Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

4 September 2022

खगोलीय पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए लद्दाख में भारत का पहला रात्रि अभयाकाश स्थापित किया जाएगा

केंद्र सरकार के विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग लद्दाख में रात्रि अभयाकाश की एक नई योजना शुरू करने जा रहा है। यह परियोजना अगले तीन महीने में पूरी हो जाएगी। प्रस्‍तावित अभयाकाश लद्दाख के हनले में बनाया जाएगा और यह चुंगथांग अभयारण का हिस्‍सा होगा। इससे भारत में खगोलीय पर्यटन में वृद्धि होगी। यह क्षेत्र विश्‍व के सर्वाधिक ऊंचाई वाले स्‍थानों में से है। इन इलाकों में प्रकाशीय, इन्‍फ्रारेड और गामा दूरबीन से नक्षत्रों को देखने में रोमांच का अनुभव होगा। विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री डॉक्‍टर जितेन्‍द्र सिंह ने कहा है कि रात्रि अभयाकाश के लिए लद्दाख प्रशासन, लद्दाख स्‍वायत्‍तशासी पर्वतीय परिषद और भारतीय खगोल भौतिकी संस्‍थान के साथ त्रिपक्षीय समझौता हुआ है।

इसरो ने मंगल और शुक्र पर उपग्रह भेजने के लिए इन्फ्लेटेबल एरोडायनामिक डिसेलेरेटर का सफलतापूर्वक परीक्षण किया

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन - इसरो ने एक ऐसी अनूठी तकनीक विकसित की है, जिसका उपयोग मंगल और शुक्र ग्रह सहित अन्य मिशनों के लिए किया जा सकेगा। इनफ्लैटेबल एरोडायनमिक डिसिलरेटर -आई. ए. डी. नामक यह तकनीक विक्रम साराभाई अंतरिक्ष केन्द्र में विकसित की गई है। थुम्बा इक्वेटोरियल रॉकेट लॉन्चिंग स्टेशन (टीईआरएलएस) से रोहिणी साउंडिंग रॉकेट के साथ इसका सफल परीक्षण किया गया। इसरो के अध्यक्ष एस. सोमनाथ ने कहा है कि इस तकनीक के सफल परीक्षण से कम लागत में स्पेंट स्टेज रिकवरी का मार्ग प्रशस्त होगा। परीक्षण के दौरान आई.ए.डी., पेलोड की गति धीरे-धीरे कम करने में सफल रहा और इनफ्लैटेबल एरोडायनमिक डिसिलरेटर -आई. ए. डी. नामक यह तकनीक विक्रम साराभाई अंतरिक्ष केन्द्र में विकसित की गई है।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने दक्षिणी क्षेत्रीय परिषद की 30वीं बैठक की अध्यक्षता की

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने तिरुवनंतपुरम में दक्षिणी क्षेत्रीय परिषद की 30वीं बैठक की अध्यक्षता की। बैठक में कुल 26 मुद्दों पर चर्चा की गई, जिनमें से 9 मुद्दों का समाधान कर लिया गया और 17 मुद्दों पर आगे विचार करने का निर्णय लिया गया, जिनमें से 9 मुद्दे आंध्र प्रदेश के पुनर्गठन से संबंधित हैं। गृह मंत्री ने आंध्र प्रदेश और तेलंगाना से अपने लंबित मुद्दों को पारस्परिक रूप से हल करने का आग्रह किया। उन्‍होंने कहा कि इससे न केवल उनके राज्यों के लोगों को लाभ होगा, बल्कि इससे समूचे दक्षिणी क्षेत्र का सर्वांगीण विकास भी होगा। श्री अमित शाह ने दक्षिणी क्षेत्रीय परिषद के सभी राज्यों से पानी के बंटवारे से संबंधित मुद्दों का मिलजुल कर समाधान करने का आह्वान किया। केरल के मुख्यमंत्री और दक्षिणी क्षेत्रीय परिषद के वर्तमान उपाध्यक्ष पिनाराई विजयन ने कहा कि गृह मंत्री अमित शाह सभी राज्यों के साथ अच्छे संबंध बनाए रखने और विभिन्न राज्यों के बीच संबंधों को सुचारू बनाने के लिए हर संभव प्रयास कर रहे हैं। क्षेत्रीय परिषद की बैठक का मुख्य उद्देश्य केंद्र तथा राज्यों के बीच और अंतरराज्‍यीय विवादों को आपसी सहमति तथा क्षेत्रीय सहयोग के साथ सौहार्दपूर्ण तरीके से सुलझाना है। बैठक में केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन , तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम.के. स्टालिन और कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने बैठक में भाग लिया। इनके अलावा आंध्र प्रदेश तथा तेलंगाना के वरिष्ठ मंत्री, पुदुचेरी तथा अंडमान निकोबार के उपराज्यपाल, लक्षद्वीप के प्रशासक और केंद्र तथा राज्य सरकारों के वरिष्ठ अधिकारी भी इस बैठक में शामिल हुए।

ICDS सेवाओं के प्रभावी क्रियान्वयन के लिये असम में 'पोषण ट्रैकर' नाम का मोबाइल एप्लीकेशन जारी किया गया

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने 01 सितंबर, 2022 को गुवाहाटी में श्रीमंत शंकरदेव कलाक्षेत्र में महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में पोषण अभियान के अंतर्गत राष्ट्रीय पोषण माह 2022 का शुभारंभ किया। इसके अंतर्गत देश को कुपोषण से मुक्त करने के लिये असम सरकार राज्य में कुपोषण और एनीमिया के उन्मूलन हेतु कई कार्यक्रम लागू कर रही है। राज्‍य में पोषण अभियान के कार्यान्वयन की निगरानी के लिये राज्य परियोजना प्रबंधन इकाई गठित की गई है। इस इकाई ने एकीकृत बाल विकास योजना (ICDS) के अंतर्गत छह सेवाओं की निगरानी की, जिसमें गर्भवती महिलाओं और किशोरियों में एनीमिया, कम वजन और बच्चों में कुपोषण को दूर करने में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाई है। आँगनबाड़ी केंद्रों के स्तर पर ICDS सेवाओं के प्रभावी क्रियान्वयन के लिये पूरे असम में 'पोषण ट्रैकर' नाम का मोबाइल एप्लीकेशन जारी किया गया है। इस ऐप के माध्यम से कई ICDS सेवाओं की निगरानी की जाएगी। इस वर्ष पोषण माह के दौरान पूरे राज्य में 'पोषण पंचायत' नामक अभियान चलाया जाएगा। इसका उद्देश्य विभिन्न पौष्टिक खाद्य पदार्थों, एनीमिया से बचाव के तरीकों, मासिक धर्म के दौरान स्वच्छता बनाए रखना, जो गर्भावस्था और स्तनपान के दौरान महिलाओं के लिये बहुत महत्त्वपूर्ण हैं, के बारे में जागरूकता का विस्तार करना है।

64वें रेमन मैग्सेसे पुरस्कार 2022 की घोषणा

रेमन मैग्सेसे पुरस्कार 2022 का ऐलान कर दिया गया है। इस साल का रेमन मैग्सेसे पुरस्कार कंबोडियाई मनोचिकित्सक सोथियारा छिम और जापानी नेत्र रोग विशेषज्ञ तदाशी हतोरी, फिलीपीन के बाल रोग विशेषज्ञ बर्नाडेट मैड्रिड और फ्रांसीसी पर्यावरण कार्यकर्ता गैरी बेनचेघि को दिया जाएगा। सोथियारा छिम ने खमेर रूज के शासन में सताए गए पीड़ितों का इलाज करने में काफी नाम कमाया है। उनके इस काम को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर काफी सराहना भी मिली है। वहीं, जापानी नेत्र रोग विशेषज्ञ तदाशी हतोरी ने वियतनाम में हजारों ग्रामीणों का इलाज किया है। इनमें से अधिकतर लोग वियतनाम युद्ध के दौरान हुई बमबारी के कारण आंखों की समस्या से जूझ रहे थे। रेमन मैग्सेसे को एशिया का नोबेल पुरस्कार भी कहा जाता है। विनोबा भावे प्रथम भारतीय थे, जिन्हें पहली बार रेमन मैग्सेसे पुरस्कार दिया गया था। यह पुरस्कार पाने वाले अन्य लोगों में फिलीपीन के बाल रोग विशेषज्ञ बर्नाडेट मैड्रिड भी शामिल हैं, जिन्होंने हजारों प्रताड़ित बच्चों और उनके परिवारों को चिकित्सा, कानूनी और सामाजिक सहायता प्रदान की है। इनके अलावा एक फ्रांसीसी पर्यावरण कार्यकर्ता गैरी बेनचेघिब हैं जिन्होंने इंडोनेशियाई नदियों में प्लास्टिक प्रदूषण को साफ करने के लिए प्रयास किये हैं। वार्षिक पुरस्कारों का नाम फिलीपीन के एक राष्ट्रपति के नाम पर रखा गया है, जिनकी 1957 में विमान दुर्घटना में मृत्यु हो गई थी। यह पुरस्कार उन लोगों को दिया जाता है जिन्होंने एशिया के लोगों की निस्वार्थ सेवा की है। मनीला में 30 नवम्बर को ये पुरस्कार प्रदान किये जायेंगे।

स्मार्ट समाधान चुनौती और समावेशी शहर पुरस्कार 2022

हाल ही में आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय द्वारा स्मार्ट समाधान चुनौती और समावेशी शहर पुरस्कार, 2022 (Smart Solutions Challenge and Inclusive Cities Awards 2022) प्रदान किये गए। प्रारंभिक चरण के नवाचारों की श्रेणी में, विजेता एक ‘वियरेबल’ प्रौद्योगिकी उत्पाद, फिफ्थ सेंस बाय ग्लोवाट्रिक्स प्राइवेट लिमिटेड था। यह उत्पाद सेंसर और कृत्रिम बुद्धिमत्ता का उपयोग करके सांकेतिक भाषा के इशारों को भाषण और पाठ में अनुवाद करता है। बाज़ार के लिये तैयार समाधानों की दूसरी श्रेणी में ‘माउसवेयर बाय डेक्सट्रोवेयर डिवाइसेज प्राइवेट लिमिटेड’ विजेता रहा। माउसवेयर एक हेड-वियरेबल डिवाइस है जो कंप्यूटर और स्मार्ट गैजेट्स को हैंड्स-फ्री कंट्रोल करने में सक्षम बनाता है। विकलांग लोगों के लिये शिक्षा और स्वास्थ्य सेवा तक पहुँच स्थापित करने हेतु बेलगावी स्मार्ट सिटी प्रणाली को कार्यान्वित समाधानों की श्रेणी में शीर्ष पुरस्कार से सम्मानित किया गया। स्मार्ट समाधान चुनौती भारत में शहरी मामलों के राष्ट्रीय संस्थान (NIUA) और संयुक्त राष्ट्र (UN) की एक पहल है। शहरी मामलों का राष्ट्रीय संस्थान और संयुक्त राष्ट्र भारत में नवीन विचारों, समाधानों, प्रौद्योगिकियों, उत्पादों और व्यावसायिक समाधानों की तलाश कर रहे हैं जो विकलांग व्यक्तियों, महिलाओं, लड़कियों और बुजुर्गों के सामने आने वाली शहरी स्तर पर समावेशन और पहुँच संबंधी चुनौतियों का समाधान करने में मदद कर सकते हैं।

चीन उइगरों के मानवाधिकारों का गंभीर उल्लंघन कर रहा : संयुक्त राष्ट्र

हाल ही में जारी संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट के अनुसार, चीन उइगरों के मानवाधिकारों का गंभीर उल्लंघन कर रहा है जो मानवता के खिलाफ अपराध है। रिपोर्ट में चीन पर अल्पसंख्यक समूहों के दस लाख या उससे अधिक लोगों को हिरासत शिविरों में ले जाने का आरोप लगाया गया है, जहाँ कई लोगों ने कहा है कि उन्हें प्रताड़ित एवं उनका यौन उत्पीड़न किया गया, साथ ही उनकी भाषा और धर्म को छोड़ने के लिये मज़बूर किया गया। मानवाधिकार समूहों ने आरोपों की जाँच के लिये स्वतंत्र अंतर्राष्ट्रीय निकाय स्थापित करने हेतु संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद के लिये नए सिरे से आह्वान किया। उइगर मुख्य रूप से मुस्लिम अल्पसंख्यक तुर्क जातीय समूह हैं, जिनकी उत्पत्ति मध्य एवं पूर्वी एशिया से मानी जाती है। उइगर अपनी स्वयं की भाषा बोलते हैं, जो कि काफी हद तक तुर्की भाषा के समान है और उइगर स्वयं को सांस्कृतिक एवं जातीय रूप से मध्य एशियाई देशों के करीब पाते हैं। उइगर मुस्लिमों को चीन में आधिकारिक तौर पर मान्यता प्राप्त 55 जातीय अल्पसंख्यक समुदायों में से एक माना जाता है। हालाँकि चीन उइगर मुस्लिमों को केवल एक क्षेत्रीय अल्पसंख्यक के रूप में मान्यता देता है और यह अस्वीकार करता है कि वे स्वदेशी समूह हैं।

साल भर चलने वाला हैदराबाद मुक्ति समारोह 17 सितम्बर से शुरू होगा

सरकार ने इस महीने की 17 तारीख से अगले एक वर्ष तक के लिए हैदराबाद मुक्ति दिवस कार्यक्रमों के आयोजन की अनुमति दे दी है। इस अवसर पर गृहमंत्री अमित शाह 17 सितम्बर को हैदराबाद के परेड ग्राउंड में होने वाले उद्घाटन कार्यक्रम के मुख्य अतिथि होंगे। संस्कृति मंत्रालय के अनुसार, वर्ष भर चलने वाले इन आयोजनों का उद्देश्य संस्थान की मुक्ति और भारतीय संघ में विलय के लिए अपने प्राण न्यौछावर करने वालों के प्रति श्रद्धांजलि अर्पित करना है। गौरतलब है कि 1948 में इसी दिन निजाम के शासन वाले तत्कालीन हैदराबाद राज्य का भारत संघ में विलय हो गया था। हैदराबाद राज्य निजाम शासन के अधीन था और पुलिस ने भारत में इसका विलय कराने के लिए ‘ऑपरेशन पोलो’ नाम से अभियान चलाया था, जो 17 सितंबर 1948 को समाप्त हुआ था।

भारत, 2029 तक दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था हो जाएगा, 2027 तक जर्मनी और 2029 तक जापान से आगे निकल जाने का अनुमान

भारत वर्ष 2029 तक विश्व की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगा। भारतीय स्टेट बैंक की रिपोर्ट में कहा गया है कि मौजूदा वृद्धि दर पर भारत 2027 में जर्मनी और संभवतः 2029 में जापान से आगे निकल जाएगा। रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत में 2014 के बाद से काफी ढांचागत बदलाव हुए हैं और इस समय वह ब्रिटेन को पीछे छोड़ते हुए पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन गया है। यह रिपोर्ट भारतीय स्टेट बैंक के ग्रुप मुख्य आर्थिक सलाहकार सौम्य कांति घोष ने तैयार की है। वित्तमंत्री निर्मला सीतारामन ने कहा है कि अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष के अनुमानों से पता चलता है कि भारत इस वर्ष वार्षिक आधार पर डॉलर के संदर्भ में ब्रिटेन से आगे निकल गया है। अब भारत, अमरीका, चीन, जापान और जर्मनी से ही पीछे रह गया है। सरकार ने कहा है कि इस साल देश का कुल निर्यात 750 अरब अमरीकी डॉलर को पार कर जाएगा। पिछले वर्ष यह 676 अरब अमरीकी डॉलर था। अगस्त 2022 तक आयात 61 दशमलव 88 अरब रहा, जो पिछले वर्ष की तुलना में 37 प्रतिशत अधिक है। चालू वित्त वर्ष के पांच महीनों में, भारत के आयात में 45 प्रतिशत की वृद्धि हुई और यह बढकर 318 अरब अमेरिकी डॉलर हो गया। उन्होंने कहा कि कोयला और पेट्रोलियम के आयात में वृद्धि हुई है और यह अर्थव्यवस्था के लिए अच्‍छा संकेत है क्योंकि देश का 25% आयात उपभोक्ता वस्तुओं के लिए है, जबकि 75 प्रतिशत आयात कच्चे माल के लिए है।

छठी अखिल भारतीय जेल प्रतियोगिता

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने अहमदाबाद के ट्रांस स्‍टेडियम में छठी अखिल भारतीय जेल प्रतियोगिता का शुभारंभ किया। उन्‍होंने कहा कि अपराधियों का पुनर्वास न केवल मानवीय रूप में बल्कि देश में कानून और व्‍यवस्‍था के सुगम संचालन के लिए भी अत्‍यधिक महत्‍वपूर्ण है। श्री शाह ने प्रत्‍येक राज्‍य से 2016 के जेल सुरक्षा मॉडल को अपनाने का आग्रह किया। उन्‍होंने कहा कि बेहतर जेल प्रशासन के लिए प्रौद्योगिकी अपनाई जानी चाहिए। तीन दिन के इस खेल आयोजन में देश की विभिन्‍न जेलों के एक हजार से अधिक अधिकारी और कर्मचारी 18 स्‍पर्धाओं में शामिल होंगे। इनमें शामिल हैं- संगीत, प्रश्‍नोत्‍तरी, बिना हथियारों के लड़ाई की कला, वॉलीबाल और कबड्डी। इसका आयोजन पुलिस अनुसंधान और विकास कार्यालय तथा गुजरात पुलिस संयुक्‍त रूप से कर रहे हैं।

अनुकुलचंद्र ठाकुर की 135वीं जयंती पर तीन दिवसीय कार्यक्रम बांग्लादेश में उनके जन्म स्थान पर शुरू हुआ

आध्यात्मिक गुरु अनुकुलचंद्र ठाकुर की 135वीं जयंती मनाने के लिए शनिवार को बांग्लादेश के हेमायेतपुर, पबना में बांग्लादेश और भारत के हजारों लोग एकत्र हुए। शनिवार को तीन दिवसीय कार्यक्रम पबना के हेमायेतपुर में उनके जन्म स्थान पर शुरू हुआ। आध्यात्मिक आंदोलन के सदस्यों ने मांग की है कि अनुकुलचंद्र ठाकुर आश्रम की भूमि संगठन को दे दी जाए। 1947 के बाद तत्कालीन पाकिस्तान सरकार ने इसे अपने कब्जे में ले लिया था। श्री अनुकुलचंद्र ठाकुर 1946 में पबना छोड़कर भारत आ गए थे। और बाद में विभाजन के बाद 'सत्संग आश्रम' की भूमि को पाकिस्तान सरकार ने अपने कब्जे में ले लिया और एक मानसिक अस्पताल में बदल दिया, जो आज तक मौजूद है। आध्यात्मिक गुरु और समाज सुधारक श्री अनुकुलचंद्र ठाकुर का जन्म 1888 में हेमायेतपुर, पबना में हुआ था। उन्होंने एक आध्यात्मिक आंदोलन शुरू किया जिसमें सभी धर्मों की एकता पर जोर दिया गया। उन्होंने लड़कियों की शिक्षा और वैज्ञानिक अनुसंधान के लिए संस्थानों की स्थापना की। स्वतंत्रता आंदोलन के कुछ महान नेताओं जैसे देशबंधु चित्तरंजन दास ने उन्हें अपना गुरु माना। पबना जाने पर महात्मा गांधी भी उनसे मिले थे।

मूडीज ने भारत की आर्थिक वृद्धि का अनुमान घटाकर 7.7 फीसदी किया

मूडीज इन्वेस्टर्स सर्विस ने 2022 के लिए भारत की आर्थिक वृद्धि का अनुमान घटाकर 7.7 फीसदी कर दिया और कहा कि बढ़ती ब्याज दरें, असमान मानसून और धीमी वैश्विक वृद्धि आर्थिक गति को क्रमिक आधार पर कम करेंगे। इससे पहले मई में मूडीज ने 2022 के लिए भारत की आर्थिक वृद्धि दर 8.8 प्रतिशत रहने का अनुमान जताया था। अर्थव्यवस्था 2021 में 8.3 फीसदी की दर से बढ़ी थी, इससे पहले 2020 में कोरोना वायरस के कारण यह 6.7 फीसदी रही थी।

कनाडा में सड़क का नाम एआर रहमान के नाम पर रखा गया

कनाडा के मरखम शहर में एक सड़क का नाम विश्व विख्यात संगीतकार एआर रहमान के नाम पर रखा गया है, जिसके बाद भारतीय गायक ने कहा कि वह अब कड़ी मेहनत करते रहने तथा लोगों को प्रेरित करने की अधिक जिम्मेदारी महसूस करते हैं। भारतीय फिल्म उद्योग में इस महीने तीन दशकों का सफर पूरा करने वाले रहमान ने कनाडा के ओंटारियो में मरखम के प्राधिकारियों के प्रति ट्विटर पर आभार व्यक्त किया। वे अभी अपने संगीत कार्यक्रम के सिलसिले में कनाडा में हैं। मरखम शहर ने एलान किया है कि रहमान के सम्मान में एक सड़क का नाम उनके नाम पर रखा जाएगा।

यमुना कुमार चौबे को एनएचपीसी के सीएमडी के रूप में नामित किया गया

यमुना कुमार चौबे ने 1 सितंबर से तीन महीने के लिए एनएचपीसी के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक के रूप में पदभार ग्रहण किया। उन्होंने अभय कुमार सिंह का स्थान लिया। चौबे वर्तमान में एनएचपीसी में निदेशक (तकनीकी) हैं और उन्हें 3 महीने की अवधि के लिए सीएमडी के पद का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है, जब तक कि एक नियमित पदधारी पद ग्रहण नहीं करता।

टॉप-10 कंपनियों की लिस्ट से बाहर हुई एलआईसी

भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) के लिए शेयर मार्केट ठीक साबित नहीं हुआ है। लंबे इंतजार के बाद जब कंपनी शेयर बाजार में उतरी तो आईपीओ (LIC IPO) के बाद डिस्काउंट पर लिस्टिंग हुई। उसके बाद लगातार इसके शेयरों के दाम कम होते गए हैं। इसका असर कंपनी के मार्केट कैप पर भी हुआ है। अब हालात यह है कि एलआईसी मार्केट कैप के लिहाज से देश की 10 सबसे बड़ी लिस्टेड कंपनियों की सूची से बाहर हो गई है। 30 अगस्त को बाजार बंद होने के बाद बीएसई पर अडानी ट्रांसमिशन का मार्केट कैप 4.43 लाख करोड़ रुपये था। इस तरह अडानी समूह की यह कंपनी 9वें पायदान पर पहुंच गई। इसके बाद बजाज फाइनेंस का नंबर है, जो 4.42 लाख करोड़ रुपये के बाजार पूंजीकरण के साथ 10वें स्थान पर है। सरकारी बीमा कंपनी अब 4.26 लाख करोड़ रुपये के एमकैप के साथ 11वें स्थान पर आ गई है।

Kartik Aaryan ने फिल्म Bhool Bhulaiyaa 2 में रूह बाबा की कॉमिक बुक का लुक किया शेयर

कार्तिक आर्यन की फिल्म भूल भुलैया 2 को दर्शकों ने काफी पसंद किया था। अनीस बज्मी द्वारा निर्देशित इस फिल्म में रूह बाबा के किरदार में कार्तिक ने दर्शकों का दिल जीत लिया था। अब रूह बाबा का यह किरदार कॉमिक बुक में भी नजर आने वाला है। फिल्म में दिखाए गए कार्तिक आर्यन के रूह बाबा के किरदार को अब 'रूह बाबा की भूल भुलैया' नाम से कॉमिक में पढ़ा जा सकता है। 'रूब बाबा की भूल भुलैया' कॉमिक को डायमंड कॉमिक्स द्वारा लाया जा रहा है। यह एक लोकप्रिय पब्लिशर है, जिसने चाचा चौधरी और मोटू पतलू जैसे किरदार दिए हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार कार्तिक आर्यन अपनी जनरेशन के पहले ऐसा अभिनेता है, जिनके किसी कैरेक्टर पर कॉमिक बुक आई है।

लेह में माउंटेन बाइसिकल विश्व कप प्रतियोगिता का आय़ोजन

लद्दाख में लेह, भारत में माउंटेन बाइसिकल विश्‍व कप प्रतियोगितायूसीआई एमटीबी एलिमिनेटर वर्ल्ड कप’ की मेजबानी कर रहा है। भारत पहली बार 'यूसीआई एमटीबी एलिमिनेटर वर्ल्ड कप' की मेजबानी कर रहा है। केंद्रशासित प्रदेश लद्दाख प्रशासन और साइक्लिंग एसोसिएशन ऑफ इंडिया के सहयोग से कल लद्दाख पुलिस इस अंतर्राष्ट्रीय साइकिलिंग कार्यक्रम का आयोजन कर रही है।

नेहरू ट्रॉफी नौका दौड़ केरल में अलाप्पुझा जिले की पुन्नमदा झील में

केरल में, 68वीं नेहरू ट्रॉफी नौका दौड़ अलाप्पुझा जिले के पुन्नमदा झील में आयोजित की जा रही है। प्रतियोगिताएं नौ श्रेणियों में आयोजित की जाती हैं। प्रतिस्‍पर्धा में 20 स्नेक नौकाओं सहित 77 नौकाएं भाग लेंगी। श्रीनगर की डल झील के 24 शिकारा पैडलर्स भी इस बार नौका दौड़ में हिस्सा ले रहे हैं। इस प्रतिष्ठित ट्रॉफी पर देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू के हस्‍ताक्षर हैं।

नेशनल राइफल एसोसिएशन ने आगामी निशानेबाजी विश्व चैंपियनशिप के लिए भारतीय टीम की घोषणा की

भारतीय राष्ट्रीय राइफल संघ ने मिस्र में आगामी निशानेबाजी विश्व चैंपियनशिप के लिये 48 सदस्यों की भारतीय राइफल और पिस्टल टीम की घोषणा कर दी है। लंदन ओलम्‍पिक्‍स में रजत पदक विजेता विजय कुमार चार वर्ष बाद अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता में भाग लेंगे। रैपिड फायर पिस्‍टल में उनके अलावा अनीश भानवाला और विजयवीर सिद्धू भी भारतीय दल में शामिल हैं। एयर राइफल-3 पोजिशन में विश्‍व चैंपियनशिप के रजत पदक विजेता और ओलम्पियन अंजुम मुदगिल भाग लेंगे। विश्‍व चैंपियनशिप 12 से 25 अक्‍तूबर, 2022 तक काहिरा में होगी। इसमें पुरूष और महिला वर्गों में चार ओलम्पिक कोटा स्‍थान मिलेंगे। विश्व निशानेबाजी चैंपियनशिप का संचालन इंटरनेशनल शूटिंग स्पोर्ट फेडरेशन (ISSF) द्वारा किया जाता है। वर्ष 1896 के सफल ग्रीष्मकालीन ओलंपिक के बाद विश्व निशानेबाजी चैंपियनशिप वर्ष 1897 में शुरू हुई। हालाँकि ISSF की स्थापना वर्ष 1907 तक नहीं हुई थी, फिर भी इन शुरुआती प्रतियोगिताओं को संगठन द्वारा चैंपियनशिप की एक सतत् पंक्ति की शुरुआत के रूप में देखा जाता है। ISSF की सभी शूटिंग स्पर्द्धाओं सहित ये चैंपियनशिप वर्ष 1954 से प्रत्येक चार वर्ष में आयोजित की जाती हैं। केवल शॉटगन स्पर्द्धाओं के लिये विषम संख्या वाले वर्षों में अतिरिक्त विश्व चैंपियनशिप प्रतियोगिता होती है। भारतीय राष्ट्रीय राइफल संघ (NRAI) को भारत में शूटिंग खेल के विकास और आत्मरक्षा के लिये नागरिकों को प्रशिक्षण देने हेतु स्थापित किया गया था। राष्ट्रीय राइफल संघ के अंतर्गत 53 राज्य संघ आते हैं। इसके अंतर्गत राष्ट्रीय, राज्य, ज़िला और क्लब स्तर पर नियमित तौर पर टूर्नामेंट आयोजित होते हैं।

न्यूजीलैंड के कॉलिन डी ग्रैंडहोम ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लिया

न्यूजीलैंड के ऑलराउंडर कॉलिन डी ग्रैंडहोम ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा की। डी ग्रैंडहोम ने इस सप्ताह अपने फैसले को लेकर न्यूजीलैंड क्रिकेट से बातचीत की थी जो उन्हें केंद्रीय अनुबंध से मुक्त करने पर तैयार हो गया था। जिंबाब्वे में जन्मे डी ग्रैंडहोम ने कहा कि इस फैसले के पीछे उनकी चोट और तीनों प्रारूपों में बढ़ती प्रतिस्पर्धा के अलावा कई अन्य कारण हैं।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2022 RajasthanGyan All Rights Reserved.