Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

12 October 2022

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मध्य प्रदेश के उज्‍जैन में महाकालेश्‍वर मंदिर के महाकाल लोक परिसर का लोकार्पण किया

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने उज्‍जैन के विश्‍व प्रसिद्ध महाकालेश्‍वर मंदिर परिसर में महाकाल लोक का उद्घाटन किया। श्री मोदी ने रिमोट के माध्‍यम से पन्‍द्रह फुट ऊंचे शिवलिंगम से आवरण हटा कर महाकाल लोक राष्‍ट्र को समर्पित किया। उद्घाटन समारोह में मध्‍यप्रदेश के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, राज्‍यपाल मंगूभाई पटेल और केन्‍द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया भी मौजूद थे। श्री महाकाल लोक एक ऐसा स्थान है जहाँ भगवान शंकर की सभी पौराणिक कथाएँ एक ही स्थान पर देखने को मिलेंगी। इसे 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर में बनाया गया है। भारत के हृदयस्थल मध्य प्रदेश के उज्जैन में पुण्यसलिला क्षिप्रा नदी के निकट भगवान शिव महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग की गणना देश के प्रसिद्ध 12 ज्योतिर्लिंगों में की जाती है। यह मंदिर तीन मंजिला है। सबसे नीचे महाकालेश्वर, मध्य में ओंकारेश्वर और ऊपरी हिस्से में नागचंद्रेश्वर के लिंग स्थापित हैं। महाकालेश्वर को पृथ्‍वी का अधिपति भी माना जाता है। इस मंदिर का पुनर्निर्माण 11वीं शताब्दी में हुआ था, लेकिन इसके 140 वर्ष बाद मुस्लिम आक्रमणकारी इल्तुतमिश ने इसे क्षतिग्रस्त कर दिया था। वर्तमान मंदिर मराठा कालीन माना जाता है। इसका जीर्णोद्धार तत्कालीन सिंधिया राज्य के दीवान बाबा रामचंद्र शैणवी ने करवाया था।

जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे को पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया

जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे को पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया है। दिवंगत शिंजो आबे की पत्नी श्रीमती अकी आबे ने जापान में भारतीय राजदूत संजय कुमार वर्मा से यह पुरस्कार ग्रहण किया।

‘सतत् पर्वतीय विकास शिखर सम्मेलन-11’ लद्दाख में आयोजित

केंद्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री ने 10-12 अक्तूबर, 2022 तक लेह, लद्दाख में आयोजित हो रहे सतत् पर्वतीय विकास शिखर सम्मेलन (Sustainable Mountain Development Summit-SMDS) -11 के उद्घाटन सत्र में भाग लिया। SMDS-11 की थीम “सतत् पर्वतीय विकास के लिये पर्यटन का उपयोग” है। इस शिखर सम्मेलन का प्रमुख बिंदु पर्यटन के नकारात्मक प्रभावों को कम करना और जलवायु व सामाजिक-पारिस्थितिक मज़बूती एवं स्थिरता के निर्माण में इसके सकारात्मक योगदान का उपयोग करना है। अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि लद्दाख की यात्रा यहाँ के खूबसूरत तथा शानदार पहाड़ी नज़ारों को हमेशा तरोताज़ा करने वाली होती है। उन्होंने केंद्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय के अंतर्गत गोविंद बल्लभ पंत राष्ट्रीय हिमालय पर्यावरण संस्थान एवं लेह में इसके एक क्षेत्रीय केंद्र की स्थापना पर भी प्रकाश डाला जिसे विशेष रूप से हिमालय के पर्यावरण की स्थिरता के संबंध में अनुसंधान और विकास गतिविधियों का कार्य सौंपा गया है। उन्होंने बल देकर कहा कि हिमालय, पश्चिमी घाट, थार रेगिस्तान जैसे देश के कई विशेष परिदृश्यों पर वैज्ञानिक समुदाय को विशेष ध्यान देने की ज़रूरत है।

बांग्लादेश के लोक सेवकों के लिए दो सप्ताह का क्षमता निर्माण कार्यक्रम का उद्घाटन आज मसूरी में किया गया

बांग्लादेश के लोक सेवकों के लिए दो सप्ताह का 53वां क्षमता निर्माण कार्यक्रम का उद्घाटन मसूरी के राष्ट्रीय सुशासन केंद्र में किया गया। यह देश का एकमात्र संस्थान है जिसने बांग्लादेश लोक सेवा के एक हजार 727 क्षेत्रीय स्तर के अधिकारियों जैसे सहायक आयुक्त, एसडीएम और अतिरिक्त उपायुक्तों को प्रशिक्षित किया है। राष्ट्रीय सुशासन केंद्र की स्थापना 2014 में भारत सरकार द्वारा एक शीर्ष संस्थान के रूप में की गई थी। यह सुशासन, नीति सुधार, प्रशिक्षण और क्षमता निर्माण पर ध्यान केंद्रित करता है। ये केंद्र विदेश मंत्रालय के सहयोग से काम करता है। इसके द्वारा बांग्लादेश, केन्या, तंजानिया, ट्यूनीशिया, सेशेल्स, गाम्बिया, मालदीव, श्रीलंका, अफगानिस्तान, लाओस, वियतनाम, भूटान, म्यांमार और कंबोडिया जैसे 15 देशों के लोक सेवकों को प्रशिक्षण दिया गया है।

श्री नितिन गडकरी ने भारत में फ्लेक्सी-फ्यूल स्ट्रॉन्ग हाइब्रिड इलेक्ट्रिक व्हीकल्स पर अपनी तरह की पहली पायलट परियोजना का शुभारंभ किया

केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री श्री नितिन गडकरी ने भारत में फ्लेक्सी-फ्यूल स्ट्रॉन्ग हाइब्रिड इलेक्ट्रिक व्हीकल्स (एफएफवी-एसएचईवी) पर टोयोटा की अपनी तरह की पहली पायलट परियोजना का शुभारंभ किया, जो 100% पेट्रोल के साथ-साथ 20 से 100% मिश्रित इथेनॉल और विद्युत शक्ति पर चलेगी। इस अवसर पर श्री गडकरी ने कहा कि इस परियोजना की सफलता से भारत इलेक्ट्रिक वाहनों के निर्माण में अग्रणी देश बन जाएगा। उन्होंने कहा कि ये प्रौद्योगिकियां अभिनव, क्रांतिकारी, टिकाऊ, लागत प्रभावी, ऊर्जा कुशल हैं और नए भारत में परिवहन क्षेत्र को पूरी तरह से बदलने में सक्षम हैं। श्री गडकरी ने कहा कि आत्मनिर्भर भारत के लिए कृषि क्षेत्र में विकास दर 6 से 8 प्रतिशत बढ़ना आवश्यक है।

गृहमंत्री ने सिताबदियारा में लोकनायक जयप्रकाश नारायण की प्रतिमा का अनावरण किया

गृहमंत्री अमित शाह ने लोकनायक जयप्रकाश नारायण के जन्‍मस्‍थल सारण जिले के सिताबदियारा में उनकी प्रतिमा के अनावरण किया। लोकनायक जयप्रकाश नारायण का जन्म 11 अक्तूबर, 1902 को सिताबदियारा, बिहार में हुआ था। वे त्याग एवं बलिदान की प्रतिमूर्ति थे। जयप्रकाश जी का समाजवाद का नारा आज भी गूँजता है। समाजवाद का संबंध न केवल उनके राजनीतिक जीवन से था, अपितु यह उनके जीवन में समाया हुआ था। उनका मानना था कि कोई भी आंदोलन बिना मध्यमवर्गीय लोगों के सहयोग के सफल नहीं होता। मार्क्सवादी दर्शन से प्रभावित हो उन्होंने राष्ट्रीय आंदोलन में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया। समाजवाद की अवधारणा को और सुदृढ़ करने तथा उसका जनमानस में संचार करने के लिये उनकी विचारधारा आज भी प्रासंगिक है जिसे संपूर्ण क्रांति कहा जाता था। संपूर्ण क्रांति में राजनैतिक, आर्थिक, सामाजिक, सांस्कृतिक, बौद्धिक, शैक्षणिक व आध्यात्मिक सात क्रांतियाँ शामिल हैं। उनका एक और प्रसिद्ध नारा था जिसका उदघोष उन्होंने पटना के गाँघी मैदान में किया था-"जात-पात तोड़ दो, तिलक-दहेज छोड़ दो, समाज के प्रवाह को नई दिशा में मोड़ दो”। समाजवादी और राष्ट्रप्रेम की भावना से परिपूर्ण जयप्रकाश नारायण सदैव ही अविस्मणीय रहेंगे।

प्रधानमंत्री ने गुजरात के अहमदाबाद में सिविल अस्‍पताल असरवा में 1,275 करोड़ रूपये की लागत से विभिन्‍न स्‍वास्‍थ्‍य सुविधाओं का शुभारंभ किया

अहमदाबाद में सिविल अस्‍पताल असरवा में एक हजार दो सौ 75 करोड़ रूपये की लागत से विभिन्‍न स्‍वास्‍थ्‍य सुविधाओं के लोकार्पण और आधारशिला रखने के बाद प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा कि यदि समग्र दृष्टिकोण के साथ पूरे मन से प्रयास किये जायें तो परिणाम निश्चित रूप से प्रभावी और दूरगामी होंगे। नए सिविल अस्‍पताल असरवा के संदर्भ में प्रधानमंत्री ने कहा कि यह देश का पहला सरकारी अस्‍पताल होगा जिसमें साइबर-नाइफ जैसी अत्‍याधुनिक प्रौद्योगिकी उपलब्‍ध होगी। 'साइबर नाइफ' तकनीक के जरिये शरीर के किसी भी अंग में कैंसरग्रस्त कोशिकाओं को हटाकर पीड़ित शख्स को राहत दिलायी जा सकती है। प्रधानमंत्री ने हृदय रोगों के उपचार के लिए नए उन्‍नत सुविधा केन्‍द्र तथा यू. एन. मेहता हृदय रोग संस्‍थान और अनुसंधान केन्‍द्र के छात्रावास भवन का लोकार्पण किया। श्री मोदी ने गुर्दा रोग और अनुसंधान केन्‍द्र संस्‍थान के नए अस्‍पताल भवन और गुजरात कैंसर अनुसंधान संस्‍थान के नए भवन का भी उद्घाटन किया। प्रधानमंत्री ने निर्धन रोगियों के परिजनों के लिए आश्रय गृह की आधारशिला भी रखी। उन्‍होंने राज्‍य के विभिन्‍न स्‍थानों में 188 डायलिसिस केन्‍द्र तथा 22 स्‍थानों में कीमोथेरेपी केन्‍द्रों का भी शुभारंभ किया।

रेलवे ने अपने यात्री खंड के राजस्व आय में 92 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की

रेलवे ने अपने यात्री खंड के राजस्व आय में 92 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की है। इस वर्ष पहली अप्रैल से आठ अक्टूबर के दौरान भारतीय रेलवे की अनुमानित आय 33 हजार 476 करोड़ रुपये है। यह पिछले वर्ष इसी अवधि के दौरान 17 हजार 394 करोड़ रुपये थी। आरक्षित यात्री खंड में इस वर्ष एक अप्रैल से आठ अक्टूबर की अवधि के दौरान यात्रियों की कुल अनुमानित संख्या 42 करोड़ से अधिक है। यह पिछले वर्ष इसी अवधि के दौरान 34 करोड़ थी। इस दौरान आरक्षित यात्री खंड से 26 हजार 961 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ। यह पिछले वर्ष 16 हजार 307 करोड़ रुपये था। अनारक्षित यात्री खंड में यात्रियों की कुल अनुमानित संख्या में 197 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। इस खंड से छह हजार पांच सौ 15 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ है। पिछले वर्ष एक हजार 86 करोड़ रुपये का राजस्व मिला था।

एकनाथ शिंदे गुट को दो तलवार, एक ढाल का चुनाव चिन्ह मिला

निर्वाचन आयोग ने महाराष्ट्र में शिव सेना के एकनाथ शिंदे गुट को दो तलवार और ढाल चुनाव चिन्ह दिया है। इस गुट को बालासाहेबांची शिवसेना नाम दिया गया था। उद्धव ठाकरे गुट को मशाल प्रतीक चिन्ह मिला है। उद्धव ठाकरे के नेतृत्‍व वाली पार्टी का नाम शिव सेना उद्धव बालासाहेब ठाकरे होगा।

असोला भट्टी वन्यजीव अभयारण्य में पहली बार तेंदुए देखे गए

दिल्ली के असोला भट्टी वन्यजीव अभयारण्य (Asola Bhatti Wildlife Sanctuary) में 1940 के बाद पहली बार तेंदुए देखे गए हैं। असोला भट्टी वन्यजीव अभयारण्य में आठ तेंदुए देखे गए हैं। यह एक फलते-फूलते पारिस्थितिकी तंत्र का संकेत है। दिल्ली के राजपत्र के अनुसार, इस अभयारण्य में वर्ष 1940 के बाद से तेंदुओं के देखे जाने की घटना को दर्ज नहीं किया गया है। 2019 में, दिल्ली वन विभाग ने संरक्षित क्षेत्र में तेंदुए के पैर के निशान की ताजा उपस्थिति दर्ज की। दिल्ली वन और वन्यजीव विभाग और बॉम्बे नेचुरल हिस्ट्री सोसाइटी द्वारा जून 2021 से जून 2022 तक इन्फ्रा-रेड स्टेल्थ कैमरा ट्रैप का उपयोग करके संयुक्त रूप से एक सर्वेक्षण किया गया था। 8 तेंदुओं में से 4 नर और एक मादा इन कैमरों के सामने आए। इस सर्वेक्षण ने जंगली बिल्ली, भारतीय खरगोश, काला हिरन, धारीदार लकड़बग्घा, भारतीय सूअर, सांभर हिरण, हॉग डियर, चित्तीदार हिरण और अन्य जैसे स्तनधारियों की उपस्थिति और स्थानिक वितरण के बारे में भी जानकारी प्रदान की। नए अध्ययन से पता चलता है कि तेंदुओं ने शहरी जंगलों को अपनी स्थायी बस्ती बना लिया है।

Global Forest Sector Outlook 2050 रिपोर्ट जारी की गई

संयुक्त राष्ट्र खाद्य और कृषि संगठन (FAO) द्वारा हाल ही में खाद्य और कृषि संगठन समिति के 26वें सत्र में “The global forest sector outlook 2050: Assessing future demand and sources of timber for a sustainable economy” शीर्षक वाली रिपोर्ट हाल ही में जारी की गई थी। नई जारी रिपोर्ट में लकड़ी के उत्पादों जैसे बड़े पैमाने पर लकड़ी और मानव निर्मित सेलूलोज़ फाइबर की बढ़ती मांग का अनुमान लगाया गया है जो गैर-नवीकरणीय सामग्री के विकल्प के रूप में उपयोग किया जाता है। उनकी मांग 2050 तक 272 मिलियन क्यूबिक मीटर तक बढ़ सकती है। इससे विकासशील देशों में 1 मिलियन से अधिक रोजगार सृजित होने की उम्मीद है। इस रिपोर्ट का अनुमान है कि 2050 तक प्राथमिक प्रसंस्कृत लकड़ी के उत्पादों की खपत बढ़कर 3.1 बिलियन क्यूबिक मीटर हो जाएगी। यह अनुमान वैश्विक वन उत्पाद मॉडल पर आधारित है, जो लकड़ी के उत्पादों के उत्पादन और व्यापार के ऐतिहासिक पैटर्न का उपयोग करता है।

Indestructible Brotherhood-2022 युद्ध अभ्यास को रद्द किया गया

किर्गिस्तान ने CSTO के Indestructible Brotherhood-2022 नामक सैन्य अभ्यास को रद्द कर दिया है, जो 10 से 14 अक्टूबर तक मध्य एशियाई देश में आयोजित होने वाला था। किर्गिस्तान, एक पूर्व सोवियत गणराज्य, ने अपने क्षेत्र में बहुराष्ट्रीय सैन्य अभ्यास शुरू होने से एक दिन पहले “Indestructible Brotherhood-2022” कमांड और स्टाफ अभ्यास को रद्द कर दिया। यह अभ्यास संयुक्त सैन्य अभ्यास है जिसमें Collective Security Treaty Organisation (CSTO) के सैन्यकर्मी शामिल हैं, इसमें रूस, बेलारूस, आर्मेनिया, किर्गिस्तान, कजाकिस्तान और ताजिकिस्तान शामिल हैं। इस सैन्य अभ्यास के लिए पर्यवेक्षक के रूप में सीरिया, सर्बिया और उज्बेकिस्तान जैसे गैर-सदस्य राज्यों को भी आमंत्रित किया गया था। बहुपक्षीय सैन्य अभ्यास किर्गिस्तान के पूर्वी हाइलैंड्स में होने वाला था। Indestructible Brotherhood-2022 को रद्द करना CSTO के सदस्यों के बीच चल रहे राजनयिक तनाव का नवीनतम प्रदर्शन है।

देश में सबसे ज्यादा बाल विवाह झारखंड और पश्चिम बंगाल में

भारत के सबसे पिछड़े राज्यों में शुमार झारखंड में बाल विवाह (Child Marriage) अब भी एक बड़ी समस्या बना हुआ है। गृह मंत्रालय के महापंजीयक और जनगणना आयुक्त के कार्यालय द्वारा लाए गए सर्वेक्षण के अनुसार, झारखंड में बालिकाओं का वयस्क होने से पहले विवाह करने का प्रतिशत 5.8 है। झारखंड और पश्चिम बंगाल देश के दो ऐसे राज्य हैं जहां आधी से ज्यादा महिलाओं की शादी 21 साल की उम्र से पहले कर दी जाती है। सर्वेक्षण में कहा गया है कि पश्चिम बंगाल में जहां 54.9 फीसदी लड़कियों की शादी 21 साल की उम्र से पहले हो जाती है, वहीं झारखंड में यह आंकड़ा 54.6 फीसदी है, जबकि राष्ट्रीय औसत 29.5 फीसदी है। इस बीच, राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) के अनुसार, 2015 में झारखंड में जादू टोना करने के आरोप में 32 लोग, 2016 में 27, 2017 में 19, 2018 में 18 और 2019 और 2020 में 15-15 लोग मारे गए थे। झारखंड में एक बड़ी आबादी आज भी समाज की मुख्य धारा से कटी है। अशिक्षा एक बड़ा कारण है। आदिवासी समाज और पिछड़े तबके में बाल विवाह की दर ज्यादा है। यहां बच्चियों के वयस्क होने से पहले ही शादी कराने की कुप्रथा फल-फूल रही है। पश्चिम बंगाल में असाक्षरता बाल विवाह के प्रमुख वजहों में से एक है। राष्ट्रीय स्तर पर 18 साल की उम्र से पहले विवाह करने वाली लड़कियों का प्रतिशत 1.9 है, जबकि केरल में यह 0.0 है। सर्वे में यह कहा गया है कि झारखंड के ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में क्रमश: 7.3 प्रतिशत और तीन प्रतिशत लड़कियों का बाल विवाह हुआ है। सैंपल रजिस्ट्रेशन सिस्टम के इस रिपोर्ट में जनसंख्या, प्रजनन क्षमता और मृत्यु दर के अनुमान शामिल हैं। इस रिपोर्ट में लगभग 84 लाख लोगों ने हिस्सा लिया है।

पूर्व भारतीय क्रिकेट एमएस धोनी ने लॉन्च किया भारत में बना कैमरा ड्रोन ‘Droni’

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने मेड-इन-इंडिया कैमरा ड्रोन लॉन्च किया है। इसका नाम Droni रखा गया है। इसमें कई एडवांस फीचर्स दिए गए हैं। इसे Garuda Aerospace ने मैन्युफैक्चर किया है। कंपनी ने Droni लॉन्च के साथ कंज्यूमर ड्रोन मार्केट में कदम रख दिया है। रिपोर्ट में बताया गया है कि महेंद्र सिंह धोनी Garuda Aerospace के ब्रांड एम्बेसडर हैं। कंपनी सोलर पैनल क्लीनिंग, खेत में पेस्टिसाइड स्प्रे करने, इंड्रस्ट्रियल पाइपलाइन का इंस्पेक्शन, मैपिंग, सर्वें, पब्लिक अनाउंसमेंट और डिलीवरी सर्विस के लिए ड्रोन सेवा उपलब्ध करवाएगी।

गल्फ ऑयल लुब्रिकेंट्स ने स्मृति मंधाना को ब्रांड एंबेसडर बनाया

गल्फ ऑयल लुब्रिकेंट्स ने भारतीय महिला क्रिकेट टीम की उप-कप्तान स्मृति मंधाना को अपना ब्रांड एंबेसडर बनाया। यह पहला मौका है जब कोई महिला क्रिकेटर ब्रांड का प्रचार करेगी। वह प्रसिद्ध क्रिकेटरों और वर्तमान ब्रांड एंबेसडर महेंद्र सिंह धोनी और हार्दिक हिमांशु पंड्या के साथ शामिल होंगी।

हीरो मोटोकॉर्प ने भारत में लॉन्च किया EV स्कूटर Vida V1

हीरो मोटोकॉर्प ने अपना मोस्ट अवेटेड इलेक्ट्रिक स्कूटर विडा V1 (Vida V1) लॉन्च कर दिया है। कंपनी इसे दो वैरिएंट विडा V1 प्रो और विडा V1 प्ल्स में लॉन्च किया है। इन स्कूटर को ग्लोबली लॉन्च किया गया है। इसकी शुरुआती एक्स-शोरूम कीमत 1.45 लाख रुपए है। भारतीय बाजार में इसका सीधा मुकाबला ओला इलेक्ट्रिक, एथर एनर्जी, TVS आईक्यूब और बजाज चेतक से होगा। कंपनी का कहना है कि अपने अपने सेगमेंट में कई बेहतरीन फीचर्स से लैस है। इसमें टच स्क्रीन डिस्प्ले, क्रूज कंट्रोल, कीलेस कंट्रोल और अलॉय व्हील जैसे फीचर्स दिए हैं।

वैश्विक खाद्य संकट के जवाब में IFC द्वारा शुरू किया गया फाइनेंसिंग प्लेटफॉर्म

विश्व बैंक की निजी क्षेत्र की निवेश शाखा, अंतर्राष्ट्रीय वित्त निगम (IFC) ने वैश्विक खाद्य संकट का जवाब देने के लिए निजी क्षेत्र की क्षमता को बढ़ावा देने और बढ़ते भोजन के जवाब में खाद्य उत्पादन में सहायता के लिए एक नई, $ 6 बिलियन की फंडिंग सुविधा शुरू की है। असुरक्षा, भूख और कुपोषण के बढ़ते स्तर (वैश्विक खाद्य संकट) को पहले से ही जलवायु परिवर्तन और तेजी से चरम मौसम की घटनाओं ने बदतर बना दिया गया है जो फसल को नष्ट कर रहे हैं और पैदावार कम कर रहे हैं। यूक्रेन में संघर्ष और COVID-19 महामारी से दुनिया भर में असमान रिकवरी ने इस प्रवृत्ति को बढ़ा दिया है।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारामन आईएमएफ और विश्व बैंक की वार्षिक बैठकों में भाग लेने के लिए अमरीका के लिए रवाना

वित्त मंत्री निर्मला सीतारामन अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) और विश्व बैंक की वार्षिक बैठकों में भाग लेने के लिए अमरीका के लिए रवाना हो गई हैं। छह दिवसीय अमरीका यात्रा के दौरान, श्रीमती सीतारामन जी-20 के वित्त मंत्रियों और सेंट्रल बैंक गवर्नर की बैठकों में भाग लेंगी। वह जापान, दक्षिण कोरिया, सऊदी अरब, ऑस्ट्रेलिया, भूटान, न्यूजीलैंड, मिस्र, जर्मनी, मॉरीशस, यूएई, ईरान और नीदरलैंड सहित कई देशों के साथ द्विपक्षीय बैठकों में भी हिस्सा लेंगी। प्रमुख व्यापारिक नेताओं और निवेशकों के साथ बैठकों का उद्देश्य भारत की नीतिगत प्राथमिकताओं को उजागर और विदेशी निवेश को सुविधाजनक बनाने के उपायों पर विचार-विमर्श करना है।

श्री पीयूष गोयल ने अबू धाबी अमीरात की कार्यकारी परिषद के सदस्य शेख हमीद बिन जाएद अल नाहयान के साथ निवेश पर भारत-यूएई उच्च स्तरीय संयुक्त कार्य बल की 10वीं बैठक की सह-अध्यक्षता की

भारत ने संयुक्त अरब अमीरात में भारतीय व्यवसायों और निवेशकों से संबंधित मुद्दों के समाधान के लिए संयुक्त अरब अमीरात में त्‍वरित कार्य प्रणाली स्थापित करने का निर्णय लिया है। मुंबई में निवेश पर भारत-संयुक्‍त अरब अमीरात उच्च स्तरीय संयुक्त कार्यबल की दसवीं बैठक की सह-अध्यक्षता करते हुए, वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने यह जानकारी दी। यूएई और भारत के बीच व्यापार, निवेश और आर्थिक संबंधों को बढ़ावा देने के लिए 2013 में एक संयुक्त कार्य बल की स्थापना की गई थी। फरवरी में भारत-यूएई व्यापक आर्थिक भागीदारी समझौते (सीईपीए) पर हस्ताक्षर के बाद से संयुक्त कार्यबल की यह पहली बैठक थी। सीईपीए एक प्रमुख व्यापार समझौता है जो द्विपक्षीय आर्थिक, व्यापार और निवेश संबंधों को बदलने और आर्थिक विकास को गति देने के लिए निर्धारित है।

राष्ट्रीय केमिकल्स एंड फर्टिलाइजर्स लिमिटेड और जर्मनी की मैसर्स के प्लस एस मिडिल ईस्ट एफजेडई डीएमसीसी के बीच समझौता

केन्द्रीय रसायन और उर्वरक मंत्री, डॉ. मनसुख मांडविया को मैसर्स के प्लस एस मिडिल ईस्ट एफजेडई डीएमसीसी (के प्‍लस एस मिनरल्स एंड एग्रीकल्चर जीएमबीएच, जर्मनी की एक सहायक कंपनी) के साथ राष्ट्रीय रसायन और उर्वरक (आरसीएफ) द्वारा हस्ताक्षरित एक समझौता ज्ञापन सौंपा गया। समझौता ज्ञापन पर 6 अक्टूबर, 2022 को हस्ताक्षर किए गए थे। समझौता ज्ञापन का उद्देश्य कृषक समुदाय के लिए एमओपी की उपलब्धता में सुधार करना और विभिन्न ग्रेड के जटिल उर्वरकों के स्वदेशी उत्पादन को बढ़ावा देना है। इस अवसर पर केन्द्रीय रसायन एवं उर्वरक राज्य मंत्री श्री भगवंत खुबा भी उपस्थित थे।

रोनाल्डो क्लब लेवल फुटबॉल में 700 गोल दागने वाले पहले खिलाड़ी बने

क्रिस्टियानो रोनाल्डो (Cristiano Ronaldo) क्लब फुटबॉल में 700 गोल दागने वाले पहले खिलाड़ी बन गए हैं। उनके इस गोल की बदौलत मैनचेस्टर यूनाइटेड ने मैच में जीत भी दर्ज की। रोनाल्डो ने 20 साल पहले स्पोर्टिंग लिस्बन से अपने क्लब फुटबॉल करियर की शुरुआत की। वे इन 20 सालों में स्पोर्टिंग के साथ-साथ मैनचेस्टर यूनाइटेड, रियल मैड्रिड और युवेंतस की ओर से खेलते हुए नजर आए। उन्होंने कुल 944 मैच खेले और 700 गोल दागे। वहीं, मेसी की बात करें तो उन्होंने अपने क्लब करियर में 825 मैचों में 691 गोल दागे हैं। यानी मेसी रोनाल्डो से अभी नौ गोल पीछे हैं।

भारतीय सेना ने मनाया प्रादेशिक सेना का 73वां स्थापना दिवस

वर्ष 1949 में पहले गवर्नर जनरल श्री सी राजगोपालाचारी द्वारा प्रादेशिक सेना की स्थापना के उपलक्ष्य में 09 अक्टूबर 2022 को देश भर में इसका 73 वां स्थापना दिवस मनाया गया। प्रादेशिक सेना (टीए) के महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल प्रीत मोहिंदर सिंह ने प्रादेशिक सेना के शहीद वीरों को राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि अर्पित की। समारोह की शुरुआत 07 अक्टूबर को दिल्ली में भट्टी माइंस में वृक्षारोपण के साथ हुई जिसमें 10,000 पौधे लगाए गए। टीए के पारिस्थितिक कार्य बलों ने अब तक देश के विभिन्न हिस्सों में 8.5 करोड़ से अधिक पेड़ लगाए हैं।

अंतरराष्‍ट्रीय बालिका दिवस

हर साल 11 अक्तूबर को अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस मनाया जाता है। इस बार यानी वर्ष 2022 में 10वाँ अंतराष्ट्रीय बालिका दिवस मनाया जा रहा है। अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस, 2022 की थीम 'हमारा समय अभी है - हमारे अधिकार, हमारा भविष्य' (Our Time is now- our rights, our Future) है। इस दिवस का उद्देश्य बालिकाओं के अधिकारों का संरक्षण करना, उनके समक्ष आने वाली चुनौतियों एवं कठिनाइयों की पहचान करना और समाज में जागरूकता लाकर बालिकाओं को बालकों के समान अधिकार दिलाना है। संयुक्त राष्ट्र द्वारा पहली बार अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस का आयोजन वर्ष 2012 में किया गया था। प्रथम अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस की थीम “बाल विवाह की समाप्ति” (Ending Child Marriage) थी। ध्यातव्य है कि 24 जनवरी को पूरे भारत में राष्ट्रीय बालिका दिवस के रूप में मनाया जाता है।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2022 RajasthanGyan All Rights Reserved.