Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

15 June 2022

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी का अगले डेढ़ वर्ष में 10 लाख लोगों की भर्ती, मिशन मोड में करने का निर्देश

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने सभी विभागों और मंत्रालयों में मानव संसाधनों की स्थिति की समीक्षा की। प्रधानमंत्री कार्यालय ने बताया कि श्री मोदी ने निर्देश दिया है कि अगले डेढ़ वर्ष में सरकार द्वारा दस लाख लोगों की भर्ती मिशन मोड में की जाए।

राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने बेंगलुरु में इस्‍कॉन का श्री राजाधिराज गोविंदा मंदिर समर्पित किया

राष्‍ट्रपति राम नाथ कोविंद ने बंगलुरू के वैकुंठ पहाडियों पर बने इस्‍कॉन श्री राजाधिराज गोविंद मंदिर का लोकापर्ण किया। यह मंदिर आंध्रप्रदेश के तिरूपति मंदिर में स्‍थापित भगवान वेंकटेश्‍वर की प्रतिकृति है। लोकार्पण समारोह के बाद राष्‍ट्रपति ने मंदिर के दिव्‍य परिवेश और वास्‍तुकला की सराहना की।

प्रधानमंत्री ने मुंबई के राजभवन में ब्रिटिश-काल के भूमिगत बंकर में भारतीय क्रांतिकारियों की एक नव निर्मित दीर्घा 'क्रांति गाथा' का उद्घाटन किया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुंबई के राजभवन में ब्रिटिश-काल के भूमिगत बंकर में भारतीय क्रांतिकारियों की एक नव निर्मित दीर्घा 'क्रांति गाथा' के उद्घाटन किया। प्रधानमंत्री ने महाराष्ट्र के राज्यपाल के नए आवास और कार्यालय भवन जल भूषण का भी उद्घाटन किया। जल भूषण भवन 1885 से महाराष्ट्र के राज्यपाल का आधिकारिक निवास रहा है। जब इसका जीवनकाल पूरा हो गया तो इसे गिरा दिया गया और इसके स्थान पर एक नए भवन के निर्माण को मंजूरी दी गई। इसके बाद अगस्त, 2019 में भारत के माननीय राष्ट्रपति ने नए भवन का शिलान्यास किया था। पुराने भवन की सभी विशेष विशेषताओं को नवनिर्मित भवन में संरक्षित किया गया है। वहीं, साल 2016 में महाराष्ट्र के तत्कालीन राज्यपाल श्री विद्यासागर राव को राजभवन में एक बंकर मिला था। अंग्रेज इसका उपयोग हथियारों और गोला-बारूद के गुप्त भंडार के रूप में करते थे। 2019 में इस बंकर का जीर्णोद्धार किया गया। इसी बंकर को अब एक गैलरी का रूप दिया गया है और इसे महाराष्ट्र के स्वतंत्रता सेनानियों व क्रांतिकारियों के योगदान को याद करने के लिए अपनी तरह के एक संग्रहालय के रूप में विकसित किया गया है। यह वासुदेव बलवंत फड़के, चापेकर बंधुओं, सावरकर भाइयों, मैडम भीकाजी कामा, वी बी गोगेट, नौसेना विद्रोह (1946) और अन्य के योगदान को श्रद्धांजलि देता है।

केन्द्रीय मंत्रिमण्‍डल ने श्रीलंका के कोलंबो में बिम्सटेक प्रौद्योगिकी हस्तांतरण केन्द्र की स्थापना के लिए भारत द्वारा मेमोरेंडम ऑफ एसोसिएशन (एमओए) को मंजूरी दी

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केन्द्रीय मंत्रिमण्‍डल ने बे ऑफ बंगाल इनिशिएटिव फॉर मल्टी-सेक्टोरल टेक्निकल एंड इकोनोमिक कोऑपरेशन (बिम्सटेक) टेक्नोलॉजी ट्रान्सफर फैसिलिटी (टीटीएफ) की स्थापना के लिए भारत द्वारा एक मेमोरेंडम ऑफ एसोसिएशन (एमओए) को मंजूरी दे दी है। श्रीलंका के कोलंबो में 30 मार्च, 2022 को आयोजित पांचवें बिम्सटेक शिखर सम्मेलन में बिम्सटेक के सदस्य देशों द्वारा इस बारे में हस्ताक्षर किए गए थे। बिम्सटेक टीटीएफ का मुख्य उद्देश्य प्रौद्योगिकियों के हस्तांतरण, अनुभवों को साझा करने और क्षमता निर्माण को बढ़ावा देकर बिम्सटेक सदस्य देशों के बीच प्रौद्योगिकी हस्तांतरण में समन्वय, सुविधा एवं सहयोग को मजबूत करना है। यह टीटीएफ अन्य बातों के अलावा, बिम्सटेक के सदस्य देशों के बीच निम्नलिखित प्राथमिकता वाले क्षेत्रों में प्रौद्योगिकियों के हस्तांतरण की सुविधा प्रदान करेगा। ये प्राथमिकता वाले क्षेत्र हैं: जैव प्रौद्योगिकी, नैनो प्रौद्योगिकी, सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी, अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी से संबंधित अनुप्रयोग, कृषि प्रौद्योगिकी, खाद्य प्रसंस्करण प्रौद्योगिकी, फार्मास्युटिकल प्रौद्योगिकी में स्वचालन, नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा से संबंधित प्रौद्योगिकी में स्वचालन, नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा प्रौद्योगिकी, समुद्र विज्ञान, परमाणु प्रौद्योगिकी से संबंधित अनुप्रयोग, ई-अपशिष्ट एवं ठोस अपशिष्ट प्रबंधन प्रौद्योगिकी, स्वास्थ्य प्रौद्योगिकी, आपदा जोखिम न्यूनीकरण और जलवायु परिवर्तन अनुकूलन से संबंधित प्रौद्योगिकियां।

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने एससीओ के सदस्य देशों के बीच युवा कार्य के क्षेत्र में सहयोग पर हस्ताक्षर की स्वीकृति दी

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने शंघाई सहयोग संगठन-एससीओ के सदस्य देशों के बीच युवा कार्य के क्षेत्र में सहयोग पर हस्ताक्षर की स्वीकृति दी। युवा कार्य के क्षेत्र में सहयोग के लिए समझौते पर सदस्य देशों के साथ पिछले वर्ष 17 सितंबर को युवा कार्यक्रम और खेल मंत्री ने हस्ताक्षर किए थे। एससीओ सचिवालय की आधिकारिक कामकाजी भाषा रूसी और चीनी है। समझौते का उद्देश्य एससीओ सदस्य देशों के युवाओं के बीच आपसी विश्वास, मैत्रीपूर्ण संबंधों और सहयोग को मजबूत करना है। इस समझौते से एससीओ सदस्य देशों के बीच मैत्रीपूर्ण संबंधों को बढ़ाने के लिए युवा सहयोग का विकास सुनिश्चित किया जाएगा। अंतर्राष्ट्रीय अनुभव के आधार पर युवा सहयोग की स्थितियों में और सुधार किया जाएगा।

वे फाइंडिंग एप्लिकेशन विकसित करने के बारे में भारत और संयुक्त राष्ट्र के बीच एक समझौते पर हस्ताक्षर करने के प्रस्ताव को मंजूरी

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने जिनेवा स्थित संयुक्त राष्ट्र कार्यालय में उपयोग किए जाने वाले वे फाइंडिंग एप्लिकेशन विकसित करने के बारे में भारत और संयुक्त राष्ट्र के बीच एक समझौते पर हस्ताक्षर करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। वे फाइंडिंग एप्लिकेशन के विकास की परियोजना की संकल्पना वर्ष 2020 में संयुक्‍त राष्‍ट्र की 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर की गई थी। इस एप के विकास और रखरखाव पर 20 लाख डॉलर व्‍यय होने का अनुमान है। पांच भवनों और 21 मंजिलों वाले संयुक्‍त राष्‍ट्र कार्यालय में विभिन्न बैठकों और सम्मेलनों में भाग लेने के लिए बड़ी संख्या में प्रतिनिधि पहुंचते हैं। वे फाइंडिंग एप आगंतुकों को परिसर के अंदर मार्ग खोजने में मदद करेगा। जीपीएस आधारित यह एप कक्षों और कार्यालयों का पता लगाने में सहायक होगा।

प्रधानमंत्री ने देहू गांव में जगद्गुरु संत तुकाराम महाराज के शिला मंदिर का उद्घाटन किया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पुणे के निकट देहू गांव में जगद्गुरु संत तुकाराम महाराज के शिला मंदिर का उद्घाटन किया। श्री मोदी ने कहा कि वीर सावरकर ने स्वतंत्रता संग्राम के दौरान जेल में रह कर संत तुकाराम के अभंग यानि- भगवान विट्ठल की स्तुति में भक्ति गीत गाए थे। संत तुकाराम एक वारकरी संत और कवि थे। उन्हें अभंग भक्ति कविता और कीर्तन के माध्यम से समुदाय-उन्मुख पूजा के लिए जाना जाता है। वे देहू में रहते थे। उनके निधन के बाद एक शिला मंदिर बनाया गया था, लेकिन यह औपचारिक रूप से मंदिर नहीं बन सका था। यह मंदिर 36 चोटियों के साथ पत्थर की चिनाई से बनाया गया है। इसमें संत तुकाराम की एक मूर्ति भी स्थापित की गई है। इससे पहले, प्रधानमंत्री ने देहु के मुख्य मंदिर में विट्ठल-रुक्मणी की मूर्तियों के दर्शन किये। उन्होंने शिला मंदिर के सामने बने भागवत धर्म के प्रतीकात्मक स्तंभ की भी पूजा की।

केंद्रीय नागर विमानन मंत्री ने ड्रोन नियम, 2021 के तहत गुरुग्राम स्थित आईओ-टेक-वर्ल्ड को पहला टाइप सर्टिफिकेट प्रदान किया

नागरिक उड्डयन मंत्री ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया ने नई दिल्‍ली में आईओ टैक वर्ल्‍ड एविगेशन प्राइवेट लिमिटेड को ड्रोन नियमों के अंतर्गत पहला टाइप सर्टिफिकेट प्रदान किया। यह, किसान ड्रोन विनिर्माण में देश की अग्रणी कंपनी है। इस अवसर पर श्री सिंधिया ने कहा कि भारत को 2030 तक ड्रोन हब बनाने का लक्ष्‍य निर्धारित किया गया है। उन्‍होंने कहा कि केवल 34 दिन में टाइप सर्टिफिकेट जारी करना इस दिशा में महत्‍वपूर्ण उपलब्धि है। इस कंपनी ने 34 दिन पहले नागरिक उड्डयन महानिदेशालय के डिजिटल स्‍काई प्‍लेटफॉर्म पर ऑनलाइन आवेदन दिया था। ड्रोन प्रमाणन योजना से भारत में विश्‍व स्‍तर के ड्रोन विनिर्माण को बढावा मिलेगा। वर्तमान में 14 ड्रोन प्रोटोटाइप की प्रमाणन जांच जारी है। अगले तीन वर्ष में टाइप सर्टिफाइड प्रोटोटाइप की संख्‍या एक सौ से अधिक हो सकती है।

एपीडा ने बहरीन में आठ दिन के आम महोत्‍सव का आयोजन किया

कृषि और प्रसंस्‍कृत खाद्य उत्‍पाद निर्यात विकास प्राधिकरण-एपीडा ने आम के निर्यात को बढावा देने के लिए बहरीन में आठ दिन के आम महोत्‍सव का आयोजन किया है। वाणिज्‍य और उद्योग मंत्रालय ने कहा कि पश्चिम बंगाल, बिहार, झारखण्‍ड, उत्‍तर प्रदेश और ओडिशा राज्‍यों से आम की 34 किस्‍मों की प्रदर्शनी बहरीन में आठ विभिन्‍न स्‍थानों पर लगाई गई है। आमों की इन सभी किस्‍मों को किसानों और दो कृषि उत्‍पादक संगठनों से सीधे खरीदा गया है। आमों की यह प्रदर्शनी इस महीने की 20 तारीख तक चलेगी। मंत्रालय ने कहा कि आम महोत्‍सव 2022 के अंतर्गत बहरीन में भारतीय आमों के लिए अंतरराष्ट्रीय बाजार की संभावनाओं का पता लगाने की एपीडा की नई पहल का हिस्सा है।

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने गुजरात में नए धोलेरा ग्रीनफील्ड हवाई अड्डे को विकसित करने की मंजूरी दी

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने गुजरात में नए धोलेरा ग्रीनफील्ड हवाई अड्डे को विकसित करने की मंजूरी दी। इस हवाई अड्डे का संचालन 2025-26 से शुरू करने की योजना बनाई है। सूचना और प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने बताया कि यह हवाई अड्डा रेलवे और राजमार्गों मल्टी मॉडल कनेक्टिविटी के माध्यम से जुड़ा होगा। हवाई अड्डे के पहले चरण पर एक हजार तीन सौ पांच करोड़ रुपये से अधिक खर्च किए जाएंगे और इसका निर्माण कार्य 48 महीने के भीतर पूरा कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि शुरुआत में प्रतिवर्ष तीन लाख यात्रियों के आवागमन का अनुमान है। श्री ठाकुर ने कहा कि बीस वर्षों में यात्रियों का आवागमन तेइस लाख तक बढ़ने की उम्मीद है।

राजदूत रबाब फातिमा बनी संयुक्त राष्ट्र की अवर महासचिव

संयुक्त राष्ट्र में बांग्लादेश की स्थायी प्रतिनिधि राजदूत रबाब फातिमा को संयुक्त राष्ट्र का अवर महासचिव नियुक्त किया गया है। महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने राजदूत फातिमा की नियुक्ति की घोषणा की है। वह जमैका के कर्टेने रैट्रे की जगह लेंगी जिन्हें शेफ डी कैबिनेट के रूप में नियुक्त किया गया था।

कर्नाटक सरकार ने लॉन्च किया 'फ्रूट्स' सॉफ्टवेयर

कर्नाटक सरकार ने योजनाओं के लिए आधार-आधारित, एकल-खिड़की पंजीकरण के लिए ‘Farmer Registration & Unified Beneficiary Information System’ (FRUITS) सॉफ्टवेयर लॉन्च किया है। FRUITS सॉफ्टवेयर स्वामित्व को प्रमाणित करने के लिए आधार कार्ड और कर्नाटक की भूमि डिजीटल भूमि रिकॉर्ड प्रणाली का उपयोग करके एकल पंजीकरण की सुविधा प्रदान करेगा।

कोयला मंत्रालय ने एकल खिड़की समाधान प्रणाली के सूचना और प्रबंधन माड्यूल का शुभारंभ किया

कोयला मंत्रालय ने एकल खिड़की समाधान प्राणाली के परियोजना सूचना और प्रबंधन मॉड्यूल का शुभारंभ किया। कोयला सचिव डॉक्टर अनिल कुमार जैन ने नई दिल्ली में नये सूचना प्रोद्यौगिकी-सक्षम केंद्र का शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि यह देश में कोयला खदानों के संचालन के लिए विभिन्न स्वीकृति प्राप्त करने के लिए एक मंच बनाने की दिशा में मंत्रालय का अभिनव प्रयास है।

भगवान बुद्ध के चार पवित्र कपिलवस्तु अवशेषों को बौद्ध मंत्रोच्चार और संगीतमय कार्यक्रम के साथ मंगोलिया में बट्सगांन मंदिर में रखा गया

भगवान बुद्ध के चार पवित्र कपिलवस्तु अवशेषों को बौद्ध मंत्रोच्चार और संगीतमय कार्यक्रम के साथ मंगोलिया में गंदन मठ के बट्सगांन मंदिर में रखा गया। यह अवशेष केंद्रीय विधि और न्याय मंत्री किरेन रिजिजू के नेतृत्व में 25 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल के साथ कल मंगोलिया पहुंचे। ये अवशेष संस्कृति मंत्रालय के राष्ट्रीय संग्रहालय में रखे गए 22 विशेष अवशेषों में से हैं।

कोटा-बाईपास के निकट चंबल नदी पर केबल आधारित पुल की निर्माण और रख रखाव परियोजना पूरी-गडकरी

केंद्रीय सडक परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि राजस्‍थान में राष्‍ट्रीय राजमार्ग-76 के कोटा-बाईपास के निकट चंबल नदी पर केबल आधारित पुल की निर्माण और रख रखाव परियोजना पूरी हो गई है। श्री गडकरी ने टवीट में कहा कि चंबल नदी पर डेढ किलोमीटर लम्‍बा केबल पुल लगभग 214 करोड रूपये की लागत से बना है। इसका उदघाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वर्ष 2017 में किया था। श्री गडकरी ने कहा कि इस परियोजना से न केवल राजस्‍थान के हाड़ौती क्षेत्र के निवासियों को लाभ होगा बल्कि कोटा शहर में यातायात जाम की समस्‍या भी कम होगी। यह पुल कोटा बाईपास का हिस्सा है और पोरबंदर (गुजरात) से सिलचर (असम) तक ईस्ट-वेस्ट कॉरीडोर का हिस्सा है।

मक्का के फोर्टिफिकेशन की माया तकनीक

हाल ही में हुए एक अध्ययन में इस बात पर प्रकाश डाला गया है कि किस प्रकार माया सभ्यता के लोगों ने मक्का को 'निक्सटामलाइज़ेशन' (Nixtamalisation) नामक रासायनिक प्रक्रिया द्वारा फोर्टीफाइड किया और मेसो अमेरिका (Mesoamerica) में युकटान प्रायद्वीप के चूना पत्थर की चट्टानों के अंदर खोदे गए गड्ढों में इनडोर शौचालय भी निर्मित किये। माया मेक्सिको और मध्य अमेरिका के स्वदेसी लोग हैं जो मेक्सिको में आधुनिक युकटान, क्विंटाना, कैम्पेचे, टबैस्को, चियापास, ग्वाटेमाला, बेलीज़, अल सल्वाडोर और होंडुरास के निवासी हैं। माया सभ्यता की उत्पत्ति युकटान प्रायद्वीप में हुई थी। इसे अपनी विशाल वास्तुकला, गणित और खगोल विज्ञान की उन्नत समझ के लिये जाना जाता है। निक्सटामलाइज़ेशन एक ऐसी विधि है जिसके द्वारा मेसोअमेरिका के प्राचीन लोग जैसे- माया, ये लोग मक्का को एक क्षारीय घोल में भिगोकर पकाते थे और इसे अधिक स्वादिष्ट, पौष्टिक और गैर विषैला बनाते थे। निक्सटामल नहुआट्ल शब्द नेक्स्टमल्ली से लिया गया है, जिसका अर्थ है 'निक्सटामलाइज़्ड मक्के आटा'।

बेंगलुरु में भारत का पहला केंद्रीकृत एसी रेलवे टर्मिनल शुरू

कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में अल्ट्रा लग्जरी सर एम विश्वेश्वरैया रेलवे टर्मिनल को चालू कर दिया गया। एर्नाकुलम त्रि-साप्ताहिक एक्सप्रेस ने इस विशेष अवसर को चिह्नित करने के लिए स्टेशन को पार किया। रेलवे अधिकारियों के मुताबिक वातानुकूलित एसएमवी रेलवे टर्मिनल 314 करोड़ रुपये का प्रोजेक्ट है। इसमें सोलर रूफटॉप पैनल और रेन वाटर हार्वेस्टिंग मैकेनिज्म है।

किशोर राहुल श्रीवास्तव बने भारत के 74वें ग्रैंडमास्टर

तेलंगाना के राहुल श्रीवास्तव पी भारत के 74वें ग्रैंडमास्टर बन गए हैं, जिन्होंने इटली में 9वें कैटोलिका शतरंज महोत्सव 2022 के दौरान लाइव FIDE रेटिंग में 2500 (एलो पॉइंट) की बाधा को तोड़कर खिताब हासिल किया है। 19 वर्षीय खिलाड़ी ने कैटोलिका इवेंट में ग्रैंडमास्टर लेवन पंतसुलिया के खिलाफ अपने 8वें दौर के खेल को ड्रॉ करने के बाद 2500 एलो लाइव रेटिंग अंक तक पहुंच गया। उनकी वर्तमान एलो रेटिंग 2468 है। श्रीवास्तव ने पहले ही पांच जीएम मानदंड हासिल कर लिए थे और 2500 की रेटिंग सीमा को पार करने पर यह खिताब हासिल किया था।

केरल के मुख्यमंत्री ने कोच्चि में किया कैंसर अनुसंधान केंद्र का उद्घाटन

केरल के मुख्यमंत्री, पिनाराई विजयन ने यहां एक कैंसर निदान और अनुसंधान केंद्र का उद्घाटन किया है, जो व्यापक कैंसर निदान सेवाओं के लिए देश की पहली ऑन्कोलॉजी प्रयोगशाला है। कैंसर निदान और अनुसंधान के लिए कार्किनोस हेल्थकेयर का उन्नत केंद्र व्यक्तिगत लक्षित चिकित्सा में सहायता के लिए आणविक और जीनोमिक स्तरों पर नमूनों का विश्लेषण करने के लिए एक केंद्रीय प्रयोगशाला के रूप में काम करेगा, उपचार के लिए संभावित प्रतिक्रिया की भविष्यवाणी करेगा और तरल बायोप्सी द्वारा प्रतिक्रिया का मूल्यांकन करेगा।

मैक्स वेरस्टापेन ने अजरबैजान ग्रां प्री 2022 जीती

रेड बुल के मैक्स वेरस्टापेन ने अजरबैजान फॉर्मूला वन ग्रां प्री 2022 (सीजन की उनकी पांचवीं जीत) जीती। इस प्रक्रिया में, वेरस्टैपेन अब तक के रेड बुल में सबसे सफल ड्राइवर बन गए है । रेड बुल के सर्जियो पेरेज़ दूसरे और मर्सिडीज के जॉर्ज रसेल तीसरे स्थान पर रहे।

कबीर जयंती

14 जून को देश भर में कबीर जयंती मनाई गई। इस दिन महान संत कबीरदास का जन्म हुआ हुआ था। संत कबीर के जन्म वर्ष को लेकर विवाद है। कुछ लोग कहते हैं कि उनका जन्म 1398 में हुआ था, जबकि अन्य कहते हैं कि उनका जन्म 1440 में हुआ था। कबीर का जीवन काशी पर केंद्रित था, जिसे बनारस (वाराणसी) भी कहा जाता है। उनके अनुसार वे कर्मकांड और शारीरिक तपस्या से स्वतंत्र थे। कबीर ने आत्म-समर्पण और ईश्वर की भक्ति में विश्वास किया। कबीर अहिंसा के पक्के समर्थक हैं। कबीर नैतिक जीवन में अहिंसा के पालन पर बल देते है। उन्होंने हिंदू-मुस्लिम एकता पर भी काफी बल दिया। उन्होंने सांप्रदायिक सद्भाव का प्रचार करके और उन सद्गुणों पर जोर देते हुए इस्लाम और हिंदू धर्म के संश्लेषण की कोशिश की, जो दोनों धर्मों के लिए आम थे। वह मूर्ति पूजा के खिलाफ थे। उन्होंने मुस्लिम अनुष्ठानों और मक्का में हज करने की समान रूप से निंदा की।

विश्व रक्तदाता दिवस

प्रत्येक वर्ष 14 जून को संपूर्ण दुनिया में विश्व रक्तदाता दिवस (World Blood Donor Day) मनाया जाता है। इस दिवस का मुख्य उद्देश्य सुरक्षित रक्त एवं रक्त उत्पादों की आवश्यकता के संदर्भ में जागरूकता बढ़ाना और रक्तदान के लिये रक्तदाताओं का आभार व्यक्त करते हुए अन्य लोगों को भी इस कार्य हेतु प्रोत्साहित करना है। विश्व रक्तदाता दिवस 2022 की थीम ‘Donating Blood Is An Act Of Solidarity. Join the effort and save lives’ रखी गई है। इस दिवस की शुरुआत वर्ष 2005 में विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) द्वारा रक्तदाताओं को धन्यवाद देने और सुरक्षित रक्त की पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित करने के उद्देश्य से की गई थी। यह दिवस महान जीवविज्ञानी कार्ल लैंडस्टीनर (Karl Landsteiner) की याद में प्रत्येक वर्ष 14 जून को मनाया जाता है, जिनका जन्‍म 14 जून, 1868 को हुआ था। उल्लेखनीय है कि उन्होंने मानव रक्‍त में उपस्थित एग्‍ल्‍युटिनि‍न (Agglutinin) की मौजूदगी के आधार पर रक्‍तकणों का A, B और O समूह में वर्गीकरण किया था। जटिल चिकित्‍सा और सर्जरी की स्थिति में रोगी का जीवन बचाने के लिये रक्‍त की आवश्‍यकता पड़ती है। प्राकृतिक आपदाओं, दुर्घटनाओं और सैन्‍य संघर्ष जैसी आपात स्थितियों में घायलों के इलाज में भी रक्‍त की भूमिका बहुत महत्त्वपूर्ण होती है। जीवन रक्षक के रूप में यह बहुत ही अनिवार्य है। इतना महत्त्वपूर्ण होने के बावजूद सुरक्षित रक्त प्राप्त करना आज भी काफी चुनौतीपूर्ण है। परिणामस्वरूप अधिकांश निम्न और मध्यम आय वाले देशों को बुनियादी ढाँचे की कमी जैसे विभिन्न कारणों के चलते अपने नागरिकों को सुरक्षित रक्त उपलब्ध कराने में समस्याओं का सामना करना पड़ता है।

लंबी दूरी की दौड़ के दिग्गज हरि चंद का निधन

दो बार के ओलंपियन और दो बार एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता लंबी दूरी के महान धावक हरि चंद का जालंधर में निधन हो गया। वह 69 वर्ष के थे। चंद ने 1978 के बैंकाक एशियाड में 5000 और 10,000 मीटर का स्वर्ण जीता और सियोल में 1975 की एशियाई चैंपियनशिप में 10,000 मीटर का खिताब भी जीता था। हरि चंद की गिनती भारत के महान खिलाड़ियों में होती थी। वह पंजाब के होशियारपुर जिले के घोरेवा गांव के थे।

एशिया के 'सबसे लंबे दांत वाले' हाथी भोगेश्वर की प्राकृतिक कारणों से मौत

कथित तौर पर एशिया में सबसे लंबे दांत वाले हाथी भोगेश्वर (Bhogeshwara) की 60 वर्ष की आयु में प्राकृतिक कारणों से मृत्यु हो गई। जंगली हाथी, जिसे मिस्टर काबिनी के नाम से भी जाना जाता है, कर्नाटक के बांदीपुर टाइगर रिजर्व के गुंद्रे रेंज में मृत पाया गया। वन विभाग के अधिकारियों के मुताबिक भोगेश्वर के दांत 2.54 मीटर और 2.34 मीटर लंबे थे। अपने कोमल स्वभाव के लिए जाना जाने वाला, हाथी पिछले तीन दशकों से काबिनी बैकवाटर में बार-बार आता है।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2022 RajasthanGyan All Rights Reserved.