Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

7 January 2022

कर्नाटक का पहला एलएनजी टर्मिनल मेंगलुरु में बनेगा

कर्नाटक सरकार ने हाल ही में मेंगलुरु में राज्य का पहला एलएनजी टर्मिनल स्थापित करने हेतु सिंगापुर स्थित ‘एलएनजी एलायंस कंपनी’ के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किये हैं। इस टर्मिनल की स्थापना ‘न्यू मैंगलोर पोर्ट ट्रस्ट’ (NMPT) के सहयोग से 2250 करोड़ रुपए के निवेश से की जाएगी। इस संबंध में की गई घोषणा के मुताबिक, यह परियोजना 200 लोगों को प्रत्यक्ष रोज़गार प्रदान करेगी। यह कर्नाटक का पहला और देश का छठा ‘तरलीकृत प्राकृतिक गैस’ (LNG) टर्मिनल होगा। यह वर्ष 2070 तक शुद्ध शून्य कार्बन का लक्ष्य प्राप्त करने हेतु वैकल्पिक ईंधन बाज़ार को बढ़ावा देने संबंधी केंद्र की व्यापक योजना में मददगार साबित हो सकता है। एक बार पूरा होने पर यह परियोजना मेंगलुरु के आसपास 300 किलोमीटर के दायरे में ‘तरलीकृत प्राकृतिक गैस’ यानी एलएनजी की आपूर्ति करने में सक्षम होगी। ‘तरलीकृत प्राकृतिक गैस’ (LNG) प्राकृतिक गैस का तरल रूप है, जिसे आमतौर पर जहाज़ों के माध्यम से बड़ी मात्रा में उन देशों को भेजा जाता है जहाँ पाइप लाइन का विस्तार संभव नहीं है। प्राकृतिक गैस को 160 डिग्री सेल्सियस तक ठंडा करके तरल अवस्था में लाया जाता है।

कैप्टन हरप्रीत चंडी अकेले दक्षिणी ध्रुव का ट्रैकिंग अभियान पूरा करने वाली पहली अश्वेत महिला

32 वर्षीय भारतीय मूल की ब्रिटिश सिख सेना अधिकारी और फिज़ियोथेरेपिस्ट कैप्टन हरप्रीत चंडी ने अकेले दक्षिणी ध्रुव का ट्रैकिंग अभियान पूरा कर इतिहास रच दिया है और वह ऐसा करने वाली पहली अश्वेत महिला बन गई हैं। इंग्लैंड के उत्तर-पश्चिम में एक मेडिकल रेजिमेंट के हिस्से के रूप में हरप्रीत चंडी की प्राथमिक भूमिका सेना के लिये नैदानिक ​​प्रशिक्षण अधिकारी के रूप में चिकित्सकों के प्रशिक्षण को व्यवस्थित करना है। इसके अलावा वह वर्तमान में लंदन में स्थित ‘क्वीन मैरी विश्वविद्यालय’ में खेल और व्यायाम चिकित्सा में स्नातकोत्तर (अंशकालिक) की भी पढ़ाई कर रही हैं।

1954 के श्री जगन्नाथ मंदिर अधिनियम में संशोधन को मंज़ूरी

हाल ही में एक ऐतिहासिक निर्णय में ओडिशा राज्य मंत्रिमंडल ने वर्ष 1954 के श्री जगन्नाथ मंदिर अधिनियम में संशोधन को मंज़ूरी दे दी है। वर्ष 1806 में तत्कालीन ब्रिटिश सरकार ने जगन्नाथ मंदिर के प्रबंधन के लिये नियम जारी किये थे, जिसे औपनिवेशिक शासकों द्वारा जगरनॉट टेंपल कहा जाता था। इन नियमों के तहत, मंदिर में आने वाले तीर्थयात्रियों से करों का भुगतान करने की अपेक्षा की जाती थी। ब्रिटिश सरकार को मंदिर में वरिष्ठ पुजारियों की नियुक्ति का काम सौंपा गया था। मंदिर के प्रबंधन की शक्तियाँ तीन वर्ष बाद खोरधा के राजा को सौंप दी गईं थी जबकि औपनिवेशिक सरकार ने इस पर अपना नियंत्रण बनाए रखा था। भारत को स्वतंत्रता मिलने के बाद जगन्नाथ मंदिर अधिनियम, 1952 पेश किया गया जो वर्ष 1954 में लागू हुआ। इस अधिनियम में मंदिर के भूमि अधिकार, पुजारियों के कर्त्तव्य, श्री जगन्नाथ मंदिर प्रबंधन समिति की प्रशासनिक शक्तियों के अधिकार, पुरी के राजा और मंदिर के प्रबंधन व प्रशासन से जुड़े अन्य व्यक्तियों के विशेषाधिकार शामिल हैं। जगन्नाथ मंदिर के नाम पर ज़मीन बेचने और पट्टे पर देने की शक्ति अब मंदिर प्रशासन तथा संबंधित अधिकारियों को सौंपी जाएगी। पहले के विपरीत, इस प्रक्रिया हेतु राज्य सरकार से किसी अनुमोदन की आवश्यकता नहीं होगी।

चिल्का झील में लगभग 11 लाख जलपक्षी और आर्द्रभूमि पर निर्भर अन्य प्रजातियाँ

चिल्का झील में किये गए जलपक्षी स्थिति सर्वेक्षण-2022 के अनुसार, लगभग 11 लाख जलपक्षी और आर्द्रभूमि पर निर्भर अन्य प्रजातियाँ इस झील की तरफ आईं। चिल्का झील भारतीय उपमहाद्वीप में स्थित सबसे बड़ी खारे पानी की झील और शीत ऋतु के दौरान पक्षियों के आगमन हेतु सबसे बड़ा स्थान है। चिल्का एशिया का सबसे बड़ा और विश्व का दूसरा सबसे बड़ा लैगून है। शीतकाल के दौरान भारतीय उपमहाद्वीप में प्रवासी पक्षियों को आकर्षित करने वाला सबसे बड़ा मैदान होने के साथ ही यह पौधों और जानवरों की कई संकटग्रस्त प्रजातियों का निवास स्थान है। वर्ष 1981 में चिल्का झील को रामसर कन्वेंशन के तहत अंतर्राष्ट्रीय महत्त्व का पहला भारतीय आर्द्रभूमि नामित किया गया था। चिल्का में प्रमुख आकर्षण इरावदी डॉलफिन (Irrawaddy Dolphins) हैं जिन्हें अक्सर सातपाड़ा द्वीप के पास देखा जाता है।

ओमिक्रॉन वेरिएंट का पता लगाने के लिये ओमिस्योर नाम की एक ‘मेड-इन-इंडिया’ परीक्षण किट

हाल ही में भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (ICMR) ने SARS-CoV-2 कोरोनावायरस के ओमिक्रॉन वेरिएंट का पता लगाने के लिये ओमिस्योर नाम की एक ‘मेड-इन-इंडिया’ परीक्षण किट को मंजूरी दी है। वर्तमान में देश में ओमिक्रॉन का पता लगाने के लिये उपयोग की जाने वाली किट को अमेरिका स्थित वैज्ञानिक उपकरण कंपनी थर्मो फिशर द्वारा विकसित किया गया है। इसके अलावा विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने प्रयोगशाला क्षमताओं को मज़बूत करने के लिये कुछ उपायों का प्रस्ताव दिया है, जिसमें कोविड -19 निदान उपकरणों तक पहुँच में असमानताओं को दूर करने पर ध्यान केंद्रित किया गया है। यह आरटी-पीसीआर किट ‘टाटा मेडिकल एंड डायग्नोस्टिक्स’ द्वारा निर्मित की गई है। यह ‘s-जीन टारगेट फेलर’ (एसजीटीएफ) रणनीति का उपयोग करती है। वर्तमान में जीनोम अनुक्रमण के बाद ही ओमिक्रॉन रोगियों का पता लगाया जाता है। ओमिस्योर टेस्ट किट इस प्रक्रिया को खत्म करने में मदद करती है और आरटी-पीसीआर परीक्षणों के दौरान नासॉफिरिन्जियल/ऑरोफरीन्जियल नमूनों में SARS-CoV2 के ओमिक्रॉन वेरिएंट का पता लगाती है।

अतुल केशप बने यूएस-इंडिया बिजनेस काउंसिल के अध्यक्ष

भारतीय मूल के अमेरिकी राजनयिक अतुल केशप (Atul Keshap) को यूएस चैंबर्स ऑफ कॉमर्स द्वारा यूएस-इंडिया बिजनेस काउंसिल (USIBC) का अध्यक्ष नियुक्त किया गया है। उनका कार्यकाल 05 जनवरी, 2022 से प्रभावी है। यूएस चैंबर्स ऑफ कॉमर्स यूएसआईबीसी की मूल संस्था है। अतुल केशप निशा देसाई बिस्वाल की जगह लेंगे। इससे पहले, केशप ने दिल्ली में संयुक्त राज्य अमेरिका के चार्जेड अफेयर्स के रूप में भारत में सेवा की, अमेरिकी दूतावास टीम का नेतृत्व किया। USIBC संयुक्त राज्य अमेरिका, भारत और इंडो-पैसिफिक में सक्रिय शीर्ष वैश्विक कंपनियों का प्रतिनिधित्व करता है।

अजय कुमार चौधरी और दीपक कुमार RBI के नए कार्यकारी निदेशक नियुक्त

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने 03 जनवरी से दीपक कुमार और अजय कुमार चौधरी को नए कार्यकारी निदेशक (ED) के रूप में नियुक्त किया है। ईडी के रूप में पदोन्नत होने से पहले, दीपक कुमार आरबीआई के सूचना प्रौद्योगिकी विभाग का नेतृत्व कर रहे थे, जबकि अजय चौधरी पर्यवेक्षण विभाग के प्रभारी मुख्य महाप्रबंधक थे।

केरल का उच्च न्यायालय: भारत का पहला कागज रहित न्यायालय

केरल उच्च न्यायालय भारत का पहला पेपरलेस कोर्ट बनने के लिए तैयार है। सुप्रीम कोर्ट के जज जस्टिस डी वाई चंद्रचूड़ ने 1 जनवरी 2022 को स्मार्ट कोर्ट रूम का उद्घाटन किया। पहले चरण में मुख्य न्यायाधीश के कक्ष सहित छह अदालतों को स्मार्ट कोर्ट में बदला जाएगा। साथ ही वकीलों को केस फाइल कंप्यूटर स्क्रीन पर उपलब्ध कराई जाएगी। ई-फाइल किए गए मामलों को ई-मोड के माध्यम से संसाधित, सत्यापित और ठीक किया जाएगा, हितधारक भौतिक सुनवाई के साथ-साथ वीडियोकांफ्रेंसिंग के माध्यम से हाइब्रिड मोड में मामलों की सुनवाई के विकल्प का लाभ उठा सकते हैं, और आदेश और निर्णय ई-मोड के माध्यम से भी वितरित किए जाएंगे। प्रक्रिया के प्रत्येक भाग को न्यायिक प्रक्रिया में व्यक्तिगत हितधारकों और प्रतिभागियों के डैशबोर्ड या वर्चुअल बॉक्स के माध्यम से देखा, संसाधित किया जा सकता है। लिटिगेंट सहित सभी हितधारक अपने घरों, कार्यालयों या पारगमन में आराम से मामलों तक पहुंच सकते हैं, काम कर सकते हैं और अपडेट कर सकते हैं।

हिमाचल प्रदेश देश का पहला एलपीजी सक्षम और धूम्रपान मुक्त राज्य बना

हिमाचल प्रदेश पहला एलपीजी सक्षम और धूम्रपान मुक्त राज्य बन है। यह मील का पत्थर केंद्र द्वारा शुरू की गई उज्ज्वला योजना (Ujjwala Schem) और गृहिणी सुविधा योजना (Grahini Suvidha Yojana) के कारण हासिल किया गया था। सरकार ने धुंए से निजात पाने के लिए उज्ज्वला योजना शुरू की थी। ग्रामीण क्षेत्रों की महिलाओं की सहायता के लिए गृहिणी सुविधा योजना शुरू की गई थी। उज्ज्वला योजना केंद्र सरकार द्वारा देश की महिलाओं को घर के अंदर होने वाले प्रदूषण से मुक्त करने के उद्देश्य से शुरू की गई थी। इसके साथ ही हिमाचल सरकार ने योजना के तहत अधिक से अधिक महिलाओं को लाभान्वित करने के लिए गृहिणी सुविधा योजना भी शुरू की। उज्जवला योजना के तहत 21.81 करोड़ रुपये की लागत से 1.36 लाख मुफ्त घरेलू कनेक्शन हिमाचल में दिए गए, जबकि हिमाचल सरकार की गृहिणी सुविधा योजना के तहत, 120 करोड़ रुपये की लागत से 3.23 लाख गृहिणियों को मुफ्त गैस सिलेंडर प्रदान किए गए।

NBBL ने आवर्ती बिल भुगतान को आसान बनाने के लिए UPMS लॉन्च किया

एनपीसीआई भारत बिलपे लिमिटेड (एनबीबीएल), नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी ने 'यूनिफाइड प्रेजेंटेशन मैनेजमेंट सिस्टम' (Unified Presentment Management System - UPMS) नामक एक कार्यक्षमता पेश की है। UPMS के माध्यम से NBBL ग्राहकों को अपने आवर्ती बिल भुगतान पर किसी भी चैनल से और किसी भी मोड के लिए स्थायी निर्देश स्थापित करने में सक्षम करेगा। ऑटो-डेबिट और बिल भुगतान प्रबंधन के संदर्भ में बिल स्वचालित रूप से बिलर्स से प्राप्त किए जाएंगे और ग्राहकों को उनकी कार्रवाई के लिए प्रस्तुत किए जाएंगे।

गूगल ने $500 मिलियन में इज़राइली साइबर सुरक्षा स्टार्टअप सिम्प्लीफाई का अधिग्रहण किया

अल्फाबेट इंक के स्वामित्व वाली, गूगल ने $ 500 मिलियन के सौदे में इजरायली साइबर सुरक्षा स्टार्टअप सिम्प्लीफाई (Siemplify) का अधिग्रहण किया है। बढ़ते साइबर हमलों के बीच यह अधिग्रहण देश में अमेरिकी टेक दिग्गज की सुरक्षा पेशकशों का विस्तार करेगा। सिम्प्लीफाई को गूगल क्लाउड के क्रॉनिकल ऑपरेशन में एकीकृत किया जाएगा। गूगल क्लाउड की सुरक्षा टीम के एक हिस्से के रूप में, सिम्प्लीफाई कंपनियों को उनके खतरे की प्रतिक्रिया को बेहतर ढंग से प्रबंधित करने में मदद करेगा। यह खरीदारी गूगल द्वारा एक इज़राइली कंपनी के चौथे अधिग्रहण को चिह्नित करती है और अमेरिका के बाहर साइबर सुरक्षा उद्योग में इसका पहला अधिग्रहण है। सिम्प्लीफाई की स्थापना 2015 में अमोस स्टर्न (सीईओ), एलोन कोहेन (सीटीओ) और गैरी फताखोव (सीओओ) द्वारा की गई थी। इसके तेल अवीव में कार्यालय और न्यूयॉर्क में मुख्यालय हैं। सिम्प्लीफाई उद्यमों के लिए एंड-टू-एंड सुरक्षा सेवाओं में माहिर हैं, जिन्हें आमतौर पर सुरक्षा ऑर्केस्ट्रेशन, ऑटोमेशन और प्रतिक्रिया (security orchestration, automation and response - SOAR) सेवाओं के रूप में संदर्भित किया जाता है।

ओडिशा का गंजम जिला अब बाल विवाह मुक्त

ओडिशा के गंजम (Ganjam) ने खुद को बाल विवाह मुक्त जिला घोषित किया है, जो राज्य में पहला है। जिला प्रशासन दो साल - 2020 और 2021 में 450 बाल विवाह और वीडियो-रिकॉर्ड 48,383 विवाहों को रोकने में सक्षम है। सत्यापन के बाद गंजम प्रशासन ने इसे बाल विवाह मुक्त जिला घोषित कर दिया। सरपंचों और टास्क फोर्स कमेटी के सदस्यों ने सिफारिशें भेजी थीं कि उनके अपने क्षेत्रों में कोई बाल विवाह नहीं हुआ है। गंजम ने एक कार्यक्रम निर्भया कढ़ी (निर्भय कली) शुरू किया था। सभी शैक्षणिक संस्थानों के प्रमुखों को निर्देश दिया गया है कि अगर 12 से 18 साल की उम्र की कोई लड़की पांच दिनों तक स्कूल से अनुपस्थित रहती है तो प्रशासन को इसकी सूचना दें। पिछले दो वर्षों में कम से कम एक लाख किशोरों की काउंसलिंग हुई है। प्रशासन ने किसी भी विवाह के लिए आधार कार्ड को अनिवार्य रूप से प्रस्तुत करना भी अनिवार्य कर दिया है।

आईसीसी महिला विश्व कप और न्यूजीलैंड श्रृंखला के लिए भारतीय महिला टीम की घोषणा

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने आईसीसी महिला विश्व कप और न्यूजीलैंड श्रृंखला के लिए भारतीय महिला टीम की घोषणा कर दी है। इस टीम का कप्तान मिताली राज जबकि हरमनप्रीत कौर को उप कप्तान बनाया गया है। इस टीम में विकेटकीपर ऋचा घोष और झूलन गोस्वामी सहित 15 खिलाडी हैं। अन्य खिलाडियों में स्मृति मंधाना, शैफाली वर्मा, यास्तिका भाटिया, दीप्ति शर्मा, ऋचा घोष ,स्नेह राणा, झूलन गोस्वामी, पूजा वस्त्राकर, मेघना सिंह, रेणुका सिंह ठाकुर, तानिया भाटिया, राजेश्वरी गायकवाड़ और पूनम यादव शामिल हैं। स्टैंडबाय खिलाड़ी सब्भिनेनी मेघना, एकता बिष्ट और सिमरन दिल बहादुर हैं।

भारत और तुर्कमेनिस्तान के बीच आपदा प्रबंधन क्षेत्र में सहयोग के समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर की मंजूरी

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने भारत और तुर्कमेनिस्तान के बीच आपदा प्रबंधन क्षेत्र में सहयोग के समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर की मंजूरी दे दी है। समझौता ज्ञापन के अंतर्गत स्‍थापित प्रणाली के माध्‍यम से भारत और तुर्कमेनिस्तान एक दूसरे के आपदा प्रबंधन तंत्र से लाभान्वित होंगे। यह आपदा प्रबंधन के क्षेत्र में तैयारियों और क्षमता निर्माण के क्षेत्रों को मजबूत करने में मदद करेगा।

महिला यात्रियों की सुरक्षा के लिए प्रमुख रेलवे स्टेशनों पर 244 मेरी सहेली टीम तैनात

रेलवे सुरक्षा बल लंबी दूरी की यात्रा कर रही महिला यात्रियों की सुरक्षा के लिए देशभर के प्रमुख रेलवे स्टेशनों पर दो सौ 44 मेरी सहेली टीम तैनात की है। रेल मंत्रालय ने बताया कि आरपीएफ यात्रा समाप्त करने वाली महिलाओं से फीडबैक प्राप्त करके सुरक्षा की प्रभावशीलता का आकलन करता है। मंत्रालय ने कहा कि इसके अलावा महिला यात्रियों के लिए रेल सुरक्षा जैसी सुरक्षा व्यवस्था की गई है, आठ सौ 40 स्टेशनों और लगभग चार हजार कोच में सीसीटीवी कैमरे लगाए गए है, महिला कोचों में अनाधिकृत यात्रियों के खिलाफ नियमित अभियान चलाया रहा है।

मंत्रिमंडल की आर्थिक कार्य समिति ने अंतर-राज्‍यीय पारेषण प्रणाली-हरित ऊर्जा गलियारे के दूसरे चरण की स्‍वीकृति दी

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने अंतर-राज्‍यीय पारेषण प्रणाली-हरित ऊर्जा गलियारे के दूसरे चरण की स्‍वीकृति दी। इस योजना से लगभग दस हजार सात सौ 50 सर्किट किलोमीटर पारेषण लाइन और उपकेंद्रों की करीब 27 हजार पांच सौ मेगा वोल्‍ट एम्‍पीयर क्षमता में वृद्धि होगी। मंत्रिमंडल ने भारत और नेपाल में धारचुला में महाकाली नदी पर पुल निर्माण की भी स्‍वीकृति दी।

आरबीआई: एयरटेल पेमेंट्स बैंक को मिला अनुसूचित बैंक का दर्जा

भारतीय रिजर्व बैंक अधिनियम, 1934 की दूसरी अनुसूची में भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) द्वारा एयरटेल पेमेंट्स बैंक को एक अनुसूचित बैंक के रूप में वर्गीकृत किया गया है। इसके साथ ही एयरटेल पेमेंट्स बैंक अब सरकार की पैरवी कर सकता है। एयरटेल पेमेंट्स बैंक 115 मिलियन उपयोगकर्ताओं के आधार के साथ देश में सबसे तेजी से बढ़ते डिजिटल बैंकों में से एक है। यह एयरटेल थैंक्स ऐप और 500,000 से अधिक पड़ोस बैंकिंग बिंदुओं के खुदरा नेटवर्क के माध्यम से डिजिटल समाधानों का एक सूट प्रदान करता है। सितंबर 2021 को समाप्त तिमाही में बैंक मुनाफे में आया।

क्रिप्टोवायर ने भारत का पहला क्रिप्टोकरेंसी IC15 वैश्विक सूचकांक जारी किया

क्रिप्टोवायर (CryptoWire), एक वैश्विक क्रिप्टो सुपर ऐप, जो टिकरप्लांट की एक विशेष व्यावसायिक इकाई है, ने भारत के पहले क्रिप्टोकरेंसी इंडेक्स - IC15 को लॉन्च करने की घोषणा की, जो बाजार पूंजीकरण द्वारा एक नियम-आधारित व्यापक बाजार सूचकांक है। कंपनी ने कहा कि IC15 दुनिया के प्रमुख क्रिप्टो एक्सचेंजों पर सूचीबद्ध शीर्ष 15 व्यापक रूप से कारोबार वाली तरल क्रिप्टोकरेंसी के प्रदर्शन को ट्रैक और मापता है। मुंबई स्थित कंपनी को क्रिप्टो खनन और वास्तविक बेंचमार्क और अंतर्निहित क्रिप्टो बाजार का एक दर्पण, एक अर्थ में उद्योग का बैरोमीटर, समग्र बाजार भावनाओं के विविध प्रतिनिधित्व के साथ अंतर्दृष्टि प्रदान करने के लिए डिज़ाइन किया गया है।

लद्दाख में मनाया पारंपरिक नव वर्ष 'लोसर महोत्सव'

लद्दाख में लोसर महोत्सव तिब्बती बौद्ध धर्म के पारंपरिक कार्यक्रम में नए साल की शुरुआत में मनाया जाता है। यह लद्दाख क्षेत्र में बौद्ध समुदाय द्वारा मनाया जाता है। लोसर तिब्बती चंद्र कैलेंडर की शुरुआत से 15 दिनों का त्योहार है, जो तिब्बती कैलेंडर में 11 महीनों के पहले दिन को चिह्नित करता है। लोसर एक तिब्बती शब्द है जिसका अर्थ है 'नया साल'। उत्सव की शुरुआत मठों, स्तूपों, आवासीय और अन्य स्थानों जैसे धार्मिक स्थानों की रोशनी के साथ जन्म और निर्वाण वर्षगांठ जे चोंखापा के उत्सव के साथ हुई। लोसर त्योहार की पूर्व संध्या भी दिवंगत प्रियजनों के लिए स्मारक भोजन प्रसाद के साथ मनाई जाती है।

निप्पॉन इंडिया एमएफ ने लॉन्च किया भारत का पहला ऑटो ईटीएफ

निप्पॉन इंडिया म्यूचुअल फंड (Nippon India Mutual Fund - NIMF) के परिसंपत्ति प्रबंधक, निप्पॉन लाइफ इंडिया एसेट मैनेजमेंट लिमिटेड ने भारत का पहला ऑटो सेक्टर ईटीएफ - निप्पॉन इंडिया निफ्टी ऑटो ईटीएफ लॉन्च करने की घोषणा की है। निप्पॉन इंडिया निफ्टी ऑटो ईटीएफ मुख्य रूप से निफ्टी ऑटो इंडेक्स वाले शेयरों में इंडेक्स के समान अनुपात में निवेश करेगा। यह ऑटो-संबंधित क्षेत्रों जैसे ऑटोमोबाइल 4 व्हीलर, ऑटोमोबाइल 2 और 3 व्हीलर, ऑटो सहायक और टायर का प्रतिनिधित्व करने वाली शीर्ष 15 (निफ्टी ऑटो इंडेक्स पद्धति के अनुसार) कंपनियों को एक्सपोजर प्रदान करेगा।

आरबीआई ने अंतर्राष्ट्रीय प्रेषण व्यवसाय के लिए फिनो पेमेंट्स बैंक को मंजूरी दी

भारतीय रिजर्व बैंक ने मनी ट्रांसफर सर्विस स्कीम (MTSS) के तहत अंतर्राष्ट्रीय (सीमा पार) प्रेषण व्यवसाय शुरू करने के लिए फिनो पेमेंट्स बैंक को मंजूरी दे दी है। मंजूरी से फिनो पेमेंट्स बैंक के ग्राहक विदेशों से भेजे गए पैसे प्राप्त कर सकेंगे। बैंक ने अपने मोबाइल एप्लिकेशन में भी इस सेवा को लागू करने की योजना बनाई है और इसकी सीमा पार प्रेषण में सुधार के लिए अधिक प्रमुख मनी ट्रांसफर ऑपरेटरों (एमटीओ) के साथ साझेदारी करने की भी योजना है। बैंक आवक सीमा-पार धन अंतरण गतिविधियों का संचालन करेगा और एक विदेशी मूलधन के साथ भागीदारी करेगा। इसे अपने विदेशी प्रिंसिपल के रूप में सबसे बड़े वैश्विक प्रेषण सेवा प्रदाताओं में से एक के साथ साझेदारी करने की स्वीकृति भी मिली है। पिरामिड के बीच में फिनो बैंक का ग्राहक खंड विदेशों में काम करने वाले कई लोगों के परिवारों को लक्षित करता है। विदेश में परिवार के सदस्यों द्वारा भेजे गए धन को अब सीधे निकटतम माइक्रो-एटीएम या आधार-सक्षम भुगतान सेवा (एईपीएस) सक्षम फिनो बैंक के पड़ोस मर्चेंट पॉइंट पर निकाला जा सकता है।

फोटो पत्रकारिता में जीशान ए लतीफ ने जीता रामनाथ गोयनका पुरस्कार

जिशान ए लतीफ ने फोटो पत्रकारिता श्रेणी में रामनाथ गोयनका पुरस्कार जीता। उन्होंने अपने फोटो निबंध, एनआरसी में शामिल करने के लिए कठिन संघर्ष के लिए पुरस्कार जीता, जो अक्टूबर 2019 में द कारवां (The Caravan) में प्रकाशित हुआ था। उन्होंने उन लोगों की दुर्दशा का दस्तावेजीकरण किया, जिन्हें राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NRC) से हटा दिया गया था और एक अनकही मानवीय कहानी का सामना किया। एनआरसी सूची जारी होने के लगभग एक महीने बाद, लतीफ ने असम के चार जिलों में अपना रास्ता बनाया, एनआरसी में शामिल करने के लिए लोगों के संघर्ष का दस्तावेजीकरण किया।

विश्व युद्ध अनाथ दिवस

विश्व भर में प्रतिवर्ष 06 जनवरी को ‘विश्व युद्ध अनाथ दिवस’ का आयोजन किया जाता है। इस दिवस का लक्ष्य उन बच्चों के बारे में जागरूकता बढ़ाना है, जो युद्धों के कारण अनाथ हो गए हैं। यह दिवस युद्ध के दौरान अनाथ हुए बच्चों की स्थिति को विश्व के समक्ष प्रस्तुत करता है और बड़े होने के दौरान बच्चों के समक्ष आने वाली भावनात्मक, सामाजिक और शारीरिक चुनौतियों को उजागर करता है। यूनिसेफ द्वारा प्रस्तुत आँकड़ों की मानें तो वर्ष 2015 में वैश्विक स्तर पर लगभग 140 मिलियन अनाथ थे, जिनमें एशिया में 61 मिलियन, अफ्रीका में 52 मिलियन, लैटिन अमेरिका व कैरिबियन में 10 मिलियन और पूर्वी यूरोप एवं मध्य एशिया में 7.3 मिलियन शामिल थे।

म्यूजिक ग्रुप शिलांग चैंबर क्वायर के संस्थापक नील नोंगकिरिन्ह का निधन

शिलांग चैंबर कोइर’ के संस्थापक और प्रसिद्ध संगीतकार नील नोंगकिरिंंह का हाल ही में 51 वर्ष की आयु में निधन हो गया है। नील नोंगकिरिंंह का जन्म 09 जुलाई, 1970 को मेघालय के पूर्वी खासी हिल्स में हुआ था। उन्होंने अपनी प्रारंभिक शिक्षा मेघालय से प्राप्त की और संगीत की अधिकांश शिक्षा अपनी बहन पॉलीन वारजरी से प्राप्त की, जो कि एक जैज़ संगीतकार थीं। वर्ष 1988 में नील नोंगकिरिंंह संगीत का अध्ययन करने हेतु यूनाइटेड किंगडम चले गए। संगीत में स्नातक की शिक्षा उत्तीर्ण करने के बाद नील ने यूनाइटेड किंगडम में पियानोवादक के रूप में कई कार्यक्रम किये। वर्ष 2001 में नोंगकिरिंंह भारत लौट आए और शिलांग में एक संगीत शिक्षक बन गए। इसी वर्ष उन्होंने प्रसिद्ध ‘शिलांग चैंबर कोइर’ की स्थापना की। गौरतलब है कि वर्ष 2010 में नील नोंगकिरिंंह के नेतृत्त्व में शिलांग चैंबर कोइर ने ‘इंडियाज़ गॉट टैलेंट’ नामक एक टीवी कार्यक्रम जीता था। इसके अलावा वर्ष 2015 में उन्हें भारत के चौथे सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार पद्मश्री से सम्मानित किया गया था।

महान केन्याई संरक्षणवादी और जीवाश्म-विशेषज्ञ रिचर्ड लीकी का निधन

विश्व प्रसिद्ध केन्याई राजनेता, संरक्षणवादी और जीवाश्म विशेषज्ञ रिचर्ड लीकी (Richard Leakey) का निधन हो गया है। 1984 में 'तुर्काना बॉय (Turkana Boy)' की खोज के लिए महान पैलियोन्थ्रोपोलॉजिस्ट को श्रेय दिया जाता है, जिसके कारण यह साबित होता है कि मानव जाति अफ्रीका में विकसित हुई है। तुर्काना बॉय अब तक मिले मानव पूर्वज का सबसे पूर्ण जीवाश्म कंकाल है। पैलियोन्थ्रोपोलॉजिस्ट जीवाश्म और पुरातात्विक अभिलेखों के माध्यम से मानव विकास का अध्ययन है। लीकी को अफ्रीकी हाथियों की आबादी को बचाने के लिए हाथी दांत के व्यापार के खिलाफ अभियान चलाने के लिए भी जाना जाता है।

3 बार के ओलंपिक स्वर्ण विजेता ट्रिपल जंप चैंपियन विक्टर सानेव का निधन

ओलंपिक ट्रिपल जंप 3 बार के स्वर्ण पदक विजेता और पूर्व विश्व रिकॉर्ड धारक, विक्टर डेनिलोविच सानेव का ऑस्ट्रेलिया में निधन हो गया। वह एक तिहाई लंबे खिलाड़ी थे जिन्होंने ओलंपिक खेलों में सोवियत सोशलिस्ट रिपब्लिक संघ (Union of Soviet Socialist Republic - USSR) का प्रतिनिधित्व किया था। बाद में उन्होंने ऑस्ट्रेलिया में बतौर कोच काम किया। उन्होंने 1969 एथेंस और 1974 रोम में आयोजित यूरोपीय खेलों में स्वर्ण पदक हासिल किए।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2022 RajasthanGyan All Rights Reserved.