Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

11 September 2022

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने जम्मू-कश्मीर के एक गुर्जर-मुस्लिम गुलाम अली को राज्यसभा के लिए नामित किया

राष्‍ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने जम्‍मू-कश्‍मीर से श्री गुलाम अली को राज्‍यसभा के लिए नामित किया है। श्री अली गुर्जर मुस्लिम समुदाय से हैं। केन्‍द्र सरकार की सलाह पर राष्‍ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने श्री गुलाम अली को नामित किया है। यह संभवत: पहली बार है, जब जम्मू कश्मीर के गुर्जर मुस्लिम समुदाय के किसी व्यक्ति को मनोनीत सदस्य के रूप में उच्च सदन में भेजा गया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात में अहमदाबाद में केन्‍द्र राज्‍य विज्ञान सम्‍मेलन का उद्घाटन किया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से अहमदाबाद की साइंस सिटी में दो दिन के केंद्र-राज्य विज्ञान सम्मेलन का उद्घाटन किया। सम्मेलन का उद्देश्य सहकारी संघवाद के उत्साह से केंद्र और राज्य के बीच समन्वय और सहयोग तंत्र मजबूत करना और पूरे देश में विज्ञान, प्रौद्योगिकी और नवाचार (एसटीआई) के एक सशक्त इको-सिस्टम का निर्माण करना है।

भारतीय रेलवे नई तेज रफ्तार रेलगाड़ी वंदे भारत-दो शुरू करेगा

भारतीय रेलवे नई तेज रफ्तार वंदे भारत रेलगाड़ी शुरू करेगा। इसका नाम वंदे भारत -दो होगा और इसकी अधिकतम गति 180 किलोमीटर प्रति घंटा होगी । यह मात्र 52 सैकेण्‍ड में सौ किलोमीटर तक की गति हासिल कर लेगी। इस नयी रेलगाड़ी का वजन 430 टन के स्‍थान पर 392 टन होगा और इसमें मांग पर वाई-फाइ सुविधा भी उपलब्‍ध कराई जाएगी। नई वंदे भारत रेलगाड़ी में 32 इंच का एल.सी.डी. टेलीविजन होगा और 15 प्रतिशत अधिक ऊर्जा दक्ष ए.सी. सुविधा होगी। इसमें सभी श्रेणियों के यात्रियों के लिए आरामदायक सीटों की व्‍यवस्‍था की गई है। वंदे भारत एक्‍सप्रेस की इस नई डिजाइन में शुद्ध हवा के लिए भी विशेष प्रणाली काम करेगी।

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना-पीएमएमएसवाई ने दो वर्ष पूरे किये

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना-पीएमएमएसवाई ने दो वर्ष पूरे कर लिए हैं। योजना के तहत वर्ष 2024-25 के अंत तक 68 लाख रोजगार सृजन की परिकल्पना की गई है। मत्स्य पालन क्षेत्र में 2019-20 से लेकर 2021-22 तक 14 दशमलव 3 प्रतिशत की प्रभावी वृद्धि देखी गई है। वर्ष 2021-22 के दौरान मछली उत्पादन अब तक 161 दशमलव 87 लाख टन के सबसे ऊंचे स्‍तर पर पहुंच गया है। इस क्षेत्र में 13 दशमलव 64 लाख टन का अब तक का सबसे अधिक निर्यात हुआ, जो कि 57 हजार 587 करोड़ रुपये रहा जिसमें झींगा का सर्वाधिक निर्यात रहा। पीएमएमएसवाई के अंतर्गत देश भर के 31 दशमलव 47 लाख किसानों को बीमा कवरेज दिया गया।

भारत ने परामर्श सुविधा के लिए खाड़ी सहयोग परिषद के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए

विदेश मंत्री सुब्रह्मण्‍यम जयशंकर ने खाड़ी सहयोग परिषद के महासचिव नाएफ फलह मुबारक अल-हजरफ के साथ भारत और खाड़ी सहयोग परिषद के बीच परामर्श तंत्र विकसित करने के सहमति-पत्र पर हस्‍ताक्षर किए हैं। डॉक्‍टर जयशंकर ने द्विपक्षीय बैठक में वर्तमान क्षेत्रीय और वैश्विक स्थिति के संदर्भ में भारत और खाड़ी सहयोग परिषद के बीच सहयोग की प्रासंगिकता पर चर्चा की। विदेश मंत्री दस से बारह सितम्‍बर तक तीन दिन की सऊदी अरब यात्रा पर हैं। विदेश मंत्री के रूप में यह उनकी पहली सऊदी यात्रा है।

ब्रिटेन में चार्ल्‍स तृतीय को औपचारिक रूप से ब्रिटेन का नया राष्‍ट्राध्‍यक्ष घोषित किया गया

ब्रिटेन में सेंट जेम्‍स पैलेस ने चार्ल्‍स तृतीय को औपचारिक रूप से ब्रिटेन का नया राष्‍ट्राध्‍यक्ष घोषित किया गया। वरिष्‍ठ राजनेताओं, न्‍यायधीशों और अधिकारियों की उत्‍तराधिकार परिषद ने बैठक में महारानी एलीजाबेथ द्वितीय के निधन के बाद चार्ल्‍स तृतीय को उनका उत्‍तराधिकारी घोषित किया। एतिहासिक समारोह का पहली बार टेलीविजन पर प्रसारण किया गया। प्रीवी काउंसिल के दो सौ सदस्‍यों ने बैठक में हिस्‍सा लिया। इसमें पूर्व प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन, टेरिजा में, डेविड कैमरॉन, गॉडन ब्राउन,टोनी ब्‍लेयर और जॉन मेजर उपस्थित थे। उत्‍तराधिकारी की घोषणा होने के बाद सम्राट चार्ल्‍स ने प्रीवी काउंसिल के साथ बैठक की।

भारतीय नौसेना के नीलगिरी श्रेणी के स्वदेशी स्टेल्थ फ्रिगेट 'तारागिरी' का जलावतरण

नौसेना स्‍वदेश में निर्मित नीलगिरि श्रेणी के राडार से बचने में सक्षम तारागिरि युद्धपोत का जलावतरण करेगी। इस युद्धपोत का निर्माण नौसेना के लिए मझगांव डॉक शिपबिल्डर्स लिमिटेड ने किया है। तारागिरी युद्धपोत एक सौ 49 मीटर लंबा और 17 दशमलव 8 मीटर चौड़ा है। यह पोत दो गैस टर्बाइनों और दो मुख्य डीजल इंजनों के संयोजन से संचालित होता है। तारागिरी को एकीकृत निर्माण प्रणाली से बनाया गया है।

भारत के समृद्ध समुद्री इतिहास का प्रदर्शन करने के लिए लोथल (गुजरात) में राष्ट्रीय समुद्री विरासत परिसर का निर्माण किया जाएगा

बंदरगाह, नौवहन और जलमार्ग मंत्रालय गुजरात में ऐतिहासिक सिंधु घाटी सभ्यता क्षेत्र लोथल में राष्ट्रीय समुद्री धरोहर परिसर का निर्माण कर रहा है। तीन हज़ार पांच सौ करोड़ रुपये की लागत से बनने वाला अपनी तरह का यह पहला परिसर होगा जो भारत की समृद्ध और विविध समुद्री विरासत को प्रदर्शित करेगा। इस परियोजना की आधारशिला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रखी थी। बंदरगाह, नौवहन और जलमार्ग मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने एक बयान में कहा है कि यह उनके मंत्रालय की सागरमाला योजना के तहत प्रमुख परियोजनाओं में से एक है। उन्होंने कहा कि नवीनतम तकनीक का उपयोग कर लोगों को समुद्री विरासत के बारे में बताया जाएगा। परियोजना का पहला चरण मार्च 2024 तक पूरा हो जाने की संभावना है। गुजरात सरकार इस परियोजना में अहम भूमिका निभा रही है।

गृहमंत्री अमित शाह ने जैसलमेर में सीमा पर्यटन विकास कार्यक्रम के अंतर्गत श्री तनोट मंदिर कॉम्प्लेक्स परियोजना का शिलान्यास और भूमिपूजन किया

केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री श्री अमित शाह ने अपनी राजस्थान यात्रा के दूसरे दिन जैसलमेर में सीमा पर्यटन विकास कार्यक्रम के अंतर्गत श्री तनोट मंदिर कॉम्प्लेक्स परियोजना का शिलान्यास और भूमिपूजन किया। श्री तनोट मन्दिर कॉम्प्लेक्स परियोजना, सीमा पर्यटन विकास कार्यक्रम के अंतर्गत केन्द्रीय पर्यटन मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा शुरू की जा रही है। इस परियोजना के तहत प्रतीक्षालय, रंगभूमि, इंटप्रेटेशन केंद्र, बच्चों के लिए कक्ष एवं पर्यटन को बढ़ावा देने के लिय अन्य ज़रूरी सुविधाओं को विकसित किया जाएगा। जैसलमेर के ऐतिहासिक श्री मातेश्वरी तनोट राय मंदिर का अद्भुत इतिहास है और ऐसी मान्यता है कि तनोट माँ जवानों को दुश्मनों से लड़ने की शक्ति देती हैं और युद्ध में देश की रक्षा करती हैं। 1965 के भारत-पाकिस्तान युद्ध में श्री तनोट राय माता मंदिर परिसर में पकिस्तान द्वारा कई बम के गोले गिराए गये थे लेकिन तनोट माता के चमत्कार से कोई भी गोला नहीं फटा था। वर्ष 1965 से सीमा सुरक्षा बल इस मन्दिर की पूजा अर्चना एवं व्यवस्था का कार्यभार संभाल रहा है। सीमा सुरक्षा बल इस मन्दिर को एक ट्रस्ट के माध्यम से संचालित करता है एवं प्रतिदिन सुबह-शाम माता की आरती एवं भजन संध्या का आयोजन किया जाता है जिसमें हज़ारों की तादाद में देश के विभिन्न हिस्सों से श्रद्धालुगण आते हैं। इतिहास गवाह है कि 1971 के भारत- पाकिस्तान लोंगेवाला युद्ध के दौरान सीमा सुरक्षा बल के बहादुर जवानों ने लोंगेवाला पोस्ट पर‌ अहम एवं निर्णायक भूमिका अदा की थी।

मंगोलिया के राष्ट्रपति ने राजनाथ सिंह को घोड़ा उपहार में दिया

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह तीन दिनी मंगोलिया और जापान की यात्रा पर हैं। किसी भारतीय रक्षा मंत्री की यह पहली मंगोलिया यात्रा है। उन्होंने इस दौरान मंगोलिया के राष्ट्रपति उखनागिन खुरेलसुख से मुलाकात की। इस मुलाकात में उन्होंने राजनाथ सिंह को मंगोलिया का राजसी घोड़ा भेंट किया। इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सात साल पहले मंगोलिया यात्रा के दौरान घोड़ा भेंट किया गया था। दोनों नेताओं ने दोनों देशों के बीच रणनीतिक द्विपक्षीय संबंधों की समीक्षा की। किसी भारतीय रक्षा मंत्री का इस पूर्वी एशियाई देश का यह पहला दौरा है।राजनाथ सिंह ने सफेद घोड़े की तस्वीरों के साथ ट्वीट किया। उन्होंने लिखा, ‘मंगोलिया में हमारे खास दोस्तों की तरफ से एक विशेष उपहार। मैंने इस शानदार और सुंदर घोड़े का नाम तेजस रखा है। अमेरिकन म्यूजियम ऑफ नेचुरल हिस्ट्री (एएमएनएच) के अनुसार, मंगोलिया को घोड़ों की भूमि के रूप में जाना जाता है। मंगोलिया 3 मिलियन से अधिक घोड़ों का घर है, जिससे घोड़ों की आबादी विशाल राष्ट्र में मानव आबादी के लगभग बराबर हो जाती है।

अमेरिका ने यूरोप के लिए दो अरब अमेरिकी डॉलर की सैन्य सहायता की घोषणा की

अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने कीव की अघोषित यात्रा की तथा यूक्रेन और रूस से चुनौती का सामना कर रहे अन्य यूरोपीय देशों के लिए दो अरब डॉलर की नई सैन्य सहायता की घोषणा की। ब्लिंकन ने कहा कि बाइडन प्रशासन यूक्रेन और उसके 18 पड़ोसियों को दीर्घकालिक विदेशी सैन्य मदद के तहत दो बिलियन डॉलर देगा, जिसमें नाटो के सदस्य और क्षेत्रीय सुरक्षा भागीदार शामिल हैं जो भविष्य में रूसी आक्रमण के लिए सबसे संभावित जोखिम क्षेत्र में हैं।

अमेरिका ने पाकिस्तान को 450 मिलियन डॉलर के पैकेज की घोषणा की

अमेरिका ने F-16 लड़ाकू जेट बेड़े के रखरखाव के लिए पाकिस्तान को 450 मिलियन अमरीकी डॉलर (3600 करोड़ रुपये) सहायता की मंजूरी दे दी है। इस बात की जानकारी अमेरिकी विदेश विभाग ने दी है। अमेरिकी विदेश विभाग के अनुसार इस वित्तीय सहायता से रक्षा क्षेत्र में पाकिस्तान की वर्तमान जरूरत को पूरा करने की क्षमता को बनाए रखेगा। बता दें कि ट्रम्प द्वारा साल 2018 में पाकिस्तान को सभी रक्षा और सुरक्षा सहायता को रोकने की घोषणा करने के बाद पाकिस्तान को दी गई यह पहली बड़ी सुरक्षा सहायता है।

Adani Group 70 अरब डॉलर के हरित निवेश के तहत तीन गीगा कारखाने लगाएगा

बिजली क्षेत्र में कार्यरत अडानी समूह स्वच्छ ऊर्जा क्षेत्र में 2030 तक 70 अरब डॉलर के निवेश के तहत सौर मॉड्यूल, पवन टर्बाइन और हाइड्रोजन इलेक्ट्रोलाइजर बनाने के लिए तीन गीगा कारखाने लगाएगा। एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति गौतम अडानी ने यह जानकारी दी। बता दें, अडानी समूह हरित ऊर्जा मूल्य श्रृंखला में निवेश बढ़ा रहा है। समूह का लक्ष्य 2030 तक दुनिया का शीर्ष नवीकरणीय ऊर्जा उत्पादक बनना है। गौतम अडानी ने यूएसआईबीसी ग्लोबल लीडरशिप अवॉर्ड प्राप्त करने के बाद कहा कि अडानी समूह पहले ही 70 अरब डॉलर (जलवायु परिवर्तन और हरित ऊर्जा के लिए) के निवेश के लिए प्रतिबद्ध है। इससे हम भारत में तीन गीगा कारखानों का विनिर्माण करेंगे, जो दुनिया की सबसे एकीकृत हरित-ऊर्जा मूल्य श्रृंखलाओं में से एक है।

राष्ट्रीय महिला आयोग (एनसीडब्ल्यू) ने गुजरात विश्वविद्यालय में पश्चिमी क्षेत्रीय परामर्श बैठक का आयोजन किया

महिला विकास प्रकोष्ठ और आंतरिक शिकायत समिति, गुजरात विश्वविद्यालय के सहयोग से 'राष्ट्रीय महिला आयोग' (National Women Commission-NCW) ने विभिन्न हितधारकों जिसमें गुजरात, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, गोवा राज्यों और केंद्रशासित प्रदेश दादरा नगर हवेली तथा दमन और दीव के महिला आयोगों तथा महिला एवं बाल विकास विभाग के प्रतिनिधि एवं स्वाधार गृह, उज्ज्वला और वन स्टॉप सेंटर्स का प्रतिनिधित्त्व करने वाले गैर सरकारी संगठन शामिल हैं, के साथ एक दिवसीय पश्चिमी क्षेत्रीय परामर्श बैठक का आयोजन किया। इस परामर्श बैठक में इन संगठनों के समक्ष आने वाली विभिन्न समस्याओं और उनके कारणों तथा महिला कल्याण, आश्रय, सशक्तिकरण एवं अधिकारों की सुरक्षा जैसे विषयों पर विचार-विमर्श किया गया। NCW की अध्यक्षा सुश्री रेखा शर्मा ने इस परामर्श बैठक में मुख्य अतिथि के रूप में भाग लिया। भारत में महिलाओं की स्थिति पर गठित समिति ने लगभग पाँच दशक पहले शिकायतों के निवारण की सुविधा एवं महिलाओं के सामाजिक-आर्थिक विकास में तीव्रता लाने हेतु निगरानी कार्यों को पूरा करने के लिये ‘राष्ट्रीय महिला आयोग’ की स्थापना की सिफारिश की थी। महिलाओं के लिये राष्ट्रीय परिप्रेक्ष्य योजना (1988-2000) सहित अन्य सभी समितियों और आयोगों ने महिलाओं के लिये एक शीर्ष निकाय के गठन की सिफारिश की। राष्ट्रीय महिला आयोग अधिनियम, 1990 के तहत राष्ट्रीय महिला आयोग की स्थापना जनवरी 1992 में एक वैधानिक निकाय के रूप में की गई थी। आयोग का गठन 31 जनवरी 1992 को ‘जयंती पटनायक’ की अध्यक्षता में किया गया था। आयोग में एक अध्यक्ष, एक सदस्य सचिव और पाँच अन्य सदस्य होते हैं। NCW के अध्यक्ष को केंद्र सरकार द्वारा नामित किया जाता है।

इंडिगो ने पीटर एल्बर्स को नया सीईओ नियुक्त किया

इंडिगो ने पीटर एल्बर्स को एयरलाइन का नया मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) नियुक्त किया है। पीटर एल्बर्स ने एयरलाइन कंपनी इंडिगो के सीईओ का पद संभाल लिया है। एल्बर्स ने रोनोजॉय दत्ता की जगह ली है। एयरलाइन ने दत्ता के 30 सितंबर को सेवानिवृत्त होने के फैसले के बाद एल्बर्स को नये सीईओ के लिए नामित किया था।

नासा का टिफिन बॉक्स के आकार का एक यंत्र मंगल पर ऑक्सीजन बनाने में सफल हुआ

नासा के टिफिन बॉक्स के आकार वाला छोटा-सा उपकरण मंगल ग्रह पर ऑक्सीजन बनाने में कामयाब हो गया है। बता दें ‘मॉक्सी’ नाम का उपकरण कार्बन डाइऑक्साइड (co2) से ऑक्सीजन बना रहा है। यह एक घंटे में इतनी ऑक्सीन बना सकता है, जितनी एक छोटा पेड़ बनाता है। हर परीक्षण में इसने प्रति घंटा छह ग्राम ऑक्सीजन बनाया। शोधकर्ताओं ने कहा कि मंगल पर मनुष्यों से पहले मॉक्सी के बड़े संस्करण को भेजना होगा, जो सैकड़ों पेड़ों की क्षमता के बराबर ऑक्सीजन बना सके। मॉक्सी नासा के पर्सीवरेंस रोवर मिशन के अंतर्गत मंगल पर भेजा गया था। साल 2021 के अंत तक मॉक्सी दिन-रात में विभिन्न तरह की सात परिस्थितियों में ऑक्सीजन उत्पादन में सक्षम था। शोधकर्ताओं को उम्मीद है कि पूरी क्षमता के साथ यह सिस्टम मनुष्यों के मंगल पर पहुंचने के बाद उन्हें जीवित रखने के लिए जरूरी ऑक्सीजन बना सकता है। इसके अतिरिक्त बची हुई ऑक्सीजन मनुष्यों को पृथ्वी पर वापस लाने वाले रॉकेट के ईंधन में इस्तेमाल की जा सकती है। मंगल पर मौजूद इस उपकरण का वर्जन इसलिए छोटा रखा गया, ताकि यह पर्सीवरेंस रोवर में फिट हो सके।

विश्व आत्महत्या रोकथाम दिवस

प्रत्येक वर्ष 10 सितंबर को विश्व आत्महत्या रोकथाम दिवस (World Suicide Prevention Day) मनाया जाता है। इसका उद्देश्य लोगों में मानसिक स्वास्थ के प्रति जागरुकता फैलाना और आत्महत्या के बढ़ते मामलों को रोकना है। इसकी शुरुआत इंटरनेशनल एसोसिएशन ऑफ सुसाइड प्रिवेंशन (IASP) द्वारा वर्ष 2003 में की गई थी। इस दिन को वर्ल्ड फेडरेशन फॉर मेंटल हेल्थ एंड वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन द्वारा स्पॉन्सर्ड किया जाता है। विश्व आत्महत्या रोकथाम दिवस को मनाने का पहला वर्ष सफल होने के बाद वर्ष 2004 में विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) औपचारिक रूप से इस आयोजन को फिर से को-स्पॉन्सर करने के लिये तैयार हुआ जिससे यह दिन एक वार्षिक मान्यता प्राप्त दिन (Annually Recognized Day) बन गया। वर्ष 2022 के लिये विश्व आत्महत्या रोकथाम दिवस की थीम ‘Creating hope through action’ यानी “लोगों में अपने काम के जरिये उम्मीद पैदा करना” निर्धारित की गयी है।इस दिन आयोजित होने वाले कार्यक्रम इसी थीम पर आधारित होंगे, इस थीम के माध्यम से विश्व स्वास्थ्य संगठन यह संदेश देना चाहता है कि आत्महत्या करने की सोच रखने वालों को किसी भी तरह से अपनी उम्मीद नहीं छोड़नी चाहिये।

शिक्षा को हमले से बचाने के लिए अंतर्राष्ट्रीय दिवस: 9 सितंबर

9 सितंबर को विश्व स्तर पर शिक्षा को हमले से बचाने के लिए अंतर्राष्ट्रीय दिवस मनाया (International Day to Protect Education from Attack) जाता है। साल 2020 में पहली बार शिक्षा को हमले से बचाने के लिए अंतर्राष्ट्रीय दिवस मनाने की घोषणा की गई थी। इस दिवस का मुख्य उद्देश्य छात्रों और शिक्षकों के लिए सुरक्षा और सुरक्षा के स्थानों के रूप में स्कूलों की सुरक्षा के महत्व के बारे में जागरूकता बढ़ाना और सार्वजनिक एजेंडे के शीर्ष पर शिक्षा को बनाए रखने की आवश्यकता है।

Himalaya Diwas 2022: 9 सितंबर

हिमालयी पारिस्थितिकी तंत्र और क्षेत्र को संरक्षित करने के उद्देश्य से हर साल 9 सितंबर को हिमालय दिवस (Himalaya Day) मनाया जाता है। आम जनता के बीच जागरूकता बढ़ाने और संरक्षण गतिविधियों में सामुदायिक भागीदारी लाने के लिए हिमालय दिवस भी एक उत्कृष्ट दिन है। 2015 में, 9 सितंबर को आधिकारिक तौर पर उत्तराखंड के तत्कालीन मुख्यमंत्री द्वारा हिमालय दिवस के रूप में घोषित किया गया था। हिमालय प्रकृति को बचाने और बनाए रखने और प्रतिकूल मौसम की स्थिति से देश की रक्षा करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। हिमालय दिवस 2022 को ‘हिमालय तभी सुरक्षित रहेगा जब उसके निवासियों के हितों की रक्षा होगी’ थीम के तहत मनाया जा रहा है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रख्यात पुरातत्वविद् बी बी लाल के निधन पर दुख व्‍यक्‍त किया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रख्यात पुरातत्वविद् बी बी लाल के निधन पर दुख व्‍यक्‍त किया है। एक ट्वीट में उन्‍होंने कहा कि बी बी लाल ने संस्कृति और पुरातत्व में अद्वितीय योगदान दिया। प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्‍हें एक महान बुद्धिजीवी के रूप में याद किया जाएगा। बीबी लाल भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (ASI) के महानिदेशक रहे थे और उन्हें अयोध्या (Ayodhya) में उस स्थल पर खुदाई के दौरान मंदिर जैसे स्तंभ मिले थे, जहां अब राम मंदिर (Ram Mandir) का निर्माण किया जा रहा है। लाल एएसआई के सबसे कम उम्र के महानिदेशकों में से एक थे और वह 1968 से 1972 तक पद पर रहे थे। वर्ष 1921 में उत्तर प्रदेश के झांसी में जन्मे ब्रज बासी लाल यानी बीबी लाल को देश के नामी इतिहासकार थे। वर्ष 2000 में बीबी लाल को पद्म भूषण से सम्मान किया गया था। बीबी लाल ने हस्तिनापुर (उत्तर प्रदेश), शिशुपालगढ़ (उड़ीसा), पुराण किला (दिल्ली), कालीबंगन (राजस्थान) सहित कई महत्वपूर्ण ऐतिहासिक स्थलों की खदाई कर इतिहास की बहुत सारी परत दुनिया के सामने खोली हैं।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2022 RajasthanGyan All Rights Reserved.