्टा ने घर पर और निजी इस्तेमाल के लिए भांग को वैध घोषित किया

माल्टा (Malta) यूरोपीय संघ का पहला देश बन गया है जिसने घर पर और व्यक्तिगत उपयोग के लिए भांग (cannabis) को वैध बना दिया है। नए कानून के तहत, माल्टा ने 18 वर्ष और उससे अधिक उम्र के लोगों को 7 ग्राम तक भांग रखने की अनुमति दी है। उन्हें घर पर चार पौधे तक उगाने की भी अनुमति होगी। यह कानून 500 लोगों तक के विभिन्न गैर-लाभकारी संगठनों को अपने सदस्यों के लिए दवा विकसित करने की अनुमति देता है। सार्वजनिक रूप से भांग का सेवन अभी भी अवैध है और 235 यूरो के जुर्माने से दंडनीय है। इसके अलावा, सार्वजनिक या घर में बच्चे के सामने भांग का सेवन करने पर 300 और 500 यूरो का जुर्माना लगेगा।

अजय सिंह ने ‘राष्ट्रमंडल भारोत्तोलन चैंपियनशिप’ का भारत का तीसरा स्वर्ण जीता

अजय सिंह ने पुरुषों के 81 किलोग्राम वर्ग को जीतकर, ‘राष्ट्रमंडल भारोत्तोलन चैंपियनशिप’ का भारत का तीसरा स्वर्ण पदक जीत लिया है। इसी के साथ वह ‘बर्मिंघम’ में आगामी वर्ष आयोजित होने वाले राष्ट्रमंडल खेलों के लिये सीधे क्वालीफाई करने वाले तीसरे भारतीय भारोत्तोलक बन गए। ‘जेरेमी लालरिननुंगा’ (67 किलोग्राम) और ‘अचिंता शुली’ (73 किलोग्राम) ने अपनी-अपनी प्रतियोगिताओं में स्वर्ण पदक जीतकर वर्ष 2022 राष्ट्रमंडल खेलों के लिये पहले ही क्वालीफाई कर लिया है।

डेविड वार्नर और हेली मैथ्यूज को नवंबर का आईसीसी प्लेयर ऑफ द मंथ चुना गया

ऑस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर (David Warner) और वेस्टइंडीज की हरफनमौला खिलाड़ी हेली मैथ्यूज (Hayley Matthews) को नवंबर के लिए आईसीसी प्लेयर ऑफ द मंथ चुना गया है।

सरदार वल्ल‍भभाई पटेल

15 दिसंबर, 2021 को देश भर में लौह पुरुष सरदार वल्लभभाई पटेल की 71वीं पुण्यतिथि मनाई गई। सरदार पटेल का जन्म 31 अक्तूबर, 1875 को गुजरात में हुआ था। उन्होंने लंदन जाकर कानून की शिक्षा प्राप्त की और वापस आकर भारत में वकालत करने लगे। वर्ष 1917 में वे महात्मा गांधी से मिले और गांधी से प्रेरित होकर भारतीय स्वतंत्रता संग्राम में शामिल हो गए। वर्ष 1920 में सरदार पटेल गुजरात प्रदेश काॅन्ग्रेस कमेटी के अध्यक्ष बने और उन्होंने शराबबंदी, छुआछूत एवं जातिगत भेदभाव आदि के विरुद्ध दृढ़ता से कार्य किया। वल्लभ भाई पटेल ने भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के दौरान वर्ष 1928 में गुजरात में एक प्रमुख किसान आंदोलन का नेतृत्त्व किया, जिसकी सफलता के बाद उन्हें ‘सरदार’ की उपाधि प्रदान की गई थी। स्वतंत्रता प्राप्ति के समय सरदार पटेल को तत्कालीन 562 रियासतों को स्वतंत्र भारत में शामिल करने का महत्त्वपूर्ण कार्य सौंपा गया था, जिसे उन्होंने बखूबी पूरा किया, जिसके कारण उन्हें 'भारत का लौह पुरुष' भी कहा जाता है। 15 दिसंबर, 1950 को बॉम्बे में उनका निधन हो गया। उन्हें वर्ष 1991 में मरणोपरांत भारत रत्न से सम्मानित किया गया। सरदार वल्लभभाई पटेल के नाम से गुजरात में ‘स्टेच्यू ऑफ यूनिटी’ स्मारक बनाया गया है।

कुन्नूर हेलीकॉप्टर दुर्घटना में जीवित बचे ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह का निधन

ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह, जिन्हें हेलीकॉप्टर दुर्घटना के बाद बचाया गया था, जिसमें चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत और 12 अन्य मारे गए थे, का निधन हो गया है। तमिलनाडु के कुन्नूर के वेलिंगटन से ले जाए जाने के बाद गंभीर रूप से झुलसे उनका बेंगलुरु के एक सैन्य अस्पताल में इलाज चल रहा था। पिछले कुछ दिनों से उनकी हालत 'गंभीर लेकिन स्थिर' बनी हुई थी । इस साल अगस्त में, ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह को एक संभावित मध्य-हवाई दुर्घटना को रोकने के लिए शौर्य चक्र से सम्मानित किया गया था, जब उनके तेजस हल्के लड़ाकू विमान में पिछले साल एक प्रमुख तकनीकी खराबी हुई थी।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2022 RajasthanGyan All Rights Reserved.