Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

3 May 2022

पूर्व पेट्रोलियम सचिव तरुण कपूर को प्रधानमंत्री का सलाहकार नियुक्त किया गया

पूर्व पेट्रोलियम सचिव तरुण कपूर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सलाहकार नियुक्त किया गया है। श्री कपूर 1987 बैच के हिमाचल प्रदेश कैडर के आईएएस अधिकारी हैं। श्री हरि रंजन राव और आतिश चंद्र को प्रधानमंत्री कार्यालय में अपर सचिव के रूप में नियुक्त किया गया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जर्मन चांसलर ओलाफ शोल्ज़ ने बर्लिन में छठे भारत-जर्मनी अंतर सरकारी परामर्श की सह-अध्‍यक्षता की

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जर्मन चांसलर ओलाफ शोल्ज़ ने जर्मनी की राजधानी बर्लिन में छठे भारत-जर्मनी अंतर-सरकारी परामर्श-आईजीसी की सह-अध्यक्षता की। दो वर्ष में एक बार होने वाला यह परामर्श एक अनूठा संवाद है जिसमें दोनों पक्षों के कई मंत्री भाग लेते हैं। जर्मन चांसलर शोल्ज़ के साथ प्रधानमंत्री का यह पहला अंतर सरकारी परामर्श था। पिछले वर्ष दिसम्‍बर में कार्यभार संभालने वाली नई जर्मन सरकार के साथ, भारत सरकार का भी यह पहला विचार-विमर्श होगा। इससे पहले प्रधानमंत्री ने जर्मन चांसलर ओलाफ शोल्ज़ के साथ द्विपक्षीय बातचीत की। उन्‍होंने दोनों देशों के बीच द्व‍िपक्षीय सम्‍बंधों की समीक्षा की। दोनों नेताओं ने व्‍यापार तथा सांस्‍कृतिक सम्‍बंध बढाने पर चर्चा की। जर्मन चांसलर ने श्री मोदी को जर्मनी में जी-7 शिखर सम्‍मेलन में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया। उन्‍होंने कहा कि वैश्‍विक अर्थव्‍यवस्‍था और जलवायु परिवर्तन सम्‍बंधी बातचीत में भारत की भूमिका महत्‍वपूर्ण है। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी जर्मनी की यात्रा सम्‍पन्‍न करने के बाद डेनमार्क के कोपेनहेगन रवाना होंगे। वे डेनमार्क के प्रधानमंत्री मेटे फ्रेडरिकसेन के निमंत्रण पर वहां की आधिकारिक यात्रा पर जा रहे हैं। बुधवार को, श्री मोदी डेनमार्क, आइसलैंड, फिनलैंड, स्वीडन और नॉर्वे के प्रधानमंत्रियों के साथ दूसरे भारत-नॉर्डिक शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे। यात्रा के अंतिम चरण में प्रधानमंत्री मोदी थोडे समय के लिए फ्रांस की राजधानी पेरिस में रुकेंगे और राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों से मुलाकात करेंगे।

ऐतिहासिक, भारत-संयुक्‍त अरब अमारात व्‍यापक आर्थिक भागीदारी समझौता लागू

ऐतिहासिक, भारत-संयुक्‍त अरब अमारात व्‍यापक आर्थिक भागीदारी समझौता - सी ई पी ए, लागू हो गया है। इस समझौते पर दोनों देशों ने इस वर्ष फरवरी में हस्‍ताक्षर किए थे। वाणिज्‍य विभाग के सचिव बी वी आर सुब्रह्मणियम ने इस समझौते के अंतर्गत नई दिल्‍ली में भारत से आभूषण सहित विभिन्‍न वस्‍तुओं की पहली खेप संयुक्‍त अरब अमारात रवाना की। समझौते के तहत इस खेप पर सीमा शुल्‍क, शून्‍य होगा। संयुक्‍त अरब अमारात को भारत से निर्यात की जाने वाली वस्‍तुओं में रत्‍न और आभूषण क्षेत्र का योगदान काफी अधिक है। इस समझौते से अगले पांच वर्षों में दोनों देशों के बीच वस्‍तुओं का व्‍यापार बढकर एक सौ अरब डॉलर से अधिक और सेवाओं का 15 अरब डॉलर से अधिक होने की संभावना है।

अटल न्यू इंडिया चैलेंज 2.0 के दूसरे संस्करण के चरण-1 का शुभारंभ

अटल इनोवेशन मिशन ने ‘अटल न्यू इंडिया चैलेंज’ (ANIC 2.0) के दूसरे संस्करण के चरण-1 का शुभारंभ किया। ANIC 1.0 को वर्ष 2018 में नवाचारों और प्रौद्योगिकियों को लोगों हेतु प्रासंगिक बनाने के आह्वान के लिये लॉन्च किया गया था। अटल न्यू इंडिया चैलेंज अटल इनोवेशन मिशन, नीति आयोग का एक प्रमुख कार्यक्रम है। इस कार्यक्रम का उद्देश्य प्रौद्योगिकी आधारित उन नवाचारों की तलाश, चयन, समर्थन करना और उन्हें बढ़ावा देना है जो राष्ट्रीय महत्त्व एवं सामाजिक प्रासंगिकता से संबंधित क्षेत्रीय चुनौतियों का समाधान करते हैं। ANIC प्रोटोटाइप चरण में नवाचारों की मांग के साथ 12-18 महीनों के दौरान चयनित स्टार्टअप को व्यावसायीकरण चरण में सहयोग करता है।

भारत में मानव-हाथी संघर्ष से निपटने एवं इसके प्रबंधन हेतु फील्ड मैनुअल लॉन्च किया

प्रोजेक्ट एलीफेंट की 16वीं संचालन समिति की बैठक में पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय ने भारत में मानव-हाथी संघर्ष (HEC) से निपटने एवं इसके प्रबंधन हेतु प्रमुख हाथी रेंज राज्यों में वन कर्मचारियों का मार्गदर्शन करने हेतु फील्ड मैनुअल लॉन्च किया है। इस मैनुअल को मंत्रालय द्वारा भारतीय वन्यजीव संस्थान (WWI) और वर्ल्ड वाइड फंड फॉर नेचर (WWFI) के साथ मिलकर तैयार किया गया है। इसमें मानव-हाथी संघर्ष को कम करने के लिये विस्तृत एवं सर्वोत्तम तरीके शामिल हैं। यह वन अधिकारियों/विभागों और अन्य हितधारकों को मानव-हाथी संघर्ष (आपात स्थिति में और जब संघर्ष की चुनौती उत्पन्न हो) की घटनाओं में कमी करने में मदद और मार्गदर्शन प्रदान के उद्देश्य से तैयार किया गया है। भारत लगभग 27,000 एशियाई हाथियों का घर है, जो विश्व की हाथी प्रजातियों की सबसे बड़ी आबादी है। हाथी जनगणना 2017 के अनुसार, कर्नाटक में हाथियों की संख्या सबसे अधिक (6,049) है, इसके बाद असम (5,719) और केरल (3,054) का स्थान है। एशियाई हाथी की तीन उप-प्रजातियाँ हैं: भारतीय, सुमात्रन तथा श्रीलंकन।

वैश्विक सुरक्षा पहल

बोआओ फोरम फॉर एशिया (BFA) वार्षिक सम्मेलन 2022 के उद्घाटन समारोह में बोलते हुए, चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने एक नई वैश्विक सुरक्षा पहल को पेश किया है। चीनी राष्ट्रपति के अनुसार, यह पहल दुनिया में सभी के लिए सुरक्षा को बढ़ावा देने और समूह राजनीति और गुट टकराव का विरोध करने के लिए है। इस पहल का उद्देश्य अमेरिका की इंडो-पैसिफिक रणनीति, क्वाड और औकस (ऑस्ट्रेलिया-यूके-यूएस) सुरक्षा समझौते जैसे पश्चिम की पहलों का मुकाबला करना है। क्वाड एक अनौपचारिक रणनीतिक सुरक्षा संवाद है जिसमें ऑस्ट्रेलिया, भारत, जापान और अमेरिका शामिल हैं। क्वाड को चीनी आर्थिक और सैन्य शक्ति में वृद्धि की प्रतिक्रिया के रूप में देखा जाता है।

महाराष्ट्र जीन बैंक परियोजना

हाल ही में, महाराष्ट्र कैबिनेट ने भारत में अपनी तरह की पहली परियोजना ‘महाराष्ट्र जीन बैंक’ को मंजूरी दी। महाराष्ट्र में समुद्री विविधता, स्थानीय फसलों के बीज और पशु विविधता सहित आनुवंशिक संसाधनों का संरक्षण करना। ‘महाराष्ट्र जीन बैंक प्रोजेक्ट’ सात विषयों पर काम करेगा: समुद्री जैव विविधता, स्थानीय फसल/बीज की किस्में, देशी मवेशियों की नस्लें, मीठे पानी की जैव विविधता, घास के मैदान, झाड़-झंखाड़ और पशु चरने वाली भूमि जैव विविधता, वन अधिकार के तहत क्षेत्रों के लिए संरक्षण और प्रबंधन योजना, वन क्षेत्रों का कायाकल्प। अगले पांच वर्षों में इन सात फोकस क्षेत्रों पर ₹172.39 करोड़ की राशि खर्च की जाएगी।

ब्राज़ील के लैंडस्केप गार्डन सिटियो बर्ल मार्क्स को प्राप्त हुआ यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल का दर्ज़ा

ब्राज़ील के शहर रियो द जेनेरो (Rio de Janeiro) में एक लैंडस्केप गार्डन , 'सिटियो बुर्ले मार्क्स (Sitio Burle Marx)' साइट को यूनेस्को (UNESCO) की विश्व धरोहर स्थलों की सूची में शामिल किया गया है। उद्यान में 3,500 से अधिक पौधों की प्रजातियां हैं जो मूलतः रियो की प्रजातियाँ हैं। इसे वनस्पति और परिदृश्य प्रयोग के लिए एक प्रयोगशाला माना जाता है। इस स्थल/साइट का नाम ब्राजील के लैंडस्केप आर्किटेक्ट 'बुर्ले मार्क्स (Burle Marx)' के नाम पर रखा गया है, जिनके पार्कों और बगीचों के डिज़ाइन ने उन्हें विश्व प्रसिद्ध बना दिया। सन् 1985 तक सिटियो बुर्ले मार्क्स साइट/स्थल उनका घर था।

सी-डॉट और सी-डैक ने दूरसंचार और आईसीटी के विविध क्षेत्रों में सहयोग के लिए समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए

संचार मंत्रालय के दूरसंचार विभाग के प्रमुख अनुसंधान एवं विकास केन्‍द्र सेंटर फॉर डेवलपमेंट ऑफ़ टेलीमेटिक्स (सी-डॉट) और इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी विभाग की एक स्वायत्त वैज्ञानिक सोसायटी सेंटर फॉर डेवलपमेंट ऑफ एडवांस कंप्यूटिंग (सी-डैक) ने स्वदेशी तकनीकी डिजाइन और विकास को बढ़ावा देने के लिए दूरसंचार और आईसीटी के विविध क्षेत्रों में एक साथ काम करने के उद्देश्य से 30 अप्रैल, 2022 को बैंगलोर में सेमीकॉनइंडिया 2022 कार्यक्रम में एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए।

नेशनल ओपन एक्सेस रजिस्ट्री (एनओएआर) ने सफलतापूर्वक काम करना शुरू किया

नेशनल ओपन एक्सेस रजिस्ट्री (एनओएआर) ने 1 मई 2022 से सफलतापूर्वक काम करना शुरू कर दिया है। एनओएआर को एक एकीकृत सिंगल विंडो इलेक्ट्रॉनिक प्लेटफॉर्म के रूप में डिजाइन किया गया है, जो अल्‍पकालिक खुली पहुंच वाली एप्‍लीकेशन की इलेक्‍ट्रॉनिक प्रोसेसिंग के लिए ओपन एक्सेस प्रतिभागियों, व्यापारियों, पावर एक्सचेंजों, राष्ट्रीय / क्षेत्रीय / राज्य लोड डिस्पैच केन्‍द्रों सहित सभी हितधारकों (stakeholders) के लिए उपलब्‍ध है। इसके कारण अंतर-राज्‍यीय ट्रांसमिशन प्रणाली में अल्‍पकालिक खुली पहुंच की व्‍यवस्‍था को स्वचालित किया जा सकता है। एनओएआर प्लेटफॉर्म आरएलडीसी या एसएलडीसी द्वारा जारी स्थायी मंजूरी और खुली पहुंच वाले ग्राहकों को अल्‍पकालिक खुली पहुंच प्रदान करने तथा हितधारकों को इस तरह की सूचनाएं उपलब्‍ध कराने सहित अंतर-राज्यीय ट्रांसमिशन में अल्‍पकालिक ओपन एक्सेस से जुड़ी सूचनाओं के भंडार के रुप में कार्य करेगा। हितधारकों को ऑनलाइन भुगतान करने के लिए प्रदान किया गया भुगतान मार्ग और एनओएआर के साथ एकीकृत वित्तीय लेखांकन और अल्पकालिक ओपन एक्सेस लेनदेन पर नजर रखने की सुविधा प्रदान करेगा।

शिक्षा मंत्रालय के तहत एनसीटीई ने 4-वर्षीय एकीकृत शिक्षक शिक्षा कार्यक्रम (आईटीईपी) के लिए आवेदन आमंत्रित किए

राष्ट्रीय शिक्षक शिक्षा परिषद (एनसीटीई) ने शैक्षणिक सत्र 2023-24 के लिए 4-वर्षीय एकीकृत शिक्षक शिक्षा कार्यक्रम (आईटीईपी) के लिए ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किए हैं। 22 अक्टूबर, 2021 को जारी की गई अधिसूचना के अनुसार, आईटीईपी एक दोहरी-वृहद समग्र स्नातक डिग्री है, जो बी.ए. बी.एड./बी.एससी. बी.एड और बी.कॉम. बी.एड पाठ्यक्रम उपलब्ध कराता है। यह शिक्षक शिक्षा से संबंधित राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के प्रमुख आदेशों में से एक है। इसे शुरू में देश भर के केंद्र/राज्य सरकार के बहु-विषयक विश्वविद्यालयों/संस्थानों में पायलट मोड में उपलब्ध कराया जाएगा। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) द्वारा एक राष्ट्रीय कॉमन प्रवेश परीक्षा (एनसीईटी) के जरिए इसमें प्रवेश दिया जाएगा।

प्रधानमंत्री ने राज्यों के मुख्यमंत्रियों और उच्च न्यायालयों के मुख्य न्यायाधीशों के संयुक्त सम्मेलन का उद्घाटन किया

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने नई दिल्ली के विज्ञान भवन में राज्यों के मुख्यमंत्रियों और उच्च न्यायालयों के मुख्य न्यायाधीशों के संयुक्त सम्मेलन के उद्घाटन सत्र में भाग लिया। इस अवसर पर उन्होंने उपस्थित लोगों को संबोधित भी किया। इस अवसर पर भारत के मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति एन. वी. रमना, उच्चतम न्यायालय के न्यायमूर्ति यू.यू. ललित, केंद्रीय मंत्री श्री किरेन रिजिजू और प्रो. एस.पी. सिंह बघेल, उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश, उच्च न्यायालयों के मुख्य न्यायाधीश, राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के मुख्यमंत्री और उपराज्यपाल उपस्थित थे। यह सम्मेलन सहज और सुविधाजनक तरीके से न्याय उपलब्‍ध कराने की व्‍यवस्‍था विकसित करने और न्याय प्रणाली के समक्ष उत्पन्न चुनौतियों पर काबू पाने के आवश्यक उपायों पर विचार-विमर्श का एक अवसर है। इसके पहले यह सम्मेलन 2016 में आयोजित किया गया था। सरकार ने ई-कोर्ट मिशन मोड प्रोजेक्ट के तहत व्‍यवस्‍था को बेहतर बनाने और न्‍यायिक प्रक्रियाओं को डिजिटल तकनीक से जोड़ने के कई उपाय किए हैं।

क्वालकॉम इंडिया ने भारतीय चिपसेट स्टार्टअप्स की सहायता के लिए MeiTY के C-DAC के साथ हाथ मिलाया

क्वालकॉम इंक की एक सहायक कंपनी क्वालकॉम इंडिया प्राइवेट लिमिटेड ने भारत में चयनित सेमीकंडक्टर स्टार्टअप्स के लिए क्वालकॉम सेमीकंडक्टर मेंटरशिप प्रोग्राम 2022 को लॉन्च करने और चलाने का प्रस्ताव किया है। इसका लक्ष्य मेंटरशिप, तकनीकी प्रशिक्षण और उद्योग की पहुंच प्रदान करना है। क्वालकॉम इंडिया ने भारत सरकार के इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के भीतर एक स्वायत्त वैज्ञानिक समाज सी-डैक (C-DAC) के साथ एक साझेदारी स्थापित की है। यह कार्यक्रम के लिए एक आउटरीच पार्टनर के रूप में काम करेगी और भाग लेने वाले उद्यमियों (Entrepreneurs) को एक्सपोजर हासिल करने में मदद करेगी।

भारतीय सेना के रेड शील्ड डिवीजन ने 'मणिपुर सुपर 50' के लिए MoU पर हस्ताक्षर किए

भारतीय सेना के रेड शील्ड डिवीजन ने स्पीयर कॉर्प्स के तत्वावधान में 'रेड शील्ड सेंटर फॉर एक्सीलेंस एंड वेलनेस' की स्थापना के लिए स्टेट बैंक ऑफ इंडिया फाउंडेशन (SBIF) और राष्ट्रीय अखंडता और शैक्षिक विकास संगठन (NIEDO) के साथ एक त्रिपक्षीय समझौता किया। यह समझौता मणिपुर के विष्णुपुर जिले में हुआ। 'मणिपुर सुपर 50 (Manipur Super 50)' परियोजना का जुलाई 2022 के पहले सप्ताह तक 50 छात्रों के पहले बैच के लिए पूरी तरह कार्यात्मक होने की उम्मीद है।

यूनियन बैंक बना एकाउंट एग्रीगेटर फ्रेमवर्क पर लाइव होने वाला पहला सार्वजनिक बैंक

यूनियन बैंक ऑफ़ इंडिया, एकाउंट एग्रीगेटर (AA) इकोसिस्टम पर लाइव होने वाला पहला सार्वजनिक क्षेत्र का बैंक बन गया। यह फ़्रेमवर्क/ढाँचा, विनियमित संस्थाओं के बीच वास्तविक समय के आधार पर वित्तीय ज़ानकारी साझा करने की सुविधा प्रदान करता है। वित्तीय सूचना प्रदाताओं (Financial Information Providers - FIPs) और वित्तीय सूचना उपयोगकर्ताओं (Financial Information Users - FIUs) के बीच डेटा के प्रवाह को सक्षम करने के लिए एकाउंट एग्रीगेटर को भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा लाइसेंस प्राप्त है।

सेमीकॉन इंडिया सम्मेलन 2022 बंगलुरु में शुरू हुआ

हाल ही में, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीन दिवसीय सेमीकॉन इंडिया 2022 सम्मेलन का उद्घाटन किया, जो कर्नाटक के बेंगलुरु में आयोजित किया गया। यह उद्योग संघों के साथ साझेदारी में इंडिया सेमीकंडक्टर मिशन द्वारा आयोजित किया गया। इसका उद्देश्य भारत के सेमीकंडक्टर इकोसिस्टम को बल कर रहा है। यह सम्मलेन भारत को सेमीकंडक्टर डिजाइन, निर्माण और प्रौद्योगिकी विकास के लिए एक वैश्विक केंद्र बनाने के लिए इंडिया सेमीकंडक्टर मिशन के दृष्टिकोण को आगे बढ़ाने में मदद करेगा। इंडिया सेमीकंडक्टर मिशन (ISM) डिजिटल इंडिया कॉरपोरेशन के भीतर एक स्वतंत्र व्यापार प्रभाग है, जिसके पास सेमीकंडक्टर पारिस्थितिकी तंत्र के विकास के लिए रणनीति तैयार करने के लिए प्रशासनिक और वित्तीय स्वायत्तता है। मार्च 2022 में, केंद्रीय मंत्रिमंडल ने भारत में सेमीकंडक्टर और डिस्प्ले मैन्युफैक्चरिंग इकोसिस्टम के विकास के लिए सेमीकॉन इंडिया कार्यक्रम को मंजूरी दी। इसके तहत कुल वित्तीय परिव्यय 76,000 करोड़ रुपये है।

नाबार्ड किसान संकट सूचकांक

देश के सीमांत और छोटे किसानों को कृषि ऋण माफी के संबंध में एक कच्चा सौदा मिलने के साथ, राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक (NABARD) ट्रैकिंग, पहचान करने के उद्देश्य से एक किसान संकट सूचकांक (FDI) बनाने की योजना बना रहा है। संकट के स्तर के आधार पर, वित्तीय संस्थान और सरकार सभी किसानों को संकट पैकेज सौंपने के बजाय एक उपयुक्त सहायता पैकेज पर निर्णय ले सकती है। यह सूचकांक पूरे देश में एक समान नहीं होगा क्योंकि यह जगह के तनाव स्तरों के आधार पर भिन्न होगा। इस सूचकांक से सरकारी विभागों, वित्तीय क्षेत्र और बीमा कंपनियों को मदद मिलेगी। एक किसान के संकट की गणना आम तौर पर उनकी फसलों को हुए नुकसान की सीमा से की जाती है। नाबार्ड और भारत कृषक समाज (BKS) द्वारा संयुक्त रूप से किए गए एक अध्ययन के अनुसार 60% से अधिक उच्च और बहुत अधिक संकट वाले छोटे और सीमांत किसानों को कृषि ऋण माफी का लाभ नहीं मिला है।

ICICI बैंक ने MSMEs के लिए लॉन्च किया 'Open-For-All डिजिटल इकोसिस्टम

आईसीआईसीआई बैंक ने देश में सभी सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों (MSMEs) के लिए भारत का पहला 'ओपन फ़ॉर आल (open-for-all)' व्यापक डिजिटल पारिस्थितिकी तंत्र लॉन्च किया है। इसका उपयोग अन्य बैंकों के ग्राहक भी कर सकते हैं। कोई भी इंस्टाबिज़ (InstaBIZ) ऐप पर डिजिटल समाधान के लाभों का उपयोग कर सकता है। अन्य बैंकों के MSME ग्राहक ऐप में 'गेस्ट (Guest)' के रूप में लॉग इन करके कई सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं। यह 'इंस्टाऑड प्लस (InstaOD Plus)' के माध्यम से 25 लाख रुपये तक की तत्काल और पेपरलेस ओवरड्राफ्ट सुविधा की मंज़ूरी प्रदान करता है। इंस्टाबिज़ ऐप का नवीनतम संस्करण डाउनलोड करके नए डिजिटल पारिस्थितिकी तंत्र का लाभ उठाया जा सकता है। ऐप गूगल प्ले स्टोर, एप्पल ऐप स्टोर और बैंक के कॉर्पोरेट इंटरनेट बैंकिंग (Corporate Internet Banking - CIB) प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध है। पारिस्थितिकी तंत्र वीडियो केवाईसी के माध्यम से डिजिटल और तत्काल चालू खाता खोलने की सुविधा प्रदान करता है।

PFA द्वाराझारखंड के एक गाँव से दो ‘स्लॉथ बीयर’ को बचाया गया

हाल ही में ‘पीपुल फॉर एनिमल्स ग्रुप’ (PFA) द्वारा झारखंड के एक गाँव से वन अधिकारियों की सहायता से दो ‘स्लॉथ बीयर’ (वैज्ञानिक नाम: मेलूरसस अर्सिनस) को बचाया गया। द पीपुल फॉर एनिमल्स मेनका गांधी द्वारा स्थापित एक पशु कल्याण संगठन है। PFA ​​​​को मदारियों ने सूचित किया था। मदारी एक खानाबदोश समुदाय है जो जानवरों का इस्तेमाल नुक्कड़ नाटकों में करके जीविकोपार्जन करता है। स्लॉथ बीयर श्रीलंका, भारत, भूटान और नेपाल में मुख्य रूप से तराई क्षेत्रों में पाए जाते हैं। स्लॉथ बीयर मुख्य रूप से दीमक और चींटियों को खाते हैं तथा भालू की अन्य प्रजातियों के विपरीत वे नियमित रूप से अपने शावकों को अपनी पीठ पर ले जाते हैं। ये शहद खाने के भी बहुत शौकीन होते हैं, इसलिये इन्हें ‘हनी बीयर’ (Honey Bear) भी कहा जाता है। स्लॉथ बीयर हाइबरनेट (hibernate) अर्थात् शीतनिद्रा की स्थिति में नही जाते हैं। इसे हनी बीयर (Honey Bear) और हिंदी भालू भी कहा जाता है, यह उर्सिडा/उर्सिडी (Ursidae) परिवार का हिस्सा है। ये भारत और श्रीलंका के उष्णकटिबंधीय या उपोष्णकटिबंधीय क्षेत्रों में पाए जाते हैं।

अंतर्राष्ट्रीय खगोल विज्ञान दिवस

विश्व भर में प्रतिवर्ष दो बारअंतर्राष्ट्रीय खगोल विज्ञान दिवस’ का आयोजन किया जाता है। पहला 2 मई को, जबकि दूसरा 26 सितंबर को। इस दिवस के अवसर पर विभिन्न संग्रहालयों और खगोलीय संस्थानों द्वारा खगोल विज्ञान के संबंध में जागरूकता फैलाने के लिये सेमिनार, कार्यशालाओं और अन्य कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है। वर्ष 1973 में उत्तरी कैलिफोर्निया के खगोलीय संघ के अध्यक्ष ‘डौग बर्जर’ ने पहले खगोल विज्ञान दिवस का आयोजन किया था। इस दिवस के आयोजन का प्राथमिक उद्देश्य आम जनमानस को खगोल विज्ञान के महत्त्व और संपूर्ण ब्रह्मांड के संबंध में जागरूक करना है तथा उन्हें इसके प्रति रुचि विकसित करने में मदद करना है। खगोल विज्ञान का अध्ययन बीते लगभग 5,000 वर्षों से प्रचलित है और इसे संबद्ध विज्ञान शाखाओं में सबसे पुराना माना जाता है। वर्ष 1608 में टेलीस्कोप के आविष्कार के बाद ब्रह्मांड के रहस्य को जानने में खलोग विज्ञान का महत्त्व और भी अधिक बढ़ गया। समय के साथ-साथ बीते कुछ दशकों में प्रौद्योगिकी ने महत्त्वपूर्ण वृद्धि की है एवं कई सिद्धांत एवं अवलोकन प्रस्तुत किये गए हैं, जिससे खगोल विज्ञान और अधिक प्रगति कर रहा है।

विश्व हास्य दिवस 2022

प्रत्येक वर्ष मई महीने के पहले रविवार को विश्व हास्य दिवस मनाया जाता है ताकि लोगों को हंसने और अपने आसपास के लोगों को हंसाने की याद दिलाई जा सके। इस वर्ष यह दिवस 1 मई को मनाया गया। यह वैज्ञानिक रूप से देखा गया है कि हंसी मस्तिष्क में कॉर्टिसॉल के स्तर को कम करती है और शरीर पर सकारात्मक प्रभाव डालती है। मूड को बेहतर करने (ऊपर उठाने) या विचार को सही दिशा में ले जाने में हंसी का अत्यधिक महत्व है।

विश्व टूना दिवस 2022

प्रत्येक वर्ष 2 मई को विश्व स्तर पर 'विश्व टूना दिवस' मनाया जाता है। इस दिन की स्थापना संयुक्त राष्ट्र (UN) द्वारा टूना मछली के महत्व के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए की जाती है। टूना मनुष्यों के लिए भोजन का एक महत्वपूर्ण स्रोत है क्योंकि टूना मछली में ओमेगा 3, विटामिन बी 12, प्रोटीन और अन्य खनिज़ों जैसे कई समृद्ध गुण होते हैं।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2022 RajasthanGyan All Rights Reserved.