Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

19 July 2022

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने भारतीय नौसेना में स्वदेशी प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल को बढ़ावा देने के उद्देश्य से 'स्प्रिंट चैलेंजेज' का अनावरण किया

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने दिनांक 18 जुलाई, 2022 को नई दिल्ली में नौसेना नवाचार और स्वदेशीकरण संगठन (एनआईआईओ) की सेमिनार 'स्वावलंबन' के दौरान भारतीय नौसेना में स्वदेशी प्रौद्योगिकी के उपयोग को बढ़ावा देने के उद्देश्य से 'स्प्रिंट चैलेंजेज' का अनावरण किया। रक्षा क्षेत्र में 'आत्मनिर्भरता' हासिल करने के लिए एवं 'आज़ादी का अमृत महोत्सव' के अंतर्गत एनआईआईओ का उद्देश्य रक्षा नवाचार संगठन (डीआईओ) के साथ मिलकर भारतीय नौसेना में कम से कम 75 नई स्वदेशी प्रौद्योगिकियों / उत्पादों को शामिल करना है। इस सहयोगी परियोजना का नाम स्प्रिंट {सपोर्टिंग पोल वॉल्टिंग इन आर एंड डी थ्रू इनोवेशन फ़ॉर डिफेंस एक्सीलेंस (आई-डीईएक्स), एनआईआईओ एंड टेक्नोलॉजी डेवलपमेंट एक्सीलरेशन सेल)} है।

केरल अपनी इंटरनेट सेवा वाला पहला राज्य बना

मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन के अनुसार, केरल अब देश का पहला और एकमात्र राज्य है, जिसके पास अपनी इंटरनेट सेवा है। यह घोषणा दूरसंचार विभाग द्वारा केरल फाइबर ऑप्टिक नेटवर्क लिमिटेड (K-Fon) की आईटी अवसंरचना परियोजना के लिए एक इंटरनेट सेवा प्रदाता (ISP) लाइसेंस देने के बाद की गई, जिसका उद्देश्य राज्य में सभी को इंटरनेट तक पहुंच प्रदान करना है। K-Fon या केरल फाइबर ऑप्टिक नेटवर्क लिमिटेड एक राज्य सरकार की पहल है जिसका उद्देश्य डिजिटल अंतर को खत्म करना है। सरकार के अनुसार, इस परियोजना द्वारा बनाए गए बुनियादी ढांचे से राज्य के वर्तमान दूरसंचार पारिस्थितिकी तंत्र के पूरक होने की उम्मीद है।

राजीव गांधी कैंसर संस्थान में स्थापित की गई भारत में निर्मित रोबोटिक सर्जरी प्रणाली

राजीव गांधी कैंसर संस्थान और अनुसंधान केंद्र, नई दिल्ली (आरजीसीआई) ने पहली बार मेड-इन-इंडिया सर्जिकल रोबोटिक सिस्टम, "एसएसआई-मंत्र" स्थापित किया है, जिसे नए जमाने के भारतीय मेड-टेक स्टार्ट-अप एसएस इनोवेशन द्वारा तैयार किया गया है। विश्व प्रसिद्ध रोबोट कार्डियक सर्जन डॉ सुधीर पी श्रीवास्तव के दिमाग की उपज सरल एसएसआई मंत्र, भारत में सर्जिकल प्रक्रियाओं के एक नए युग की शुरुआत का संकेत देगा, जिससे रोबोटिक सर्जरी हमारे देश के लोगों के लिए सुलभ और सस्ती हो जाएगी।

वाराणसी बनेगी एससीओ की सांस्कृतिक-पर्यटन राजधानी

वाराणसी को शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) की पहली सांस्कृतिक एवं पर्यटन राजधानी घोषित किया जाएगा। एससीओ के महासचिव झांग मिंग ने यह जानकारी दी। नई पहल के तहत वाराणसी वर्ष 2022-23 के लिए एससीओ की सांस्कृतिक एवं पर्यटन राजधानी बनेगा। इसके तहत सदस्य देशों को बारी-बारी से मौका मिलेगा। यह पहल आठ सदस्य देशों में लोगों से लोगों के बीच संपर्क और पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए है।

IIT दिल्ली में जनगणना डेटा वर्कस्टेशन का उद्घाटन

मानविकी और सामाजिक विज्ञान विभाग की अर्थशास्त्र प्रयोगशाला में भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT) दिल्ली द्वारा एक नए जनगणना कार्य केंद्र का अनावरण किया गया है। जनगणना डेटा वर्कस्टेशन आधिकारिक तौर पर भारत के रजिस्ट्रार जनरल और जनगणना आयुक्त डॉ विवेक जोशी द्वारा उद्घाटन किया गया । डॉ जोशी के अनुसार, नए वर्कस्टेशन का उद्देश्य शिक्षाविदों और शोधकर्ताओं के लिए जनगणना माइक्रोडेटा तक पहुंच को आसान बनाना है। इसके अतिरिक्त, यह जनगणना गतिविधियों के दौरान एकत्र किए गए डेटा की भारी मात्रा के बारे में जागरूकता बढ़ाने में योगदान देगा।

रेलवे बोर्ड के चेयरमैन एवं सीईओ ने ‘आजादी की रेलगाड़ी और स्टेशन’ के आइकॉनिक सप्ताह समारोह का शुभारंभ किया

रेलवे बोर्ड के चेयरमैन एवं सीईओ श्री विनय कुमार त्रिपाठी ने रेल भवन में ‘आज़ादी की रेलगाड़ी और स्टेशन' के आइकॉनिक सप्ताह समारोह का शुभारंभ किया। स्वतंत्रता संग्राम में 75 चिन्हित स्टेशनों/27 ट्रेनों के विशेष महत्व पर प्रकाश डालते हुए भारतीय रेलवे 18 जुलाई से लेकर 23 जुलाई तक सप्ताह भर चलने वाले समारोहों का आयोजन करेगा। इस अवसर पर श्री त्रिपाठी ने कहा कि आजादी का अमृत महोत्‍सव के हिस्‍से के रूप में आजादी की रेलगाड़ी और स्‍टेशन कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। जन भागीदारी और जन आंदोलन के अंतर्गत कार्यक्रम आयोजित किया गया है। उन्‍होंने कहा कि अतीत के स्‍वतंत्रता संग्राम के मूल्‍यों और गौरव तथा भविष्‍य के युवा भारत की महत्‍वाकांक्षाओं को इसमें दिखाया जायेगा। 75 रेलवे स्‍टेशनों और 27 रेलगाडि़यों को चिन्हित किया गया है। इस दौरान 24 राज्‍यों के इन 75 स्‍टेशनों पर क्षेत्रीय भाषा में नुक्‍कड़ नाटक, लाईट एण्‍ड सांउड शो, देशभक्ति गीत और वीडियो फिल्‍में दिखाई जायेंगी।

गांबिया के उपराष्‍ट्रपति बडारा-ए-जूफ पांच दिन की यात्रा पर भारत पहुंचे

गांबिया के उपराष्‍ट्रपति बडारा-ए-जूफ पांच दिन की यात्रा पर भारत पहुंचे। विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता अरिंदम बागची ने बताया कि श्री बडारा जूफ कई द्विपक्षीय कार्यक्रमों के साथ-साथ भारतीय उद्योग परिसंघ और आयात- निर्यात बैंक सम्‍मेलन 2022 में हिस्‍सा लेंगे। भारत-अफ्रीका विकास साझेदारी पर यह सम्‍मेलन नई दिल्‍ली में होगा।

सरकार ने सीवर और सेप्टिक टैंक की सफाई के लिए एक राष्ट्रीय कार्य योजना बनाई

आवासन और शहरी कार्य राज्य मंत्री कौशल किशोर ने कहा है कि सरकार ने सीवर और सेप्टिक टैंक की सफाई के लिए मशीनीकृत स्वच्छता पारिस्थितिकी तंत्र-नमस्ते योजना के लिए एक राष्ट्रीय कार्य योजना बनाई है। राज्यसभा में एक प्रश्न के उत्तर में श्री कौशल किशोर ने कहा कि यह योजना पेयजल और स्वच्छता विभाग, सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय तथा आवास और शहरी कार्य मंत्रालय का एक संयुक्त उद्यम है। इसका उद्देश्य देश में सफाई के काम के दौरान होने वाली मौत को रोकना है। उन्होंने कहा कि इस योजना से कोई भी सफाई कर्मचारी मानव मल के सीधे संपर्क में नहीं आएगा और सभी सीवर तथा सेप्टिक टैंक की सफाई करने वाले श्रमिकों के पास वैकल्पिक आजीविका का साधन उपलब्ध होगा।

लेफ्टिनेंट जनरल (सेवानिवृत्त) श्री राज शुक्ला ने संघ लोक सेवा आयोग के सदस्य के रूप में पद और गोपनीयता की शपथ ली

लेफ्टिनेंट जनरल (सेवानिवृत्त) श्री राज शुक्ला ने यूपीएससी के सदस्य के रूप में पद और गोपनीयता की शपथ ली। भारतीय सेना में अपने चार दशकों से अधिक समय के करियर में, जनरल शुक्ला ने व्यापक सेवा विस्‍तार देखा है – उन्होंने काउंटर इंसर्जेंसी ऑपरेशंस में एक इन्फैंट्री ब्रिगेड, कश्मीर घाटी में नियंत्रण रेखा के साथ बारामूला डिवीजन और पश्चिमी सीमाओं के साथ एक पिवट कोर की कमान संभाली। एक पेशेवर विमान चालक और एक अच्छे वक्ता, जनरल शुक्ला की सामरिक-सैन्य मामलों में स्थायी रुचि है। उनके लगभग 70 लेख/ प्रकाशन हैं और उन्होंने भारत और विदेशों में 180 से अधिक वार्ता/सेमिनारों में भाग लिया है। असाधारण सेवा के लिए, जनरल शुक्ला को गणतंत्र दिवस 2021 पर परम विशिष्ट सेवा पदक से सम्मानित किया गया।

रामायण मासम

केरल में 17 जुलाई, 2022 से रामायण मासम शुरू हो रहा है। मलयालम कैलेंडर के अनुसार यह वर्ष के अंतिम माह कर्कीडकम की शुरुआत का प्रतीक है। रामायण मास के दौरान केरल के हिंदू घरों में पूरे महीने गोधूलि बेला में रामायण के श्‍लोकों का पाठ किया जाता है। मंदिरों में भी रामायण पाठ का आयोजन होता है। यह मास आयुर्वेदिक उपचार और तीर्थ यात्राओं के लिये अनुकूल माना जाता है। रामायण मासम का समापन 16 अगस्‍त को होगा। रामायण भारतीय साहित्य का आधार ग्रंथ है। उत्तर भारत में तुलसी रामायण का जो स्थान है, वही केरल में एशुत्तच्छन द्वारा विरचित आध्यात्म रामायण किहिपांट’ का है। सोलहवीं सदी में रचित इस लोकप्रिय कृति का पाठ वर्ष में पूरे एक महीने श्रावण (मलयालम कर्कडकमास ) में निरंतरता से किया जाता है। केरल के प्रसिद्ध त्योहार ओणम से पूर्व यह अनुष्ठान संपन्न होता है। श्रीरामचन्द्र जी की वन यात्रा से केरल का भी संबंध माना जाता है। केरल का एक प्रसिद्ध तीर्थस्थान शबरीमला के मार्ग में पंपासर के पास स्थित शबरीपीठ, वनवास काल में राम- शबरी के दर्शन को प्रमाणित करता है। ‘मला’ शब्द मलयालम में पर्वत के लिये प्रयुक्त होता है।

भारतीय जीएम अरविंद चिदंबरम ने स्पेन में जीता टूर्नामेंट

भारतीय ग्रैंडमास्टर अरविंद चिदंबरम स्पेन में 41वें विला डी बेनास्क इंटरनेशनल शतरंज ओपन में विजेता बनकर उभरे हैं। चिदंबरम के कोच आरबी रमेश ने खिताब के लिए अपने वार्ड की तारीफ की। उन्होंने यहां टाई-ब्रेक स्कोर के आधार पर आर्मेनिया के रॉबर्ट होवननिस्यान और हमवतन रौनक साधवानी को हराया। साधवानी अर्मेनियाई के बाद तीसरे स्थान पर रहे । चिदंबरम पूर्व राष्ट्रीय चैंपियन भी हैं।

भारत के माइराज अहमद खान ने दक्षिण कोरिया में निशानेबाजी विश्‍व कप में स्‍कीट स्‍पर्धा का स्‍वर्ण पदक जीत लिया

भारत के माइराज अहमद खान ने दक्षिण कोरिया के चांगवान में निशानेबाजी विश्‍व कप में स्‍कीट स्‍पर्धा का स्‍वर्ण पदक जीत लिया है। माइराज का यह पहला व्‍यक्तिगत स्‍वर्ण पदक है। भारत की अंजुम मोदगिल, सिफ्त कौर और आशि चौकसी की महिला टीम ने 50 मीटर राइफल थ्री पॉजिशन में कांस्‍य पदक अपने नाम किया। पदक तालिका में भारत पांच स्‍वर्ण, पांच रजत और तीन कांस्‍य पदक लेकर शीर्ष पर है।

तमिलनाडु दिवस

तमिलनाडु का स्थापना दिवस 18 जुलाई को मनाया गया। 1967 में इसी दिन तत्कालीन मद्रास प्रेसीडेंसी द्वारा एक प्रस्ताव पारित कर इसे तमिलनाडु का नाम दिया गया। तत्कालीन मुख्यमंत्री सी एन अन्नादुरई ने यह प्रस्ताव पेश किया था। पहली नवंबर 1956 को आंध्र प्रदेश, कर्नाटक और केरल को मद्रास प्रेसीडेंसी से अलग कर राज्‍य का दर्जा दिया गया था। मद्रास प्रेसीडेंसी के बाकी बचे क्षेंत्र को 18 जुलाई 1967 में तमिलनाडु के नाम से अलग प्रदेश बनाया गया। इस अवसर पर तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम के स्टालिन ने कहा कि राज्‍य सरकार ऐसे लोगों और विद्वानों को सम्मानित करेगी, जिन्‍होंने तमिल भाषा को समृद्ध बनाने में योगदान दिया है।

अंतर्राष्ट्रीय नेल्सन मंडेला दिवस

नोबेल शांति पुरस्कार विजेता और दक्षिण अफ्रीका के पूर्व राष्ट्रपति नेल्सन मंडेला के जन्मदिन (18 जुलाई) को संयुक्त राष्ट्र द्वारा ‘अंतर्राष्ट्रीय नेल्सन मंडेला दिवस’ के तौर पर मनाया जाता है। प्रतिवर्ष 18 जुलाई को यह दिवस मनाने का निर्णय वर्ष 2010 में लिया गया था। गौरतलब है कि दक्षिण अफ्रीका में रंगभेदी शासन के दौरान नेल्सन मंडेला ने अपने जीवन के 27 साल वहाँ की जेलों में बिताए थे। यह दिवस शांति स्थापना, रंगभेद उन्मूलन, मानवाधिकारों की रक्षा और लैंगिक समानता की स्थापना के प्रति नेल्सन मंडेला के सतत् प्रयासों को मान्यता प्रदान करता है। नेल्सन मंडेला को साहस, करुणा, स्वतंत्रता, शांति एवं सामाजिक न्याय के लिये प्रतिबद्धता का वैश्विक प्रतीक माना जाता है। वह 10 मई, 1994 से 14 जून, 1999 तक दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति रहे तथा अफ्रीका के पहले अश्वेत राष्ट्रपति थे। वर्ष 2014 में संयुक्त राष्ट्र महासभा ने उन लोगों की उपलब्धियों को पहचानने के लिये नेल्सन मंडेला पुरस्कार की शुरुआत की जिन्होंने मानवता की सेवा के लिये अपना जीवन समर्पित कर दिया।

विश्व अंतर्राष्ट्रीय न्याय दिवस 2022

अंतर्राष्ट्रीय आपराधिक कृत्यों के पीड़ितों को न्याय दिलाने के लिए काम करने वाले संगठनों को मान्यता देने के लिए 17 जुलाई को विश्व अंतर्राष्ट्रीय न्याय दिवस (World Day for International Justice) मनाया जाता है। यह दुनिया में आधुनिक न्यायालय प्रणालियों की स्थापना का भी स्मरण कराता है। यह दिन मौलिक मानवाधिकारों की वकालत और अंतरराष्ट्रीय आपराधिक न्याय को बढ़ावा देने पर केंद्रित है। 17 जुलाई, 1998 को, 120 देशों ने अंतर्राष्ट्रीय आपराधिक न्यायालय के रोम संविधि नामक एक संधि पर हस्ताक्षर करने के लिए एक साथ आए। स्थापना को अंतर्राष्ट्रीय आपराधिक न्यायालय (ICC) के रूप में जाना जाने लगा, जो 1 जुलाई 2002 को लागू हुआ। रोम संविधि पर हस्ताक्षर करने का जश्न मनाने के लिए, विश्व अंतर्राष्ट्रीय न्याय दिवस तब से हर साल मनाया जाता रहा है।

पंजाब के पूर्व स्पीकर निर्मल सिंह कहलों का निधन

पंजाब विधान के पूर्व अध्यक्ष और शिरोमणि अकाली दल (SAD) के नेता, निर्मल सिंह कहलों का 79 वर्ष की आयु में निधन हो गया है। वह 1997 से 2002 तक ग्रामीण विकास और पंचायत मंत्री और 2007 से 2012 तक विधान सभा के अध्यक्ष रहे। कहलों 1997 और 2007 में फतेहगढ़ चुरियन से विधायक चुने गए थे। कहलों 1997 से 2002 तक अकाली सरकार में ग्रामीण विकास और पंचायत मंत्री थे। वह 2007 से 2012 तक पंजाब विधानसभा के अध्यक्ष भी रहे। वह 2012 और 2017 के विधानसभा चुनाव कांग्रेस के तृप्त राजिंदर सिंह बाजवा से हार गए। इस साल के विधानसभा चुनाव में अकाली दल ने फतेहगढ़ चुरियन से लखबीर सिंह लोधीनंगल को और डेरा बाबा नानक से कहलों के बेटे रवि करण सिंह काहलों को टिकट दिया था लेकिन दोनों हार गए।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2022 RajasthanGyan All Rights Reserved.