Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

22 August 2022

केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने पुणे में केपीआईटी-सीएसआईआर द्वारा विकसित भारत की पहली स्वदेशी हाइड्रोजन फ्यूल सेल बस का शुभारंभ किया

केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने पुणे में केपीआईटी-सीएसआईआर द्वारा विकसित भारत की पहली स्वदेशी हाइड्रोजन ईंधन सेल बस का शुभारंभ किया। वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर) और निजी फर्म केपीआईटी लिमिटेड द्वारा विकसित इस बस को पुणे में प्रदर्शित किया गया। डॉ. जितेंद्र सिंह ने बताया कि ईंधन सेल बस को शक्ति प्रदान करने में बिजली उत्पन्न करने के लिए हाइड्रोजन और वायु का उपयोग करता है और बस से केवल पानी का प्रवाह होता है इसलिए यह संभवतः परिवहन का सबसे पर्यावरण अनुकूल साधन है। तुलनात्मक दृष्टि से लंबी दूरी के मार्गों पर चलने वाली एक डीजल बस आमतौर पर सालाना 100 टन कार्बनडाइ ऑक्साइड का उत्सर्जन करती है और भारत में ऐसी दस लाख से अधिक बसें हैं। उन्होंने कहा कि हाइड्रोजन ईंधन सेल ट्रकों की परिचालन लागत डीजल पर चलने वाले ट्रकों की तुलना में कम है और इससे देश में माल ढुलाई में क्रांति आ सकती है। जितेन्द्र सिंह का कहना है, लगभग 12-14 प्रतिशत CO2 उत्सर्जन डीजल से चलने वाले भारी वाहनों से होता है। हाइड्रोजन ईंधन सेल वाहन इस क्षेत्र में ऑन-रोड उत्त्सर्जन को खत्म करने के लिए उत्कृष्ट साधन प्रदान करते हैं।

मादक पदार्थों के तस्करों से जुड़ा भारत का पहला पोर्टल शुरू

देश में मादक पदार्थ रोधी कानूनों को लागू करने का जिम्मा संभालने वाली विभिन्न केंद्रीय और राज्य एजेंसियों के लिए अपनी तरह का पहला पोर्टल शुरू किया गया है। इस पोर्टल के जरिए कोई भी एजेंसी देश के किसी भी हिस्से से मादक पदार्थों की तस्करी से जुड़े किसी भी अपराधी का इतिहास, अपराधी की निजी जानकारी, उंगलियों के निशान और अदालती मुकदमों का विवरण हासिल कर सकती है। ‘निदान’ या ‘राष्ट्रीय एकीकृत डेटाबेस ऑन अरेस्टेड नार्को-ऑफेंडर्स’ को स्वापक नियंत्रण ब्यूरो (एनसीबी) ने विकसित किया है। यह स्वापक समन्वय तंत्र (एनसीओआरडी) पोर्टल का हिस्सा है जिसे गृह मंत्री अमित शाह ने चंडीगढ़ में 30 जुलाई को शुरू किया था। निदान आंकड़े आईसीजेएस (इंटर-ऑपरेबल क्रिमिनल जस्टिस सिस्टम) और ‘ई-प्रीजन’ पंजी से लेता है तथा इसकी योजना इसे अपराध और अपराधियों की निगरानी की नेटवर्क प्रणाली या सीसीटीएनएस से जोड़ने की है।

केन्‍द्र सरकार ने मिथिला मखाना को जीआई टैग प्रदान किया

केन्‍द्र सरकार ने मिथिला मखाना को जीआई टैग प्रदान किया है। इससे उत्‍पादकों को मखाना उत्‍पाद का अधिकतम मूल्‍य मिलेगा। इस फैसले से बिहार के मिथिला क्षेत्र के पांच लाख से अधिक किसानों को फायदा होगा। किसी उत्‍पाद को जीआई टैग मिलने पर कोई भी व्‍यक्ति या कंपनी इसी तरह की सामग्री को उसी नाम से नहीं बेच सकती। इस टैग की मान्‍यता दस वर्षों के लिए है और बाद में इसका नवीनीकरण कराया जा सकता है। जीआई पंजीकरण के अन्‍य लाभों में उस सामग्री को कानूनी संरक्षण, अनधिकृत उपयोग पर रोक और निर्यात को बढ़ावा मिलना शामिल हैं।

बिम्सटेक के महासचिव तेनजिन लेकफेल चार दिन की आधिकारिक यात्रा पर दिल्ली पहुंचेंगे

बिम्सटेक के महासचिव तेनजिन लेकफेल, चार दिन की आधिकारिक यात्रा पर दिल्ली पहुंचेंगे। वे विदेश मंत्रालय में सचिव सौरभ कुमार के निमंत्रण पर भारत की यात्रा पर आ रहे हैं। महासचिव तेनज़िन लेकफेल भारत के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बिम्सटेक संगठन को आगे बढ़ाने पर चर्चा करेंगे। भारत, बिम्सटेक मंच पर सुरक्षा सहयोग का नेतृत्व करता है जिसमें आपदा प्रबंधन, समुद्री सहयोग और ऊर्जा सुरक्षा शामिल हैं। सात देशों के बिम्सटेक नेताओं ने इस वर्ष 30 मार्च को कोलंबो में आयोजित 5वीं शिखर बैठक के दौरान बिम्सटेक चार्टर को मंजूरी दी थी। बिमस्‍टेक समूह के महासचिव तेनजिन लेकफेल 22 से 25 अगस्‍त तक भारत के दौरे पर रहेंगे। बिम्‍सटेक समूह में बंगलादेश, भूटान, भारत, म्‍यांमा, नेपाल, श्रीलंका और थाईलैण्‍ड शामिल हैं।

महाराष्ट्र सरकार, मेडिकल कॉलेज की स्थापना के लिए एशियाई विकास बैंक से चार हज़ार करोड़ रुपये का ऋण लेगी

महाराष्ट्र सरकार राज्य के 12 जिलों में मेडिकल कॉलेज स्थापित करने लिए एशियाई विकास बैंक से चार हजार करोड़ रुपये का ऋण लेगी। ये मेडिकल कॉलेज जलगांव, सतारा, अलीबाग, सिंधुदुर्ग, उस्मानाबाद, परभनी, अमरावती, रत्नागिरी, गढ़चिरौली, भण्डारा और अंबरनाथ मे स्थापित किये जाने हैं। उप-मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने कल चिकित्सा शिक्षा विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की थी। बैठक में एशियाई विकास बैंक के प्रतिनिधि भी उपस्थित थे। राज्य के चिकित्सा शिक्षा, खेल और युवा कार्य मंत्री गिरीश महाजन ने बताया कि एशियाई विकास बैंक प्रस्तावित मेडिकल कॉलेज की स्थापना के लिए चार हजार करोड़ रुपये का ऋण देने पर सहमत हो गया है। उन्होंने कहा कि इन मेडिकल कॉलेजों की स्थापना का कार्य दो वर्ष के भीतर पूरा हो जाएगा।

विदेश मंत्री डॉक्‍टर एस. जयशंकर ने पराग्‍वे में महात्‍मा गांधी की आवक्ष प्रतिमा का अनावरण किया

विदेश मंत्री डॉक्‍टर एस. जयशंकर ने पराग्‍वे के एसनशिओन में महात्‍मा गांधी की आवक्ष प्रतिमा का अनावरण किया। उन्‍होंने इस प्रतिमा को शहर के प्रमुख स्‍थल पर अवस्थित करने के एसनशिओन नगर पालिका के निर्णय की सराहना की। डॉक्‍टर जयशंकर ने एक ट्वीट में कहा कि यह हमारी एकजुटता की अभिव्‍यक्ति है, जो कोविड महामारी के दौरान और भी मजबूत रूप से व्यक्त हुई। विदेश मंत्री ऐतिहासिक कासा-डि-ला इंडिपेंडेन्‍सिया भी गये, जहां से दो शताब्‍दी पूर्व पराग्‍वे का स्‍वतंत्रता आंदोलन आरम्‍भ हुआ था। विदेश मंत्री ने कहा कि यह हमारे साझा संघर्ष और विकसित हो रहे संबंधों का समुचित साक्ष्‍य है।

अमेरिका ने यूक्रेन के लिए सैन्य पैकेज की घोषणा की

अमेरिका ने यूक्रेन-रूस युद्ध में यूक्रेन को हर संभव सहायता प्रदान करने के अपने वादे के अनुरूप 775 मिलियन अमरीकी डालर के सैन्य सहायता पैकेज की घोषणा की है। इस सहायता में “अतिरिक्त हथियार, युद्ध सामग्री और उपकरण” शामिल होंगे। 775 मिलियन अमरीकी डालर के सहायता पैकेज में 15 स्कैन ईगल, 40 माइन-प्रतिरोधी, घात-संरक्षित वाहन शामिल होंगे, जिन्हें MRAPs के रूप में जाना जाता है, जिसमें माइन-क्लियरिंग रोलर्स और 2,000 एंटी-आर्मर राउंड शामिल हैं, जो यूक्रेन के सैनिकों को दक्षिण और पूर्व में आगे बढ़ने में मदद कर सकते हैं, जहां रूसी बलों ने माइंस लगा दी हैं। उस सहायता पैकेज में 1,500 एंटी टैंक मिसाइलें, 1,000 जेवलिन मिसाइलें और रडार सिस्टम को लक्षित करने वाली हाई-स्पीड, एंटी-रेडिएशन या HARM मिसाइलों की एक अज्ञात संख्या भी शामिल है। इसके अलावा, अमेरिका 40 भारी बख्तरबंद मैक्सएक्सप्रो माइन रेजिस्टेंट वाहन भेज रहा है, जो मूल रूप से इराक में अमेरिकी सेना के लिए विकसित किए गए थे। यह नवीनतम सहायता तब मिल रही है जब यूक्रेन-रूस युद्ध छह महीने तक पहुंचने वाला है। यह बाईडेन प्रशासन की शुरुआत के बाद से यूक्रेन को कुल अमेरिकी सैन्य सहायता लगभग $ 10.6 बिलियन तक लाता है। अगस्त 2021 के बाद से पेंटागन ने यूक्रेन को रक्षा विभाग के स्टॉक्स से 19वीं बार उपकरण उपलब्ध कराए हैं।

बैंकों की हाल के वर्षों की प्रगति मौजूदा सुशासन संरचना के लिए पर्याप्‍त नहीं- भारतीय रिजर्व बैंक

भारतीय रिज़र्व बैंक ने अपनी वेबसाइट पर "भारतीय बैंकों का सुशासन, दक्षता और सुदृढ़ता" शीर्षक से डीआरजी अध्ययन जारी किया। देश के बैंकों ने हाल के वर्षों में सुशासन के मानदंडों का पालन करने में महत्‍वपूर्ण प्रगति की है लेकिन यह सामाजिक रूप से दक्षतापूर्ण मौजूदा सुशासन संरचना के लिए पर्याप्‍त नहीं है। भारतीय रिजर्व बैंक की अध्‍ययन रिपोर्ट भारत में बैंकों का सुशासन, दक्षता और सुदृढता में यह बात कही गई है। रिपोर्ट में सुझाव दिया गया है कि दीर्घकाल में बैंकों के असफल होने के जोखिम से बचने के लिए कारोबारी प्रक्रियाएं इस तरह की होनी चाहिए कि उसमें सतत् लाभ सुनिश्चित हो। यह रिपोर्ट 2008-09 से 2017-18 की अवधि के लिए अलग-अलग बैंकों की वार्षिक रिपोर्ट में उपलब्‍ध कॉर्पोरेट सुशासन की जानकारी के विश्‍लेषण पर आधारित है। रिपोर्ट में कहा गया है कि 2008-09 से 2012-13 की अवधि में भारतीय बैंक उद्योग तार्किक रूप से काफी मजबूत था, लेकिन 2013-14 में परिसंपत्ति की गुणवत्‍ता और लाभ कमाने की क्षमता में गिरावट के शुरूआती संकेत मिलने लगे थे। हाल के वर्षों में मोटे तौर पर निजी क्षेत्र के बैंकों ने अपनी मजबूत स्थिति में सुधार दिखाया, लेकिन सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के लिए मजबूती का निम्‍न स्‍तर चुनौती बना रहा है। ऐसा इसलिए हुआ क्‍योंकि इस तरह का रूझान सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के लिए अधिक व्‍यापक था। रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि सुशासन और मजबूती के आयामों पर बैंकों की नीतिगत प्राथमिकताओं में मौजूद विषमताएं देखी जा सकती हैं। अध्‍ययन की अवधि के दौरान जोखिम प्रबंधन और बोर्ड की प्रभावशीलता के कारण निजी क्षेत्र के बैंकों ने लेखा-जांच के कामकाज संबंधी सुशासन के मानदंडों का पालन करने में अपेक्षाकृत बेहतर प्रदर्शन किया है।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने इंडियन नेशनल आर्मी के योद्धा मेजर ईश्वर लाल सिंह को श्रद्धांजलि अर्पित की

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने नई दिल्ली में आयोजित स्मृति सभा में इंडियन नेशनल आर्मी के योद्धा मेजर ईश्वर लाल सिंह को श्रद्धांजलि अर्पित की। रक्षामंत्री ने उनके अस्थि कलश पर फूल चढ़ाये। रक्षा मंत्री ने कहा कि इंडियन नेशलन आर्मी के सैनिकों और उनका नेतृत्व करने वाले नेताजी सुभाष चंद्र बोस के बलिदान को देश हमेशा याद रखेगा। सिंगापुर निवासी मेजर ईश्वर लाल सिंह ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस के नेतृत्व में इंडियन नेशनल आर्मी में अपनी सेवाएं दी थीं। 92 वर्षीय मेजर सिंह का पांच अगस्त को निधन हो गया था।

देश में एक लाख से अधिक गांव ओ०डी०एफ० प्‍लस हुए

देश के एक लाख से अधिक गांवों ने स्‍वयं को ओ डी एफ प्‍लस घोषित किया है। जल शक्ति मंत्रालय ने कहा है कि इन गांवों ने खुले में शौच मुक्‍त का अपना स्‍तर निरंतर बनाए रखा है। उन्‍होंने ठोस तथा तरल कचरे के प्रबंधन के लिए प्रणालियां कायम की हैं। ये गांव स्‍वयं को अधिक स्‍वच्‍छ, हरित और स्‍वस्‍थ बनाए रखने की दिशा में काम कर रहे हैं। तेलंगाना, तमिलनाडु, ओडिसा, उत्‍तर प्रदेश और हिमाचल प्रदेश पांच ऐसे प्रमुख राज्‍य हैं जहां, अधिकतम गांव ओ डी एफ प्‍लस घोषित किए गए हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आठ वर्ष पहले स्‍वच्‍छ भारत मिशन प्रारंभ किया था। इसका लक्ष्‍य देश के गांवों को खुले में शौच मुक्‍त बनाना था। मंत्रालय के अनुसार स्‍वच्‍छ भारत मिशन ग्रामीण ने नागरिकों के जीवन की गुणवत्‍ता में सुधार लाने और स्‍वास्‍थ्‍य तथा स्‍वच्‍छता के प्रति सरकार की प्रतिबद्धता को और मजबूत किया है।

नई दिल्‍ली में सिल्‍क मार्क एक्‍सपो नामक प्रदर्शनी का उदघाटन

केन्‍द्रीय कपड़ा राज्‍यमंत्री दर्शना जरदोश ने नई दिल्‍ली में सिल्‍क मार्क एक्‍सपो नामक प्रदर्शनी का उदघाटन किया। इस प्रदर्शनी का आयोजन कपडा मंत्रालय के तहत केंद्रीय रेशम बोर्ड ने किया। यह 28 अगस्‍त तक लगी रहेगी। प्रदर्शनी में बेहतरीन रेशम उत्‍पादों का जिक्र करते हुए कपडा राज्‍यमंत्री ने कहा कि बुनकरों विशेषकर महिला कारीगरों ने शुद्ध रेशम से बने परिधानों को तैयार का भरसक प्रयास किया है जो देशभर से आये उपभोक्‍ताओं के मन को भाएंगें। सिल्‍क मार्क एक्‍सपो प्रदर्शनी के आयोजन का उद्देश्‍य रेशम उपभोक्‍ताओं के साथ सभी हितधारकों के मूल्‍य आधारित श्रृंखला को बनाए रखना है। इस बार की प्रदर्शनी में 12 राज्‍यों से 39 प्रदर्शक भाग ले रहे हैं।

महिला पुलिस का 10वां राष्ट्रीय सम्‍मेलन शिमला में शुरू

महिला पुलिस का 10वां राष्ट्रीय सम्‍मेलन शिमला में शुरू हो रहा है। दो सौ से अधिक महिला पुलिस अधिकारी और कर्मी दो दिन की इस बैठक में भाग लेंगे। गृह मंत्रालय तथा पुलिस अनुसंधान और विकास ब्‍यूरो ने हिमाचल पुलिस के सहयोग से इसका आयोजन किया है। केन्‍द्रीय गृह राज्‍य मंत्री नित्‍यानंद राय सम्‍मेलन का उद्घाटन करेंगे। बैठक का मुख्‍य उद्देश्‍य महिला पुलिस अधिकारियों की नेतृत्‍व क्षमता बढ़ाना तथा उनकी समस्‍या और चुनौतियों पर विचार-विमर्श करना है। बदलती प्रौद्योगिकी और अपराध के तरीकों के संदर्भ में महिला पुलिस की नई भूमिका और दायित्वों पर भी विचार होगा। राज्‍य पुलिस महानिदेशक संजय कुंडू ने कहा कि इस समय हिमाचल पुलिस बल में महिला कर्मियों की संख्‍या 13 प्रतिशत है और पुलिस में महिल कोटा बढ़ाकर 25 प्रतिशत किया गया है।

विस्तारा ने स्पाइसजेट को पछाड़ा भारत की दूसरी सबसे बड़ी घरेलू एयरलाइन बनीं

एयरलाइन विस्तारा ने जुलाई 2022 के महीने के लिए DGCA द्वारा हाल ही में जारी भारत के हवाई यातायात डेटा के अनुसार एक बड़ा मील का पत्थर हासिल किया है। DGCA के आंकड़ों के अनुसार, विस्तारा भारत में दूसरी सबसे बड़ी घरेलू एयरलाइन बन गई है, जो 58.8% के साथ मार्केट लीडर इंडिगो के बाद दूसरे स्थान पर है। एयरलाइन सिंगापुर एयरलाइंस के साथ टाटा संस का संयुक्त उद्यम है। नंबर तीन, चार और पांच की स्थिति में एयरलाइनों को केवल दशमलव अंकों से अलग किया गया - एयर इंडिया (8.4%), गोफर्स्ट (8.2%) और स्पाइसजेट (8%)। विस्तारा एयरलाइन सिंगापुर एयरलाइंस के साथ टाटा संस का संयुक्त उद्यम है।

सूचना और प्रसारण मंत्री ने हिमाचल प्रदेश के सोलन की बलजीत कौर को माउंट नन पर चढ़ने के लिए बधाई दी

सूचना और प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने हिमाचल प्रदेश के सोलन की बलजीत कौर को माउंट नन पर चढ़ने के लिए बधाई दी है। उन्‍होंने एक ट्वीट में उल्लेखनीय उपलब्धि हासिल करने के लिए बलजीत कौर की सराहना की। इस सफलता के साथ ही बलजीत कौर ने दुनिया भर में 18 चोटियों को फतह कर लिया है। इनमें 30 दिनों में आठ हजार मीटर ऊंची पांच चोटियों का पवर्तारोहण शामिल है।

हरियाणा की अंतिम पंघल अंडर-20 विश्‍व कुश्‍ती चैंपियनशिप में स्‍वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला पहलवान बनीं

हरियाणा की 17 वर्षीय अंतिम पंघल बुलगारिया के सोफिया में अंडर-20 विश्‍व कुश्‍ती चैंपियनशिप में स्‍वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला पहलवान बन गई हैं। उन्‍होंने 53 किलोग्राम वर्ग में कजाख्स्‍तान की एटलिन शागायेवा को आठ-शून्‍य से हराया। भारत के लिए यह स्‍वर्ण पदक ऐतिहासिक है क्‍योंकि भारत को अंडर-20 विश्‍व चैंपियनशिप की महिला कुश्‍ती में अभी तक कोई स्‍वर्ण पदक नहीं मिला था। अंतिम पंघल हरियाणा में हिसार जिले के भगाना गांव की निवासी हैं। सोनम मलिक ने 62 किलोग्राम और प्रियंका ने 65 किलोग्राम वर्ग में रजत पदक जीता।

भारत ने थाईलैंड पैरा बैडमिंटन अंतर्राष्‍ट्रीय टूर्नामेंट के डबल्‍स मुकाबले में स्‍वर्ण पदक जीता

भारत के प्रमोद भगत और सुकांत कदम ने पट्टाया में थाईलैंड पैरा बैडमिंटन अंतर्राष्‍ट्रीय टूर्नामेंट के डबल्‍स मुकाबले में स्‍वर्ण पदक जीत लिया। भारत के पैरा बैडमिंटन खिलाडियों की इस जोड़ी ने फाइनल में इंडोनेशिया की जोड़ी द्वियोको द्वियोको और फ्रेडी सेतियावान को 21-18, 21-13 से हराया। पुरूष सिंगल्‍स में भगत और कदम को अपने-अपने फाइनल मुकाबलों में हार का सामना करना पड़ा और उन्‍हें रजत पदक मिला। मिक्‍स्‍ड डबल्‍स में रूथिक रघुपति और मानसी जोशी की जोड़ी फाइनल में फ्रांस की लुकास मजूर और फॉस्टिन नोयल की जोड़ी से हार गई। महिला सिंगल्‍स में मंदीप कौर ने फाइनल में मानसी को हराकर स्‍वर्ण पदक अपने नाम किया। मनीषा रामदास ने भी फाइनल में जापान की कायदे कामियामा को हराकर स्‍वर्ण पदक जीता। नित्‍या श्रेय सुमति सिवन को भी स्‍वर्ण पदक मिला उन्‍होंने फाइनल में इंग्‍लैंड की रचेल चूंग को हराया। महिला डबल्‍स में मानसी और संथिया विश्‍वनाथन की जोड़ी थाईलैंड की निपादा सईनसुपा और चनिदा श्रीनावाकुल की जोड़ी से हार गई और उन्‍हें रजत पदक से संतोष करना पड़ा। इस टूर्नामेंट में भारत को चार स्‍वर्ण, पांच रजत और आठ कांस्‍य पदक सहित कुल 17 पदक मिले।

आतंकवाद के पीड़ितों की याद और श्रद्धांजलि देने का अंतरराष्ट्रीय दिवस

संयुक्त राष्ट्र द्वारा हर साल 21 अगस्त को आतंकवाद के पीड़ितों की याद और श्रद्धांजलि देने का अंतरराष्ट्रीय दिवस के रूप में मनाया जाता है। यह दिन दुनिया भर में आतंकवाद की वजह से घायल, मौत का शिकार हुए लोगों, पीड़ितों और प्रभावितों को सम्मान, समर्थन व सहायता देने के लिए मनाया जाता है। इस वर्ष तीसरा दिवस मनाया जा रहा है, जो कई स्मारकों और महामारी से निपटने की प्रतिक्रिया पर केंद्रित होगा, क्योंकि आतंकवाद के पीड़ितों को याद करने और उन्हें सम्मान देने के लिए समय निकालना महत्वपूर्ण है। संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 2017 में अपने प्रस्ताव 72/165 (2017) के जरिए 21 अगस्त को दुनिया भर में आतंकवाद की वजह से मौत का शिकार हुए लोगों, पीड़ितों और प्रभावितों को सम्मान, समर्थन व सहायता देने के लिए अंतरराष्ट्रीय दिवस मनाने का फ़ैसला किया था। इस दिन को पहली बार 2018 में मनाया गया था।

वरिष्ठ नागरिक दिवस

हर साल 21 अगस्त को वर्ल्ड सीनियर सिटिजंस डे मनाया जाता है। इसे पहली बार साल 1991 में मनाया गया था। संयुक्त राष्ट्र ने साल 1990 में व्यस्क यानी वृद्ध नागरिकों के सम्मान में वर्ल्ड सीनियर सिटिजंस डे मनाने की घोषणा की थी। यह दिन दुनियाभर के बुजुर्गों को सम्मान देने और उन्हें स्पेशल महसूस कराना है। अमेरिका में राष्ट्रपति रोनाल्ड रीगन ने 19 अगस्त 1988 को इस प्रस्ताव पर हस्ताक्षर किए और 21 अगस्त 1988 को संयुक्त राज्य में पहली बार अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस मनाया गया। वहीं रोनाल्ड रीगन वरिष्ठ नागरिक दिवस को पेश करने वाले पहले व्यक्ति थे।

विश्व मच्छर दिवस

हर साल 20 अगस्त को मच्छरों से बचने के लिए विश्व मच्छर दिवस मनाया जाता है। इस दिन लोगों के बीच जागरूकता (Awareness) फैलाने के लिए कई कार्यक्रम (Program) भी आयोजित किए जाते है। मच्छर दिवस उनसे होने वाली बीमारियों के बारे में बताने के लिए मनाया जाता है। मच्छर कई तरह की बीमारियों के वाहक होते हैं।

सद्भावना दिवस : 20 अगस्त

हर साल 20 अगस्त को सद्भावना दिवस रूप में मनाया जाता है। यह दिन पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को श्रद्धांजलि देने और सद्भावना के भाव का विस्तार करने के लिए मनाया जाता है। इस साल 20 अगस्त 2022 को हम पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की 78वीं जयंती मना रहे हैं। भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने उनकी मृत्यु के एक साल बाद 1992 में राजीव गांधी सद्भावना पुरस्कार की स्थापना की। इस दिन राजीव गांधी के करीबी परिवार के सदस्य, वरिष्ठ कांग्रेस पार्टी के सदस्य पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को श्रद्धांजलि देते हैं। भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने उनकी मृत्यु के एक साल बाद 1992 में राजीव गांधी सद्भावना पुरस्कार(Rajiv Gandhi Sadbhavana Award) की स्थापना की थी।भारत के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी का जन्म 20 अगस्त 1944 को हुआ था राजीव गांधी देश के सबसे युवा प्रधानमंत्री थे। वह 40 साल की उम्र में प्रधानमंत्री बने थे। भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू उनके नाना थे। भारत की पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी उनकी मां थीं। इंदिरा गांधी की हत्या के बाद राजीव गांधी प्रधानमंत्री बने थे। प्रधानमंत्री के रूप में उन्होंने 1984-89 तक देश की सेवा की।

अक्षय ऊर्जा दिवस 2022: 20 अगस्त

अक्षय ऊर्जा दिवस प्रत्येक वर्ष 20 अगस्त को भारत में अक्षय ऊर्जा को अपनाने से संबंधित विकास के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए मनाया जाता है। अक्षय ऊर्जा दिवस 2004 में अक्षय ऊर्जा विकास कार्यक्रमों का समर्थन करने और ऊर्जा के पारंपरिक स्रोतों का उपयोग करने के बजाय उनके उपयोग को बढ़ावा देने के लक्ष्य के साथ स्थापित किया गया था। 2004 का पहला कार्यक्रम नई दिल्ली में आयोजित किया गया था। उसमें, तत्कालीन प्रधान मंत्री मनमोहन सिंह ने जनता के बीच कुशल और हरित ऊर्जा स्रोतों के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए मानव श्रृंखला बनाने वाले 12,000 स्कूली बच्चों के साथ एक स्मारक डाक टिकट जारी किया।

झारखंड के पूर्व राज्यपाल सैयद सिब्ते रज़ी का लखनऊ में निधन

झारखंड के पूर्व राज्यपाल सैयद सिब्ते रज़ी का लखनऊ में निधन हो गया। वह हृदय रोग से पीड़ित थे और किंग जॉर्ज मेडिकल कॉलेज में उनका इलाज चल रहा था। उन्होंने वर्ष 2004 से 2009 तक झारखंड के राज्यपाल के रूप में कार्य किया। सैयद सिब्ते रज़ी कांग्रेस से जुड़े थे। वे तीन बार राज्यसभा के सदस्य रहे। बाद में उन्हें झारखंड और असम का राज्यपाल बनाया गया। झारखंड के राज्यपाल रमेश बैस ने सैयद सिब्ते रज़ी के निधन पर दुख व्यक्त किया और दिवंगत आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की है। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने भी उनके परिवार के प्रति संवेदना व्‍यक्‍त की है।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2022 RajasthanGyan All Rights Reserved.