Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

3 December 2021

Cost of Living Index 2021 जारी किया गया

इकोनॉमिस्ट इंटेलिजेंस यूनिट (EIU) ने वर्ल्डवाइड कॉस्ट ऑफ लिविंग इंडेक्स 2021 की घोषणा की है। इंडेक्स के अनुसार, तेल अवीव (Tel Aviv), इज़राइल 2021 में रहने वाला दुनिया का सबसे महंगा शहर बन गया है, पेरिस, फ्रांस और सिंगापुर को संयुक्त रूप से दूसरे स्थान पर है उसके बाद ज्यूरिख और हांगकांग क्रमशः चौथे और पांचवें स्थान पर हैं। किराना और परिवहन की कीमत में वृद्धि के साथ अमेरिकी डॉलर के मुकाबले इजरायली मुद्रा शेकेल (shekel) के बढ़ते मूल्य के कारण तेल अवीव 2021 में 5 वें स्थान से शीर्ष पर चढ़ गया। सीरिया के दमिश्क (Damascus) को दुनिया के सबसे सस्ते शहर का दर्जा दिया गया। रोम, इटली ने रैंकिंग में सबसे बड़ी गिरावट 32वें से 48वें स्थान पर देखी, तेहरान, ईरान रैंक 79वें से 29वें स्थान पर पहुंच गया। इस सूचकांक से पता चलता है कि दुनिया में वस्तुओं और सेवाओं की कुल कीमतों में 3.5% की वृद्धि हुई है। 2020 में यह 1.9% थी।

सरकार, अनुसूचित जाति के छात्रों के सामाजिक तथा आर्थिक उत्‍थान और समग्र विकास के लिए आवासीय शिक्षा योजना-श्रेष्‍ठ शुरू करेगी

सरकार, अनुसूचित जाति के छात्रों के सामाजिक तथा आर्थिक उत्‍थान और समग्र विकास के लिए लक्षित क्षेत्रों के उच्च विद्यालयों में आवासीय शिक्षा योजना-श्रेष्‍ठ [Scheme for Residential Education for Students in High Schools in Targeted Areas (SRESHTA)] शुरू करेगी। यह योजना 6 दिसंबर को डॉक्‍टर बी आर अंबेडकर के महापरिनिर्वाण दिवस पर शुरू की जाएगी। यह योजना उच्च गुणवत्ता वाली शिक्षा प्राप्त करके अनुसूचित जाति के प्रतिभावान छात्रों के बेहतर भविष्य को सक्षम बनाने में मदद करेगी। इससे अनुसूचित जाति के 9वीं से 12वीं कक्षा तक के छात्रों के स्कूल छोड़ने की दर में भी कमी आएगी। मंत्रालय अगले पांच वर्षों में लगभग 25 हजार अनुसूचित जाति के मेधावी छात्रों को 300 करोड़ रुपये की सहायता प्रदान करेगा ताकि उन्हें गुणवत्तापूर्ण आवासीय शिक्षा प्रदान की जा सके।

उत्तर भारत में पहली बार परमाणु ऊर्जा संयंत्र स्थापित किया जाएगा- डॉ जितेंद्र सिंह

प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्य मंत्री डॉ जितेंद्र सिंह ने राज्‍यसभा में बताया कि उत्तर भारत में पहली बार परमाणु ऊर्जा संयंत्र स्थापित किया जाएगा। श्री सिंह ने कहा कि यह संयंत्र राष्ट्रीय राजधानी से डेढ़ सौ किलोमीटर दूर हरियाणा के गोरखपुर क्षेत्र में लगेगा। एक प्रश्‍न के जवाब में डॉ सिंह ने बताया कि पहले परमाणु संयंत्र आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु जैसे राज्यों तक सीमित थे, लेकिन केन्‍द्र सरकार परमाणु संयंत्रों के जरिए पूरे देश में बिजली उत्पादन चाहती है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संभावित चक्रवात जवाद से निपटने के लिए राज्यों और सम्बंंधित एजेंसियों की तैयारियों की समीक्षा की

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने एक उच्‍चस्‍तरीय बैठक में संभावित चक्रवाती तूफान जवाद (नाम सऊदी अरब ने दिया) से प्रभावी रूप से निपटने के लिए राज्‍यों और सं‍बंधित एजेंसियों की तैयारियों की समीक्षा की। प्रधानमंत्री ने अधिकारियों को हरसंभव उपाय करने का निर्देश दिया ताकि लोगों को सुरक्षित निकालने और सभी आवश्‍यक सेवाएं बनाए रखने को सुनिश्चित किया जाएं। उन्‍होंने यह भी निर्देश दिए कि चक्रवर्ती तूफान के फलस्‍वरूप बाधा उत्‍पन्‍न होने की स्थिति में तुरन्‍त आवश्‍यक सेवाएं बहाल की जाएं। भारतीय मौसम विभाग ने बताया कि बंगाल की खाड़ी में कम दबाव के क्षेत्र के सक्रियता से चक्रवाती तूफान जवाद का रूप ले सकता है और उम्‍मीद है कि यह आगामी शनिवार के तड़के उत्‍तरी आंध्र प्रदेश और ओडिशा के तट पर पहुंच सकता है। इससे आंध्र प्रदेश, ओडिशा और पश्चिम बंगाल के तटीय जिलों में तेज वर्षा होने की आशंका है। भारतीय मौसम विभाग सभी संबंधित राज्‍यों के लिए मौसम के ताजा पूर्वानुमान के नियमित बुलेटिन जारी कर रहा है।

भारत ने गैर-जीवाश्‍म ईंधन स्रोतों से विद्युत क्षमता का 40 प्रतिशत का लक्ष्‍य हासिल कर लिया

भारत ने गैर-जीवाश्‍म ईंधन स्रोतों से संस्‍थापित विद्युत क्षमता का 40 प्रतिशत महत्‍वाकांक्षी लक्ष्‍य हासिल कर लिया है। नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय ने कहा है कि देश में कुल गैर-जीवाश्‍म ईंधन आधारित क्षमता 156 दशमलव आठ तीन गीगावॉट है। मंत्रालय के अनुसार देश ने फ्रांस में कॉंफ्रेंस ऑफ द पार्टीज (कोप)-21 में निर्धारित लक्ष्‍य से पहले पिछले महीने इस लक्ष्‍य को हासिल कर लिया। राष्‍ट्रीय स्‍तर पर निर्धारित योगदान के भाग के रूप में भारत ने 2030 तक गैर-जीवाश्‍म ऊर्जा स्रोतों से अपनी संस्‍थापित विद्युत क्षमता का 40 प्रतिशत हासिल करने की प्रतिबद्धता व्‍यक्‍त की थी। आज देश में संस्‍थापित नवीकरणीय ऊर्जा क्षमता 150 दशमलव शून्‍य पांच गीगावॉट है, जबकि इसकी परमाणु ऊर्जा आधारित संस्‍थापित विद्युत क्षमता 6 दशमलव सात-आठ गीगावॉट है। इस प्रकार कुल गैर-जीवाश्‍म आधारित संस्‍थापित ऊर्जा क्षमता 156 दशमलव आठ-तीन गीगावॉट है, जो 390 गीगावॉट से अधिक कुल संस्‍थापित विद्युत क्षमता का 40 दशमलव एक प्रतिशत है। सरकार हाल ही में सम्‍पन्‍न कोप-26 की बैठक में प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी की घोषणा के अनुरूप वर्ष 2030 तक गैर-जीवाश्‍म ईंधन स्रोतों से 500 गीगावॉट संस्‍थापित विद्युत क्षमता हासिल करने को प्रतिबद्ध है।

राष्ट्रपति श्री राम नाथ कोविंद पांचवें अंतर्राष्ट्रीय अम्बेडकर सम्मेलन के उद्घाटन समारोह में शामिल हुए

राष्ट्रपतिश्री राम नाथ कोविंद ने 2 दिसंबर, 2021 को नई दिल्ली में अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के विधायकों और सांसदों के मंच और डॉ अम्बेडकर चैंबर ऑफ कॉमर्स द्वारा आयोजित किए जा रहे पांचवें अंतर्राष्ट्रीय अंबेडकर सम्मेलन का उद्घाटन किया। इस अवसर पर बोलते हुए राष्ट्रपति ने इस सम्मेलन के आयोजन के लिए अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के विधायकों तथा सांसदों के मंच की सराहना की। उन्होंने कहा कि यह मंच लगातार सामाजिक और आर्थिक न्याय के मुद्दों को उजागर कर रहा है और डॉ. अम्बेडकर के विचारों को फैलाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है।

CM हिमंत बिस्वा सरमा ने असम माइक्रो फाइनेंस इंसेंटिव एंड रिलीफ स्कीम 2021 की शुरुआत की

असम के मुख्यमंत्री (CM) हिमंत बिस्वा सरमा ने असम के तेजपुर में कॉलेजिएट हाई स्कूल के खेल के मैदान से असम माइक्रो फाइनेंस इंसेंटिव एंड रिलीफ स्कीम 2021 की शुरुआत की। उन्होंने उन कर्जदारों के लिए इस योजना के पहले चरण का उद्घाटन किया जो सूक्ष्म वित्त ऋणों का नियमित भुगतान करते रहे हैं। उन्हें 25,000 रु./- तक का एकमुश्त प्रोत्साहन या बकाया राशि, जो भी कम हो, प्रदान किया जाएगा। इस संबंध में मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम में औपचारिक रूप से 5 हितग्राहियों को चेक बांटे। इस योजना से राज्य में कुल 24 लाख महिला लाभार्थियों को लाभ होगा, जबकि सोनितपुर जिले में 59,468 महिलाओं को 16,000 रुपये से 25,000 रुपये की राहत राशि मिलेगी।

ADB ने उत्तराखंड जल आपूर्ति और स्वच्छता परियोजनाओं के लिए 125 मिलियन डॉलर के ऋण को मंजूरी दी

एशियाई विकास बैंक (ADB) ने उत्तराखंड में जल आपूर्ति और स्वच्छता परियोजनाओं के लिए 125 मिलियन डॉलर (लगभग 938 करोड़ रुपये) के ऋण को मंजूरी दी। इस धन का उपयोग राज्य के लगभग 154,000 लोगों की पूरी आबादी के लिए गुणवत्तापूर्ण जल आपूर्ति और स्वच्छता सेवाओं तक पहुंच में सुधार के लिए किया जाएगा। देहरादून में लगभग 17,410 घरों को इस सीवरेज सिस्टम से जोड़ा जाएगा। दक्षिण देहरादून में खराब पानी के नेटवर्क को बदलने के लिए 136 किलोमीटर लंबी पानी की पाइप प्रणाली का निर्माण किया जाएगा, जिससे 4,000 शहरी गरीब और कमजोर समूहों सहित लगभग 40,000 लोग लाभान्वित होंगे।

एसबीआई ने महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए उषा इंटरनेशनल के साथ किया समझौता

भारतीय स्टेट बैंक (State Bank of India - SBI) ने वित्तीय सहायता प्रदान करके महिला उद्यमियों को सशक्त बनाने के लिए उषा इंटरनेशनल लिमिटेड (Usha International Limited - UIL) के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं। संयुक्त देयता समूह मॉडल के तहत वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। यह यूआईएल और एसबीआई के बीच अपनी तरह का पहला सहयोग है जो देश के ग्रामीण क्षेत्रों में महिला उद्यमियों की सामाजिक और आर्थिक स्थिति के उत्थान के लिए उन्हें आत्मनिर्भर बनाकर और वित्तीय विकास और समावेश को प्राप्त करने के लिए समान अवसर प्रदान करने के लिए एक साथ आगे आ रहा है। एसबीआई और यूआईएल के बीच हस्ताक्षरित समझौता ज्ञापन (Memorandum of Understanding - MoU) के अनुसार, उत्तराखंड, दिल्ली, पश्चिमी यूपी और एनसीआर हरियाणा में बैंक की शाखाएं ऊषा सिलाई स्कूल (Usha Silai School) की महिला उद्यमियों को सिलाई मशीन खरीदने के लिए वित्त पोषण करेंगी जिससे वे तकनीकी सिलाई कौशल या कपड़े के धागे आदि की खरीद कर सकेंगी और अपनी आजीविका चला सकेंगी । UIL पहले से ही देश भर में ऊषा सिलाई स्कूलों के माध्यम से इन महिलाओं को आवश्यक प्रशिक्षण प्रदान कर रहा है।यह रिश्ता महिला उद्यमियों के बीच एक नया तालमेल लाएगा और समग्र विकास की ओर ले जाएगा, एसबीआई ने इस रिश्ते को 'नवचेतना (NAVCHETNA)' नाम दिया है।

स्मृति मंधाना बनी GUVI की ब्रांड एंबेसडर

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान मद्रास (IIT-M) इनक्यूबेटेड स्टार्टअप, GUVI ने भारतीय महिला क्रिकेटर स्मृति मंधाना को अपना ब्रांड एंबेसडर बनाया है। GUVI के ब्रांड एंबेसडर के रूप में, स्मृति मंधाना GUVI का चेहरा होंगी और GUVI के ऑनलाइन अभियानों में शामिल होंगी, जिसका उद्देश्य तकनीकी शिक्षा और सूचना प्रौद्योगिकी (IT) कौशल के महत्व और दायरे को मजबूत करना है। वह सभी के बीच, खासकर महिलाओं के बीच तकनीकी शिक्षा के बारे में जागरूकता पैदा करेगी। GUVI स्मृति मंधाना के साथ एक क्रॉस-प्लेटफ़ॉर्म अभियान शुरू करेगा, जिसके तहत GUVI युवाओं, शुरुआती पेशेवरों के लिए IT उद्योग में अपना करियर प्रोफ़ाइल विकसित करने के लिए सबसे किफायती शिक्षण समाधान प्रदान करेगा। GUVI व्यक्तियों को उनकी पसंदीदा मूल भाषाओं (तमिल, तेलुगु, हिंदी और कई अन्य भारतीय भाषाओं) में तकनीक और प्रोग्रामिंग कौशल प्रदान करने वाला भारत का पहला स्थानीय एड-टेक स्टार्टअप (Ed-tech Startup) है।

संजय दत्त अरुणाचल प्रदेश के 50वें वर्ष समारोह के लिए ब्रांड एंबेसडर के रूप में शामिल हुए

हाल ही में अरुणाचल प्रदेश सरकार प्रदेश सरकार ने बॉलीवुड अभिनेता संजय दत्त को राज्य का ब्रांड एंबेसडर घोषित किया है। इस बारे में राज्य में मुख्यमंत्री पेमा खांडू ने संजय दत्त और राहुल मित्रा की मौजूदगी में घोषणा की। दरअसल, सीएम ने राज्य के नामकरण के 50वें वर्ष के अवसर पर आयोजित स्वर्ण जयंती समारोह पर यह ऐलान किया। संजय दत्त के अलावा सरकार ने पुरस्कार विजेता फिल्म निर्माता और ब्रांडिंग विशेषज्ञ राहुल मित्रा को ब्रांड सलाहकार के रूप में नियुक्त किया है।

Ind-Ra ने FY22 में भारत की GDP 9.4% अनुमानित की

रेटिंग एजेंसी, इंडिया रेटिंग्स एंड रिसर्च (India Ratings and Research - Ind-Ra) को उम्मीद है कि भारत का सकल घरेलू उत्पाद (GDP) वित्तीय वर्ष-2022 की दूसरी तिमाही (FY22 की दूसरी तिमाही) में 3 प्रतिशत और FY22 में 9.4 प्रतिशत पर रहेगा। वित्तीय वर्ष-2022 की पहली तिमाही में कार्यस्थल की गतिशीलता बेसलाइन की तुलना में 26 प्रतिशत कम और बेसलाइन की तुलना में साल-दर-साल 16 प्रतिशत कम थी। सरकार का पूंजीगत व्यय (कैपेक्स) वित्त वर्ष 2022 की दूसरी तिमाही में 51.9 प्रतिशत बढ़ा, जबकि वित्त वर्ष 2021 की दूसरी तिमाही में 26.3 प्रतिशत था।

वी प्रवीण राव ने 2017-19 के लिए जीता 7वां डॉ. एम.एस. स्वामीनाथन पुरस्कार

प्रोफेसर जयशंकर तेलंगाना राज्य कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति (वीसी), वी प्रवीण राव (V Praveen Rao) ने 2017-19 की अवधि के लिए 7 वां डॉ एम एस स्वामीनाथन पुरस्कार जीता। यह एक द्विवार्षिक राष्ट्रीय (प्रत्येक 2 वर्ष) पुरस्कार है जो सेवानिवृत्त ICAR (भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद) कर्मचारी संघ (RICAREA) और नुज़िवेडु सीड्स लिमिटेड द्वारा प्रस्तुत किया गया था। इसमें 2 लाख रुपये का नकद पुरस्कार और एक प्रशस्ति पत्र दिया जाता है। पूर्व आईसीएआर महानिदेशक, आरएस परोदा (RS Paroda) की अध्यक्षता वाली चयन समिति ने वी प्रवीण राव को 'कृषि अनुसंधान, शिक्षण, विस्तार और प्रशासन' के क्षेत्र में उनके योगदान को मान्यता देने के लिए पुरस्कार के लिए चयन करने का निर्णय लिया है। प्रवीण राव ने भारत, इज़राइल और दक्षिण अफ्रीका में सूक्ष्म सिंचाई पर 13 अनुसंधान और 6 परामर्श परियोजनाओं को संभाला।

दिनयार पटेल की 'नौरोजी: पायनियर ऑफ इंडियन नेशनलिज्म' ने एनआईएफ बुक प्राइज 2021 जीता

दिनयार पटेल (Dinyar Patel) द्वारा लिखित और हार्वर्ड यूनिवर्सिटी प्रेस द्वारा प्रकाशित 'नौरोजी: पायनियर ऑफ इंडियन नेशनलिज्म (Naoroji: Pioneer of Indian Nationalism)' शीर्षक वाली जीवनी को चौथे कमलादेवी चट्टोपाध्याय एनआईएफ (न्यू इंडिया फाउंडेशन) बुक प्राइज 2021 के विजेता के रूप में चुना गया। दादा भाई नौरोजी के जीवन की घटनाओं और विरासत को बुकमार्क किया। इसमें 19वीं शताब्दी के दौरान भारत के राष्ट्रीय आंदोलन की ऐतिहासिक पृष्ठभूमि भी शामिल है। विजेता पुस्तक का चयन राजनीतिक वैज्ञानिक नीरजा गोपाल जयल (Niraja Gopal Jayal), नंदन नीलेकणि (Nandan Nilekani) और मनीष सभरवाल (Manish Sabharwal) और इतिहासकार श्रीनाथ राघवन (Srinath Raghavan) और नयनजोत लाहिरी (Nayanjot Lahiri) की अध्यक्षता में जूरी के निर्णय के आधार पर किया गया था।

सास्कन मेडिटेक, केरल स्थित स्टार्टअप ने फार्मा और मेडिकल डिवाइस स्टार्टअप इंडिया ग्रैंड चैलेंज 2021 जीता

केरल स्थित स्टार्टअप सास्कन (Sascan) मेडिटेक प्राइवेट लिमिटेड ने स्टार्टअप इंडिया और Investindia.org के साथ फार्मास्युटिकल्स विभाग, रसायन और उर्वरक मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा आयोजित ग्रैंड चैलेंज में चिकित्सा उपकरण श्रेणी में फार्मा और मेडिकल डिवाइस स्टार्टअप इंडिया ग्रैंड चैलेंज 2021 में प्रथम पुरस्कार जीता। सास्कन मेडिटेक को ग्रैंड चैलेंज में 15 लाख रुपये का नकद अनुदान मिला। सास्कन मेडिटेक श्री चित्रा तिरुनल इंस्टीट्यूट फॉर मेडिकल साइंसेज एंड टेक्नोलॉजी, तिरुवनंतपुरम, केरल के SCTIMST-TIMed में टेक्नोलॉजी बिजनेस इनक्यूबेटर में इनक्यूबेट किया गया एक स्टार्टअप है।

राष्ट्रीय प्रदूषण नियंत्रण दिवस

भारत में प्रत्येक वर्ष 2 दिसंबर को ‘राष्ट्रीय प्रदूषण नियंत्रण दिवस’ के रूप में मनाया जाता है। इस दिवस के आयोजन का प्राथमिक उद्देश्य औद्योगिक आपदाओं के प्रबंधन और नियंत्रण को लेकर जागरूकता फैलाना और औद्योगिक अथवा मानवीय गतिविधियों के कारण उत्पन्न होने वाले प्रदूषण को रोकने की दिशा में प्रयासों को बढ़ावा देना है। यह दिवस उन लोगों की याद में मनाया जाता है, जिन्होंने 2-3 दिसंबर, 1984 की रात को भोपाल गैस त्रासदी में अपनी जान गँवा दी थी। दरअसल 2 दिसंबर, 1984 की रात को अमेरिकी कंपनी यूनियन कार्बाइड इंडिया लिमिटेड (मौजूदा नाम-डाउ केमिकल्स) के प्लांट से ‘मिथाइल आइसोसाइनाइट’ (Methyl Isocyanate) गैस का रिसाव हुआ था, जिसने भोपाल शहर को एक विशाल गैस चैंबर में परिवर्तित कर दिया था। कम-से-कम 30 टन मिथाइल आइसोसाइनाइट गैस के रिसाव के कारण तकरीबन 15,000 से अधिक लोगों की मृत्यु हो गई थी और लाखों लोग इस भयावह त्रासदी से प्रभावित हुए थे। यही कारण है कि भोपाल गैस त्रासदी को विश्व में सबसे बड़ी औद्योगिक प्रदूषण आपदाओं में से एक माना जाता है। भारत के राष्ट्रीय स्वास्थ्य पोर्टल के मुताबिक, वायु प्रदूषण के कारण प्रत्येक वर्ष विश्व स्तर पर लगभग 7 मिलियन से अधिक लोगों की मृत्यु होती है, जिनमें से तकरीबन 4 मिलियन लोगों की मौत घरेलू वायु प्रदूषण के कारण होती है।

विश्व कंप्यूटर साक्षरता दिवस 2021

विश्व कंप्यूटर साक्षरता दिवस (World Computer Literacy Day) हर साल 2 दिसंबर को पूरी दुनिया में मनाया जाता है। इस दिन को विश्व कंप्यूटर साक्षरता दिवस के रूप में मनाया जाता है ताकि दुनिया भर में कम सेवा वाले समुदायों में जागरूकता पैदा की जा सके और डिजिटल साक्षरता को बढ़ावा दिया जा सके। यह दिन विशेष रूप से बच्चों और महिलाओं में तकनीकी कौशल को बढ़ावा देता है, और इसका उद्देश्य उन्हें और अधिक सीखने और कंप्यूटर के उपयोग से अपने काम को आसान बनाने के लिए प्रेरित करना है। विश्व कंप्यूटर साक्षरता दिवस के बारे में अधिक जानने के लिए उम्मीदवारों को नीचे दिए गए लेख को पढ़ने की सलाह दी जाती है।

अंतरराष्ट्रीय दास प्रथा उन्मूलन दिवस: 2 दिसंबर

संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा 1986 से 2 दिसंबर को प्रतिवर्ष अंतर्राष्ट्रीय दास प्रथा उन्मूलन दिवस (International Day for the Abolition of Slavery) मनाया जाता है। इस दिन का फोकस गुलामी के समकालीन रूपों, जैसे व्यक्तियों की तस्करी, यौन शोषण, बाल श्रम के सबसे खराब रूप, जबरन विवाह और सशस्त्र संघर्ष में बच्चों की जबरन भर्ती के उन्मूलन पर है। संयुक्त राष्ट्र महासभा में 2 दिसंबर 1949 को रेजोल्यूशन 317 (IV) पारित हुआ, जिसके तहत अंतरराष्ट्रीय दास प्रथा उन्मूलन दिवस को अडॉप्ट किया गया, इसमें मुख्य उद्देश्य मानव तस्करी रोकना और दूसरों के वेश्यावृत्ति के शोषण को रोकना था ।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Home

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2021 RajasthanGyan All Rights Reserved.