Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

6 August 2022

कैबिनेट सचिव राजीव गाबा का कार्यकाल बढ़ा

केंद्र ने कैबिनेट सचिव राजीव गाबा का कार्यकाल एक वर्ष के लिए बढ़ा दिया। श्री गाबा का कार्यकाल तीस अगस्‍त को समाप्‍त होने वाला था। केंद्रीय मंत्रिमंडल की नियुक्ति समिति ने यह निर्णय लिया।

चीते को दूसरे महाद्वीप से लाकर भारत में उसके ऐतिहासिक इलाके में पुनर्स्थापित करने के लिये इंडियन ऑयल ने राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण (एनटीसीए) के साथ समझौता-ज्ञापन पर हस्ताक्षर किये

चीते को दूसरे महाद्वीप से लाकर भारत में उसके ऐतिहासिक इलाके में पुनर्स्थापित करने के लिये इंडियन ऑयल ने राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण (एनटीसीए) के साथ समझौता-ज्ञापन पर आज हस्ताक्षर कर दिये। समझौता-ज्ञापन पर इंडियन ऑयल के अध्यक्ष श्री एस.एम. वैद्या और प्रोजेक्ट टाइगर के अतिरिक्त महानिदेशक व एनटीसीए के सदस्य सचिव डॉ. एसपी यादव ने हस्ताक्षर किये। उल्लेखनीय है कि यह समझौता-ज्ञापन उस समझौते ज्ञापन के क्रम में है, जिस पर भारत और नामीबिया गणराज्य ने 20 जुलाई, 2022 को हस्ताक्षर किये थे, जो वन्यजीव संरक्षण तथा जैव-विविधता के सतत उपयोग पर आधारित था। उस समझौते के तहत चीते को भारत में उसके ऐतिहासिक इलाकों में फिर से स्थापित किया जाना है। इंडियन ऑयल चीते को बसाने, उसके प्राकृतिक वास के प्रबंधन व संरक्षण, जैव-पारिस्थितिकीय विकास, स्टाफ के प्रशिक्षण और पशु स्वास्थ्य सुविधा के लिये चार वर्षों के दौरान 50.22 करोड़ रुपये का योगदान करेगा। इंडियन ऑयल पहला कॉरपोरेट है, जो कॉरपोरेट सामाजिक दायित्व के तहत “प्रोजेक्ट चीता” को समर्थन दे रहा है, क्योंकि इस परियोजना का न केवल राष्ट्रीय महत्‍व है, बल्कि वह इको-सिस्टम को संतुलित रखने के लिये भी बहुत अहम है।

श्री प्रवीण कुमार श्रीवास्तव और श्री. अरविंद कुमार ने सतर्कता आयुक्त के रूप में शपथ ग्रहण की

श्री प्रवीण कुमार श्रीवास्तव और श्री अरविंद कुमार ने सतर्कता आयुक्त के रूप में शपथ ग्रहण की। केंद्रीय सतर्कता आयुक्त, श्री सुरेश एन पटेल ने केंद्रीय सतर्कता आयोग, सतर्कता भवन, नई दिल्ली के कार्यालय में उन्हें शपथ दिलाई। इन दोनों को माननीय राष्ट्रपति द्वारा 21 जुलाई, 2022 के वारंट द्वारा केंद्रीय सतर्कता आयोग में सतर्कता आयुक्त के रूप में नियुक्त किया गया था। केंद्रीय सतर्कता आयोग अधिनियम, 2003, के अंतर्गत केंद्रीय सतर्कता आयोग में एक केंद्रीय सतर्कता आयुक्त और दो सतर्कता आयुक्तों की नियुक्ति का प्रावधान है। सतर्कता आयुक्त का कार्यकाल चार वर्ष या पद ग्रहण करने वाले के 65 वर्ष की आयु प्राप्त करने तक का होता है। इससे पहले राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मू ने राष्ट्रपति भवन में श्री सुरेश एन पटेल को केंद्रीय सतर्कता आयुक्त के रूप में पद की शपथ दिलाई। श्री सुरेश एन पटेल को 29 अप्रैल 2020 को सतर्कता आयुक्त के रूप में नियुक्त किया गया था और 24 जून, 2021 से केंद्रीय सतर्कता आयुक्त के रूप में कार्य कर रहे थे।

भारत UNSC काउंटर टेररिज्म कमेटी की विशेष बैठक की मेजबानी करेगा

भारत आतंकवाद के विरुद्ध 29 अक्टूबर को एक विशेष बैठक में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के 15 देशों के राजनयिकों की मेजबानी करेगा। भारत का सुरक्षा परिषद की अस्थायी सदस्यता का दो साल का कार्यकाल इसी दिसंबर में पूरा होने वाला है, जब भारत इस महीने के लिए शक्तिशाली सुरक्षा परिषद की अध्यक्षता करेगा। भारत 2022 के लिए सुरक्षा परिषद की आतंकवाद विरोधी समिति की अध्यक्षता कर रहा है। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद, काउंटर-टेररिज्म कमेटी (सीटीसी) ने भारत में अपने कार्यकारी निदेशालय के सहयोग से नई और उभरती प्रौद्योगिकियों के दुरुपयोग से उत्पन्न बढ़ते खतरे को ध्यान में रखते हुए इस विषय पर एक विशेष बैठक आयोजित करने का निर्णय लिया है।

MP के खंडवा में बनेगा दुनिया का सबसे बड़ा तैरता सौर ऊर्जा संयंत्र

नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय की हालिया घोषणा के अनुसार, मध्य प्रदेश के खंडवा में नर्मदा नदी के ओंकारेश्वर बांध पर दुनिया का सबसे बड़ा तैरता हुआ सौर ऊर्जा संयंत्र बनने जा रहा है। इस संयंत्र से 2022-23 तक 600 मेगावाट बिजली पैदा होने की उम्मीद है और इसकी लागत 3000 करोड़ रुपये से अधिक होने का अनुमान है। खंडवा राज्य का एकमात्र जिला बन जाएगा, जहां एक ही जिले से 4,000MW से अधिक बिजली उत्पादन के साथ सौर, जल और थर्मल सहित तीनों चीजें होंगी। वर्तमान में, भारत की सबसे बड़ी तैरती सौर ऊर्जा परियोजना तेलंगाना के रामागुंडम में परिचालित है, जिसका संचालन NTPC द्वारा किया जा रहा है।

यूनेस्को की सूची में बिहार की खगोलीय वेधशाला को शामिल किया गया

बिहार के मुजफ्फरपुर के लंगत सिंह कॉलेज में 106 साल पुरानी खगोलीय वेधशाला को यूनेस्को की विश्व धरोहर वेधशालाओं की सूची में जोड़ा गया है। यह वेधशाला भारत के पूर्वी भाग में अपनी तरह की पहली वेधशाला है। मुजफ्फरपुर में यह खगोलीय वेधशाला 1916 में स्थापित की गई थी, जो छात्रों को विस्तृत खगोलीय ज्ञान प्रदान करती है। प्रोफेसर रोमेश चंद्र सेन ने कॉलेज में खगोलीय वेधशाला स्थापित करने की पहल की। 1914 में, उन्होंने मार्गदर्शन के लिए एक खगोलशास्त्री जे मिशेल से बात की थी। 1915 में टेलिस्कोप, क्रोनोग्रफ़, खगोलीय घड़ी और अन्य उपकरण इंग्लैंड से खरीदे गए थे। अंतत: 1916 में खगोलीय वेधशाला शुरू की गई। 1946 में, कॉलेज में एक प्लैनेटेरियम भी स्थापित किया गया था। हालाँकि, प्लैनेटेरियम के साथ-साथ खगोलीय वेधशाला की स्थिति 1970 के बाद बिगड़ने लगी। अधिकांश स्थापित मशीनें या तो खो गई हैं या कबाड़ बन गई हैं। इसके जीर्णोद्धार के लिए कोई कदम नहीं उठाया गया। यूनेस्को की लुप्तप्राय विरासत वेधशालाओं की सूची में शामिल होने के बाद अब, अधिकारियों को इसकी बहाली के लिए राज्य सरकार से धन मिलने की उम्मीद है।

कन्नड़ पॉवर स्टार पुनीत राजकुमार को मिलेगा कर्नाटक रत्न अवॉर्ड

कर्नाटक सरकार दिवंगत कन्नड़ एक्टर पॉवर स्टार पुनीत राजकुमार को मरणोपरांत कर्नाटक रत्न अवॉर्ड से सम्मानित करेगी। इसकी घोषणा CM बसवराज बोम्मई ने की। पुनीत को यह सम्मान 1 नवंबर यानी कन्नड़ राज्योत्सव के समारोह में दिया जाएगा। पुनीत राज्य के सर्वोच्च अवार्ड से सम्मानित होने वाले 10वें व्यक्ति हैं। इससे पहले समाज सेवा के लिए डॉक्टर वीरेंद्र हेगड़े को 13 साल पहले यानी 2009 में दिया गया था। इस सम्मान ने साल 1992 में उनके पिता डॉक्टर राजकुमार भी सम्मानित हो चुके हैं, उनके साथ कवि कुवेम्पु को भी सम्मानित किया गया था। कोरोना महामारी के दौरान भी पुनीत ने CM रिलीफ फंड में 50 लाख रुपए डोनेट किए थे। पुनीत ने 45 स्कूल, 26 अनाथालय, 16 वृद्धाश्रम, 19 गोशाला और1800 अनाथ लड़कियों की हायर एजुकेशन की जिम्मेदारी उठाई थी।

"ग्रैंड अनियन चैलेंज" युवा व्यवसायियों के लिए शुरू किया गया

उपभोक्ता कार्य विभाग ने शैक्षिक संस्थानों के प्रमुखों, कुलपतियों, प्रोफेसरों, प्रख्यात संस्थानों के डीन, वरिष्ठ शिक्षाविदों, स्टार्टअप्स के अधिकारियों, भाभा परमाणु अनुसंधान केन्द्र के वैज्ञानिकों, परमाणु ऊर्जा विभाग, शिक्षा मंत्रालय, उद्योग संवर्धन और आंतरिक व्यापारिक विभाग के अधिकारियों तथा कृषि, बागवानी एवं खाद्य प्रसंस्करण के क्षेत्र में काम करने वाले पेशेवरों के साथ "ग्रैंड अनियन चैलेंज" के संबंध में एक वीडियो कॉन्फ्रेंस आयोजित की। यह चैलेंज युवा व्यवसायियों, प्रोफेसरों, उत्पाद तैयार करने में वैज्ञानिकों की भूमिका व कटाई से पूर्व की तकनीकों, प्राथमिक प्रसंस्करण, भंडारण और देश में प्याज फसल की कटाई के बाद के कार्यों में प्रोटोटाइप की आवश्यकता तथा प्याज के परिवहन में सुधार के लिए नए विचारों की तलाश करता है। इस चैलेंज में निर्जलीकरण, प्याज के मूल्य निर्धारण और प्याज खाद्य प्रसंस्करण डोमेन में प्रौद्योगिकी के आधुनिकीकरण के लिए नवीन विचारों की भी खोज की जाएगी।

केरल के मुख्यमंत्री ने आंगनवाड़ी बच्चों के लिए अंडे और दूध योजना शुरू की

केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने महिला एवं बाल विकास विभाग की एक परियोजना का उद्घाटन किया है। यह परियोजना राज्य के सभी आंगनवाड़ियों में बच्चों को उनके पोषण स्तर में सुधार करने के लिए दूध और अंडे उपलब्ध कराने में मदद करती है। राज्य सरकार ने इस वित्तीय वर्ष में आंगनवाड़ी मेनू में दूध और अंडे को शामिल करने के लिए 61.5 करोड़ रुपये से अधिक की राशि निर्धारित की है।

आईएनएस सुमेधा का इंडोनेशिया स्थित बाली का दौरा

दक्षिण- पूर्वी हिंद महासागर में भारतीय नौसेना की लंबी दूरी की तैनाती के तहत आईएनएस सुमेधा 04 अगस्त से 06 अगस्त 2022 तक बाली के तान्जुंग बेनोआ पत्तन के दौरे पर है। यह पोत भारत के स्वतंत्रता दिवस और आजादी का अमृत महोत्सव समारोह के अवसर पर ऑस्ट्रेलिया स्थित पर्थ के रास्ते में है। बाली की इस यात्रा का उद्देश्य द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करना, आपसी सैन्य सहयोग को बढ़ाना और इंडोनेशिया की नौसेना के साथ अंतर-परिचालनीयता में सुधार करना है। बाली में पोत चालक दल अपने प्रवास के दौरान इंडोनेशियाई नौसेना समकक्षों के साथ पेशेवर संवाद, क्रॉस-डेक यात्रा और खेल प्रतियोगिताओं में शामिल होंगे।

आईएनएस सतपुड़ा ने रिम्पैक - 2022 के दौरान प्रशांत महासागर में अपने पेशेवर कौशल का प्रदर्शन किया

अमेरिका के हवाई में 22 दिन चलने वाले बहुपक्षीय युद्धाभ्यास रिम्पैक-22 के समुद्री चरण के पूरा होने पर दिनांक 2 अगस्त 2022 को आईएनएस सतपुड़ा ने हवाई, यूएसए में पर्ल हार्बर में प्रवेश किया । इस जहाज ने विदेशी युद्धपोतों पर भारतीय नौसेना के हेलीकॉप्टर की क्रॉस-डेक लैंडिंग और समुद्र में रेपलेनिशमेंट करने के अलावा, समुद्री चरण के दौरान प्रशांत महासागर में बहु-राष्ट्रीय नौसेनाओं के साथ पनडुब्बी रोधी, युद्धपोत-रोधी और वायु-रोधी युद्धाभ्यासों में भाग लिया ।

राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण (एनएचए) ने एचएमआईएस/एलएमआईएस जैसे एबीडीएम अनुरूप स्वास्थ्य समाधानों को मान्यता देने के लिए भारतीय गुणवत्ता परिषद (क्यूसीआई) के साथ हाथ मिलाया

राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण (एनएचए) ने एचएमआईएस (स्वास्थ्य प्रबंधन सूचना प्रणाली)/ एलएमआईएस (प्रयोगशाला सूचना प्रबंधन प्रणाली) समाधानों को मान्यता और मूल्यांकन (रेटिंग) देने के लिए भारतीय गुणवत्ता परिषण (क्यूसीआई) को छह महीने के लिए नियुक्त किया है, जो आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन (एबीडीएम) के साथ एकीकृत है। क्यूसीआई का घटक बोर्ड स्वास्थ्य क्षेत्र में अस्पतालों और स्वास्थ्य सेवा प्रदाताओं के लिए राष्ट्रीय प्रत्यायन बोर्ड (एनएबीएच) राष्ट्रीय स्तर पर मान्यता देने के लिए जिम्मेदार है। एनएबीएच उपयोग में आसानी, यूजर इंटरफेस, मूल्य निर्धारण, मॉड्यूल/ सुविधाओं की संख्या और पूंजी/ कीमत के मूल्य सहित विभिन्न मानदंडों पर एबीडीएम अनुपालन समाधान को मान्यता और रेटिंग देने की जिम्मेदारी निभाएगा, जिससे संभावित खरीददार को विश्वसनीय जानकारी मिल सकेगी।

भारतीय राष्ट्रीय आभासी पुस्तकालय (एनवीएलआई) में कुल 3.04 लाख डिजिटल कलाकृतियां और 34.91 लाख से अधिक ग्रंथ सूची प्रविष्टियां हैं: श्री जी. किशन रेड्डी

भारतीय राष्ट्रीय आभासी (वर्चुअल) पुस्तकालय को भारत की मूर्त और अमूर्त सांस्कृतिक विरासत के सभी रूपों को प्रदर्शित करने के लिए 10.12.2019 को भारतीय संस्कृति पोर्टल (आईसीपी) के रूप में विकसित और लॉन्च किया गया था। इसका यूआरएल https://indianculture.gov.in है, जो पब्लिक डोमेन पर उपलब्ध है। इस पोर्टल की मौजूदा स्थिति का सारांश निम्नलिखित है: -

  • इसमें मेटाडेटा के साथ कुल 3.04 लाख डिजिटल कलाकृतियां हैं। इसमें 34.91 लाख से अधिक ग्रंथ सूची प्रविष्टियां भी हैं।
  • इसकी सामग्री को 18 क्यूरेटेड श्रेणियों में प्रस्तुत किया गया है। इनमें दुर्लभ पुस्तकें, ई-पुस्तकें, अभिलेखागार, राजपत्र व गजेटियर, पांडुलिपियां, संग्रहालय संग्रह, पेंटिंग, ओडियो, अमूर्त सांस्कृतिक विरासत, फोटो अभिलेखागार, चित्र, वीडियो, यूनेस्को की सामग्री, शोध पत्र, भारतीय राष्ट्रीय ग्रंथ सूची, रिपोर्ट व कार्यवाही, संघीय सूची और अन्य सूचियां शामिल हैं।
  • इसमें निर्मित विषय सामग्री की 12 श्रेणियां भी हैं। इनमें कहानियां, स्निपेट्स, फोटो निबंध, भारत के किले, भारत के वस्त्र व कपड़े, भारत के ऐतिहासिक शहर, भारत के संगीत वाद्ययंत्र, खान- पान व संस्कृति, वर्चुअल वॉकथ्रू (पूर्वाभ्यास), स्वतंत्रता अभिलेखागार - विस्मृत नायक, अजंता गुफाएं और उत्तर-पूर्व पुरालेख हैं।
  • वर्तमान में पोर्टल अंग्रेजी और हिंदी में उपलब्ध है।
  • इस पोर्टल पर इंडियन कल्चर नामक एप के माध्यम से पहुंचा जा सकता है, जो एंड्रॉइड फोन और आईफोन दोनों पर उपलब्ध है।
  • पोर्टल उमंग एप के माध्यम से उपलब्ध है।

नीदरलैंड में पानी की कमी

नीदरलैंड में राष्ट्रीय जल स्तर अब तक के सबसे निचले स्तर तक गिर गया है। नतीजतन, देश पानी की कमी से जूझ रहा है। जल संकट प्रबंधन दल के अनुसार देश में लगातार सूखे की वजह से ‘पानी की कमी’ हो गई है। पानी की कमी से पता चलता है कि, राइन नदी (Rhine River) का पानी सामान्य से 50% कम पानी की आपूर्ति कर रहा है। लंबे समय में पानी की कमी के कारण मिट्टी का लवणीकरण (salinisation) हो सकता है, जिससे कृषि उद्योग प्रभावित हो सकता है। नीदरलैंड पानी की प्रचुरता के लिए जाना जाता है। इस तथ्य के बावजूद, पिछले 22 वर्षों में पांचवीं बार पानी की कमी घोषित की गई है। नीदरलैंड नम और अप्रत्याशित मौसम के लिए जाना जाता है। हालांकि, वर्ष 2022 में जलवायु परिवर्तन के कारण मौसम बेहद शुष्क हो गया है। हालांकि, पानी की कमी के कारण नागरिक या निवासी ज्यादा प्रभावित नहीं होंगे। लेकिन यह अभी के लिए शिपिंग और खेती जैसे कुछ उद्योगों में काम करने वालों को प्रभावित करेगा।

चीन ने ताइवान के पास अब तक का सबसे बड़ा सैन्य अभ्यास शुरू किया

अमेरिकी हाउस स्पीकर नैन्सी पेलोसी की यात्रा के बाद चीन ने ताइवान के पास अपना अब तक का सबसे बड़ा सैन्य अभ्यास शुरू कर दिया है। चीनी मीडिया इस अभ्यास को ‘पुनर्एकीकरण प्रक्रिया’ (reunification process) के लिए पूर्वाभ्यास बता रहा है। यह अभ्यास ताइवान के छह क्षेत्रों में चल रहा है। इस अभ्यास में चीन की नौसेना, वायुसेना और अन्य विभाग हिस्सा ले रहे हैं। इस युद्ध अभ्यास के दौरान चीन ने ताइवान के 6 प्रमुख क्षेत्रों का चयन किया। इस अवधि के दौरान, सभी जहाजों और विमानों को प्रासंगिक समुद्री क्षेत्रों और हवाई क्षेत्र में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी गई है। जवाब में, ताइवान ने भी अपनी सेना को सतर्क कर दिया है और कई नागरिक सुरक्षा अभ्यासों का मंचन किया है। इसके अलावा, अमेरिका ने कई नौसैनिक संपत्तियां भी संघर्ष क्षेत्र में रखी हैं। हाउस ऑफ़ रिप्रेजेन्टेटिव्स की अध्यक्ष नैन्सी पेलोसी की ताइवान यात्रा के बाद चीन का सबसे बड़ा अभ्यास शुरू हुआ। चीनी धमकियों की अनदेखी और चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग की चेतावनी के बाद उनकी यात्रा निर्धारित की गई थी। पेलोसी की यात्रा 25 वर्षों में अमेरिकी अधिकारियों द्वारा ताइवान की सर्वोच्च स्तरीय यात्रा है।

Fortune Global 500 List: एलआईसी फॉर्च्यून 500 सूची में शामिल

हाल में सूचीबद्ध जीवन बीमा निगम (एलआईसी) फॉर्च्यून ग्लोबल 500 की ताजा सूची में शामिल है। वहीं इस सूची में रिलायंस इंडस्ट्रीज ने 51 स्थान की छलांग लगाई है। वहीं, एलआईसी 97.26 अरब डॉलर के राजस्व और 55.38 करोड़ डॉलर के लाभ के साथ देश की सबसे बड़ी बीमा कंपनी है। हाल में जारी फॉर्च्यून 500 सूची में एलआईसी को 98वां स्थान मिला। यह सूची में एलआईसी का पहला आउटिंग है, जो सूचीबद्ध कंपनियों को बिक्री के आधार पर रैंक करता है। दूसरी तरफ 2022 की सूची में रिलायंस इंडस्ट्रीज 51 स्थान की छलांग लगाकर 104वें स्थान पर पहुंच गई। इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आईओसी) 28 स्थान की बढ़त के साथ 142वें स्थान पर पहुंच गई। ऑयल एंड नेचुरल गैस कॉरपोरेशन (ओएनजीसी) 16 स्थान चढ़कर 190 पर है। इस सूची में टाटा समूह की दो कंपनियां- टाटा मोटर्स (370वें स्थान पर) और टाटा स्टील (435वें स्थान पर) हैं। राजेश एक्सपोर्ट्स सूची में 437वें स्थान के साथ एक अन्य निजी भारतीय कंपनी है। भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) 17 पायदान चढ़कर 236वें स्थान पर और भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड 19 पायदान चढ़कर 295वें स्थान पर है।

कृषि अवसंरचना कोष के उपयोग में आंध्र प्रदेश अव्वल

कृषि अवसंरचना कोष (एग्री इंफ्रा फंड) के उपयोग में आंध्र प्रदेश पहले स्थान पर है। फार्म गेट पर बुनियादी ढांचे के विकास पर बहुत जोर देकर यह सर्वश्रेष्ठ राज्य के रूप में उभरा है। केंद्रीय कृषि और परिवार कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने वित्तीय वर्ष 2021-22 में कृषि निधि के उपयोग में देश के सर्वश्रेष्ठ राज्य का पुरस्कार नई दिल्ली में आयोजित एक समारोह में राज्य रायथू बाजार के सीईओ बी श्रीनिवास राव को प्रदान किया।

लोकसभा ने वन्यजीव संरक्षण संशोधन विधेयक, 2021 को मंजूरी दी

वन्य जीवन (संरक्षण) संशोधन विधेयक, 2021 को लोकसभा ने मंजूरी दे दी है। वन्यजीव संरक्षण अधिनियम 1972 किसी भी व्यक्ति को वन क्षेत्र या केंद्र सरकार द्वारा निर्दिष्ट किसी भी ऐसे क्षेत्र से किसी भी पौधे की प्रजाति (जीवित या मृत) को जानबूझकर तोड़ने, उखाड़ने, नुकसान पहुंचाने, नष्ट करने, एकत्र करने, बेचने या स्थानांतरित करने से प्रतिबंधित करता है। सरकार द्वारा विकास और पर्यावरण को समान महत्व दिया जाता है। पिछले आठ वर्षों में देश में संरक्षित क्षेत्रों की संख्या 693 से बढ़कर 987 हो गई है, जिसमें 52 बाघ अभयारण्य शामिल हैं। केंद्रीय पर्यावरण मंत्री भूपेंद्र यादव के अनुसार, सरकार वसुधैव कुटुम्बकम सिद्धांत के तहत काम करती है और मानव जाति और अन्य सभी पशु प्रजातियों दोनों को बेहतर बनाने का प्रयास करती है। केंद्रीय पर्यावरण मंत्री ने लोगों से खतरे या लुप्तप्राय प्रजातियों से जानवरों से प्राप्त अपस्केल सामान खरीदने से बचने का भी आग्रह किया है। भारत वन्य जीवों और वनस्पतियों की लुप्तप्राय प्रजातियों (कन्वेंशन) में अंतर्राष्ट्रीय व्यापार पर कन्वेंशन का एक पक्ष है, जिसके लिए कन्वेंशन के प्रावधानों को लागू करने के लिए उचित उपाय किए जाने की आवश्यकता है। वन्य जीवन (संरक्षण) संशोधन विधेयक 2021 में वन्य जीवन (संरक्षण) अधिनियम, 1972 में संशोधन का प्रस्ताव है।

कॉमनवेल्थ गेम्स में भारतीय पहलवानों का दबदबा:बजरंग, साक्षी और दीपक ने जीते गोल्ड

कॉमनवेल्थ गेम्स के 8वें दिन भारतीय टीम ने शानदार प्रदर्शन किया। कुश्ती में बजरंग पूनिया, साक्षी मलिक और दीपक पूनिया ने गोल्ड जीता। वहीं, अंशु मलिक ने सिल्वर मेडल अपने नाम किया। दिव्या काकरान और मोहित ग्रेवाल ने ब्रॉन्ज जीते। अब तक भारत के 9 गोल्ड, 8 सिल्वर और 9 ब्रॉन्ज सहित 26 पदक हो गए हैं। दीपक पूनिया ने 86 KG फ्रीस्टाइल में पाकिस्तान के मोहम्मद इनाम को 3-0 से हरा कर गोल्ड मेडल अपने नाम किया। साक्षी मलिक ने 62 KG फ्रीस्टाइल के फाइनल में कनाडा की गोडिनेज गोंजालेज को हराया। भारत के स्टार पहलवान बजरंग पूनिया पुरुषों के 65 KG फ्रीस्टाइल के फाइनल में कनाडा के लचलान मैकनील को 9-2 से मात देकर गोल्ड अपने नाम किया। अंशु मलिक ने महिलाओं के 57 KG की वेट कैटेगरी में सिल्वर मेडल जीता। वहीं, गोल्ड मेडल नाइजीरिया की ओडुनायो अदेकुओरोये ने अपने नाम किया। दिव्या काकरान ने पिन फॉल से जरिए अपनी प्रतिद्वंद्वी टोंगा की टाइगर लिली को महज 30 सेकेंड़ में मात देकर महिलाओं की 68 किग्रा भारवर्ग फ्रीस्टाइल स्पर्धा का कांस्य पदक अपने नाम कर लिया। वहीं, भारतीय पहलवान मोहित ग्रेवाल ने 125 KG फ्रीस्टाइल में जमैका के एरॉन जॉनसन को 6-0 से मात दे दी।

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई बॉक्सिंग विश्व चैंपियन जॉनी फेमचॉन का निधन

पूर्व बॉक्सिंग विश्व चैंपियन जॉनी फेमचॉन का लंबी बीमारी के बाद मेलबर्न में निधन हो गया है। वह 77 वर्ष के थे। स्पोर्ट ऑस्ट्रेलिया हॉल ऑफ फेम ने एक बयान में फेमचॉन के निधन की घोषणा की। वह 20 से अधिक वर्षों से पेशेवर मुक्केबाजी से जुड़े थे और उनके पास 56 जीत का रिकॉर्ड था, जिसमें 20 नॉकआउट, छह ड्रॉ और पांच हार शामिल हैं।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2022 RajasthanGyan All Rights Reserved.