Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

30 June 2022

भारत और यूके ने राष्ट्रमंडल राजनयिक अकादमी कार्यक्रम शुरू किया

भारत के विदेश मंत्री एस. जयशंकर और यूके के उनके समकक्ष लिज़ ट्रस ने संयुक्त “भारत-यूके राष्ट्रमंडल राजनयिक अकादमी कार्यक्रम” शुरू करने की योजना की घोषणा की है। रवांडा में उनकी बैठक के बाद इस योजना की घोषणा की गई थी। दोनों देशों के युवा और महत्वाकांक्षी राजनयिकों को प्रशिक्षित करने के लिए भारत-यूके राष्ट्रमंडल राजनयिक अकादमी कार्यक्रम शुरू किया जाएगा। नए राष्ट्रमंडल राजनयिक अकादमी कार्यक्रम की घोषणा की गई, क्योंकि तेजी से भू-राजनीतिक दुनिया में, देशों को लोकतंत्र और संप्रभुता के राष्ट्रमंडल मूल्यों को चैंपियन बनाने की जरूरत है। नया राष्ट्रमंडल राजनयिक अकादमी कार्यक्रम युवा राजनयिकों को विशेषज्ञता और प्रशिक्षण से लैस करेगा जिसकी उन्हें वैश्विक चुनौतियों से निपटने के लिए आवश्यकता है।

बेंगलुरु में ‘One Health’ पायलट प्रोजेक्ट लांच किया गया

डेयरी और पशुपालन मंत्रालय ने बेंगलुरु में ‘वन हेल्थ’ पायलट प्रोजेक्ट लॉन्च किया। वन हेल्थ पायलट प्रोजेक्ट भविष्य में कोविड -19 महामारी जैसी जूनोटिक बीमारी के प्रकोप को रोकने के लिए समाधान तैयार करने के लिए मानव, पशु और पर्यावरण स्वास्थ्य के हितधारकों को एक मंच पर लाएगा। इस पायलट प्रोजेक्ट की सफलता से केंद्र को राष्ट्रीय ‘वन हेल्थ’ रोडमैप विकसित करने में मदद मिलेगी। रोडमैप बेहतर प्रतिक्रिया तंत्र और प्रबंधन से लैस होगा। इसमें दुनिया की सर्वोत्तम प्रथाओं को भी शामिल किया जाएगा। भारतीय उद्योग परिसंघ (CII) और बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन के कार्यान्वयन भागीदारों के रूप में, पशुपालन और डेयरी विभाग द्वारा “वन हेल्थ पायलट प्रोजेक्ट” शुरू किया गया। पशुपालन और डेयरी विभाग “वन हेल्थ पायलट प्रोजेक्ट” की सीख के आधार पर एक राष्ट्रीय एक स्वास्थ्य रोडमैप विकसित करेगा। इससे भविष्य में होने वाले जूनोटिक रोग के प्रकोप को रोकने में मदद मिलेगी।

उद्धव ठाकरे ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद से दिया इस्तीफा

उद्धव ठाकरे ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है। यह सुप्रीम कोर्ट द्वारा उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली महा विकास अघाड़ी (एमवीए) सरकार को विधानसभा में फ्लोर टेस्ट लेने के लिए महाराष्ट्र के राज्यपाल के निर्देश पर रोक लगाने से इनकार करने के तुरंत बाद हुआ। श्री ठाकरे ने मुंबई में राजभवन में श्री भगत सिंह कोश्यारी को अपना इस्तीफा सौंप दिया। राज्यपाल ने श्री ठाकरे का इस्तीफा स्वीकार कर लिया और उन्हें वैकल्पिक व्यवस्था होने तक मुख्यमंत्री के रूप में कार्य करने के लिए कहा।

श्रीलंका सरकार ने गैरजरूरी वाहनों के लिए ईंधन की बिक्री स्‍थगित कर दी

श्रीलंका की सरकार ने गैरजरूरी वाहनों के लिए ईंधन की बिक्री स्‍थगित कर दी है। आर्थिक संकट का सामना कर रहे श्रीलंका में सरकार ने अगले दो सप्ताह तक केवल बसों, रेलगाडियों, चिकित्सा सेवाओं और खाद्य सामग्री ढोने वाले वाहनों को ही ईंधन देने की अनुमति दी है। सरकार मौजूदा ईंधन संकट के कारण सभी सार्वजनिक और निजी क्षेत्र के संस्थानों से 10 जुलाई तक घर से काम करने की योजना बना रही है। दूसरी तरफ सरकार ने सस्ती दर पर तेल आपूर्ति के लिए प्रमुख ऊर्जा उत्पादक देशों- रूस और कतर के साथ बातचीत के लिए अपने अधिकारियों को वहां भेजा है।

डॉक्टर मनसुख मांडिवया ने इंडिया केम-2022 के 12वें संस्करण के आयोजना की तैयारी बैठक की अध्यक्षता की

रसायन औऱ उर्वरक मंत्री डॉक्टर मनसुख मांडिवया ने नई दिल्ली में आगामी इंडिया केम-2022 के 12वें संस्करण के आयोजना की तैयारी बैठक की अध्यक्षता की। इस वर्ष के संस्करण का विषय है "विजन 2030- भारत के निर्माण में रसायन और पेट्रो-रसायन का योगदान"। बैठक के दौरान श्री मांडविया ने कहा कि यह समारोह इस क्षेत्र में स्थिर विकास के लिए सरकार की नीति और समर्थन को दर्शाएगा। श्री मांडविया ने इंडिया केम-2022 के 12वें संस्करण के लिए विवरणिका का भी विमोचन भी किया।

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी स्‍वतंत्रता सेनानी अलुरी सीतारामा राजू की 125वीं जयंती कार्यक्रम में हिस्‍सा लेने के लिए चार जुलाई को भीमावरम जाएंगे

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी स्‍वतंत्रता सेनानी अलुरी सीतारामा राजू की 125वीं जयंती कार्यक्रम में हिस्‍सा लेने के लिए चार जुलाई को आंध्र प्रदेश के पश्चिम गोदावरी जिले में भीमावरम जाएंगे। प्रधानमंत्री इस अवसर पर सीतारामा राजू की प्रति‍मा का अनावरण करेंगे। अलुरी सीतारामा राजू एक क्रांति‍कारी थे जिन्‍होंने भारत में ब्रिटि‍श शासन के खिलाफ सशस्‍त्र अभियान चलाया। उनका जन्‍म आंध्र प्रदेश में हुआ था और ब्रिटेन के 1882 के मद्रास वन-अधिनियम का विरोध किया था। इस अधिनियम में जनजाति‍ के लोगों को वनों में आवागन, रहने और अपने पारंपरिक कृषि व्‍यवस्‍था पर रोक लगाने का प्रावधान था।

ब्रिटेन की ख़ुशी पटेल ने जीता मिस इंडिया वर्ल्डवाइड 2022 का खिताब

ब्रिटेन की बायोमेडिकल छात्रा खुशी पटेल को सौंदर्य प्रतियोगिता मिस इंडिया वर्ल्डवाइड 2022 का विजेता घोषित किया गया है। यह भारत के बाहर सबसे लंबे समय से आयोजित हो रही सौंदर्य प्रतियोगिता है। अमेरिका की वैदेही डोंगरे को ‘प्रथम उपविजेता’ घोषित किया गया, जबकि श्रुतिका माने को ‘द्वितीय उपविजेता’ घोषित किया गया। सौंदर्य प्रतियोगिता में शीर्ष 12 प्रतियोगी विश्व स्तर पर विभिन्न अन्य प्रतियोगिताओं की विजेता थीं। इंडिया फेस्टिवल कमेटी (आईएफसी) के अनुसार, गुयाना की रोशनी रजाक को ‘मिस टीन इंडिया वर्ल्डवाइड 2022’ घोषित किया गया। आईएफसी के अनुसार, अमेरिका की नव्या पेंगोल ‘प्रथम उपविजेता’ रहीं, जबकि सूरीनाम की चिक्विता मलाहा ‘द्वितीय उपविजेता’ रहीं। आईएफसी पिछले 29 साल से यह प्रतियोगिता आयोजित कर रहा है। इस साल की सौंदर्य प्रतियोगिता तीन साल के अंतराल के बाद आयोजित की गई थी, जिसका आखिरी आयोजन सितंबर 2019 में मुंबई के लीला होटल में हुआ था।

गुजरात के पोरबंदर में स्वदेशी उन्नत हल्के हेलिकॉप्टर एमके III स्क्वाड्रन को भारतीय तटरक्षक बल की सेवा में शामिल किया गया

28 जून, 2022 को गुजरात के पोरबंदर स्थित एयर एन्क्लेव में 835 स्क्वाड्रन (सीजी) को भारतीय तटरक्षक बल की सेवा में शामिल किया गया। यह एक स्वदेशी उन्नत हल्का हेलीकॉप्टर (एएलएच) एमके III स्क्वाड्रन है। इस अवसर पर आयोजित समारोह की अध्यक्षता तटरक्षक बल के महानिदेशक (डीजी) श्री वी.एस. पठानिया ने की। इस स्वदेशी एएलएच एमके III हेलीकॉप्टर का निर्माण हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) ने किया है। इनमें उन्नत रडार सहित इलेक्ट्रो ऑप्टिकल सेंसर, शक्ति इंजन, पूरी तरह से ग्लास कॉकपिट, उच्च-तीव्रता वाली सर्चलाइट, उन्नत संचार प्रणाली, स्वचालित पहचान प्रणाली के साथ-साथ एसएआर होमर जैसे अत्याधुनिक उपकरण हैं। ये विशेषताएं तटरक्षक बल को समुद्री की निगरानी करने के साथ-साथ दिन और रात, के दौरान पोतों का परिचालन करते हुए विस्तारित सीमाओं पर एसएआर करने में सक्षम बनाती हैं। इसके अलावा इस विमान (स्क्वाड्रन) के पास भारी मशीन गन के साथ एक आक्रामक मंच से गंभीर मरीजों के लिए एक गहन चिकित्सा देखभाल इकाई (आईसीयू) के रूप में अपनी भूमिका को बदलने की क्षमता है। अब तक 13 एएलएच एमके-III विमान चरणबद्ध तरीके से भारतीय तटरक्षक बल में शामिल किए जा चुके हैं।

आईएनएस सतपुड़ा रिमपैक-22 में भाग लेने के लिए हवाई द्वीप के पर्ल हार्बर पहुंचा

आईएनएस सतपुड़ा ने रिमपैक-22 में भाग लेने के लिए 27 जून 22 को हवाई द्वीप के पर्ल हार्बर में प्रवेश किया। आईएनएस सतपुड़ा और भारतीय नौसेना का एक पी81 समुद्री पैट्रोल एयरक्राफ्ट सबसे बड़े बहुपक्षीय नौसेना अभ्यासों में से एक द्विवार्षिक रिम ऑफ द पैसिफिक (रिमपैक) अभ्यास 2022 में भाग ले रहा है। यह अभ्यास अमेरिकी नौसेना के नेतृत्व में हो रहा है। यह छह सप्ताह से अधिक के गहन संचालन और प्रशिक्षण का अभ्यास है जो मित्रता वाले विदेशी देशों की नौसेनाओं के बीच आपसी संचालनीयता को बढ़ाने और विश्वास बनाने के उद्देश्य से किया जा ता है। इस बहुआयामी अभ्यास के वर्तमान संस्करण में 27 देश भाग ले रहे हैं। आईएनएस सतपुड़ा एक स्वदेशी रूप से डिजाइन और निर्मित 6000 टन निर्देशित मिसाइल स्टील्थ फ्रिगेट है जो हवा, सतह और पानी के नीचे विरोधी को तलाशने और नष्ट करने में सक्षम है। विशाखापत्तनम में स्थित पूर्वी बेड़े की एक फ्रंटलाइन इकाई, आईएनएस सतपुड़ा वर्तमान में भारत की स्वतंत्रता के 75वें वर्ष में विस्तारित परिचालन तैनाती पर है।

भारतीय तटरक्षक बल के लिए केंद्रीकृत वेतन प्रणाली, पीएडीएमए की शुरुआत की गई

रक्षा मंत्रालय के रक्षा लेखा महानियंत्रक (सीजीडीए) श्री रजनीश कुमार द्वारा 28 जून, 2022 को भारतीय तटरक्षक बल के लिए एक स्वचालित वेतन और भत्ते का प्रारूप - मासिक भत्ता वितरण पे रोल ऑटोमेशन (पीएडीएमए) की शुरुआत की गई। पीएडीएमए नवीनतम तकनीक से समर्थित एक स्वचालित मंच है, जो लगभग 15,000 भारतीय तटरक्षक बल के कार्मिकों को वेतन और भत्तों का निर्बाध और समय पर वितरण प्रदान करेगा। यह मॉड्यूल रक्षा लेखा विभाग के तत्वावधान में विकसित किया गया है और वेतन लेखा कार्यालय तटरक्षक, नोएडा द्वारा संचालित किया जाएगा।

स्वदेश में विकसित लेजर-गाइडेड एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल का डीआरडीओ और भारतीय सेना द्वारा सफलतापूर्वक परीक्षण

स्वदेश में विकसित लेजर-गाइडेड एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल (एटीजीएम) का रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) तथा भारतीय सेना द्वारा 28 जून, 2022 को मुख्य युद्धक टैंक (एमबीटी) अर्जुन से अहमदनगर में आर्मर्ड कोर सेंटर एंड स्कूल (एसीसी एंड एस) केके रेंज में सफलतापूर्वक परीक्षण किया गया। परीक्षण के दौरान एटीजीएम ने बेहद सटीकता के साथ अपने लक्ष्य पर प्रहार किया और बिना किसी परेशानी के न्यूनतम दूरी के लक्ष्य को आसानी से भेद दिया। टेलीमेट्री सिस्टम ने मिसाइल की इस उपलब्धि के संतोषजनक प्रदर्शन को रिकॉर्ड किया। पूर्णतया स्वदेशी तरीके से विकसित एटीजीएम एक्सप्लोसिव रिएक्टिव आर्मर (ईआरए) सुरक्षित बख्तरबंद वाहनों से निपटने के लिए एक टेंडेम हाई एक्सप्लोसिव एंटी-टैंक (हीट) वारहेड का इस्तेमाल करता है। एटीजीएम को मल्टी-प्लेटफॉर्म लॉन्च क्षमता के साथ विकसित किया गया है और वर्तमान में एमबीटी अर्जुन की 120 मिमी राइफल्ड गन से इसके तकनीकी मूल्यांकन का परीक्षण चल रहा है। एटीजीएम के परीक्षण में इस्तेमाल किए गए टैंक की आयामी बाधाओं के कारण निचली सीमाओं पर लक्ष्यों को भेद पाना एक चुनौती रहा है, जिसे एमबीटी अर्जुन के द्वारा सफलतापूर्वक एटीजीएम का परीक्षण कर पूरा किया गया है। इस उपलब्धि के साथ अब एटीजीएम की न्यूनतम से अधिकतम सीमा तक लक्ष्यों को हासिल करने की क्षमता स्थापित की गई है। इससे पहले के परीक्षण अधिकतम रेंज के लिए सफल रहे हैं।

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ अर्बन अफेयर्स और वर्ल्ड रिसोर्स इंस्टीट्यूट इंडिया ने प्रकृति-आधारित समाधानों के लिए इंडिया फोरम का शुभारंभ किया

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ अर्बन अफेयर्स (एनआईयूए) क्लाइमेट सेंटर फॉर सिटीज (एनआईयूए सी-क्यूब), वर्ल्ड रिसोर्स इंस्टीट्यूट इंडिया (डब्ल्यूआरआई इंडिया) और उनके सहयोगियों ने शहरी प्रकृति-आधारित समाधान (एनबीएस) के लिए भारत का पहला राष्ट्रीय गठबंधन मंच पोलैंड में 11वें विश्व शहरी मंच के दौरान लॉन्च किया। जलवायु परिवर्तन के चलते उत्पन्न चुनौतियों जैसे गर्मी, शहरी बाढ़, वायु और जल प्रदूषण और तूफान की लहरों को दूर करने के लिए लागत प्रभावी और टिकाऊ तरीकों के रूप में ईको सिस्टम-आधारित सेवाएं और प्रकृति-आधारित समाधान तेजी से उभर रहे हैं। जलवायु परिवर्तन के प्रभाव को कम करने के साथ-साथ, एनबीएस विभिन्न सामाजिक चुनौतियों का समाधान करने और जलवायु परिवर्तन से उत्पन्न आपदाओं से सबसे अधिक प्रभावित होने वाले कमजोर शहरी समुदायों को सशक्त करने सहित कई ईको सिस्टम से जुड़े लाभ प्रदान करने में भी मदद करता है। प्रकृति-आधारित समाधानों के लिए इंडिया फोरम का उद्देश्य निम्नलिखित तरीकों से शहरी प्रकृति-आधारित समाधानों को बढ़ाने में मदद करने के लिए एनबीएस उद्यमियों, सरकारी संस्थाओं और समान विचारधारा वाले संगठनों का एक समूह बनाना है-

      - एक साझा भाषा को परिभाषित करना और मौजूदा एनबीएस हस्तक्षेपों को बढ़ाने सहित स्थानीय स्तर पर कार्रवाई को सूचित करने वाले लाभों को संप्रेषित करना।
      - बहु-हितधारक समन्वय के माध्यम से निवेश को बढ़ावा देना और वितरण तंत्र को मजबूत करना।
      - सूचना नीति, योजनाओं और परियोजना हस्तक्षेपों के माध्यम से भारत में शहरी ईको सिस्टम-आधारित सेवाओं और प्रकृति-आधारित समाधानों को मुख्यधारा में लाना।

हाई स्पीड एक्सपैंडेबल एरियल टार्गेट - अभ्यास - का ओडिशा के तट पर सफलतापूर्वक उड़ान परीक्षण किया गया

अभ्यास - हाई स्पीड एक्सपैंडेबल एरियल टार्गेट (एचईएटी) का 29 जून, 2022 को ओडिशा के तट पर स्थित चांदीपुर के इंटीग्रेटेड टेस्ट रेंज (आईटीआर) से सफलतापूर्वक उड़ान परीक्षण किया गया। उड़ान परीक्षण के दौरान निरंतर स्तर तथा उच्च गतिशीलता सहित कम ऊंचाई पर विमान का निष्पादन प्रदर्शित किया गया। टार्गेट विमान को एक पूर्व-निर्धारित निम्न ऊंचाई वाले उड़ान पथ में एक ग्राउंड आधारित कंट्रोलर से उड़ाया गया जिसकी निगरानी राडार तथा इलेक्ट्रो-ऑप्टिकल टारगेटिंग सिस्टम सहित आईटीआर द्वारा तैनात विभिन्न ट्रैकिंग सेंसरों द्वारा की गई। अभ्यास की डिजाइन एवं उसका विकास रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) के वैमानिकी विकास प्रतिष्ठान द्वारा किया गया है। इस हवाई वाहन को ट्विन अंडर-स्लग बूस्टर का उपयोग करने के जरिये लॉन्‍च किया गया जो व्‍हीकल को आरंभिक गति प्रदान करते हैं। यह हाई सबसोनिक स्पीड पर एक लंबी इंड्यूरेंस फ्लाइट को बनाये रखने के लिए एक छोटे से गैस टरबाइन द्वारा संचालित है। टारगेट विमान बहुत ऊंची उड़ान के लिए स्वदेशी रेडियो अल्टीमीटर तथा ग्राउंड कंट्रोल स्टेशन तथा टारगेट विमान के बीच इनक्रिप्टेड कम्युनिकेशन के लिए डाटा लिंक के साथ-साथ गाइडेंस और कंट्रोल के लिए फ्लाइट कंट्रोल कंप्यूटर के साथ नैविगेशन के लिए माइक्रो-इलेक्ट्रोमैकेनिकल सिस्टम आधारित इनर्शियल नैविगेशन स्स्टिम के साथ सुसज्जित है। इस व्‍हीकल को पूरी तरह स्वचालित उड़ान के लिए प्रोग्राम किया गया है।

ऐसमनी ने लॉन्च किया नया वियरेबल ATM कार्ड और ऑफलाइन UPI

ऐसमनी (Acemoney) ने UPI 123Pay भुगतान और वियरेबल एटीएम कार्ड लॉन्च किए हैं। UPI 123Pay भुगतान, लोगों को फीचर फोन का उपयोग करके स्मार्टफोन या इंटरनेट कनेक्शन के बिना कैशलेस लेनदेन करने की अनुमति देता है। वियरेबल एटीएम कार्ड चाबी की चैन और रिंगों के रूप में डिजाइन किए गए गैजेट हैं जो लोगों को एटीएम कार्ड और फोन के बिना कैशलेस लेनदेन करने में सक्षम बनाते हैं।

केंद्रीय कृषि मंत्री ने किया नागालैंड में हनी टेस्टिंग लैब का उद्घाटन

नागालैंड की अपनी यात्रा के दौरान, केंद्रीय कृषि और किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने आधिकारिक तौर पर दीमापुर शहद परीक्षण प्रयोगशाला का उद्घाटन किया। शहद परीक्षण सुविधा मधुमक्खी पालकों और उत्पादकों को उनके उत्पादित शहद के परीक्षण में सहायता करेगी। तोमर उत्तर-पूर्वी एग्री एक्सपो, चुमाओकेदल्मा में एक कार्यक्रम में भाग ले रहे थे। समारोह में अन्य लोगों के अतिरिक्त, नागालैंड के कृषि मंत्री जी. काइटो, मुख्य सचिव जे. आलम और केंद्रीय बागवानी आयुक्त प्रभात कुमार ने भाग लिया।

भारत में निजी क्षेत्र के अंतरिक्ष प्रक्षेपण की होगी शुरुआत, In-Space ने दी दो स्पेस स्टार्टअप को मंजूरी

भारतीय राष्ट्रीय अंतरिक्ष संवर्धन एवं प्राधिकरण केंद्र (इन-स्पेस) ने निजी कंपनियों को मंजूरी देना शुरू कर दिया है, जिससे देश में निजी क्षेत्र द्वारा अंतरिक्ष प्रक्षेपण की शुरुआत हो सकेगी। इन-स्पेस एक स्वायत्त सिंगल विंडो नोडल एजेंसी है, जिसे भारत में गैर-सरकारी निजी उद्योगों (एनजीपीई) की अंतरिक्ष गतिविधियों को बढ़ावा देने, उन्हें अधिकृत करने और उन पर नजर रखने के लिए गठित किया गया है। ध्रुव स्पेस प्राइवेट लिमिटेड (हैदराबाद) और दिगांतरा रिसर्च एंड टेक्नोलॉजीज प्राइवेट लिमिटेड (बेंगलुरु) को 24 जून को इन-स्पेस ने अपने पेलोड प्रक्षेपित करने की मंजूरी दी है। ध्रुव स्पेस के प्रौद्योगिकी प्रदर्शन पेलोड 'ध्रुव स्पेस सैटेलाइट ऑर्बिटल डिप्लॉयर' (डीएसओडी1यू) और दिगांतरा के प्रोटॉन डोजीमीटर पेलोड 'रोबस्ट इंटीग्रेटिंग प्रोटॉन फ्लुएंस मीटर' (रोबी) को प्रक्षेपण के लिए अधिकृत किया गया है। इन पेलोड को पीएसएलवी-सी53 के पीएसएलवी ऑर्बिटल एक्सपेरीमेंटल मॉड्यूल (पीओईएम) से 30 जून को प्रक्षेपित किया जाना है।

टोगो और गैबॉन बने कॉमनवेल्थ एसोसिएशन के सदस्य

टोगो और गैबॉन की एंट्री के बाद कॉमनवेल्थ देशों (Commonwealth of Nations) में अब 56 सदस्य देश हैं। दो ऐतिहासिक रूप से फ्रांसीसी-भाषी राष्ट्रों को औपचारिक रूप से कॉमनवेल्थ सरकार के प्रमुखों की बैठक में संघ में एंट्री कराया गया था, जिसकी अध्यक्षता रवांडा के राष्ट्रपति पॉल कागामे ने की थी। संगठन के महासचिव पेट्रीसिया स्कॉटलैंड के अनुसार, प्रवेश लोकतांत्रिक प्रक्रिया, प्रभावी नेतृत्व और क़ानून के शासन सहित कई मानकों के मूल्यांकन द्वारा निर्धारित किया जाता है।

मुफिन फाइनेंस लिमिटेड भारत में ग्राहकों को सेमी-क्लोज्ड प्रीपेड पेमेंट इंस्ट्रूमेंट्स (PPI) की पेशकश करेगा

शीर्ष एनबीएफसी में से एक, मुफिन फाइनेंस (Mufin Finance) को सेमी क्लोज्ड प्रीपेड पेमेंट इंस्ट्रूमेंट ज़ारी करने के लिए आरबीआई से प्रारंभिक प्राधिकरण प्राप्त हुआ है। हिंडन मर्केंटाइल लिमिटेड की सहायक कंपनी मुफिन फाइनेंस लिमिटेड ने कहा कि वह भारत में ग्राहकों को सेमी-क्लोज्ड प्रीपेड पेमेंट इंस्ट्रूमेंट्स (Prepaid payment instruments (PPI)) की पेशकश करेगी। बजाज फिनसर्व, मनापुरम और पॉल मर्चेंट्स जैसी प्रसिद्ध कंपनियों के बाद, मुफिन फाइनेंस आरबीआई से समान लाइसेंस प्राप्त करने वाला चौथा एनबीएफसी है।

IWF ने मोहम्मद जलूद को 2022 के अध्यक्ष के रूप में चुना

अंतर्राष्ट्रीय भारोत्तोलन महासंघ (IWF) का मानना ​​है कि खेल की संस्कृति और नेतृत्व को बढ़ाने में पर्याप्त प्रगति हुई है। तिराना, अल्बानिया से एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, मोहम्मद जलूद को संगठन के अध्यक्ष के रूप में चुना गया है, और 11 अतिरिक्त नए सदस्यों को इसके कार्यकारी बोर्ड में जोड़ा गया है। अल्बानिया ने विशेष और चुनावी कांग्रेस और हाल ही में संपन्न यूरोपीय भारोत्तोलन चैंपियनशिप दोनों की मेज़बानी की है।

राष्ट्रीय सांख्यिकी दिवस

राष्ट्रीय सांख्यिकी प्रणाली की स्थापना में प्रशांत चंद्र महालनोबिस के अमूल्य योगदान को मान्यता देने के लिये उनकी जयंती (29 जून) को हर साल सांख्यिकी दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस दिन का उद्देश्य यह बताना है कि दैनिक जीवन में सांख्यिकी के उपयोग को लोकप्रिय बनाना और जनता को इस बात के लिये जागरूक करना कि नीतियों को आकार देने तथा तैयार करने में सांख्यिकी किस तरह सहायक है। प्रशांत चंद्र महालनोबिस को भारत में आधुनिक सांख्यिकी का जनक माना जाता है, उन्होंने भारतीय सांख्यिकी संस्थान (Indian Statistical Institute- ISI) की स्थापना की, योजना आयोग को आकार दिया (जिसे 1 जनवरी, 2015 को नीति आयोग द्वारा प्रतिस्थापित किया गया) और बड़े पैमाने पर सर्वेक्षण के लिये कार्यप्रणाली का मार्ग प्रशस्त किया। उन्होंने रैंडम सैंपलिंग की विधि का उपयोग करते हुए बड़े पैमाने पर नमूना सर्वेक्षण करने तथा परिकलित रकबे/पहले से अनुमानित क्षेत्रफल और फसल पैदावार का आकलन करने हेतु नवीन तकनीकों की शुरुआत की। उन्होंने 'फ्रैक्टाइल ग्राफिकल एनालिसिस' नामक एक सांख्यिकीय पद्धति भी तैयार की, जिसका उपयोग विभिन्न समूहों की सामाजिक-आर्थिक स्थितियों के बीच तुलना करने के लिये किया जाता है। सांख्यिकी दिवस, 2022 के मुख्य विषय यानी थीम - सतत विकास के लिए डेटा पर सांख्यिकी एवं कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय (एमओएसपीआई) की ओर से एक संक्षिप्त प्रस्तुति दी गई।

अंतर्राष्ट्रीय उष्णकटिबंधीय दिवस

अंतर्राष्ट्रीय उष्णकटिबंधीय दिवस 29 जून को विश्व स्तर पर मनाया जाता है। अंतर्राष्ट्रीय उष्णकटिबंधीय दिवस, उष्णकटिबंधीय देशों की अनूठी चुनौतियों और अवसरों को उजागर करते हुए उष्णकटिबंधीय क्षेत्रों की असाधारण विविधता का जश्न मनाता है। यह उष्णकटिबंधीय क्षेत्रों में प्रगति का जायजा लेने, उष्णकटिबंधीय कहानियों और विशेषज्ञता को साझा करने तथा क्षेत्र की विविधता और क्षमता को स्वीकार करने का अवसर प्रदान करता है। अंतर्राष्ट्रीय उष्णकटिबंधीय दिवस का उद्देश्य उन विशेष समस्याओं, जिनका सामना उष्णकटिबंधीय क्षेत्रों को करना पड़ता हैं, दुनिया के उष्णकटिबंधीय क्षेत्र को प्रभावित करने वाले मुद्दों के दूरगामी प्रभाव, और सभी स्तरों पर उष्णकटिबंधीय देश द्वारा सतत विकास हासिल करने के लिए जागरूकता बढ़ाने और महत्वपूर्ण भूमिका को उजागर करने की आवश्यकता के बारे में जागरूकता बढ़ाना है।

राष्ट्रीय बीमा जागरूकता दिवस: 28 जून

राष्ट्रीय बीमा जागरूकता दिवस 28 जून को मनाया जाता है। इस दिन का मुख्य उद्देश्य लोगों को बीमा योजना या पॉलिसी में निवेश करने के कई लाभों के बारे में जागरूक करना है। बीमा पॉलिसी दुर्भाग्यपूर्ण घटनाओं जैसे चोट, दुर्घटना या व्यापार में नुकसान के मामले में वित्तीय कवर प्रदान करती है, अगर कोई नियमित रूप से अपने प्रीमियम का भुगतान करना याद रखता है।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2022 RajasthanGyan All Rights Reserved.