Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

3 January 2023

उच्‍चतम न्‍यायालय ने केंद्र की नोटबंदी नीति को बरकरार रखा; कहा - निर्णय लेना त्रुटिपूर्ण नहीं

उच्‍चतम न्‍यायालय ने वर्ष 2016 में पांच सौ और हज़ार रुपये के नोटबंदी के निर्णय को सही ठहराया (4:1 बहुमत से) है। पांच न्‍याधीशों की संविधान पीठ ने केन्‍द्र सरकार के नोटबंदी के फैसले को चुनौती देने वाली 58 याचिकाओं को खारिज कर दिया। न्‍यायमूर्ति एस. ए. नज़ीर की अध्‍यक्षता वाली पीठ ने कहा कि यह फैसला सरकार की आर्थिक नीतियों का है, इसलिए इसे बदला नहीं जा सकता। बहुमत के आधार पर फैसले को देते हुए न्‍यायमूर्ति बी.आर. गवई ने कहा कि केन्‍द्र सरकार का निर्णय सही है, क्‍योंकि इससे पहले सरकार और रिजर्व बैंक के बीच परामर्श हुआ था। न्‍यायमूर्ति एस. अबुल नज़ीर, बी.आर. गवई, ए.एस. बोपन्‍ना, वी.पी. राम सुब्रह्मण्‍यम और बी.वी. नागरत्‍न की पांच न्‍यायाधीशों की संविधान पीठ केन्‍द्र के फैसलो को चुनौती देने वाली कई याचिकाओं की सुनवाई कर रही थी। न्‍यायमूर्ति नागरत्‍न ने फैसले पर असहमति व्‍यक्‍त की। सरकार ने शपथपत्र में न्‍यायालय को बताया था कि नोटबंदी का उद्देश्‍य नकली नोट, काले धन, कर चोरी और आतंकी गतिविधियों के लिए धन मुहैया कराने पर रोक लगाना था।

"विरासत" - भारत की हाथ से बुनी 75 साड़ियों का उत्‍सव' - साड़ी महोत्सव का दूसरा चरण आरंभ

"विरासत" - भारत की हाथ से बुनी 75 साड़ियों का उत्सव -साड़ी महोत्सव का दूसरा चरण 3 से 17 जनवरी, 2023 तक हथकरघा हाट, जनपथ, नई दिल्ली में आयोजित किया जाएगा। इस उत्सव का आयोजन कपड़ा मंत्रालय कर रहा है। इसका समय पूर्वाह्न 11 बजे से रात 8 बजे तक है। इस उत्‍सव के दूसरे चरण में देश के विभिन्न हिस्सों से भाग ले रहे 90 प्रतिभागी टाई एंड डाई, चिकन कढ़ाई वाली साड़ियों, हैंड ब्लॉक साड़ियों, कलमकारी प्रिंटेड साड़ियों, अजरख, कांथा और फुलकारी जैसी प्रसिद्ध दस्तकारी की किस्मों इस आयोजन का आकर्षण बढ़ा रहे हैं। ये जामदानी, इकत, पोचमपल्ली, बनारस ब्रोकेड, टसर सिल्क (चंपा), बलूचरी, भागलपुरी सिल्‍क, तंगैल, चंदेरी, ललितपुरी, पटोला, पैठनी आदि की विशेष हथकरघा साड़ियों के अलावा होंगी। , तनचोई, जंगला, कोटा डोरिया, कटवर्क, माहेश्वरी, भुजोड़ी, शांतिपुरी, बोमकाई और गरद कोरियल, खंडुआ और अरनी सिल्क साड़ियां जैसी कई अन्य किस्म की हथकरघा साड़ियां भी उपलब्ध होंगी। "विरासत" - भारत की हाथ से बुनी 75 साड़ियों का उत्सव का पहला चरण 16 दिसंबर 2022 से शुरू होकर 30 दिसंबर 2022 को संपन्न हुआ।

देश में आयुर्वेद में अनुसंधान एवं विकास को बढ़ावा देने हेतु आयुर्वेद प्रोफेशनलों के लिए ‘स्मार्ट’ कार्यक्रम

भारतीय चिकित्सा प्रणाली के लिए राष्ट्रीय आयोग (एनसीआईएसएम) और केन्द्रीय आयुर्वेदीय विज्ञान अनुसंधान परिषद (सीसीआरएएस), जो क्रमशः चिकित्सा शिक्षा का नियमन करने और वैज्ञानिक अनुसंधान करने के लिए भारत सरकार के आयुष मंत्रालय के अधीनस्‍थ दो प्रमुख संस्थान हैं, ने आयुर्वेद कॉलेजों और अस्पतालों के माध्यम से प्राथमिकता वाले स्वास्थ्य अनुसंधान क्षेत्रों में वैज्ञानिक अनुसंधान को बढ़ावा देने के उद्देश्य से ‘स्मार्ट (स्कोप फॉर मेनस्ट्रीमिंग आयुर्वेद रिसर्च इन टीचिंग प्रोफेशनल्स)’ कार्यक्रम शुरू किया है।

UPI लेनदेन दिसंबर में रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंचा

भारत के यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (UPI) ने दिसंबर में कुल 12.82 ट्रिलियन ($174.6 बिलियन) मूल्य के रिकॉर्ड 7.82 बिलियन लेनदेन प्रोसेस किये। यह नवंबर की तुलना में मात्रा में 7.12% और मूल्य में 7.73% की वृद्धि दर्शाता है। साल-दर-साल आधार पर वॉल्यूम और वैल्यू में क्रमश: 71% और 55% की बढ़ोतरी हुई। 2022 में, UPI ने 125.94 ट्रिलियन रुपये के 74 बिलियन से अधिक लेनदेन को संसाधित किया। 2021 में, इसने 71.54 ट्रिलियन रुपये के 38 बिलियन लेनदेन को संसाधित किया। यह मात्रा में 90% और मूल्य में 76% की वृद्धि का प्रतिनिधित्व करता है। UPI अक्टूबर 2019 में 1 बिलियन, अक्टूबर 2020 में 2 बिलियन और जनवरी 2021 में 3 बिलियन तक पहुंच गया था। भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (NPCI), जो UPI का प्रबंधन और संचालन करता है, ने प्रति दिन एक बिलियन लेनदेन का लक्ष्य है। NPCI को उम्मीद है कि अगले तीन से पांच साल में इसे हासिल कर लिया जाएगा।

रेलवे ने यात्री किराये से होने वाली कुल आय में 71 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की

रेलवे ने यात्री किराये से होने वाली कुल आय में 71 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की है। अप्रैल से दिसंबर 2022 के दौरान 48 हजार 913 करोड़ रुपये का राजस्‍व प्राप्‍त हुआ, जो 2021 की इसी अवधि में 28 हजार 569 करोड़ रुपये था। एक अप्रैल से 31 दिसंबर 2022 की अवधि के दौरान आरक्षित यात्री किराये से 38 हजार 483 करोड़ रुपये प्राप्‍त हुए, जो 2021 में इसी अवधि के दौरान प्राप्‍त 26 हजार चार सौ करोड़ की तुलना में 46 प्रतिशत अधि‍क है। अनारक्षित यात्री भाड़े से राजस्व में 381 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है, जो 2021 की इसी अवधि के दौरान दो हजार 169 करोड़ की तुलना में बढ़कर 10 हजार 430 करोड़ रुपये हो गया है। रेलवे को मौजूदा वित्त वर्ष के पिछले महीने तक माल ढुलाई से एक लाख 20 हजार करोड़ रुपये से अधिक की आय हुई है। रेल मंत्रालय ने कहा है कि यह पिछले साल की इसी अवधि की तुलना में 16 प्रतिशत अधिक है।

रेलवे की ऊर्जा दक्षता योजना

भारतीय रेल मंत्रालय ने जलवायु परिवर्तन पर संयुक्त राष्ट्र फ्रेमवर्क कन्वेंशन (United Nations Framework Convention on Climate Change) के लिए देश की प्रतिबद्धता के हिस्से के रूप में 2030 तक कार्बन-तटस्थ बनने के लिए पांच-आयामी योजना की रूपरेखा तैयार की है। इस योजना का उद्देश्य कुशल संचालन के माध्यम से ऊर्जा की खपत को कम करना और नवीकरणीय ऊर्जा के उपयोग को बढ़ाना है। इस योजना का एक प्रमुख घटक सभी रेलवे प्रतिष्ठानों पर रूफटॉप सौर पैनलों की स्थापना है, जिससे प्रशासनिक और रखरखाव गतिविधियों जैसे गैर-कर्षण संचालन में नवीकरणीय ऊर्जा के उपयोग में काफी वृद्धि होने की उम्मीद है। गैर-कर्षण संचालन (non-traction operations) वर्तमान में प्रति वर्ष 2,100 GWh बिजली के उपयोग के लिए जिम्मेदार है, और यह 2030 तक 30% तक बढ़ने का अनुमान है क्योंकि भारतीय रेलवे नेटवर्क का विस्तार हो रहा है।

कोलकाता में दिसंबर 2023 तक भारत की पहली अंडरवाटर मेट्रो बनकर तैयार हो जाएगी

कोलकाता मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन (KMRC) ने हाल ही में बताया कि भारत की पहली अंडरवाटर सुरंग दिसंबर 2023 तक पूरी हो सकती है। पश्चिम बंगाल में हुगली नदी के अंदर से भारत की पहली अंडरवाटर सुरंग बनाई जा रही है। इसका निर्माण कोलकाता के ईस्ट वेस्ट मेट्रो कॉरिडोर के हिस्से के रूप में किया जा रहा है। इसकी लागत लगभग 120 करोड़ रुपये आएगी। सुरंग के बनने के बाद पानी के अंदर 520 मीटर की दूरी को मेट्रो महज 45 सेकंड में ही तय करेगी। हुगली नदी में पानी के नीचे मेट्रो रेल सेवा कोलकाता और हावड़ा शहरों को जोड़ेगी।

अजय कुमार श्रीवास्तव इंडियन ओवरसीज बैंक के एमडी और सीईओ नियुक्त

सार्वजनिक क्षेत्र के इंडियन ओवरसीज बैंक (आईओबी) ने अजय कुमार श्रीवास्तव को प्रमोशन देकर प्रबंध निदेशक (एमडी) और मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) नियुक्त किया है। भारत सरकार ने अजय कुमार श्रीवास्तव को 1 जनवरी 2023 ,से तीन साल के कार्यकाल के लिए इंडियन ओवरसीज बैंक (आइओबी) का प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) के रूप में नियुक्त करने की मंजूरी दे दी है।

इसरो, आंध्र विश्वविद्यालय चीर धाराओं की भविष्यवाणी करने और समुद्र में डूबने से रोकने के लिए उपकरण स्थापित करेगा

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) राष्ट्रीय पृथ्वी विज्ञान केंद्र,तिरुवनंतपुरम और आंध्र विश्वविद्यालय ,संयुक्त रूप से विशाखापत्तनम, आंध्र प्रदेश के ऋषिकोंडा और आरके(रामकृष्ण) समुद्र तट पर चीर धाराओं का पूर्वानुमान लगाने के लिए उपकरण स्थापित करेगा। राज्य सरकार के अनुसार 2012 से 2022 के बीच विशाखापत्तनम और उसके आसपास के विभिन्न समुद्र तटों पर 200 से अधिक लोग समुद्र में डूब गए हैं और इनमें से शहर के आरके समुद्र तट पर 60 प्रतिशत मौतें हुई हैं। अधिकांश मौत चीरधाराओं की वजह से हुई है।

रिपोर्टर्स विदाउट बॉर्डर्स : पिछले दो दशकों (2003-2022) में दुनिया भर में कुल 1,668 पत्रकारों की हत्या

31 दिसंबर 2022 को प्रकाशित रिपोर्टर्स विदाउट बॉर्डर्स (आरएसएफ) की वर्ष के अंत की रिपोर्ट के अनुसार, पिछले दो दशकों (2003-2022) में पत्रकारिता के अपने काम के सिलसिले में दुनिया भर में कुल 1,668 पत्रकारों की हत्या की गई है। मौत के मुख्य कारण हत्याएं, संविदा हत्याएं, घात लगाकर हमला करना, युद्ध क्षेत्र में मौतें, और घातक चोटें थी। रिपोर्ट में कहा गया है कि हर साल औसतन 80 पत्रकारों को अपनी जान गंवानी पड़ी। सीरिया में युद्ध के कारण 2012 में सबसे अधिक 144 से अधिक पत्रकारों की जान चली गई और 2013 में 142 पत्रकारों की मौत हो गई। आरएसएफ के मुताबिक, पिछले दो दशकों में पत्रकारों की 80 प्रतिशत मौत 15 देशों में हुई है। सीरिया और इराक में मृत्यु दर सबसे अधिक है, जहां पिछले बीस वर्षों में कुल 578 पत्रकार मारे गए हैं। यह दुनिया भर में पत्रकारों की मृत्यु दर का लगभग 1/3 है।

भारतीय रिज़र्व बैंक ने रिज़र्व बैंक के इतिहास (1997-2008) का पांचवां खंड जारी किया

भारतीय रिज़र्व बैंक के इतिहास का पांचवां खंड जारी किया गया। इस खंड में वर्ष 1997 से वर्ष 2008 तक की 11 वर्ष की अवधि शामिल है। इस खंड के साथ, भारतीय रिज़र्व बैंक का इतिहास अब वर्ष 2008 तक अद्यतन हो गया है। भारतीय रिज़र्व बैंक ने वर्ष 2015 में डॉ. नरेंद्र जाधव, भूतपूर्व संसद सदस्य तथा रिज़र्व बैंक के भूतपूर्व प्रधान सलाहकार एवं मुख्य अर्थशास्त्री की अध्यक्षता में एक सलाहकार समिति के मार्गदर्शन में इस खंड को तैयार करने की प्रक्रिया शुरू की थी। यह खंड आर्थिक इतिहासकार डॉ. तीर्थंकर रॉय के नेतृत्व में लेखकों की एक टीम द्वारा तैयार किया गया है। टीम के अन्य सदस्यों में के. कनगासबापति, एन. गोपालस्वामी, एफ. आर. जोसेफ और एस. वी. एस. दीक्षित शामिल थे। कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी प्रेस द्वारा प्रकाशित इस खंड में भारतीय रिज़र्व बैंक के संस्थागत इतिहास को आधिकारिक रिकॉर्ड, प्रकाशनों और उन व्यक्तियों के साथ मौखिक चर्चाओं के आधार पर प्रलेखित किया गया है जो इस अवधि के दौरान भारतीय रिज़र्व बैंक के कामकाज के साथ निकटता से जुड़े थे।

सबसे बड़े मिल्की वे गोलाकार क्लस्टर ओमेगा सेंटॉरी में उच्च तापमान वाले सितारों की पांच पीढ़ियों का पता चला

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ एस्ट्रोफिजिक्स (IIA) के खगोलविदों और वैज्ञानिकों ने ओमेगा सेंटौरीका अध्ययन करते हुए पाया है कि गर्म तारे और व्हाइट ड्वार्फ अपेक्षा से कम पराबैंगनी विकिरण उत्सर्जित करते हैं। मिल्की वे में सबसे बड़ा ज्ञात गोलाकार क्लस्टर, ओमेगा सेंटॉरी में उच्च तापमान वाले सितारों के एक अजीब वर्ग के गठन के लिए सुराग प्रदान कर सकता है। ग्लोबुलर क्लस्टर एक गोलाकार क्लस्टर सितारों का एक गोलाकार समूह है। गोलाकार क्लस्टर गुरुत्वाकर्षण द्वारा एक साथ बंधे होते हैं, उनके केंद्रों की ओर सितारों की उच्च सांद्रता होती है। उनमें कहीं भी लाखों की संख्या में सितारे शामिल हो सकते हैं। ये ज्यादातर सर्पिल आकाशगंगाओं के आसपास के विस्तारित तारकीय प्रभामंडल में परिक्रमा करते हैं। यह शोध का विषय है कि गोलाकार समूह कैसे बनते हैं। या उन्होंने आकाशगंगाओं के विकास में क्या भूमिका निभाई।

भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) ने उत्कर्ष 2.0 लॉन्च किया

श्री शक्तिकान्त दास ने भारतीय रिज़र्व बैंक की 2023-2025 की अवधि हेतु मध्यम-अवधि कार्यनीति रूपरेखा 'उत्कर्ष 2.0' का लोकार्पण किया। कार्यनीति रूपरेखा (उत्कर्ष 2022) का पहला संस्करण, जो 2019 से 2022 की अवधि हेतु था, जुलाई 2019 में लोकार्पण किया गया था। यह मध्यम-अवधि कार्यनीति दस्तावेज़ के रूप में अभिनिर्धारित मील का पत्थर प्राप्त करने की दिशा में बैंक की प्रगति का मार्गदर्शक बना। उत्कर्ष 2.0 उत्कर्ष 2022 की तरह छह विजन स्टेटमेंट के साथ-साथ कोर उद्देश्य, मूल्य और मिशन स्टेटमेंट हैं। उत्कर्ष 2.0 में उत्कर्ष 2022 के मूल उद्देश्यों, मूल्यों एवं मिशन सहित छ: विजन विवरणों को बनाए रखते हुए इनकी विशिष्टताओं का प्रयोग किया गया है। सामूहिक रूप से, ये कार्यनीतिक मार्गदर्शन पथ का निर्माण करते हैं। उत्कर्ष 2.0 में निम्नलिखित विजन 2023-25 की अवधि हेतु भारतीय रिज़र्व बैंक का मार्गदर्शन करेंगे:

  1. अपने वैधानिक और अन्य कार्यों केनिष्पादन में उत्कृष्टता,
  2. भारतीय रिज़र्व बैंक में नागरिकों एवं संस्थानों का सुदृढ़ विश्वास;
  3. राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय भूमिकाओं में संवर्धित प्रासंगिकता एवं महत्व;
  4. पारदर्शी, उत्तरदायी एवं आचारनीति संचालित आंतरिक शासन;
  5. सर्वोकृष्ट व पर्यावरण अनुकूल डिजिटल एवं भौतिक आधारभूत संरचना; एवं
  6. नवोन्मेषी, क्रियाशील एवं कुशल मानव संसाधन।

एसबीआई कार्ड और पंजाब एंड सिंध बैंक ने सह-ब्रांडेड क्रेडिट कार्ड लॉन्च करने के लिए हाथ मिलाया

सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक पंजाब एंड सिंध बैंक (PSB) ने बैंक के ग्राहकों के लिए सह-ब्रांड क्रेडिट कार्ड लॉन्च करने के लिए SBI कार्ड के साथ साझेदारी की है। पीएसबी ने इस सहयोग के परिणामस्वरूप अपने पोर्टफोलियो में एक नए उत्पाद खंड के रूप में क्रेडिट कार्ड बाजार में भी प्रवेश किया है। दोनों साझेदारों द्वारा तीन कार्ड वेरिएंट- PSB SBI कार्ड एलीट, PSB SBI कार्ड प्राइम और PSB सिंपलीसेव SBI कार्ड लॉन्च किए गए हैं। यह सहयोग बैंक के पोर्टफोलियो के तहत एक नए उत्पाद खंड के रूप में पीएसबी के ‘क्रेडिट कार्ड’ में प्रवेश को भी चिह्नित करता है।

विश्व पारिवारिक दिवस

हर साल 1 जनवरी नए साल के दिन विश्व पारिवारिक दिवस मनाया जाता है। इसे विश्व शांती दिवस भी कहा जाता है। इस दिवस के माध्यम से लोगों में वैश्विक एकता और सद्भाव के विचारों को बढ़ावा दिया जाता है। वैश्विक परिवार दिवस की इस साल की थीम की तो, इस वर्ष इस दिवस के लिए “परिवार एक साथ: एक उज्जवल भविष्य के लिए लचीलापन निर्माण” थीम तय की गई है।

टाटा संस के पूर्व निदेशक आरके कृष्णकुमार का निधन

टाटा समूह के दिग्गज और टाटा संस के पूर्व निदेशक आर के कृष्णकुमार का दिल का दौरा पड़ने से मुंबई में निधन हो गया। कृष्णकुमार को रतन टाटा के भरोसेमंद सहयोगियों में से एक माना जाता था। कृष्णकुमार, जो टाटा संस के मानद चेयरमैन रतन टाटा के करीबी सहयोगी थे, टाटा की कंसल्टेंसी फर्म, आरएनटी एसोसिएट्स और समूह के धर्मार्थ ट्रस्टों में शामिल थे, जिनके पास टाटा समूह की होल्डिंग कंपनी टाटा संस में 66 प्रतिशत हिस्सेदारी है।

लिंगायत धर्मगुरू श्री सिद्धेशवर स्वामी का लंबी बीमारी के बाद निधन

प्रमुख लिंगायत धर्मगुरु और प्रसिद्ध संत श्री सिद्धेश्‍वर स्‍वामी जी का कर्नाटक में विजयपुर आश्रम में लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया। दिवंगत संत को श्रद्धाजंलि देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि परमपूज्‍य श्री सिद्धेश्‍वर स्‍वामी जी को समाज सेवा में उनके उल्‍लेखनीय योगदान के लिए याद किया जाएगा।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2023 RajasthanGyan All Rights Reserved.