Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

10 June 2022

राष्‍ट्रपति चुनाव के लिए चुनाव कार्यक्रम की घोषणा, मतदान 18 जुलाई को

निर्वाचन आयोग ने देश के 16वें राष्ट्रपति के चुनाव कार्यक्रम की घोषणा की। मुख्य निर्वाचन आयुक्त राजीव कुमार ने नई दिल्ली में चुनाव कार्यक्रम की घोषणा करते हुए कहा कि मतदान 18 जुलाई को होगा। मतगणना 21 जुलाई को होगी। चुनाव की अधिसूचना 15 जून को जारी होगी। 29 जून तक नामांकन पत्र भरे जा सकेंगे। नामांकन पत्रों की जांच 30 जून को की जाएगी। भारत के राष्ट्रपति श्री राम नाथ कोविंद का कार्यकाल 24 जुलाई, 2022 को समाप्त हो रहा है। भारत के संविधान के अनुच्छेद 62 के अनुसार, निवर्तमान राष्ट्रपति के कार्यकाल की समाप्ति से पहले नए राष्ट्रपति का चुनाव पूरा करना आवश्यक है। संविधान के अनुच्छेद 324 में राष्ट्रपति और उप-राष्ट्रपति चुनाव अधिनियम, 1952 तथा राष्ट्रपति और उप-राष्ट्रपति चुनाव नियम, 1974 के अनुसार भारत के राष्ट्रपति के चुनाव के संचालन का अधीक्षण, निर्देशन और नियंत्रण भारत निर्वाचन आयोग में निहित है। श्री कुमार ने कहा कि राष्‍ट्रपति का चुनाव संविधान के अनुसार आनुपातिक प्रतिनिधित्व प्रणाली के अनुसार गुप्त मतदान द्वारा होगा। लोकसभा, राज्‍यसभा और राज्‍य विधानसभाओं के सदस्‍यों का निर्वाचक मंडल राष्ट्रपति का चुनाव करता है। निर्वाचक मंडल में दिल्‍ली और पुद्दुचेरी विधानसभा के सदस्‍य भी शामिल हैं।

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने बायोटेक स्टार्टअप एक्सपो का उद्घाटन किया

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने प्रगति मैदान में बायोटेक स्टार्टअप एक्सपो-2022 का उद्घाटन किया। उन्होंने बायोटेक उत्पाद ई-पोर्टल भी लॉन्च किया। इस दो दिवसीय प्रदर्शनी का आयोजन जैव प्रौद्योगिकी विभाग और जैव प्रौद्योगिकी अनुसंधान सहायता परिषद कर रहे हैं। परिषद के दस वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्‍य में आयोजित प्रदर्शनी की थीम है- 'बॉयोटेक स्‍टार्टअप नवाचारः आत्‍मनिर्भर भारत के लिये’। यह प्रदर्शनी उद्यमियों, निवेशकों, उद्योगपतियों, वैज्ञानिकों, अनुसंधानकर्त्ताओं, बॉयोइन्‍क्‍यूबेटर, विनिर्माताओं, नियामकों और सरकारी कर्मियों को एक मंच पर लाएगी। इस प्रदर्शनी में लगभग 300 स्‍टॉल लगाए गए हैं, जिनमें स्‍वास्‍थ्‍य देखभाल, जेनोमिक्‍स, जैव-फार्मा, कृषि, औद्योगिक जैव-प्रौद्योगिकी, कचरे से संपदा, स्‍वच्‍छ ऊर्जा जैसे विभिन्‍न क्षेत्रों में जैव प्रौद्योगिकी के अनुप्रयोग को प्रदर्शित किया जाएगा। जैव प्रौद्योगिकी वह तकनीक है जो विभिन्न उत्पादों को विकसित करने या बनाने के लिये जैविक प्रणालियों, जीवित जीवों या इसके कुछ हिस्सों का उपयोग करती है। जैव प्रौद्योगिकी के तहत बायोफार्मास्यूटिकल्स का औद्योगिक पैमाने पर उत्पादन करने हेतु आनुवंशिक रूप से संशोधित रोगाणुओं, कवक, पौधों और जानवरों का उपयोग किया जाता है। जैव प्रौद्योगिकी के अनुप्रयोगों में रोग की चिकित्सा, निदान, आनुवंशिक रूप से संशोधित फसलें, प्रसंस्कृत खाद्य, बायोरेमेडिएशन, अपशिष्ट उपचार और ऊर्जा उत्पादन आदि शामिल हैं।

भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण (FSSAI) का चौथा राज्य खाद्य सुरक्षा सूचकांक (SFSI) जारी

विश्व खाद्य सुरक्षा दिवस के अवसर पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने खाद्य सुरक्षा के पाँच मापदंडों पर राज्यों के प्रदर्शन को मापने के लिये भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण (FSSAI) का चौथा राज्य खाद्य सुरक्षा सूचकांक (SFSI) जारी किया। राज्य खाद्य सुरक्षा सूचकांक में तमिलनाडु शीर्ष पर है, उसके बाद गुजरात और महाराष्ट्र हैं। छोटे राज्यों में गोवा पहले स्थान पर रहा उसके बाद मणिपुर और सिक्किम का स्थान रहा। केंद्रशासित प्रदेशों में जम्मू-कश्मीर, दिल्ली और चंडीगढ़ ने क्रमशः पहला, दूसरा और तीसरा स्थान प्राप्त किया। राज्य खाद्य सुरक्षा सूचकांक की शुरुआत वर्ष 2018-19 से देश में खाद्य सुरक्षा पारिस्थितिकी तंत्र में प्रतिस्पर्द्धी सकारात्मक बदलाव लाने के उद्देश्य से की गई थी। खाद्य सुरक्षा के पाँच महत्त्वपूर्ण मापदंडों पर राज्यों के प्रदर्शन को मापने के लिये FSSAI (भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण) द्वारा यह सूचकांक विकसित किया गया है। मापदंडों में मानव संसाधन और संस्थागत डेटा, अनुपालन, खाद्य परीक्षण- बुनियादी ढांँचा और निगरानी, प्रशिक्षण एवं क्षमता निर्माण तथा उपभोक्ता अधिकारिता शामिल हैं। वर्ष 2018-19 के लिये पहला राज्य खाद्य सुरक्षा सूचकांक 7 जून, 2019 को पहली बार विश्व खाद्य सुरक्षा दिवस पर घोषित किया गया था।

सरकार ने राष्‍ट्रीय पुरस्‍कार पोर्टल का शुभारंभ किया

केंद्र सरकार ने विभिन्न मंत्रालयों, विभागों और एजेंसियों के विभिन्न पुरस्कारों की नामांकन प्रक्रिया को पारदर्शी बनाने और जन-भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार पोर्टल की शुरूआत की है। सभी पुरस्कारों को एक डिजिटल प्लेटफॉर्म के अंतर्गत एक साथ लाने के लिए विकसित किया गया है। पोर्टल का उद्देश्य नागरिकों को सरकार द्वारा स्थापित विभिन्न पुरस्कारों के लिए व्यक्तियों और संगठनों को नामांकित करने की सुविधा प्रदान करना है। गृह मंत्रालय ने एक वक्‍तव्‍य में कहा कि पद्म पुरस्कारों के नामांकन और संस्‍तुति के लिए पोर्टल इस वर्ष 15 सितंबर तक खुला रहेगा। सरदार पटेल राष्ट्रीय एकता पुरस्कारों के लिए अगले महीने की 31 तारीख तक नामांकन किए जा सकते हैं। तेनजिंग नोर्गे राष्ट्रीय साहसिक कार्य पुरस्कार और पंडित दीनदयाल उपाध्याय टेलीकॉम स्किल एक्सीलेंस अवार्ड के लिए 16 जून तक नामांकन किया जा सकता है।

भारत आसियान देशों के विदेश मंत्रि‍यों की विशेष बैठक की मेजबानी करेगा

भारत इस महीने की 16 और 17 तारीख को आसियान देशों के विदेश मंत्रि‍यों की विशेष बैठक की मेजबानी करेगा। विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता अरिंदम बागची ने नई दिल्‍ली में कहा कि भारत, इस बैठक की पहली बार मेजबानी कर रहा है। इसके साथ दिल्‍ली डायलॉग के 12वें संस्‍करण का भी आयोजन किया जाएगा। उन्‍होंने कहा कि दिल्‍ली डायलॉग का इस बार का विषय है- हिन्‍द प्रशांत क्षेत्र को परस्‍पर जोड़ना। मंत्रिस्तरीय सत्र में विदेश मंत्री डॉक्‍टर एस. जयशंकर और आसियान देशों के विदेशमंत्री भाग लेंगे। आसियान-भारत विदेश मंत्रियों की बैठक वार्ता सम्‍बंधों की 30वीं वर्षगांठ और आसियान के साथ रणनीतिक साझेदारी की 10वीं वर्षगांठ को दर्शाएगी।

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने वियतनाम में होंगहा शिपयार्ड को तीव्रगति की 12 रक्षक नौकाएं सौंपी

वियतनाम की यात्रा पर गए रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने हेई फॉन के होंगहा शिपयार्ड में तीव्रगति की 12 रक्षक नौकाएं वियतनाम को सौंपी। भारत की ओर से रक्षा ऋण सहयोग के अन्‍तर्गत वियतनाम को दी गई ये नौकाएं 10 करोड़ डॉलर की राशि से निर्मित की गई हैं। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह तीन दिन की वियतनाम यात्रा पर हैं। यात्रा के पहले दिन उन्‍होंने वियतनाम के रक्षा मंत्री जनरल फान वेन ग्‍यांग से द्विपक्षीय वार्ता की और संयुक्‍त दृष्टि-पत्र पर हस्‍ताक्षर किए। इसमें 2030 तक दोनों देशों के बीच रक्षा सहयोग बढाने की बात कही गई है। दोनों देशों के बीच आपसी हित में प्रक्रियाओं के सरल बनाने के समझौता ज्ञापन पर भी हस्‍ताक्षर हुए। श्री राज नाथ सिंह ने वियतनाम के राष्‍ट्रपति गुयेन जुआन फुक और प्रधानमंत्री फाम मिन्ह चिन से भी मुलाकात की।

सेबी ने म्यूचुअल फंड पर सलाहकार समिति का पुनर्गठन किया

बाजार नियामक सेबी ने अपनी म्यूचुअल फंड सलाहकार समिति में बदलाव किया है। भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी) के नवीनतम अपडेट के अनुसार, 25 सदस्यीय सलाहकार परिषद की अध्यक्षता भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) की पूर्व डिप्टी गवर्नर उषा थोराट (Usha Thorat) करेंगी। पहले, पैनल में 24 लोग शामिल थे। समिति का मिशन म्यूचुअल फंड विनियमन और विकास से संबंधित समस्याओं पर भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी) को सलाह देना है। यह नियामक को प्रकटीकरण आवश्यकताओं और म्यूचुअल फंड कानूनों को सरलीकरण और पारदर्शिता के करीब लाने के लिए कानूनी ढांचे में बदलाव के लिए आवश्यक कदमों पर सलाह दे सकता है।

आलोक चौधरी ने एसबीआई के प्रबंध निदेशक का पदभार संभाला

आलोक कुमार चौधरी ने भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) के खुदरा कारोबार और परिचालन के प्रबंध निदेशक का पदभार संभाल लिया है। उनकी नियुक्ति 31 मई, 2022 को अश्विनी भाटिया के प्रबंध निदेशक के रूप में सेवानिवृत्त होने के मद्देनजर हुई है। वह बैंक में उप-प्रबंध निदेशक (डीएमडी) मानव संसाधन और कॉरपोरेट विकास अधिकारी भी रह चुके हैं। चौधरी तीन साल तक बैंक के दिल्ली सर्किल के मुख्य महाप्रबंधक भी रह चुके हैं। बैंक में चौधरी के अलावा तीन अन्य प्रबंध निदेशक सी एस शेट्टी, स्वामीनाथन जे और अश्विनी कुमार तिवारी हैं।

गोवा के मुख्यमंत्री ने 'बीच विजिल ऐप' किया लॉन्च

गोवा के मुख्यमंत्री (सीएम) प्रमोद सावंत ने 'बीच विजिल ऐप (Beach Vigil App)' लॉन्च किया है जो सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) क्षेत्र और पर्यटन क्षेत्र के बीच एक सहयोग है, जिसका उद्देश्य समुद्र तटों के समग्र प्रबंधन में पर्यटकों और समुद्र तट पर्यटन क्षेत्र में काम कर रहे संस्थानों को लाभ पहुंचाना है।

अमरीका में प्रतिनिधि सभा ने अर्द्ध-स्‍वचालित हथियार खरीदने के लिए आयुसीमा को 18 से बढाकर 21 वर्ष करने की मंजूरी दी

अमरीकी संसद के निचले सदन प्रतिनिधि सभा ने देश में अर्ध-स्वचालित हथियार खरीदने की आयु सीमा 18 वर्ष से बढ़ाकर 21 वर्ष करने के विधेयक को मंजूरी दे दी है। हथियारों की मैगजीन की बिक्री पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है जिसमें 15 से अधिक राउंड गोलियां होती हैं। इस विधेयक के संसद के ऊपरी सदन सीनेट की स्‍वीकृति के लिए भेजे जाने की संभावना नहीं है, जहां डेमोक्रेट और रिपब्लिकन सांसदों की संख्‍या पचास-पचास है। ऊपरी सदन में विधेयक को पारित कराने के लिए कम से कम साठ मतों की आवश्‍यकता है। अमरीका में गोलीबारी की घटनाओं के बाद यह कदम उठाया गया है।

यूरोपीय संसद ने 2035 से पेट्रोल और डीजल की नई कारों की बिक्री पर प्रतिबंध का प्रस्‍ताव पारित किया

यूरोपीय संसद ने वर्ष 2035 तक पेट्रोल और डीजल की नई कारों की बिक्री पर प्रतिबंध के पक्ष में मतदान किया है। इस कदम से बिजली चालित वाहनों के तेजी से विकास होगा और जलवायु परिवर्तन से निपटने में मदद मिलेगी। वर्ष 2035 के बाद नये वाहनों से कुछ उत्सर्जन की अनुमति देने के संशोधन प्रस्ताव को सांसदों ने नामंजूर कर दिया। अगले दशक के मध्य तक वाहन निर्माताओं को कार्बन डाइऑक्साइड उत्सर्जन में शत प्रतिशत कटौती करनी होगी। इस निर्णय से यूरोपीय संघ के 27 देशों में गैसोलीन या डीजल से चलने वाले वाहनों की बिक्री पर प्रतिबंध लग जाएगा।

भारत ने पेट्रोल में दस प्रतिशत ईथानोल मिलाने का लक्ष्य निर्धारित तिथि से पांच महीने पहले हासिल कर लिया

पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने कहा है कि 10 प्रतिशत ईथानोल मिले पेट्रोल के उपयोग से देश को विदेशी मुद्रा में 41 हजार करोड़ रुपए से अधिक मूल्य की बचत हुई है। श्री चौबे ने एक ऑनलाइन आयोजन को संबोधित करते हुए कहा कि भारत ने पेट्रोल में दस प्रतिशत ईथानोल मिलाने का लक्ष्य निर्धारित तिथि से पांच महीने पहले हासिल कर लिया है। उन्होंने कहा कि अगला लक्ष्य पेट्रोल में 20 प्रतिशत ईथानोल मिलाने का है और इसे 2025-26 तक हासिल किया जाना है। उन्होंने यह भी कहा कि यह ईंधन आयात और कार्बन उत्सर्जन में कमी लाने की दिशा में बड़ा कदम है। इस पहल से किसानों को फायदा हुआ है।

संकट के बीच श्रीलंका को संयुक्त राष्ट्र 48 डॉलर की मानवीय सहायता देगा

संयुक्त राष्ट्र ने श्रीलंका को चार महीने की अवधि में लगभग 48 मिलियन डॉलर की मानवीय सहायता प्रदान करने की योजना बनाई है। भोजन, ईंधन, रसोई गैस और दवाओं सहित आवश्यक वस्तुओं को उपलब्ध कराने के लिए जनवरी से नई दिल्ली की 3 अरब डॉलर से अधिक की वित्तीय सहायता थी । श्रीलंका को अगले छह महीनों के लिए देश को बचाए रखने के लिए $6 बिलियन की आवश्यकता है, जिसमें कहा गया है कि दैनिक जीवन सुनिश्चित करने के लिए $ 5 बिलियन की आवश्यकता है और श्रीलंकाई रुपये को मजबूत करने के लिए एक और $ 1 बिलियन की आवश्यकता है।

नेटवर्क प्लानिंग ग्रुप (एनपीजी) की 20वीं बैठक

नेटवर्क प्लानिंग ग्रुप (एनपीजी) की 20वीं बैठक 8 जून, 2022 को उद्योग भवन, नई दिल्ली में आयोजित की गई। उद्योग एवं आंतरिक व्यापार संवर्धन विभाग के रसद प्रभाग के विशेष सचिव श्री अमृत ​​लाल मीणा ने इसकी अध्यक्षता की जिसमें सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय, नागर विमानन मंत्रालय, रेल मंत्रालय, पत्तन, नौवहन एवं जलमार्ग मंत्रालय, विद्युत मंत्रालय, दूरसंचार विभाग और नीति आयोग सहित सदस्य मंत्रालयों/विभागों ने अपनी सक्रिय भागीदारी दर्ज की। फोरम में इन मंत्रालयों के वरिष्ठ अधिकारियों ने रसद क्षमताओं और पीएम गति शक्ति पर विभिन्न एजेंडा पर विचार-विमर्श किया। दूरसंचार विभाग के हाल ही में लॉन्च किए गए गतिशक्ति संचार पोर्टल की सराहना करते हुए, इस बात पर प्रकाश डाला गया कि सभी 36 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को पोर्टल में एकीकृत कर दिया गया है। राष्ट्रीय मास्टर प्लान में पोर्टल को एकीकृत करने की प्रक्रिया को और तेज करने के लिए दूरसंचार विभाग जल्द ही सभी एनपीजी सदस्यों के साथ एक बैठक बुलाएगा।

कृषि राज्य मंत्री सुश्री शोभा करंदलाजे ने ब्रिक्स कृषि मंत्रियों की 12वीं बैठक में भारत का प्रतिनिधित्व किया

ब्रिक्स कृषि मंत्रियों की 12वीं बैठक वर्चुअल माध्यम से संपन्न हुई। इस बैठक में चीन, दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील, रूस और भारत के मंत्रियों ने भाग लिया। केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण राज्य मंत्री सुश्री शोभा करंदलाजे ने इस बैठक में भाग लिया। केंद्रीय मंत्री ने भारत सरकार द्वारा कृषि और किसान कल्याण के क्षेत्र में पीएम किसान, पीएम फसल बीमा योजना, सॉइल हेल्थ कार्ड, प्राकृतिक कृषि, एफपीओ का गठन और संवर्धन आदि शुरू की गई पहलों और कदमों का उल्लेख किया। ब्रिक्स कृषि मंत्रियों ने “समन्वित कृषि और ग्रामीण विकास के लिए ब्रिक्स सहयोग को मजबूत बनाने” की विषय वस्तु के साथ 12वीं बैठक की संयुक्त घोषणा और साथ ब्रिक्स सदस्य देशों के बीच खाद्य सुरक्षा सहयोग पर ब्रिक्स रणनीति को भी अपनाया।

एनसीपीसीआर ने सड़क पर रहने वाले बच्चों के पुनर्वास में सहायता करने के लिए बाल स्वराज पोर्टल के तहत "सीआईएसएस एप्लिकेशन" का शुभारंभ किया

राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (एनसीपीसीआर) ने बाल स्वराज पोर्टल के तहत सड़क पर रहने वाले बच्चों (सीआईएसएसएस- चिल्ड्रेन इन स्ट्रीट सिचुएशन्स) के पुनर्वास की प्रक्रिया में सहायता करने के लिए एक "सीआईएसएस एप्लिकेशन" का शुभारंभ किया है। एनसीपीसीआर ने देखभाल और सुरक्षा की जरूरत वाले बच्चों की ऑनलाइन निगरानी और डिजिटल रीयल-टाइम निगरानी तंत्र के लिए बाल स्वराज पोर्टल को शुरू किया है। इस पोर्टल के दो कार्य हैं- कोविड देखभाल और सीआईएसएस। कोविड देखभाल लिंक उन बच्चों की देखभाल को लेकर है, जिनके माता-पिता, दोनों कोविड-19 के कारण या मार्च 2020 के बाद नहीं रहें। यह बच्चों के पुनर्वास के लिए छह चरणों के ढांचे का अनुसरण करता है। पहला चरण बच्चे के विवरण का संग्रह है, जिसे पोर्टल के माध्यम से पूरा किया जाता है। दूसरा चरण सामाजिक जांच रिपोर्ट (एसआईआर) है यानी कि बच्चे की पृष्ठभूमि की जांच से संबंधित है। यह काम जिला बाल संरक्षण इकाई (डीसीपीयू) की निगरानी में जिला बाल संरक्षण अधिकारी (डीसीपीओ) बच्चे से बातचीत और परामर्श करके पूरा करते हैं। तीसरा चरण बच्चे के लिए एक व्यक्तिगत देखभाल योजना (आईसीपी) तैयार करना है। इसके बाद चौथा चरण सीडब्ल्यूसी को सौंपे गए एसआईआर के आधार पर बाल कल्याण समिति (सीडब्ल्यूसी) का आदेश है। पांचवां चरण उन योजनाओं और लाभों का आवंटन करना है, जिनका लाभार्थी लाभ उठा सकते हैं और छठे चरण में प्रगति के मूल्यांकन के लिए एक जांच सूची यानी कि फॉलो अप्स बनाई जाती है।

नीति आयोग के अटल इनोवेशन मिशन तथा भारत के पहले फंडिंग शो हौर्स स्टेबल ने युवा उद्यमियों के लिए जूनियर वर्ग का प्रीमियर संस्करण लांच किया

हौर्स स्टेबल, जो एक ऐसा शो है जो भारत के प्रतिभाशाली उद्यमी प्रतिभाओं की छिपी क्षमता का दोहन करता है, ने पहले तीन सीजनों की असीम सफलता के बाद, नीति आयोग के अटल इनोवेशन मिशन के सहयोग से शो का ‘ जूनियर सीजन‘ लांच किया। ‘ हौर्स स्टेबल-जूनियर‘ युवा उद्यमियों के पोषण पर ध्यान केंद्रित करता है तथा आरंभ होने वाले स्टार्टअप को उनके नवोन्मेषी विचारों को प्रस्तुत करने और हौर्स के एक अनुभवी पैनल से उनके भविष्य के व्यवसायिक उद्यमों के लिए मार्ग निर्देशन तथा अनुदान प्राप्त करने में सक्षम बनाता है। शो के लिए आवेदन प्रक्रिया 08 जून 2022 से हौर्स स्टेबल की आधिकारिक वेबसाइट पर आरंभ हो गई है। आवेदन के लिए आयु वर्ग 10 से 17 वर्ष है।

पर्यावरण प्रदर्शन सूचकांक में भारत सबसे निचले स्थान पर

2022 पर्यावरण प्रदर्शन सूचकांक (ईपीआई), येल और कोलंबिया विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं द्वारा एक विश्लेषण, जो दुनिया भर में स्थिरता की स्थिति का डेटा-संचालित मूल्यांकन देता है, में भारत 180 देशों में से अंतिम स्थान पर है। ईपीआई द्वारा 180 देशों को रैंक करने के लिए उपयोग किए जाने वाले 40 प्रदर्शन कारकों में जलवायु परिवर्तन, पर्यावरणीय सार्वजनिक स्वास्थ्य और जैव विविधता शामिल हैं। 18.9 के समग्र स्कोर के साथ, भारत अंतिम स्थान पर आया, जबकि डेनमार्क दुनिया के सबसे स्थायी देश के रूप में पहले स्थान पर आया। अमेरिका पश्चिमी दुनिया के 22 समृद्ध लोकतंत्रों में से 20वें और कुल मिलाकर 43वें स्थान पर था।

मारुति सुजुकी ने मानेसर में लगाया एशिया का सबसे बड़ा 20 मेगावाट का सोलर प्लांट

देश में सबसे ज्यादा कार बेचने वाली कंपनी मारुति सुजुकी ने अपनी मानेसर फैसिलिटी में 20 MWp1 का सोलर प्लांट स्थापित किया है। यह पहल कंपनी की ऊर्जा जरूरतों के लिए हर साल 28,000 MWH2 का योगदान करेगी। उत्पादित बिजली सालाना 67,000 से ज्यादा कारों के उत्पादन के लिए जरूरी एनर्जी के बराबर होगी।

विश्व बैंक ने भारत के सकल घरेलू उत्पाद का अनुमान घटाकर 7.5% किया

विश्व बैंक ने चालू वित्त वर्ष के लिए भारत के विकास के अनुमान को घटाकर 7.5 प्रतिशत कर दिया है, जो इसके पिछले 8.7 प्रतिशत के अनुमान से 1.2 प्रतिशत अंक कम है। विश्व बैंक ने जारी अपनी नवीनतम ग्लोबल इकोनॉमिक प्रॉस्पेक्ट्स रिपोर्ट में लिखा है कि उसने बढ़ती मुद्रास्फीति, आपूर्ति श्रृंखला में व्यवधान और भू-राजनीतिक तनावों के कारण भारत के सकल घरेलू उत्पाद के विकास के अनुमान में कटौती की है। बैंक देखता है कि वित्त वर्ष 24 में भारत की विकास दर और धीमी होकर 7.1 प्रतिशत हो जाएगी। यह पिछले अनुमान 6.8 प्रतिशत से 30 आधार अंक अधिक है। FY25 के लिए, GDP वृद्धि 6.5 प्रतिशत आंकी गई है।

ब्लू ड्यूक सिक्किम की स्टेट बटरफ्लाई घोषित

मुख्यमंत्री पी.एस. गोले ने विश्व पर्यावरण दिवस समारोह के दौरान ब्लू ड्यूक को सिक्किम की स्टेट बटरफ्लाई घोषित किया। यह घोषणा वन विभाग द्वारा आयोजित कार्यक्रम के दौरान रानीपूल के पास सरमसा गार्डन में की गई। ब्लू ड्यूक, सिक्किम की एक देशी तितली प्रजाति, सिक्किम के राज्य तितली के रूप में घोषित होने के लिए एक और दावेदार कृष्णा पीकॉक से आगे निकल गई। 720-विषम तितली प्रजातियों में से दो तितलियों को स्टेट बटरफ्लाई नामांकन के लिए चुना गया था।

बजाज फाइनेंस का नया डिजिटल कैम्‍पेन 'हर टाइम ईएमआई ऑन टाइम'

बजाज फिनसर्व की लोन देने वाली शाखा, बजाज फाइनेंस लिमिटेड ने अपनी जन जागरूकता पहल 'हर टाइम ईएमआई ऑन टाइम' को लॉन्‍च किया है। यह एक डिजिटल अभियान है जिसे अच्छे वित्तीय भविष्य के लिए अच्छी वित्तीय आदतों को अपनाने की जरूरत और फायदों के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए शुरू किया गया है।

9 जून: विश्व प्रत्यायन दिवस

हर साल, विश्व प्रत्यायन दिवस 9 जून को मनाया जाता है। इस दिवस को मनाने की पहल अंतर्राष्ट्रीय प्रत्यायन मंच और अंतर्राष्ट्रीय प्रयोगशाला प्रत्यायन सहयोग द्वारा शुरू की गई थी। भारत में, क्वालिटी काउंसिल ऑफ इंडिया (Quality Council of India) द्वारा यह दिवस मनाया जाता है। इसके अलावा, National Accreditation Board for Testing and calibration Laboratories और National Accreditation Board for Certification Bodies द्वारा वेबिनार आयोजित किए जाते हैं। भारतीय गुणवत्ता परिषद की स्थापना 1997 में हुई थी। QCI का मुख्य उद्देश्य देश में सभी सामाजिक और आर्थिक क्षेत्रों में गुणवत्ता मानकों को स्थापित करना है। इसे नीदरलैंड मॉडल के आधार पर एक सार्वजनिक निजी भागीदारी के रूप में स्थापित किया गया था। यह उद्योग और आंतरिक व्यापार संवर्धन विभाग (DPIIT) द्वारा स्थापित की गयी थी। QCI के प्रमुख प्रवर्तक CII (भारतीय उद्योग परिसंघ), FICCI (फेडरेशन ऑफ इंडियन चैंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री) हैं।

08 मई को मनाया गया विश्व थैलेसीमिया दिवस 2022

विश्व थैलेसीमिया दिवस प्रत्येक वर्ष 8 मई को थैलेसीमिया पीड़ितों की याद में और इस बीमारी के साथ जीने के लिए संघर्ष करने वालों को प्रोत्साहित करने के लिए मनाया जाता है। थैलेसीमिया एक विरासत में मिला रक्त विकार (Inherited blood disorder) है जो शरीर को पर्याप्त हीमोग्लोबिन बनाने नहीं देता है। रोग रक्त कोशिकाओं को कमज़ोर और नष्ट कर देता है। थैलेसीमिया दो प्रकार के होते हैं, अल्फा और बीटा। हालाँकि इसे उपश्रेणियों में भी विभाजित किया गया है - थैलेसीमिया माइनर, इंटरमीडिएट और मेजर। इस वर्ष के विश्व थैलेसीमिया दिवस की थीम/विषय 'Be Aware.Share.Care: Working with the global community as one to improve thalassemia knowledge' है।

विश्व ब्रेन ट्यूमर दिवस : 8 जून

ब्रेन ट्यूमर के बारे में जागरूकता पैदा करने के उद्देश्य से हर साल 8 जून को विश्व ब्रेन ट्यूमर दिवस मनाया जाता है। यह आपके मस्तिष्क में असामान्य कोशिकाओं का द्रव्यमान या वृद्धि है। ब्रेन ट्यूमर दो प्रकार के होते हैं, कैंसर रहित (सौम्य) और कैंसरयुक्त (घातक)। राष्ट्रीय स्वास्थ्य पोर्टल के अनुसार, दुनिया भर में हर दिन 500 से अधिक नए मामलों में ब्रेन ट्यूमर का पता चलता है। यह दिन ब्रेन ट्यूमर के रोगियों, उनके परिवारों और स्वास्थ्य पेशेवरों को भी श्रद्धांजलि देता है। 2022 में विश्व ट्यूमर दिवस की थीम 'टुगेदर वी आर स्ट्रॉन्गर' है।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2022 RajasthanGyan All Rights Reserved.