Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

20 September 2022

भारत चीन को पीछे छोड श्रीलंका का सबसे बडा द्विपक्षीय ऋणदाता बन गया

भारत श्रीलंका का सबसे बडा द्विपक्षीय ऋणदाता बन गया है। इस मामले में उसने चीन को पीछे छोड दिया है। भारत ने 2022 के चार महीनों में श्रीलंका को 96 करोड 80 लाख अमरीकी डॉलर का ऋण दिया है। 2017-2021 के दौरान पिछले पांच वर्षों से चीन श्रीलंका का सबसे बडा द्विपक्षीय ऋणदाता था। संयुक्‍त राष्‍ट्र में भारत की स्‍थायी प्रतिनिधि रूचिरा कामबोज ने कहा कि भारत ने श्रीलंका को करीब चार अरब डॉलर खाद्य और वित्‍तीय सहायता के रूप में प्रदान किये हैं। पिछले म‍हीने की 22 तारीख को भारत ने संकटग्रस्‍त श्रीलंका को 21 हजार टन उर्वरक भेजे थे। श्रीलंका इन दिनों गंभीर आर्थिक संकट से गुजर रहा है। बडी संख्‍या में लोगों को भोजन और ईंधन की कमी का सामना करना पड रहा है।

उच्‍चतम न्‍यायालय की व्‍यवस्‍था - छोटी पीठ के सर्वसम्‍मत फैसले की तुलना में बडी पीठ का बहुमत से दिया गया निर्णय ही मान्‍य

उच्‍चतम न्‍यायालय की संविधान पीठ ने फैसला दिया है कि बडी पीठ के न्‍यायाधीशों द्वारा बहुमत के आधार पर दिया गया फैसला ही मान्‍य होगा। न्‍यायालय का मानना है कि पांच जजों की पीठ के सर्वसम्‍मत‍ि से सुनाए गए फैसले के मुकाबले में सात न्‍यायाधीशों की पीठ का चार-तीन के बहुमत से दिया गया फैसला मान्‍य होगा। शीर्ष न्‍यायालय की न्‍यायमूर्ति इन्‍द्रा बैनर्जी, हेमन्‍त गुप्‍ता, सूर्यकांत, एम एम सुन्‍द्रेश और सुंधाशु धुलिया की संविधान पीठ ने त्रिमूर्ति फ्रगनैंसेज प्राइवेट लिमिटेड मामले में यह फैसला सुनाया।

महाराष्‍ट्र में नीति आयोग की तरह एक राज्‍य स्‍तरीय संस्‍थान बनाया जाएगा

महाराष्‍ट्र में नीति आयोग की तरह एक राज्‍य स्‍तरीय संस्‍थान बनाया जाएगा। इससे कृषि, स्‍वास्‍थ्‍य, शिक्षा, रोजगार, पर्यावरण जैसे क्षेत्रों में महत्‍वपूर्ण परिवर्तन लाने में मदद मिलेगी। नीति आयोग के मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी और अन्‍य विशेषज्ञों ने एक प्रस्‍तुतिकरण दिया। यह प्रस्‍तुतिकरण नीति आयोग द्वारा महाराष्‍ट्र को विभिन्‍न क्षेत्रों में परिवर्तन लाने के लिए सहायता दिए जाने से संबंधित था। इस अवसर पर मुख्‍यमंत्री एकनाथ शिंदे, उप मुख्‍यमंत्री देवेन्‍द्र फडणवीस और अन्‍य वरिष्‍ठ अधिकारी उपस्थित रहे।

इम्‍फाल में आम लोगों की शिकायतों के लिए वेब-पोर्टल का शुभारंभ

मणिपुर के मुख्यमंत्री एन. बीरेन सिंह ने आम लोगों की शिकायतों के निवारण के लिए इम्‍फाल में एक वेब-पोर्टल का शुभारंभ किया। इस वेब-पोर्टल का नाम 'सीएम दा हैसी' है। आम जनता डब्‍ल्‍यू डब्‍ल्‍यू डब्‍ल्‍यू डॉट सीएम दा हैसी डॉट जीओवी डॉट इन पर लॉग इन करके वेब-पोर्टल में अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं। शिकायतकर्ता अपनी शिकायतों की स्थिति भी देख सकते हैं। मुख्यमंत्री सचिवालय स्थित लोक शिकायत निवारण और भ्रष्टाचार निरोधी प्रकोष्ठ इस पोर्टल के जरिये जनता की शिकायतों का एक निर्धारित समय में निवारण करेगा। प्रकोष्‍ठ कार्रवाई करने योग्य शिकायतों को राज्य सतर्कता और भ्रष्टाचार निरोधक विभाग को उपलब्‍ध करायेगा। आगे की पूछताछ और जांच के लिए इसे संबंधित विभागों को भेजा जाएगा। लोक शिकायत निवारण तथा भ्रष्टाचार निरोधी प्रकोष्ठ को मार्च 2022 से अब तक कुल 134 शिकायतें प्राप्त हुई हैं जिनमें से 85 प्रतिशत शिकायतों का निराकरण कर दिया गया है।

करगिल अन्‍तरराष्‍ट्रीय मैराथन का आयोजन

लद्दाख के करगिल में दो हजार से ज्‍यादा धावकों ने करगिल अन्‍तरराष्‍ट्रीय मैराथन में हिस्‍सा लिया। करगिल पर्वतीय परिषद और लद्दाख पुलिस ने सरहद पुने के साथ मिलकर इसका आयोजन किया था। लद्दाख में उपजाई जाने वाली खुबानी की अंतर्राष्ट्रीय बाजार में पहुंच की खुशी में इस मैराथन का आयोजन 'रन फॉर खुबानी' के नारे के साथ किया गया। जिग्में नामगियाल ने पुरुष वर्ग में और डिस्केट डोलमा महिला वर्ग में 42 किलोमीटर की फुल मैराथन के विजेता रहे। सेनाध्यक्ष जनरल मनोज पांडे ने करगिल के खी सुल्तान चो स्‍पोर्टस स्टेडियम से धावकों के लिए एक विशेष संदेश के साथ मैराथन का वचुर्अल उद्घाटन किया।

वाराणसी और बोगीबील के बीच भारत की सबसे लंबी नदी क्रूज पर्यटन सेवा शुरू किये जाने की घोषणा

केंद्रीय पत्‍तन, पोत परिवहन और जलमार्ग मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने वाराणसी और बोगीबील के बीच भारत की सबसे लंबी नदी क्रूज पर्यटन सेवा अगले वर्ष के प्रारंभ में शुरू किये जाने की घोषणा की। यह नदी पर्यटन सेवा गंगा, भारत, बांग्‍लादेश प्रोटोकॉल रूट और ब्रहम्‍पुत्र से होते हुए चार हजार किलोमीटर से अधिक की दूरी तय करेगी। श्री सोनोवाल ने असम में डिब्रूगढ़ के निकट बोगीबील क्षेत्र के विकास के लिए कई परियोजनाओं के शुभारंभ के अवसर पर यह घोषणा की।

विदेश मंत्री डॉक्‍टर जयशंकर संयुक्‍त राष्‍ट्र महासभा के 77वें सत्र में भाग लेने न्‍यूयॉर्क पहुंचे

विदेश मंत्री डॉक्‍टर सुब्रह्मण्‍यम जयशंकर संयुक्‍त राष्‍ट्र महासभा के 77वें सत्र में भाग लेने के लिए न्‍यूयॉर्क पहुंचे। अपनी न्‍यूयॉर्क यात्रा के पहले चरण में डॉक्‍टर जयशंकर संयुक्‍त राष्‍ट्र महासभा में उच्‍च स्‍तरीय सप्‍ताह के दौरान भारतीय शिष्‍टमंडल का नेतृत्‍व करेंगे। 77वें संयुक्‍त राष्‍ट्र महासभा का विषय है- एक महत्‍वपूर्ण क्षण: सामूहिक चुनौतियों के लिए परिवर्तनकारी समाधान। संशोधित बहुपक्षवाद के प्रति भारत की सशक्‍त प्रतिबद्धता के अनुरूप विदेश मंत्री भारत, ब्राजील, जापान, जर्मनी की जी-फोर मंत्रिस्‍तरीय बैठक की मेज़बानी करेंगे। वह पुनजीर्वित बहुपक्षवाद और संयुक्‍त राष्‍ट्र सुरक्षा परिषद के व्‍यापक सुधार हासिल करने पर एल-69 समूह की उच्‍चस्‍तरीय बैठक में भाग लेंगे। एल-69 समूह में एशिया, अफ्रीका, लातिनी अमेरिका, कैरेबियाई और छोटे द्वीप के विकासशील देश शामिल हैं, जो संयुक्‍त राष्‍ट्र सुरक्षा परिषद के सुधारों पर ध्‍यान केन्द्रित करते हैं। डॉक्‍टर जयशंकर 25 से 28 सितम्‍बर के बीच अमरीकी इंटरलोक्यटर्स-संभाषियों के साथ द्विपक्षीय बैठक के लिए वांशिगटन डी.सी. जाएंगे। उनके कार्यक्रम में अमरीकी विदेश मंत्री एंटनी बिल्‍केंन, अमरीकी सरकार के वरिष्‍ठ सदस्‍यों, अमरीका के व्‍यापारिक नेताओं, विज्ञान और प्रौद्योगिकी पर गोलमेज बैठक और भारतवंशियों के साथ संवाद शामिल हैं।

पूरे भारत में 53,021 छात्रों को इंस्पायर अवार्ड से नवाजा गया

हाल ही में इंस्पायर पुरस्कार- मिलियन माइंड्स ऑगमेंटिंग नेशनल एस्पिरेशन एंड नॉलेज के तहत 9वीं ‘राष्ट्रीय स्तर की प्रदर्शनी और परियोजना प्रतियोगिता’ (NLEPC) शुरू हुई है। इसे 'स्टार्टअप इंडिया' पहल के साथ जोड़ा गया है और इसे DST (विज्ञान तथा प्रौद्योगिकी विभाग) द्वारा नेशनल इनोवेशन फाउंडेशन- इंडिया (NIF), DST के एक स्वायत्त निकाय के साथ निष्पादित किया जा रहा है। इस योजना के तहत देश भर के सभी सरकारी या निजी स्कूलों से छात्रों को आमंत्रित किया जाता है, भले ही उनका शैक्षिक बोर्ड (राष्ट्रीय और राज्य) कोई भी हों। प्रत्येक को 10,000 रुपए की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी ताकि वे योजना के लिये प्रस्तुत किये गए विचारों के अनुरूप प्रोटोटाइप विकसित कर सकें। अगले चरण के रूप में उन्होंने संबंधित ज़िला स्तरीय प्रदर्शनी और परियोजना प्रतियोगिता (DLEPC) और राज्य स्तरीय प्रदर्शनी और परियोजना प्रतियोगिता (SLEPC) में प्रतिस्पर्द्धा की और अब राष्ट्रीय स्तर की प्रदर्शनी और परियोजना प्रतियोगिता (NLEPC) में अपनी जगह बनाई है। 60 स्टार्टअप्स को इंस्पायर पुरस्कार प्रदान किया गया, साथ ही 53,021 छात्रों को वित्तीय सहायता भी प्रदान की गई। इस योजना ने देश के 702 ज़िलों (96%) के विचारों और नवाचारों का प्रतिनिधित्व करके समावेशिता के एक अद्वितीय स्तर को छुआ, जिसमें 124 आकांक्षी ज़िलों में से 123, लड़कियों का 51% प्रतिनिधित्व, ग्रामीण क्षेत्रों में स्थित स्कूलों से 84% भागीदारी शामिल है। देश के 71% स्कूल राज्य/केंद्रशासित प्रदेश सरकारों द्वारा चलाए जा रहे हैं।

जापान में चक्रवाती तूफान नानमाडोल कागोशिमा शहर से टकराया, लोगों को सुरक्षित स्‍थानों पर जाने की चेतावनी जारी

जापान में ननमाडोल तूफान के कारण दक्षिण-पश्चिम इलाकों में रहने वाले लोगों को सुरक्षित स्‍थानों पर जाने की चेतावनी दी गई है। तूफान की वजह से पूरी रात तेज हवाओं के साथ अत्‍यधिक वर्षा हुई है और कई स्‍थानों पर भूस्‍खलन भी हुए हैं।

यूएई नवंबर में अपना पहला चंद्र रोवर लॉन्च करेगा

यूएई इस साल नवंबर में फाल्कन 9 स्पेसएक्स रॉकेट पर राशिद रोवर (Rashid rover) लॉन्च कर सकता है। संयुक्त अरब अमीरात नवंबर 2022 में फ्लोरिडा के कैनेडी स्पेस सेंटर से राशिद नाम का अपना पहला चंद्र रोवर लॉन्च करेगा। यह रोवर अगले साल मार्च में किसी समय जापान के आईस्पेस के हाकुटो-आर लैंडर (Hakuto-R lander) द्वारा चंद्र सतह पर पहुंचेगा। यदि यह चंद्र मिशन सफल होता है, तो संयुक्त अरब अमीरात और जापान चंद्र सतह पर अंतरिक्ष यान उतारने वाले देशों के रूप में अमेरिका, रूस और चीन के साथ शामिल हो जायेंगे। राशिद रोवर चंद्रमा की सतह, चंद्रमा की सतह पर गतिशीलता और चंद्रमा पर कणों के साथ विभिन्न सतहों के संपर्क का अध्ययन करेगा। इस रोवर का वजन 10 किलो है। इसमें दो उच्च-रिज़ॉल्यूशन कैमरे, एक सूक्ष्म कैमरा, एक थर्मल इमेजरी कैमरा, एक जांच और अन्य उपकरण होंगे। रोवर का नाम दुबई के पूर्व शासक शेख राशिद बिन सईद अल मकतूम के नाम पर रखा गया है, जिन्हें दुबई क्रीक के पास बस्तियों के एक छोटे समूह से आधुनिक बंदरगाह शहर और वाणिज्यिक केंद्र में दुबई के परिवर्तन का श्रेय दिया जाता है। इसे दुबई के मोहम्मद बिन राशिद स्पेस सेंटर में बनाया गया है। इससे पहले, यूएई ने होप मिशन टू मार्स (Hope Mission to Mars) – अरब दुनिया का पहला इंटरप्लेनेटरी मिशन लॉन्च किया था।

भारत-बांग्लादेश मैत्री पाइपलाइन

असम स्थित नुमालीगढ़ रिफाइनरी लिमिटेड (NRL) के 2022 के अंत तक भारत-बांग्लादेश मैत्री पाइपलाइन का निर्माण पूरा करने की उम्मीद है। भारत-बांग्लादेश मैत्री पाइपलाइन परियोजना (IBFPP) का उद्देश्य भारत के पश्चिम बंगाल में सिलीगुड़ी को बांग्लादेश के दिनाजपुर जिले के पार्बतीपुर से जोड़ना है। इस परियोजना का कुल परिव्यय 346 करोड़ रुपये है। इस निर्माणाधीन 130 किमी पाइपलाइन की क्षमता 10 लाख मीट्रिक प्रति वर्ष होगी। मार्च 2020 में औपचारिक उद्घाटन के बाद पाइपलाइन का निर्माण शुरू हुआ। यह परियोजना भारत की नुमालीगढ़ रिफाइनरी लिमिटेड और बांग्लादेश की मेघना पेट्रोलियम लिमिटेड द्वारा संयुक्त रूप से कार्यान्वित की जा रही है। शुरुआत में बांग्लादेश करीब 2.5 लाख टन डीजल खरीदेगा। बाद के वर्षों में इसे बढ़ाकर 4 से 5 लाख टन किया जाएगा। इस अनुबंध के तहत, बांग्लादेश आपूर्ति शुरू होने के दिन से 15 साल के लिए डीजल का आयात करेगा।

पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह भारतीय जनता पार्टी में शामिल

पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह नई दिल्ली में भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए। उनकी पार्टी पंजाब लोक कांग्रेस का भी भारतीय जनता पार्टी में विलय कर दिया गया है। श्री अमरिंदर सिंह, वरिष्ठ भाजपा नेताओं और केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर तथा किरेन रिजिजू की उपस्थिति में पार्टी में शामिल हुए। कैप्टन अमरिंदर सिंह के साथ लोकसभा के पूर्व सांसद अमरीक सिंह अलीवाल, पंजाब विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष अजायब सिंह भट्टी भी भाजपा में शामिल हो गए हैं।

विश्व बाँस दिवस

प्रत्येक वर्ष 18 सितंबर को विश्व बाँस दिवस के रूप में मनाया जाता है। यह दिन बाँस के लाभों के बारे में जागरूकता के प्रसार और रोज़मर्रा के उत्पादों में इसके उपयोग को बढ़ावा देने के लिये मनाया जाता है। विश्व बाँस दिवस, 2022 की थीम ‘#PlantBamboo’ यानी बाँस के पौधे लगाएँ है। वर्ष 2009 में बैंकाक (थाईलैंड) में आयोजित 8वीं विश्व बाँस काॅन्ग्रेस (World Bamboo Congress) में विश्व बाँस संगठन (World Bamboo Organization) ने आधिकारिक रूप से 18 सितंबर को विश्व बाँस दिवस (WBD) मनाए जाने की घोषणा की। विश्व बाँस संगठन का उद्देश्य प्राकृतिक संसाधनों एवं पर्यावरण की रक्षा के लिये इसके स्थायी उपयोग को सुनिश्चित करने हेतु दुनिया भर के क्षेत्रों में नए उद्योगों के लिये बाँस की खेती को बढ़ावा देना, साथ ही सामुदायिक आर्थिक विकास हेतु स्थानीय रूप से पारंपरिक उपयोगों को बढ़ावा देना है। विश्व बाँस संगठन (World Bamboo Organization) की स्थापना वर्ष 2005 में हुई थी। इसका मुख्यालय एंटवर्प (बेल्जियम) में है।

अंतरराष्ट्रीय समान वेतन दिवस

अंतरराष्ट्रीय समान वेतन दिवस (International equal pay day) 2020 के बाद से प्रत्येक वर्ष 18 सितंबर को मनाया जाता है। इसका उद्देश्य समाज के सभी वर्गो के लिए समान वेतन तथा लोगों को इसके प्रति जागरूक करना है। दुनिया के अधिकतर देशों में पुरुषों के मुकाबले महिलाओं को कम वेतन मिलता है। अंतरराष्ट्रीय समान वेतन दिवस मनाने का उद्देश्य इसे खत्म करना है। संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 15 नवंबर 2019 को पहली बार 18 सितंबर को अंतरराष्ट्रीय समान वेतन दिवस मनाने की घोषणा की थी। संयुक्त राष्ट्र महासभा के 74वें सत्र के दौरान यह फैसला लिया गया। संयुक्त राष्ट्र महासभा में यह प्रस्ताव 105 सदस्य देशों द्वारा सह-प्रायोजित था। उसके बाद सदस्य देशों की सर्वसम्मति के बाद इसे मनाने का यह फैसला लिया गया। उसके बाद से यह हर साल 18 सितंबर को मनाया जाने लगा।

भाजपा के वरिष्‍ठ नेता बिष्‍णु चरण सेठी का निधन

ओडीसा में भाजपा के वरिष्‍ठ नेता और विधायक बिष्‍णु चरण सेठी का लम्‍बी बीमारी के बाद निधन हो गया। वे 61 वर्ष के थे। विष्णु चरण सेठी भद्रक जिले से दो बार के विधायक रह चुके थे। अभी वह धाम नगर विधानसभा क्षेत्र से विधायक थे।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2022 RajasthanGyan All Rights Reserved.