Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

29 October 2022

प्रधानमंत्री ने राज्यों के गृह मंत्रियों के 'चिंतन शिविर' को संबोधित किया

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए राज्यों के गृह मंत्रियों के 'चिंतन शिविर' को संबोधित किया। चिंतन शिविर 27 और 28 अक्टूबर 2022 को हरियाणा के सूरजकुंड में आयोजित किया जा रहा है। गृह सचिव और राज्यों के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी), केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (सीएपीएफ) और केंद्रीय पुलिस संगठनों (सीपीओ) के महानिदेशक भी चिंतन शिविर में भाग ले रहे हैं। प्रधानमंत्री द्वारा अपने स्वतंत्रता दिवस के भाषण में घोषित पंच प्रण के अनुसार गृह मंत्रियों का चिंतन शिविर आंतरिक सुरक्षा से संबंधित मामलों पर नीति निर्माण के लिए एक राष्ट्रीय परिप्रेक्ष्य प्रदान करने का एक प्रयास है। सहकारी संघवाद की भावना से शिविर, केंद्र और राज्य स्तर पर विभिन्न हितधारकों के बीच योजना और समन्वय में अधिक तालमेल लाएगा। शिविर में पुलिस बलों के आधुनिकीकरण, साइबर अपराध प्रबंधन, आपराधिक न्याय प्रणाली में आईटी के बढ़ते उपयोग, भूमि सीमा प्रबंधन, तटीय सुरक्षा, महिला सुरक्षा और मादक पदार्थों की तस्करी जैसे मुद्दों पर विचार-विमर्श किया जा रहा है।

सीमावर्ती राज्‍यों के साथ बेहतर सम्‍पर्क स्‍थापित करने के लिए सीमा सड़क संगठन की 75 परियोजनाएं राष्ट्र को समर्पित

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने लेह में देश के आखिरी गांव श्योक से सीमा सड़क संगठन की 75 परियोजनाएं राष्ट्र को समर्पित कीं। इन परियोजनाओं में जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, अरुणाचल प्रदेश, सिक्किम और राजस्थान सहित अंतरराष्ट्रीय सीमा से लगे राज्यों में 45 पुल, 27 सड़कें और दो हेलीपैड शामिल हैं। रक्षा मंत्री ने लद्दाख में एक कार्बन न्यूट्रल आवासीय परिसर और दो हेलीपैड का उद्घाटन भी किया। रक्षा मंत्री ने सीमा सड़क संगठन को अंतिम मील संपर्क प्रदान करने और सीमावर्ती राज्यों तथा सशस्त्र बलों के लिए रणनीतिक आवश्यकताओं को पूरा करने में समर्पण के साथ नई ऊंचाइयां छूने के लिए बधाई दी। एक सौ बीस मीटर श्‍योक पुल को दुरबुक-श्योक गांव को दौलत बेग ओल्डी, डीएसडीबीओ से जोड़ने वाले बारह हजार फीट से अधिक की ऊंचाई पर स्थित पहले के 20 मीटर बेली पुल के स्‍थान पर बनाया गया है। चुनौतीपूर्ण जलवायु और प्रतिकूल परिस्थितियों में पुल को बारह महीने के रिकॉर्ड समय में पूरा किया गया है।

शेफाली जुनेजा को संयुक्त राष्ट्र की वायु परिवहन समिति की अध्यक्ष के रूप में नामित किया गया

अंतर्राष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संगठन (ICAO) में भारत की प्रतिनिधि, शेफाली जुनेजा को संयुक्त राष्ट्र की विशेष विमानन एजेंसी की वायु परिवहन समिति (ATC) की अध्यक्ष के रूप में चुना गया है। भारतीय राजस्व सेवा (आयकर संवर्ग) के 1992 बैच की अधिकारी जुनेजा ने आईसीएओ में शामिल होने से पहले नागरिक उड्डयन मंत्रालय (MoCA) में संयुक्त सचिव के रूप में कार्य किया। भारत ने 28 साल बाद आईसीएओ में यह स्थान हासिल किया जब जुनेजा को सर्वसम्मति से इस पद के लिए चुना गया। वह आईसीएओ में भारत का प्रतिनिधित्व करने वाली पहली महिला हैं। ATC 1944 में शिकागो कन्वेंशन द्वारा बनाई गई ICAO की एक स्थायी समिति है।

संगीता वर्मा प्रतिस्पर्धा आयोग की कार्यवाहक प्रमुख नियुक्त

सरकार ने संगीता वर्मा को भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआई) का कार्यवाहक चेयरपर्सन नियुक्त किया। यह नियुक्ति पूर्णकालिक चेयरमैन अशोक कुमार गुप्ता के मंगलवार को पद छोड़ने के बाद हुई है। वर्मा वर्तमान में सीसीआई की सदस्य हैं।

सेल और एएआई ने राउरकेला में हवाई अड्डे के वाणिज्यिक संचालन के लिए समझौता किया आरसीएस उड़ान योजना के अंतर्गत हुआ समझौता

स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (सेल) और एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एएआई) ने ओडिशा राज्य में राउरकेला से वाणिज्यिक उड़ान के लिए नई दिल्ली में एक ऑपरेशन एंड मैनेजमेंट (ओ एंड एम) समझौता किया है। सेल ने 2018 में, उड़ान योजना के अंतर्गत, वाणिज्यिक उड़ानों के संचालन हेतु अपने निजी हवाई अड्डे के उपयोग के लिए एक समझौता किया था। अब सेल ने राउरकेला से वाणिज्यिक उड़ान शुरू करने के लिए राउरकेला स्टील प्लांट के जरिये एएआई के साथ ,ओ एंड एम अनुबंध पर हस्ताक्षर किए हैं। नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने इस हवाई अड्डे के उन्नयन के लिए वित्तीय सहायता प्रदान की है। ओडिशा सरकार अन्य स्थानीय क्लिएरेन्सेज की प्राप्ति के अलावा सुरक्षा, फायर और एम्बुलेंस सेवाएं प्रदान करेगी। सेल - राउरकेला स्टील प्लांट की ओर से एएआई , हवाई अड्डे का संचालन और प्रबंधन करेगा। यह हवाई अड्डा औद्योगिक शहर राउरकेला और आसपास के सभी हवाई यात्रियों को हवाई कनेक्टिविटी की सुविधा प्रदान करेगा।

आकांक्षा व्यवहारे ने खेलो इंडिया टूर्नामेंट में भारोत्तोलन के 40 किग्रा वर्ग में राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाया

महाराष्ट्र की भारोत्तोलक आकांक्षा व्यवहारारे ने 40 किग्रा वर्ग में नया राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाया है। भारोत्तोलक आकांक्षा, जो लक्ष्य ओलंपिक पोडियम योजना का भी एक हिस्सा रही हैं, ने सभी 3 स्कोर - स्नैच, क्लीन और जर्क के साथ कुल योग में भी राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाए हैं। यह उपलब्धि नोएडा, गाजियाबाद में चल रहे खेलो इंडिया राष्ट्रीय रैंकिंग महिला भारोत्तोलन टूर्नामेंट फेज 2 के पहले दिन (शुक्रवार) को हासिल की गयी है। आकांक्षा ने 60 किग्रा भार उठाकर अपने मौजूदा स्नैच राष्ट्रीय रिकॉर्ड को बेहतर बनाया। उन्होंने क्लीन एंड जर्क में 71 किग्रा रिकॉर्ड किया और इस प्रक्रिया में, कुल 131 किग्रा का भार दर्ज किया। उन्होंने 40 किग्रा युवा महिला वर्ग में भाग लिया था।

एयरबस डिफेंस और टाटा समूह द्वारा भारत में भारतीय वायु सेना के लिए परिवहन विमान बनाया जाएगा

'मेक इन इंडिया' और घरेलू विमानन निर्माण को बढ़ावा देने के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी 30 अक्टूबर, 2022 को वडोदरा, गुजरात में भारतीय वायु सेना (आईएएफ) के लिए एक परिवहन विमान निर्माण परियोजना की आधारशिला रखेंगे। यह स्मरण रखा जा सकता है कि सुरक्षा पर बनी कैबिनेट समिति ने 08 सितंबर, 2021 को मेसर्स एयरबस डिफेंस एंड स्पेस एस.ए., स्पेन से 56 सी-295एमडब्लू परिवहन विमान की खरीद को मंजूरी दी थी। 24 सितंबर, 2021 को रक्षा मंत्रालय ने संबंधित उपकरणों के साथ विमान के अधिग्रहण के लिए मेसर्स एयरबस डिफेंस एंड स्पेस एस.ए. के साथ एक अनुबंध पर हस्ताक्षर किए। रक्षा सचिव डॉ. अजय कुमार ने कहा कि अनुबंध के अंतर्गत 16 विमानों की आपूर्ति फ्लाईवे स्थिति में की जाएगी और 40 का निर्माण भारत में टाटा एडवांस्ड सिस्टम्स लिमिटेड के नेतृत्व में टीएएसएल और टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) के भारतीय विमान कॉन्ट्रेक्टर टाटा कंसोर्टियम द्वारा किया जाएगा। यह अपनी तरह की पहली परियोजना है जिसमें एक निजी कंपनी द्वारा भारत में एक सैन्य विमान का निर्माण किया जाएगा। इस परियोजना की कुल लागत 21,935 करोड़ रुपये है। इस विमान का इस्तेमाल नागरिक उद्देश्यों के लिए भी किया जा सकता है। पहले 16 फ्लाई-अवे विमान सितंबर 2023 और अगस्त 2025 के बीच प्राप्त होने वाले हैं। पहला मेड इन इंडिया विमान सितंबर 2026 से आने की उम्मीद है। C-295 एमडब्लू समकालीन तकनीक के साथ 5 से 10 टन क्षमता का एक परिवहन विमान है जो भारतीय वायुसेना के पुराने एवरो विमान की जगह लेगा। इसमें त्वरित प्रतिक्रिया और सैनिकों और कार्गो के पैरा ड्रॉपिंग के लिए एक रियर रैंप दरवाजा है। अर्ध-तैयार सतहों से शॉर्ट टेक-ऑफ/लैंडिंग इसकी एक और विशेषता है। विमान भारतीय वायुसेना की रसद क्षमताओं को मजबूत करेगा।

वायुसेना स्टेशन जोधपुर में गरुड़-VII अभ्यास

भारतीय वायु सेना (आईएएफ) और फ्रांसीसी वायु और अंतरिक्ष बल (एफएएसएफ) दिनांक 26 अक्टूबर से 12 नवंबर, 2022 तक जोधपुर वायु सेना स्टेशन पर 'गरुड़ VIl' नामक एक द्विपक्षीय अभ्यास में भाग ले रहे हैं। इस अभ्यास में एफएएसएफ चार राफेल लड़ाकू विमान, एक A-330 मल्टी रोल टैंकर ट्रांसपोर्ट (एमआरटीटी) विमान और 220 कर्मियों की एक टुकड़ी के साथ भाग लेगा। भारतीय वायुसेना सू-30 एमकेआई, राफेल, एलसीए तेजस और जगुआर लड़ाकू विमानों के साथ-साथ लाइट कॉम्बैट हेलीकॉप्टर (एलसीएच) और एमआई-17 हेलीकॉप्टरों के साथ भाग ले रही है। यह द्विपक्षीय अभ्यास का सातवां संस्करण है। पहला, तीसरा और पांचवां संस्करण भारत में क्रमशः 2003, 2006 और 2014 में वायु सेना स्टेशनों ग्वालियर, कलाईकुंडा और जोधपुर में आयोजित किया गया था । दूसरा, चौथा और छठा संस्करण फ्रांस में 2005, 2010 और 2019 में आयोजित किया गया था।

सिंगापुर और भारतीय नौसेना का द्विपक्षीय समुद्री अभ्यास 'सिम्बेक्स'-2022

भारतीय नौसेना विशाखापत्तनम में 26 से 30 अक्टूबर, 2022 तक सिंगापुर-भारत द्विपक्षीय नौसैनिक अभ्यास (सिम्बेक्स) के 29वें संस्करण की मेजबानी कर रही है। सिम्बेक्स-2022 दो चरणों में आयोजित किया जा रहा है। पहले चरण में विशाखापत्तनम में बंदरगाह पर तटीय अभ्यास 26 से 27 अक्टूबर 2022 तक आयोजित किया गया। इसके बाद 28 से 30 अक्टूबर 2022 तक बंगाल की खाड़ी में समुद्री चरण का अभ्यास किया जा रहा है। सिंगापुर गणराज्य नौसेना के दो पोत आरएसएस स्टालवार्ट (फॉर्मेडेबल श्रेणी का एक युद्धपोत) और आरएसएस विजिलेंस (विक्ट्री श्रेणी की एक नौका) अभ्यास में भाग लेने के लिए 25 अक्टूबर 2022 को विशाखापत्तनम पहुंचे थे।

Emissions Gap Report 2022 जारी की गई

संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम (UNEP) द्वारा हाल ही में “Emissions Gap Report 2022-The Closing Window” शीर्षक वाली रिपोर्ट जारी की गई। Emission Gap Report वर्ष 2100 तक उत्सर्जन में कमी और वैश्विक तापमान वृद्धि को 2 डिग्री सेल्सियस से नीचे लाने के लिए आवश्यक कमी पर देशों की प्रतिबद्धता के बीच के अंतर का आकलन करती है। यह इस अंतर का विश्लेषण करती है कि 2030 में ग्रीन हाउस गैस उत्सर्जन कितना होने का अनुमान है। पेरिस समझौते के कार्यान्वयन पर जानकारी के लिए रिपोर्ट को वैज्ञानिक रूप से आधिकारिक स्रोत के रूप में देखा जाता है। इसे यूएनईपी कोपेनहेगन क्लाइमेट सेंटर (UNEP CCC) द्वारा वर्ष 2011 से प्रकाशित किया जा रहा है। इस रिपोर्ट का 2022 संस्करण (13वां संस्करण) हाल ही में जारी किया गया था। इस रिपोर्ट में चेतावनी दी गई है कि दुनिया 2015 के पेरिस समझौते के तहत निर्धारित लक्ष्यों को प्राप्त करने में असफल रही है और अगले 8 वर्षों में अभूतपूर्व स्तर तक एक तत्काल प्रणाली-व्यापी परिवर्तन और जीएचजी उत्सर्जन में कमी की सिफारिश की गई है। वर्तमान नीतियां 2100 तक 2.8 डिग्री सेल्सियस तापमान वृद्धि की ओर ले जाएंगी। पेरिस समझौते के लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए 2030 तक GHG उत्सर्जन को 45 प्रतिशत तक कम किया जाना चाहिए। हालांकि, रिपोर्ट से पता चलता है कि उत्सर्जन खतरनाक और रिकॉर्ड-उच्च स्तर पर है और अभी भी बढ़ रहा है।

पाथेर पांचाली को FIPRESCI ने घोषित किया सर्वश्रेष्ठ भारतीय फिल्म

दुनिया के सबसे महान फिल्मकारों में शुमार सत्यजित रे की आइकोनिक फीचर फिल्म ‘पाथेर पांचाली’ को इंटरनेशनल फेडरेशन ऑफ फिल्म क्रिटिक्स (FIPRESCI) ने सर्वकालीन सर्वश्रेष्ठ भारतीय फिल्म घोषित किया है। 1955 में आई भारतीय सिनेमा की यह ऐतिहासिक फिल्म मुकाबले में सबसे आगे रही और टॉप 10 की लिस्ट में पहला स्थान हासिल किया। ‘पाथेर पांचाली’ के इस नए माइल स्टोन का ऐलान एफआईपीआरईएससीआई की ओर से कराये गये मतदान के बाद किया गया। मतदान में 30 सदस्यों की एक कमेटी शामिल थी।

पर्यटन और संस्कृति मंत्री जी किशन रेड्डी ने दिल्ली में प्रख्‍यात कलाकार अकबर साहब की कलाकृतियों की एक प्रदर्शिनी का उद्घाटन किया

पर्यटन और संस्कृति मंत्री जी किशन रेड्डी ने दिल्ली में प्रख्‍यात कलाकार अकबर साहब की कलाकृतियों की एक प्रदर्शिनी का उद्घाटन किया। इस प्रदर्शनी में देश की प्रगति में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के योगदान को दर्शाया गया है। इसमें श्री मोदी की सफलताओं के साथ-साथ वाइब्रेंट गुजरात, शाइनिंग ब्राइट, स्टैच्यू ऑफ यूनिटी और सद्भावना यात्रा जैसी विभिन्न परियोजनाओं को लेकर उनके समक्ष आई चुनौतियों को भी उजागर किया गया है। नेशनल गैलरी ऑफ मॉडर्न आर्ट में यह प्रदर्शनी 3 नवम्‍बर तक चलेगी।

एडुटेक कंपनियों और विदेशी शिक्षण संस्‍थाओं द्वारा दी जाने वाली ऑनलाइन पीएचडी डिग्री मान्‍य नहीं : विश्‍वविद्यालय अनुदान आयोग

विश्‍वविद्यालय अनुदान आयोग ने एक सार्वजनिक नोटिस में कहा है कि एडुटेक कंपनियों और विदेशी शिक्षण संस्‍थाओं द्वारा दी जाने वाली ऑनलाइन पीएचडी डिग्री मान्‍य नहीं है। आयोग ने छात्रों को सलाह दी है कि वे इस तरह की डिग्री के विज्ञापनों के झांसे में नहीं आए। छात्रों से कहा गया है कि वे कहीं भी पीएचडी में दाखिला लेने से पहले इस बारे में यूजीसी के 2016 के दिशा-निर्देशों को अच्‍छी तरह से पढ लें। यूजीसी ने सभी उच्‍च शिक्षण संस्‍थाओं से भी कहा है कि उन्‍हें पीएचडी डिग्री देते समय यूजीसी के तय दिशा-निर्देशों का अनिवार्य रूप से पालन करना होगा।

2021 में हीटवेव के कारण भारत को सकल घरेलू उत्पाद के 5.4% की आय का नुकसान हुआ: रिपोर्ट

भारत को 2021 में भीषण गर्मी के कारण सेवा, विनिर्माण, कृषि और निर्माण क्षेत्रों में अपने सकल घरेलू उत्पाद का 5.4 प्रतिशत यानी 159 अरब डॉलर आय का नुकसान हुआ। एक नयी रिपोर्ट में यह कहा गया है। विभिन्न संगठनों की एक अंतरराष्ट्रीय साझेदारी द्वारा संकलित जलवायु पारदर्शिता रिपोर्ट 2022 में कहा गया है कि देश में भीषण गर्मी की वजह से 167 अरब संभावित श्रम घंटों का नुकसान हुआ, जो 1990-1999 से 39 प्रतिशत की वृद्धि है। अगर वैश्विक तापमान में 1.5 डिग्री सेल्सियस की वृद्धि होती है, तो भारत में श्रम उत्पादकता में 1986-2006 की संदर्भ अवधि से पांच प्रतिशत की गिरावट का अनुमान है।

भारत में एक अरब डॉलर का ब्रांड बना ‘स्प्राइट’

कोका-कोला का नींबू और नींबू के स्वाद वाला शीतल पेय ‘स्प्राइट’ भारतीय बाजार में एक अरब डॉलर का ब्रांड बन गया है। कंपनी ने यह जानकारी दी। कंपनी ने इस साल की तीसरी तिमाही में अपने भारतीय कारोबार में मात्रा के लिहाज से ‘मजबूत’ वृद्धि दर्ज की है। इसकी इस शानदार वृद्धि में सॉफ्ट ड्रिंक पोर्टफोलियो और फ्रूट ड्रिंक ब्रांड माजा का योगदान रहा है।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2022 RajasthanGyan All Rights Reserved.