Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

26 March 2022

योगी आदित्‍यनाथ ने लगातार दूसरी बार उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री के रूप में शपथग्रहण की

भारतीय जनता पार्टी के नेता योगी आदित्‍यनाथ ने लगातार दूसरे कार्यकाल के लिए उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री पद की शपथ ली। राज्‍यपाल आनंदीबेन पटेल ने लखनऊ के अटल बिहारी वाजपेयी इकाना स्‍टेडियम में पद और गोपनीयता की शपथ दिलायी। केशव प्रसाद मौर्य और बृजेश पाठक को नई सरकार में उप-मुख्‍यमंत्री बनाया गया है। मंत्रिपर‍िषद में पचास अन्‍य मंत्रियों को शामिल किया गया है, जिनमें 16 कैबिनेट स्‍तर, 14 राज्‍य मंत्री स्‍वतंत्र प्रभार तथा 20 राज्‍यमंत्री बनाए गए हैं।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने गुजरात में आईएनएस वलसुरा को प्रतिष्ठित राष्ट्रपति ध्वज प्रदान किया

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने गुजरात के जामनगर में भारतीय नौसेना पोत- आईएनएस वलसुरा को प्रतिष्ठित राष्ट्रपति ध्वज प्रदान किया। राष्ट्रपति ध्वज युद्ध और शांति दोनों स्थितियों में किसी सैन्य इकाई की विशिष्ट सेवा को मान्यता देने के लिए प्रदान किया जाता है। वर्ष 1942 में स्थापित आईएनएस वलसुरा भारतीय नौसेना के लिए प्रमुख प्रशिक्षण ईकाई है। इसकी जिम्मेदारी भारतीय नौसेना, तटरक्षक और अन्य मित्र राष्ट्रों के अधिकारियों और नाविकों को इलेक्ट्रिकल, इलेक्ट्रॉनिक्स, हथियार प्रणाली और सूचना प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में प्रशिक्षण देना है।

अमरीका और यूरोपीय संघ ने रूस पर महाद्ववीप की ऊर्जा निर्भरता कम करने के लिए नई भागीदारी की घोषणा की

अमरीका और यूरोपीय संघ ने रूसी ऊर्जा पर महाद्वीप की निर्भरता कम करने के लिए एक नई साझेदारी की घोषणा की है। यह यूक्रेन पर आक्रमण के बाद रूस को अलग-थलग करने की दिशा में एक कदम है। अमरीकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा है कि रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ऊर्जा का उपयोग अपने पड़ोसी देशों के विरूद्ध करते हैं। योजना के अंतर्गत अमरीका और अन्य देश इस साल यूरोप को तरल प्राकृतिक गैस के निर्यात में 15 अरब क्यूबिक मीटर की वृद्धि करेंगे। इसके अलावा वे स्वच्छ ऊर्जा के साथ गैस बुनियादी ढांचे को सशक्त बनाकर और मीथेन रिसाव को कम करके अपने जलवायु लक्ष्यों को प्राप्त करने की कोशिश करेंगे। इसे वैश्विक तापमान नियंत्रित करने में मदद मिलेगी। यूरोपीय संघ की कार्यकारी प्रमुख उर्सुला वॉन डेर लेयेन ने कहा है कि यूरोप के लिए रूस से हटकर अन्य ऊर्जा आपूर्तिकर्ताओं के साथ साझेदारी बढ़ना महत्वपूर्ण है।

पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान संसद में अविश्‍वास प्रस्‍ताव का सामना करेंगे

पाकिस्तान की नेशनल असेंबली में प्रधानमंत्री इमरान खान के विरुद्ध अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान होगा। विपक्ष का आरोप है कि पाकिस्तान में आर्थिक संकट और बेहतहाशा बढ़ती महंगाई के लिए इमरान खान जिम्मेदार हैं। विपक्षी दलों ने 8 मार्च को सचिवालय में उनके विरुद्ध अविश्वास प्रस्ताव रखा था। सत्तारूढ तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी ने अविश्वास प्रस्ताव को विफल करने का विश्वास जताया है, जबकि विपक्ष इमरान खान को सत्ता से बेदखल करने को लेकर आश्वस्त है। इस अविश्वास प्रस्ताव को विफल करने के लिए 342 सदस्यों वाली नेशनल असेंबली में इमरान खान सरकार को कम से कम 172 सदस्यों का समर्थन चाहिए।

दस दिन का मेगा लाल किला उत्‍सव - भारत भाग्‍य विधाता दिल्‍ली के लाल किले में शुरू हुआ

दस दिन का मेगा लाल किला उत्‍सव - भारत भाग्‍य विधाता दिल्‍ली के लाल किले में शुरू हुआ। महिला और बाल विकास मंत्री स्‍मृति ईरानी ने इसका उदघाटन किया। मेगा लाल किला उत्‍सव भारत भाग्‍य विधाता का आयोजन संस्‍कृति मंत्रालय ने आजादी का अमृत महोत्‍सव के हिस्‍से के रूप में किया है। उत्‍सव के दौरान 70 से अधिक शिल्‍पकारों ने अपनी कलाकृतियां प्रदर्शित की हैं।

केन्‍द्र सरकार के ई बाजार, गवर्नमेंट ई मार्केटप्लेस द्वारा चालू वित्त वर्ष में की गई खरीददारी एक लाख करोड़ रुपये के आंकड़े को पार कर गई

केन्‍द्र सरकार के ई बाजार, गवर्नमेंट ई मार्केटप्लेस द्वारा चालू वित्त वर्ष में की गई खरीददारी एक लाख करोड़ रुपये के आंकड़े को पार कर गई है। पिछले वित्त वर्ष की तुलना में यह 160 प्रतिशत अधिक है। गवर्नमेंट ई मार्केटप्लेस के मुख्य कार्यकारी प्रशांत कुमार सिंह ने बताया कि स्थापना के बाद से पांच साल की अवधि में मार्केट प्लेस दुनिया के सबसे बड़े सरकारी ई-बाजार प्लेटफॉर्म में से एक बन गया है। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने वित्तवर्ष 2021-22 में एक लाख करोड़ रुपये की वार्षिक खरीद अर्जित करने के लिये गवर्नमेंट ई-मार्केटप्लेस (जी-ई-एम) की प्रशंसा की है। उन्होंने यह भी कहा कि जी-ई-एम प्लेटफॉर्म विशेषकर सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों को मजबूत बनाने का काम कर रहा है तथा आर्डरों की कुल कीमत का 57 प्रतिशत इसी सेक्टर से आता है।

राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन, यूनेस्को तथा अन्य भागीदारों ने पहल H2Ooooh! के तहत तीन एनिमेशन फिल्में जारी की

विश्व जल दिवस (22 मार्च) के अवसर पर राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन, यूनेस्को (संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक और सांस्कृतिक संगठन) तथा अन्य भागीदारों ने अपनी पहल H2Ooooh! - भारत के बच्चों के लिये वाटर वाइज़ प्रोग्राम के तहत तीन एनिमेशन फिल्में जारी की हैं। ये फिल्में स्कूली छात्रों द्वारा भारतीय नदियों के बचाव और संरक्षण पर केंद्रित कहानियों पर आधारित हैं। इसे यूनेस्को द्वारा जुलाई 2021 में राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन (NMCG) और अन्य के साथ संयुक्त रूप से लॉन्च किया गया था। H2Ooooh!, कक्षा 1 से 8 तक के भारतीय स्कूली छात्रों के लिये तैयार किया गया एक अनूठा कार्यक्रम है। इसकी शुरुआत के बाद से 18 भारतीय राज्यों के 53 स्कूलों के लगभग 31000 छात्र 400 से अधिक शिक्षकों के समर्थन से सक्रिय रूप से जुड़े हुए हैं। इसका उद्देश्य पानी की सीमित उपलब्धता, सतत् उपयोग, संरक्षण और दोहन आदि के विषय में जागरूकता बढ़ाना है। यह पर्यावरण की सुरक्षा हेतु छात्रों को अपने स्वयं के अनुभव और प्रस्तावों को साझा करने में सक्षम बनाता है। तीन चरणों में विभाजित इस परियोजना का उद्देश्य रचनात्मकता को बढ़ावा देना और 6-14 वर्ष की आयु वाले छात्रों के बीच जल संरक्षण एवं इसके सतत् उपयोग के बारे में जागरूकता बढ़ाना, प्रशिक्षण प्रदान करना तथा उन्हें एनिमेटेड लघु फिल्मों, पेंटिंग व कहानी के विचार प्रस्तुत करने हेतु प्रोत्साहित करना है।

रिज़र्व बैंक इनोवेशन हब का उद्घाटन

हाल ही में भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) के गवर्नर द्वारा बंगलूरू में रिज़र्व बैंक इनोवेशन हब (RBIH) का उद्घाटन किया गया। इसे कंपनी अधिनियम, 2013 की धारा 8 के तहत 100 करोड़ रुपए का प्रारंभिक पूंजी योगदान के साथ एक कंपनी के रूप में स्थापित किया गया है। यह RBI की पूर्ण स्वामित्त्व वाली सहायक कंपनी है। RBIH का उद्देश्य एक ऐसा पारिस्थितिकी तंत्र निर्मित करना है जो देश में कम आय वाली आबादी के लिये वित्तीय सेवाओं और उत्पादों तक पहुंँच को बढ़ावा देने पर केंद्रित हो। यह RBIH की स्थापना के उद्देश्य के अनुरूप है,अर्थात् भारत में वित्तीय क्षेत्र में विश्व स्तरीय नवाचार लाने हेतु यह वित्तीय समावेशन के अंतर्निहित विषय से युक्त है। हब से प्रोटोटाइप, पेटेंट और जाँच के लिये एक पारिस्थितिकी तंत्र का निर्माण करने और नियामक डोमेन तथा राष्ट्रीय सीमाओं में फैले राष्ट्रीय स्तर पर विस्तृत विचारों को बढ़ावा मिलने की उम्मीद है। इसमें अधिकतम क्षमता वाले स्टार्ट-अप की पहचान करने और उन्हें सलाह देने की योजना थी। विभिन्न क्षेत्रों में समस्याओं की पहचान करने और संभावित समाधानों का पता लगाने के लिये विभिन्न सरकारी मंत्रालयों, विभागों और शिक्षाविदों के साथ सहयोग करने की भी उम्मीद है। आरबीआई इनोवेशन हब ने महिलाओं के स्वामित्व वाले उद्यमों के स्थायी समाधान हेतु स्वनारी टेकस्प्रिंट की मेज़बानी की। टेकस्प्रिंट का उद्देश्य भारत में महिलाओं के लिये डिजिटल वित्तीय समावेशन को आगे बढ़ाना है।

केंद्रीय मंत्री श्री जी. किशन रेड्डी ने नई दिल्ली में इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केंद्र-आईजीएनसीए में तीन दिवसीय उत्तर पूर्वी उत्सव 'ईशान मंथन' का उद्घाटन किया

केंद्रीय संस्कृति, पर्यटन और उत्तर पूर्वी क्षेत्र विकास मंत्री श्री जी. किशन रेड्डी ने नई दिल्ली में इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केंद्र में 'ईशान मंथन' नामक तीन दिवसीय उत्तर पूर्वी उत्सव का उद्घाटन किया। तीन दिवसीय कार्यक्रम 25 से 27 मार्च तक पश्चिमी न्यायालय के पास कला केंद्र के परिसर में उत्तर पूर्वी भारत की संस्कृति, कला, संगीत, लोक नृत्य, हस्तशिल्प और पारंपरिक व्यंजनों से परिचित होने का अवसर प्रदान करेगा। कार्यक्रम सवेरे 10 बजे से रात्रि 10 बजे तक चलेगा। दर्शक-श्रोता विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आनंद उठा सकेंगे और साथ ही हस्तशिल्प, वस्त्र और अन्य सामान सीधे पूर्वोत्तर के कारीगरों से खरीद सकेंगे।

पश्चिमी नौसेना कमान ने अपतटीय सुरक्षा अभ्यास- ‘प्रस्थान’ का संचालन किया

पश्चिमी नौसेना कमान के मुख्यालय के अधीन 23 मार्च, 2022 को मुंबई से दूर स्थित अपतटीय विकास क्षेत्र (ओडीए) में एक अपतटीय सुरक्षा अभ्यास 'प्रस्थान' आयोजित किया गया था। इसका आयोजन हर छह महीने पर किया जाता है। यह अभ्यास अपतटीय सुरक्षा सुनिश्चित करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण घटक है और इसका उद्देश्य अपतटीय सुरक्षा में शामिल सभी समुद्री हितधारकों के प्रयासों को एकीकृत करना है। इस अभ्यास के तहत नौसेना के नेतृत्व में भारतीय वायु सेना, तटरक्षक बल, ओएनजीसी, मुंबई पोर्ट ट्रस्ट, जवाहर लाल नेहरू पोर्ट ट्रस्ट, सीमा शुल्क, राज्य मत्स्यपालन विभाग, व्यापारिक समुद्री विभाग और समुद्री पुलिस ने हिस्सा लिया। पूरे दिन के अभ्यास के परिणामस्वरूप मानक संचालन प्रक्रियाओं (एसओपी) को परिष्कृत किया गया और मुंबई से दूर स्थित अपतटीय रक्षा क्षेत्र में कई आपात स्थितियों के लिए प्रतिक्रियात्मक-कार्रवाई की गई। यह अभ्यास मुंबई के पश्चिम में लगभग 38 नॉटिकल मील स्थित ओएनजीसी के बी-193 प्लेटफॉर्म पर आयोजित किया गया था। आतंकवादी घुसपैठ, बम विस्फोट, घायलों की निकासी, खोज व बचाव, मैन ओवरबोर्ड, बड़ी आगजनी, तेल रिसाव और सामूहिक निकासी जैसी आपात स्थितियों का अभ्यास किया गया।

भारतीय नौसेना के लिए दो बहुउद्देश्यीय पोतों के अधिग्रहण को लेकर मुबंई स्थित मेसर्स लार्सन एंड टुब्रो लिमिटेड के साथ अनुबंध पर हस्ताक्षर किए गए

रक्षा मंत्रालय ने 25 मार्च, 2022 को मेसर्स लार्सन एंड टुब्रो लिमिटेड के साथ "खरीदें-भारतीय" श्रेणी के तहत 887 करोड़ रुपये की कुल लागत से भारतीय नौसेना के लिए दो बहुउद्देश्यीय पोतों (एमपीवी) के अधिग्रहण के लिए एक अनुबंध पर हस्ताक्षर किए हैं। नौसेना के उप प्रमुख वाइस एडमिरल एसएन घोरमडे और अतिरिक्त सचिव व महानिदेशक (अधिग्रहण) श्री पंकज अग्रवाल की उपस्थिति में इस अनुबंध पर हस्ताक्षर किए गए। नौसेना को मई, 2025 से इन पोतों को सौंपे जाने का समय तय किया गया है। एमपीवी अपनी तरह का पहला पोत होगा, जिसका निर्माण भारतीय नौसेना की विभिन्न जरूरतों को पूरा करने को लेकर लागत प्रभावी समाधान प्रदान करने के लिए किया जाएगा। मेसर्स एलएंडटी शिपयार्ड इन जहाजों का निर्माण कट्टुपल्ली (चेन्नई) में करेगी। यह गनरी/एएसडब्ल्यू फायरिंग अभ्यासों के लिए समुद्री निगरानी व गश्ती, टारपीडो की लॉन्चिंग/रिकवरी और विभिन्न प्रकार के हवाई, सतह व जल के नीचे के लक्ष्यों के परिचालन जैसे विविध भूमिकाओं में सहायता करने का काम करेगा। ये पोत जहाजों को खींचने और सीमित अस्पताल जहाज क्षमता के साथ मानवीय सहायता व आपदा राहत (एचएडीआर) समर्थन प्रदान करने में भी सक्षम होंगे। इसके अलावा ये पोत विकास के तहत नौसेना के हथियारों व सेंसर के परीक्षण मंच, आईएसवी व बचाव कार्यों के लिए समर्थन मंच और हमारे द्वीपीय क्षेत्रों में लॉजिस्टिक (रसद) सहायता प्रदान करने का भी काम करेंगे। अधिकांश उपकरण व प्रणाली स्वदेशी निर्माताओं से प्राप्त होने के चलते ये पोत रक्षा मंत्रालय की "मेक इन इंडिया, मेक फॉर द वर्ल्ड" पहल के एक गौरवशाली ध्वजवाहक होंगे।

एनसीआर की दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान और उत्तर प्रदेश की सरकारों ने संयुक्त पारस्परिक साझा परिवहन समझौते पर हस्ताक्षर किए

एनसीआर के दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान और उत्तर प्रदेश की सरकारों ने अनुबंध वाहन (कॉन्ट्रैक्ट कैरिज) और छह से अधिक यात्रियों को ले जाने वाले वाहन (स्टेज कैरिज) को शामिल करते हुए एक संयुक्त पारस्परिक साझा परिवहन समझौते (सीआरसीटीए) पर हस्ताक्षर किए हैं, क्योंकि पूर्व में हुए पारस्परिक साझा परिवहन समझौते समय सीमा समाप्त हो रही है। एनसीआरपीबी सदस्य सचिव की पहल पर, और भाग लेने वाले एनसीआर राज्यों की सहमति से, एनसीआरपीबी ने संशोधित समझौते पर साथ-साथ काम किया। राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के लिए क्षेत्रीय योजना-2021 के नीति प्रस्तावों में से एक एनसीआर के भीतर बसों, टैक्सियों और ऑटो-रिक्शा की बिना किसी रोक-टोक के आवाजाही है। आम जनता को दिल्ली और शेष एनसीआर के बीच निर्बाध रूप से आवागमन की सुविधा के लिए इस नीति का कार्यान्वयन महत्वपूर्ण है।

एनटीपीसी ने रामागुंडम फ्लोटिंग सोलर परियोजना में अतिरिक्त विद्युत उत्पादन क्षमता को परिचालित किया

एनटीपीसी ने तेलंगाना स्थित रामागुंडम फ्लोटिंग सोलर परियोजना में अतिरिक्त 42.5 मेगावाट विद्युत उत्पादन क्षमता को व्यावसायिक रूप से परिचालित कर दिया है। इससे पहले कंपनी ने इस परियोजना के 17.5 मेगावाट (भाग-I) और 20 मेगावाट (भाग-II) को शुरू किया था। 42.5 मेगावाट के अतिरिक्त विद्युत उत्पादन के साथ रामागुंडम फ्लोटिंग सोलर परियोजना की व्यावसायिक रूप से परिचालित विद्युत उत्पादन क्षमता कुल 80 मेगावाट तक पहुंच गई है। यह परियोजना 100 मेगावाट क्षमता की है। वहीं, एनटीपीसी की कुल स्थापित क्षमता 68,609.68 मेगावाट की है।

एएआई और बीईएल ने स्वदेशी हवाई यातायात प्रबंधन प्रणाली विकसित करने के लिए हाथ मिलाया

सरकार की ‘‘मेक इन इंडिया’’ पहल को बढ़ावा देने के लिए, भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण (एएआई) ने अपनी अनुसंधान और विकास पहल के तहत, देश में हवाई अड्डों पर हवाई यातायात प्रबंधन और विमान की सतह की आवाजाही के लिए संयुक्त, स्वदेशी विकास प्रणालियों के लिए नवरत्न रक्षा पीएसयू भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड (बीईएल) के साथ एक समझौता किया है, जो अब तक आयात किए जा रहे थे। इस समझौते के तहत, बीईएल और एएआई संयुक्त रूप से एडवांस्ड सरफेस मूवमेंट गाइडेंस एंड कंट्रोल सिस्टम (एएसएमजीसीएस) के साथ नागरिक हवाई यातायात प्रबंधन प्रणाली (एटीएमएस) विकसित करेंगे, जो एक जटिल जमीनी निगरानी प्रणाली है। यइ उड़ान भरने से लेकर लैंडिंग तक की उड़ान की सुरक्षित संचालन के लिए हवाई अड्डों और भारतीय नागरिक हवाई क्षेत्र में हवाई यातायात का प्रबंधन करती है।

NATO, G7, EU नेताओं ने बेल्जियम में बैठक में हिस्सा लिया

बेल्जियम के ब्रसेल्स में G7, NATO और यूरोपीय संघ के नेता नाटो शिखर सम्मेलन (NATO summit) के लिए एकत्र हुए हैं। यूक्रेन पर रूसी आक्रमण जारी रहने के कारण राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन पर दबाव बढ़ाने की योजना बनाने के उद्देश्य से 24 मार्च को एक के बाद एक आपात बैठकें हुईं। अमेरिका रूस पर नए प्रतिबंध लगाने के लिए अपने सहयोगियों पर दबाव बनाने की कोशिश कर रहा है। प्रतिबंधों के कारण रूसी अर्थव्यवस्था पहले ही पंगु हो चुकी है। यूक्रेन पर आक्रमण शुरू करने के बाद पश्चिमी देश रूस का सामना करने के लिए एकजुट हो गए हैं। यह एकता बचेगी या नहीं, यह देखने की बात है क्योंकि युद्ध की कीमत वैश्विक अर्थव्यवस्था को प्रभावित कर रही है। युद्ध के कारण ऊर्जा संकट तेज हो गया है। इस बैठक में यह एक गर्म विषय है क्योंकि पुर्तगाल, स्पेन, ग्रीस और इटली के नेताओं को अनुकूल प्रतिक्रिया मिलने की उम्मीद है। नाटो शिखर सम्मेलन पूर्वी मोर्चे की सुरक्षा बढ़ाने पर भी विचार करेगा। नाटो शिखर सम्मेलन में रूस द्वारा जैविक और रासायनिक हथियारों के उपयोग पर भी चर्चा होगी।

उत्तर कोरिया ने ह्वासोंग-17 मिसाइल का परीक्षण किया

उत्तर कोरिया ने ह्वासोंग-17 नामक एक अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल (ICBM) का परीक्षण किया है। यह मिसाइल अब तक विकसित सबसे बड़ी ICBM है। यह मिसाइल संभावित रूप से अमेरिका में किसी भी स्थान पर परमाणु हथियार पहुंचा सकती है। विश्लेषकों द्वारा इस मिसाइल को ‘‘monster missile’ नाम दिया जा रहा है। 2020 में, सत्तारूढ़ वर्कर्स पार्टी की 75वीं वर्षगांठ को चिह्नित करने के लिए आयोजित एक सैन्य परेड में, इस मिसाइल को पहली बार जनता के लिए प्रदर्शित किया गया था। प्योंगयांग में, 2021 में, इसे फिर से एक रक्षा प्रदर्शनी में प्रदर्शित किया गया। ह्वासोंग-17 ने 1090 किमी तक उड़ान भरी। इस मिसाइल के परीक्षण के दौरान इसने जापान के सागर में रखे एक लक्ष्य को भी निशाना बनाया। इस मिसाइल ने 67.5 मिनट तक हवा में उड़ान भरी। 2017 में, पहले परीक्षण किए गए ह्वासोंग -15 ने 53 मिनट में 950 किमी की दूरी तय की थी। यह मिसाइल दुनिया की सबसे बड़ी तरल ईंधन वाली ICBM है। इस मिसाइल का व्यास 2.4 से 2.5 मीटर के बीच है। जब पूरी तरह से ईंधन भर दिया जाता है, तो इसका कुल द्रव्यमान लगभग 80,000 से 1,10,000 किलोग्राम होता है।

DAC ने स्टार्टअप्स से खरीद को मंजूरी दी

पहली बार, रक्षा अधिग्रहण परिषद (Defence Acquisition Council – DAC) द्वारा Innovations for Defence Excellence (iDEX) स्टार्ट-अप्स से खरीद के लिए 380.43 करोड़ रुपये मूल्य की 14 वस्तुओं को मंजूरी दी गई है। भारतीय नौसेना, थल सेना और वायु सेना इन सभी सामानों की खरीद करेगी। DAC द्वारा एक नई और सरल प्रक्रिया के लिए भी मंजूरी दी गई है ताकि MSMEs और iDEX स्टार्ट-अप से खरीद को फ़ास्ट ट्रैक किया जा सके। नई प्रक्रिया के अनुसार, खरीद चक्र 22 सप्ताह का होगा। मेक-II श्रेणी के तहत परियोजनाओं के लिए प्रक्रिया को सरल बनाने के लिए DAC द्वारा स्वीकृति भी दी गई। इससे मेक-II परियोजनाओं में अनुबंध पर हस्ताक्षर करने के लिए प्रोटोटाइप विकसित करने में लगने वाले समय को कम करने में मदद मिलेगी। सशस्त्र बलों के लिए पूंजी अधिग्रहण के लिए स्वीकृति की आवश्यकता (Acceptance of Necessity – AoN) भी DAC द्वारा प्रदान की गई थी और यह राशि 8,357 करोड़ रुपये है। DAC के अनुसार, सशस्त्र बल अपनी सभी आवश्यक आवश्यकताओं को स्वदेशी रूप से हासिल करना चाहते हैं और आयात केवल एक असाधारण मामले के दौरान ही किया जाएगा। AoN for Capital Acquisition समझौते के तहत लाइट वेहिकल GS 4X4, नाइट साइट (इमेज इंटेंसिफायर), जीसैट 7बी सैटेलाइट और एयर डिफेंस फायर कंट्रोल रडार (लाइट) खरीदे जाएंगे।

Export Preparedness Index का दूसरा संस्करण जारी किया गया

निर्यात तैयारी सूचकांक (Export Preparedness Index) का दूसरा संस्करण नीति आयोग द्वारा जारी किया गया है। यह रिपोर्ट प्रतिस्पर्धात्मकता संस्थान (Institute of Competitiveness) के सहयोग से जारी की गई थी। इस सूचकांक में गुजरात लगातार दूसरी बार शीर्ष पर है। इसके बाद महाराष्ट्र, कर्नाटक, तमिलनाडु और हरियाणा का स्थान है। इस सूचकांक के नवीनतम संस्करण में इस बात पर प्रकाश डाला गया है कि देश के अधिकांश तटीय राज्य सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वालों में से हैं। देश के सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को इस सूचकांक द्वारा चार मुख्य स्तंभों पर स्थान दिया गया है जो व्यापार पारिस्थितिकी तंत्र, नीति, निर्यात प्रदर्शन और निर्यात पारिस्थितिकी तंत्र हैं। यह सूचकांक देश की निर्यात उपलब्धियों का व्यापक विश्लेषण प्रदान करता है। इस सूचकांक का उपयोग केंद्र शासित प्रदेशों और राज्यों द्वारा अपने समकक्षों के साथ अपने संबंधित प्रदर्शन की तुलना करने के लिए भी किया जा सकता है। इस सूचकांक का उपयोग निर्यात से विकास को बढ़ावा देने के लिए बेहतर नीतियां विकसित करते समय आने वाली चुनौतियों का विश्लेषण करने के लिए भी किया जा सकता है। यह वैश्विक निर्यात के परिदृश्य में देश के केंद्र शासित प्रदेशों और राज्यों के बीच निष्पक्ष प्रतिस्पर्धा को बढ़ावा देता है।

भारत में तेज़ी से फैल रहा है ट्यूबरक्लोसिस : India TB Report 2022

2021 में, भारत में तपेदिक (Tuberculosis – TB) के मामलों में पिछले वर्ष की तुलना में 19% की वृद्धि हुई। यह जानकारी India TB Report 2022 में सामने आई है। यह रिपोर्ट केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ मनसुख मंडाविया ने जारी की है। 2021 के दौरान TB के मरीजों की कुल संख्या 19,33,381 थी। 2020 में यह संख्या 16, 28,161 थी। भारत में, 2019 और 2020 के बीच सभी प्रकार के तपेदिक के कारण मृत्यु दर में 11% की वृद्धि हुई है। वर्ष 2020 के लिए अनुमानित टीबी से संबंधित मौतों की कुल संख्या 4.93 लाख थी, जो 2019 के अनुमान से 13 प्रतिशत अधिक है। 2019 में भारत ने पिछले वर्ष की तुलना में टीबी से संबंधित मामलों में 11 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की थी। जनवरी और फरवरी के महीनों की तुलना में 2020 में, टीबी से संबंधित मामलों में महामारी के दो महीने बाद 38 प्रतिशत की गिरावट आई है। 2020 के अंत तक टीबी के मामले बढ़ने लगे और कुल 1.8 मिलियन मामले दर्ज किए गए। 2021 में जिन 21,35,830 रोगियों का निदान (diagnose) किया गया था, उनमें से 20,30,509 रोगियों को टीबी से संबंधित उपचार दिया गया था। 2020 में, अधिसूचित रोगियों में से 83 प्रतिशत का सफलतापूर्वक इलाज किया गया, जबकि 4 प्रतिशत की उपचार प्राप्त करते समय मृत्यु हो गई।

BYJU’s बना FIFA World Cup 2022 का प्रायोजक

भारतीय बहुराष्ट्रीय शैक्षिक प्रौद्योगिकी कंपनी बायजूज़ (Byju’s) को 24 मार्च को फीफा विश्व कप 2022 के आधिकारिक प्रायोजक के रूप में घोषित किया गया। इसके साथ ही बायजूज़ (Byju’s) फीफा विश्व कप से जुड़ने वाली पहली भारतीय कंपनी बन गई है। अब, बायजूज़ फीफा विश्व कप के चिह्न, प्रतीक और संपत्ति का उपयोग करने में सक्षम होगा ताकि अद्वितीय प्रचार तैयार किया जा सके। रिपोर्ट्स के मुताबिक, बायजूज एक बहुआयामी सक्रियण योजना (multifaceted activation plan) के तहत युवा प्रशंसकों के लिए आकर्षक शैक्षिक सामग्री बनाने की भी योजना बना रहा है। फुटबॉल विश्व कप 2022 का आयोजन क़तर में किया जायेगा। यह टूर्नामेंट 21 नवम्बर, 2022 से 18 दिसम्बर, 2022 तक आयोजित किया जाएगा। यह ऐसा पहला फुटबॉल विश्व कप है जिसका आयोजन अरब जगत में हो रहा है। यह एशिया में आयोजित होने वाला दूसरा फुटबॉल विश्व कप है, पहली बार एशिया में जापान और कोरिया ने वर्ष 2002 में फुटबॉल विश्व कप का आयोजन किया गया था। इस टूर्नामेंट में कुल 32 टीमें हिस्सा लेंगी। बायजूज़ (Byju’s) एक मल्टीनेशनल एड-टेक कंपनी है, इसका मुख्यालय बैंगलोर में है। इसकी स्थापना वर्ष 2011 में बायजू रवीन्द्रन और दिव्या गोकुलनाथ ने की थी।

संयुक्त राष्ट्र द्वारा पांच वर्षों के भीतर प्रत्येक व्यक्ति को प्रारंभिक मौसम-चेतावनी प्रणालियों की रेंज में रखने के लिए एक परियोजना की घोषणा

संयुक्त राष्ट्र द्वारा अगले पांच वर्षों के भीतर प्रत्येक व्यक्ति को प्रारंभिक मौसम-चेतावनी प्रणालियों (early weather-warning systems) की रेंज में रखने के लिए एक परियोजना की घोषणा की गई है क्योंकि जलवायु परिवर्तन के प्रभावों के कारण प्राकृतिक आपदाएं लगातार और अधिक शक्तिशाली हो गई हैं। संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने जिनेवा स्थित विश्व मौसम विज्ञान संगठन (World Meteorological Organisation) के सहयोग से इस परियोजना की घोषणा की। इस परियोजना का उद्देश्य ऐसे अलर्ट सिस्टम बनाना है जो पहले से ही कई समृद्ध देशों में उपयोग में हैं और ग्रह के विकासशील देशों के लिए उपलब्ध हैं। पृथ्वी की आबादी का एक तिहाई, विशेष रूप से कम विकसित देशों में, प्रारंभिक चेतावनी प्रणाली द्वारा कवर नहीं किया जाता है। अफ्रीका में रहने वाले 60 प्रतिशत लोगों के पास कवरेज की कमी है।

बिम्सटेक चार्टर पर हस्ताक्षर किये जायेंगे

30 मार्च को श्रीलंका के कोलंबो में आयोजित होने वाले 5वें बिम्सटेक शिखर सम्मेलन में 6 दस्तावेजों को स्वीकार किए जाने और हस्ताक्षर किए जाने की संभावना है, जिनमें बिम्सटेक चार्टर भी शामिल है। बिम्सटेक देशों के शासनाध्यक्ष वर्चुअल मोड के माध्यम से इस शिखर सम्मेलन में शामिल होंगे जबकि विदेश सचिव और मंत्री स्तर के प्रतिनिधिमंडल व्यक्तिगत रूप से शामिल होंगे। इस शिखर सम्मेलन का उद्घाटन श्रीलंका के राष्ट्रपति गोतबाया राजपक्षे करेंगे। पांच अन्य दस्तावेज निम्नलिखित हैं:

  • बिम्सटेक सदस्य राज्यों के राजनयिक प्रशिक्षण या अकादमियों संस्थानों के बीच आपसी सहयोग पर समझौता ज्ञापन
  • आपराधिक मामलों पर बिम्सटेक कन्वेंशन आपसी कानूनी सहायता
  • मेमोरेंडम ऑफ एसोसिएशन (MoA) कोलंबो में बिम्सटेक प्रौद्योगिकी हस्तांतरण सुविधा स्थापना
  • परिवहन संपर्क के लिए बिम्सटेक मास्टर प्लान
  • बिम्सटेक के उप-क्षेत्रों और क्षेत्रों का पुनर्गठन और युक्तिकरण।
5 वें बिम्सटेक शिखर सम्मेलन की थीम “BIMSTEC-Towards a Resilient Region, Prosperous Economies and Healthy Peoples” है।

रूमेटोइड आर्थराइटिस के लिए आयुर्वेद में क्लिनिकल ट्रायल किया जायेगा

आयुष मंत्रालय ने दुनिया का पहला बहुकेंद्र चरण III नैदानिक ​​परीक्षण शुरू किया है जो रूमेटोइड आर्थराइटिस (Rheumatoid Arthritis) उपचार में आयुर्वेद की प्रभावकारिता का आकलन करेगा। इस परीक्षण की निगरानी डॉ. डेनियल एरिक फर्स्ट (Dr Daniel Erick Furst ) द्वारा की जाएगी जो कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय के विश्व-प्रसिद्ध रुमेटोलॉजिस्ट हैं। आर्य वैद्य फार्मेसी (कोयंबटूर) लिमिटेड और केंद्रीय आयुर्वेद अनुसंधान परिषद (CCRAS), आयुष मंत्रालय से संबद्ध AVP रिसर्च फाउंडेशन इन परीक्षणों का संचालन करेगा। मई 2022 में अध्ययन शुरू होने की उम्मीद है और यह अगले दो वर्षों में पूरा हो जाएगा। इस अध्ययन के लिए नमूने का आकार लगभग 5 गुना बढ़ाकर 48 से 240 रोगियों तक कर दिया गया है। तीन जगहों पर क्लीनिकल ट्रायल किया जाएगा। वे सेंट्रल आयुर्वेद रिसर्च इंस्टीट्यूट फॉर मेटाबोलिक डिसऑर्डर, बेंगलुरु, एवीपी रिसर्च फाउंडेशन, कोयंबटूर और राजा रामदेव आनंदीला सेंट्रल आयुर्वेद रिसर्च इंस्टीट्यूट फॉर कैंसर, मुंबई हैं। रूमेटोइड आर्थराइटिस (Rheumatoid Arthritis) एक सूजन संबंधी ऑटोइम्यून बीमारी है जिसमें शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली गलती से स्वस्थ कोशिकाओं पर हमला करती है। इससे प्रभावित शरीर के अंगों में सूजन आ जाती है। यह रोग मुख्य रूप से कलाई, हाथ और घुटनों के जोड़ों में होता है।

माइक्रोफाइनेंस ऋण के लिए आरबीआई द्वारा जारी नियामक फ्रेमवर्क

हाल ही में भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) ने माइक्रोफाइनेंस संस्थानों (MFI) को उन ब्याज दरों को निर्धारित करने की स्वतंत्रता दी, जो वे उधारकर्त्ताओं से वसूलते हैं, तथा यह चेतावनी भी दी है कि दरें अधिक नहीं होनी चाहिये। ये दिशा-निर्देश 1 अप्रैल 2022 से प्रभावी होंगे। इससे पहले वर्ष 2021 में RBI ने MFI पर ब्याज दर कैप को उठाने का प्रस्ताव रखा था। 3 लाख रुपए तक की वार्षिक आय वाले परिवार को दिये गए संपार्श्विक-मुक्त ऋण को इंगित करने हेतु आरबीआई ने माइक्रोफाइनेंस ऋण की परिभाषा को संशोधित किया। इससे पहले ऊपरी सीमा ग्रामीण कर्जदारों के लिये 1.2 लाख रुपए और शहरी कर्जदारों के लिये 2 लाख रुपए थी। संशोधित मानदंडों के अनुसार, विनियमित संस्थाओं (आरई) को माइक्रोफाइनेंस ऋणों के मूल्य निर्धारण, ब्याज दर की उच्चतम सीमा और माइक्रोफाइनेंस ऋणों पर लागू होने वाले अन्य सभी शुल्कों के संबंध में एक बोर्ड-अनुमोदित नीति बनानी चाहिये। प्रत्येक विनियमित संस्था को एक मानकीकृत, सरलीकृत फैक्टशीट में संभावित उधारकर्त्ता को मूल्य निर्धारण संबंधी जानकारी का खुलासा करना होगा। माइक्रोफाइनेंस ऋणों पर कोई पूर्व भुगतान दंड नहीं होगा। विलंबित भुगतान के लिये जुर्माना, यदि कोई हो तो वह अतिदेय राशि पर लागू होगा न कि संपूर्ण ऋण राशि पर। ब्याज दर या किसी अन्य शुल्क में कोई भी परिवर्तन होने पर’उधारकर्त्ता को अग्रिम रूप से सूचित किया जाएगा और ये परिवर्तन केवल संभावित रूप से प्रभावी होंगे।

फोनपे ने फ्रीलांस एंटरप्रेन्योर नेटवर्क गिगइंडिया का अधिग्रहण किया

डिजिटल भुगतान और वित्तीय सेवा कंपनी PhonePe ने पुणे स्थित स्वतंत्र सूक्ष्म उद्यमियों के लिए एक नेटवर्क GigIndia का अधिग्रहण किया है। अधिग्रहण के परिणामस्वरूप PhonePe अपने कर्मचारियों के अलावा 1.5 मिलियन उद्यमियों और 100 से अधिक व्यवसायों को ग्राहकों के रूप में एकीकृत करने में सक्षम होगा। PhonePe अपने ग्राहक आधार और वितरण चैनलों के विस्तार में निगमों और व्यवसायों की सहायता के लिए GigIndia के फ्रीलांसिंग सूक्ष्म उद्यमियों के नेटवर्क का उपयोग करेगा।

फिच रेटिंग्स ने भारत के FY23 के विकास के अनुमान को घटाकर 8.5% किया

फिच रेटिंग्स ने अपने वैश्विक आर्थिक आउटलुक-मार्च 2022 में वित्त वर्ष 2022-2023 के लिए भारत के सकल घरेलू उत्पाद के विकास के अनुमान को घटाकर 8.5 प्रतिशत कर दिया है। पहले यह दर 10.3% अनुमानित थी। नीचे की ओर प्रक्षेपण रूस-यूक्रेन युद्ध के कारण ऊर्जा की कीमतों में तेजी से वृद्धि है। रेटिंग एजेंसी फिच ने चालू वित्त वर्ष 2021-2022 के लिए जीडीपी वृद्धि अनुमान को 0.6 प्रतिशत अंक बढ़ाकर 8.7 प्रतिशत कर दिया है।

अनिल अंबानी ने रिलायंस पावर और रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर में डायरेक्टर पद छोड़ा; राहुल सरीन को कमान

रिलायंस अनिल धीरूभाई अंबानी ग्रुप (ADAG) के चेयरमैन अनिल अंबानी ने रिलायंस पावर और रिलायंस इन्फ्रास्ट्रक्चर के डायरेक्टर का पद छोड़ दिया। SEBI ने उन्हें किसी भी लिस्टेड कंपनी से दूर रहने को कहा था। ADAG समूह की दोनों कंपनियों ने कहा कि आर-पावर और आर-इन्फ्रा के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स ने राहुल सरीन को 5 साल के कार्यकाल के लिए स्वतंत्र निदेशक के रूप में अतिरिक्त निदेशक नियुक्त किया है। हालांकि, इस नियुक्ति पर अभी जनरल मीटिंग में सदस्यों की मंजूरी ली जानी बाकी है। बीएसई फाइलिंग में रिलायंस पावर ने कहा- अनिल धीरूभाई अंबानी (नॉन एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर) रिलायंस पावर के बोर्ड से अलग हो रहे हैं। यह सेबी के इंट्रिम ऑर्डर के आधार पर लिया गया फैसला है। सेबी ने फरवरी में रिलायंस होम फाइनेंस लिमिटेड, उद्योगपति अनिल अंबानी और तीन अन्य व्यक्तियों को कथित रूप से पैसा निकालने के आरोप में सिक्योरिटीज मार्केट से प्रतिबंधित कर दिया था।

विश्व पैरा एथलेटिक्स ग्रां प्री में सोमेश्वर राव रामुद्री ने लंबी कूद और मोहित ने भाला फेंक में स्वर्ण पदक जीता

दुबई में विश्व पैरा एथलेटिक्स ग्रां प्री 2022 की व्यक्तिगत स्पर्धाओं में सोमेश्वर राव रामुद्री ने लंबी कूद में और मोहित ने भाला फेंक में स्वर्ण पदक जीता। भारतीय दल ने छह पदक हासिल किए और दो एशियाई रिकॉर्ड बनाए। सोमेश्वर राव रामुद्री ने पुरुषों की लंबी कूद स्पर्धा के फाइनल में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए टी-64 का स्वर्ण पदक हासिल किया। मोहित ने पुरुषों की भाला फेंक स्पर्धा के फाइनल में अपने पहले ही थ्रो में 54 दशमलव सात-एक मीटर की दूरी हासिल की जो स्वर्ण पदक जीतने के लिए पर्याप्त थी। पैरालिंपियन धर्मबीर ने पुरुषों के व्हीलचेयर डिस्कस चैंपियनशिप में अपना दूसरा रजत पदक जीता। उन्होंने एफ-51 में 10 दशमलव नौ-तीन मीटर की दूरी तय की। धर्मबीर के साथी खिलाड़ी अजीत कुमार अमृतला पांचाल ने एफ-52 वर्ग में कांस्य पदक जीता। महिलाओं की ट्रैक स्पर्धाओं में जयंती बेहरा ने 200 मीटर महिला फाइनल टी-46/47 में रजत पदक हासिल किया। उन्होंने 26 दशमलव नौ-चार सेकेंड में यह दूरी तय की। ईश्वरी निषाद ने 400 मीटर महिला फाइनल टी-11 में दूसरा स्थान हासिल किया।

दासता पीड़ितों के स्मरण हेतु अंतर्राष्ट्रीय दिवस

क्रूर दासता प्रणाली से पीड़ित और मारे गए लोगों की याद में प्रतिवर्ष 25 मार्च को ‘दासता पीड़ितों के स्मरण हेतु अंतर्राष्ट्रीय दिवस’ का आयोजन किया जाता है। इस दिवस के आयोजन का उद्देश्य गुलामी एवं नस्लवाद की भयावहता के विषय में जागरूकता बढ़ाना है। ज्ञात हो कि 16वीं और 19वीं शताब्दी के बीच लगभग 2 करोड़ लोगों को ज़बरन अफ्रीका से उत्तर और दक्षिण अमेरिका एवं यूरोप भेजा गया था। इस अमानवीय प्रथा का ही परिणाम है कि वर्तमान में अमेरिका में अफ्रीकी मूल के लोगों की एक बड़ी आबादी निवास करती है। दासता पीड़ितों के स्मरण हेतु अंतर्राष्ट्रीय दिवस-2022 की थीम है- "साहस की कहानियाँ: दासता का प्रतिरोध और जातिवाद के खिलाफ एकता"। दासता एवं गुलामी के उन्मूलन के बावजूद यह आज भी आधुनिक रूपों में जारी है।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2022 RajasthanGyan All Rights Reserved.