Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

30 January 2024

प्रधानमंत्री ने परीक्षा पे चर्चा 2024 के दौरान छात्रों, शिक्षकों और अभिभावकों से बातचीत की

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने परीक्षा पे चर्चा (पीपीसी) के 7वें संस्करण के दौरान नई दिल्ली के भारत मंडपम में छात्रों, शिक्षकों और अभिभावकों के साथ बातचीत की। उन्होंने इस अवसर पर प्रदर्शित कला और शिल्प प्रदर्शनी का भी अवलोकन किया। पीपीसी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी केप्रयासों से शुरू की गई एक गतिविधि है जो छात्रों, अभिभावकों, शिक्षकों और समाज को एकजुट कर एक ऐसे वातावरण को बढ़ावा देती है जहां प्रत्येक बच्चे की अद्वितीय व्यक्तित्व की सराहना की जा सके, उसे प्रोत्साहित किया जाए और खुद को पूरी तरह से व्यक्त करने की अनुमति दी जाए।

नई दिल्ली के ऐतिहासिक विजय चौक पर बीटिंग रिट्रीट समारोह

बीटिंग रिट्रीट समारोह का आयोजन नई दिल्‍ली में ऐतिहासिक विजय चौक पर हुआ। भारतीय सेना, वायु सेना, नौसेना और केन्‍द्रीय सशस्‍त्र पुलिस बल-सीएपीएफ, के संगीत बैंड ने मनमोहक धुनों से दर्शकों को मंत्रमुग्‍ध कर दिया। इस अवसर पर राष्‍ट्रपति द्रौपदी मुर्मु, उपराष्‍ट्रपति जगदीप धनखड, प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी, मुख्‍य न्‍यायाधीश डी.वाई.चन्‍द्रचूड, रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, रक्षा राज्‍य मंत्री अजय भट्ट, प्रमुख रक्षा अध्‍यक्ष जनरल अनिल चौहान, सेना प्रमुख जनरल मनोज पांडे, नौसेना प्रमुख एडमिरल आर. हरी कुमार, वायु सेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल वी.आर.चौधरी, तथा अन्‍य गणमान्‍य व्‍यक्ति उपस्थित थे। बीटिंग रिट्रीट की शुरूआत 1950 के दशक में हुई थी जब भारतीय सेना के मेजर रॉबर्ट्स ने सामूहिक बैंड के जरिये प्रदर्शन के अनूठे समारोह को स्‍वदेशी रूप दिया था। यह सदियों पुराने सैन्‍य परंपरा का प्रतीक है जब सैनिक लडना बंद कर देते थे, युद्ध के मैदान से हट जाते थे और सूर्यास्‍त के समय शिविरों में लौट आते थे।

देश में लगातार तीसरे वर्ष 7% से अधिक की वृद्धि दर दर्ज

देश में लगातार तीसरे वर्ष सात प्रतिशत से अधिक की वृद्धि दर दर्ज की गई है। आर्थिक विभाग की भारतीय अर्थव्यवस्था समीक्षा की रिपोर्ट के अनुसार नियमित आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने की भारत की प्रतिबद्धता से जलवायु परिवर्तन तथा कार्बन उत्सर्जन कम करने के‍ लिए आवश्यक निवेश संबंधी संसाधन उपलब्ध हो पा रहे हैं। भारत के वित्तीय क्षेत्र की अच्छी स्थिति का अनुमान लगाते हुए समीक्षा में कहा गया है कि 10 साल में सार्वजनिक क्षेत्र में पूंजी निवेश बढा है। वर्ष 2014 से ढांचागत सुधार लागू होने से अर्थव्यवस्था को मजबूती मिली है। रिपोर्ट में कहा गया है कि रोजगार, कारोबार करने में आसानी, कृषि क्षेत्र, ई-कॉमर्स तथा जलवायु के क्षेत्रों में सकारात्मक बदलाव हुए हैं। महिलाओं के नेतृत्व में विकास में महत्वपूर्ण सुधार का उल्लेख करते हुए रिपोर्ट में कहा गया है कि पीएम जनधन योजना के अंतर्गत महिलाओं के बैंक खातों में वृद्धि हुई है। 2015-16 में महिलाओं के बैंक खातों का अनुपात 53 प्रतिशत से बढ़कर 2019-21 में 78 दशमलव छह प्रतिशत हो गया है। महिला श्रमिकों की भागीदारी 2017-18 में 23 दशमलव तीन प्रतिशत से बढ़कर 2022-23 में 37 प्रतिशत हो गई है। महिलाओं के शिक्षा स्तर में भी सुधार हुआ है। उच्‍चतर माध्‍यमिक शिक्षा में महिलाओं का पंजीकरण 2005 में 24 दशमलव पांच प्रतिशत से बढ़कर 2022 में 58 दशमलव दो प्रतिशत हो गया है। भारत की मजबूत डिजिटल बुनियादी ढांचे के बारे में रिपोर्ट में कहा गया है कि प्रमाणीकरण तंत्र में बदलाव होने से ई-केवाईसी की लागत हजार रुपये से घटकर पांच रुपये हो गई है। अमरीका और ब्रिटेन के बाद भारत विश्‍व की तीसरी सबसे बड़ी वित्तीय प्रौद्योगिकी अर्थव्यवस्था है। समीक्षा में यह भी कहा गया है कि भारतीय शेयर बाजार में घरेलू और वैश्विक निवेशकों की पूंजी बढ़ने से भारत विश्‍व का चौथा सबसे बड़ा शेयर बाजार बन गया है।

संशोधित पारबती-कालीसिंध-चंबल- ईआरसीपी लिंक परियोजना के लिए नई दिल्ली में मध्य प्रदेश, राजस्थान सरकार और केंद्र सरकार के बीच समझौता

संशोधित पारबती-कालीसिंध-चंबल- ईआरसीपी लिंक परियोजना के लिए एक त्रिपक्षीय समझौता ज्ञापन पर नई दिल्ली में मध्य प्रदेश, राजस्थान सरकार और केंद्र सरकार के बीच हस्ताक्षर किए गए। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा कि इस परियोजना से मध्य प्रदेश के चंबल और मालवा क्षेत्र के 13 जिलों को लाभ मिलेगा। मुरैना, ग्वालियर, शिवपुरी, गुना, भिंड और श्योपुर जैसे पानी की कमी वाले जिलों में पानी की उपलब्धता बढ़ेगी।

भारत और सऊदी अरब का संयुक्त सैन्य अभ्यास 'सदा तनसीक' राजस्थान में प्रारंभ हुआ

भारत और सऊदी अरब का संयुक्त सैन्य अभ्यास 'सदा तनसीक' का प्रारंभिक संस्करण राजस्थान के बीकानेर जिले के महाजन में शुरू हुआ। यह अभ्यास 29 जनवरी से शुरू होकर 10 फरवरी 2024 तक संचालित होने वाला है। 45 रक्षा कर्मियों वाले सऊदी अरब के सैन्य दल का नेतृत्व रॉयल सऊदी लैंड फोर्सेस द्वारा किया जा रहा है। भारतीय सेना की टुकड़ी में भी 45 सैन्यकर्मी शामिल हैं, जिनका प्रतिनिधित्व ब्रिगेड ऑफ द गार्ड्स (मैकेनाइज्ड इन्फैंट्री) की एक बटालियन द्वारा किया जा रहा है। इस संयुक्त अभ्यास का उद्देश्य संयुक्त राष्ट्र चार्टर के अध्याय VII के तहत अर्ध-रेगिस्तानी इलाके में संयुक्त अभियानों के लिए दोनों देशों के सैनिकों को प्रशिक्षित करना है।

कृषि क्षेत्र में स्वैच्छिक कार्बन बाजार के लिए फ्रेमवर्क व कृषि वानिकी नर्सरी के एक्रेडिटेशन प्रोटोकॉल का विमोचन

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण तथा जनजातीय कार्य मंत्री श्री अर्जुन मुंडा ने दिल्ली में कृषि क्षेत्र में स्वैच्छिक कार्बन बाजार के लिए फ्रेमवर्क एवं कृषि वानिकी नर्सरी के एक्रेडिटेशन प्रोटोकॉल का विमोचन किया। इस मौके पर केंद्रीय मंत्री श्री मुंडा ने कहा कि कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय ने छोटे-मझौले किसानों को कार्बन क्रेडिट का लाभ उठाने के लिए प्रोत्साहित करने की दृष्टि से देश के कृषि क्षेत्र में स्वैच्छिक कार्बन बाजार (वीसीएम) को बढ़ावा देने का फ्रेमवर्क तैयार किया है। किसानों को कार्बन बाज़ार से परिचित कराने से उन्हें फायदा होने के साथ ही पर्यावरण-अनुकूल कृषि पद्धतियों को अपनाने में भी तेजी आएगी। उन्होंने किसानों के हित में कार्बन बाजार को बढ़ावा देने के लिए केंद्र व राज्यों के संबंधित मंत्रालयों सहित अन्य सम्बद्ध संगठनों से पूर्ण सहयोग का अनुरोध किया।

शीर्ष नियोक्ता संस्थान ने भारत में शीर्ष नियोक्ता 2024 के रूप में एनटीपीसी लिमिटेड को प्रमाणित किया है

शीर्ष नियोक्ता संस्थान ने वर्ष 2024 में शीर्ष नियोक्ताओं की घोषणा की है। संस्थान ने एनटीपीसी लिमिटेड को भारत में शीर्ष नियोक्ता 2024 के रूप में प्रमाणित किया है। प्रमाणीकरण के लिए अर्हता प्राप्त करने के लिए एनटीपीसी ने निम्नलिखित चरण पूरे किए: एचआर बेस्ट प्रैक्टिस सर्वेक्षण, सत्यापन और ऑडिट। एनटीपीसी का प्रदर्शन स्कोर अंतरराष्ट्रीय मानक के अनुरूप आंका गया और एनटीपीसी ने शीर्ष नियोक्ता का दर्जा हासिल किया है। एचआर बेस्ट प्रैक्टिस सर्वेक्षण में एचआर के 6 क्षेत्र शामिल किए गए है जिसमें कर्मचारियों को लेकर रणनीति, काम का माहौल, प्रतिभाओं की भर्ती, सीखना, विविधता, बराबरी एवं समावेशन, सेहत जैसे 20 विषय शामिल हैं। एनटीपीसी के निदेशक (मानव संसाधन) श्री दिलीप कुमार पटेल ने 25 जनवरी, 2024 को सिंगापुर में आयोजित शीर्ष नियोक्ता 2024 प्रमाणन समारोह कार्यक्रम में एनटीपीसी की ओर से पुरस्कार प्राप्त किया।

जम्मू-कश्मीर में रैटल पनबिजली परियोजना के पास चिनाब नदी की दिशा बदलने में मिली सफलता

जम्मू-कश्मीर में किश्तवाड़ जिले के द्रबशल्ला में 27 जनवरी, 2024 की सुबह 11.30 बजे मोड़ सुरंगों के माध्यम से चिनाब नदी के मार्ग को मोड़ने के साथ प्रदेश में 850 मेगावाट की रैटल पनबिजली परियोजना में एक बड़ी उपलब्धि हासिल की गई। नदी मोड़ से बांध की खुदाई और निर्माण की महत्वपूर्ण गतिविधि शुरू करने के लिए नदी तल पर बांध क्षेत्र को अलग किया जा सकेगा। इससे बांध निर्माण गतिविधियों में तेजी आएगी और परियोजना कार्य में किसी तरह के विलंब को कम करने में मदद मिलेगी ताकि मई 2026 की निर्धारित तिथि को परियोजनापूरी की जा सके। इस रैटल परियोजना को पूरा करने का काम रैटल हाइड्रोइलेक्ट्रिक पावर कॉर्पोरेशन लिमिटेड (आरएचपीसीएल) कर रहा है जो एनएचपीसी लिमिटेड और जम्मू-कश्मीर सरकार का संयुक्त उद्यम है, जिसकी हिस्सेदारी क्रमशः 51:49 प्रतिशत है। रैटल पनबिजली परियोजना 850 मेगावाट की स्थापित क्षमता के साथ जम्मू-कश्मीर के किश्तवाड़ जिले में चिनाब नदी पर स्थित है। इस परियोजना को जनवरी 2021 में आर्थिक मामलों की कैबिनेट समिति ने मंजूरी दी, जिसकी कुल लागत 5281.94 करोड़ रुपये है।

सरकार ने 'स्टूडेंट्स इस्लामिक मूवमेंट ऑफ इंडिया (सिमी)' को 5 और साल के लिए UAPA के तहत 'विधिविरुद्ध संगठन' घोषित किया

सरकार ने 'स्टूडेंट्स इस्लामिक मूवमेंट ऑफ इंडिया (सिमी)' को विधिविरुद्ध क्रियाकलाप (निवारण) अधिनियम (UAPA) 1967 की धारा 3(1) के अंतर्गत और पांच साल की अवधि के लिए एक ‘विधिविरुद्ध संगठन’ (Unlawful Association) घोषित कर दिया है। राजपत्र अधिसूचना क्रमांक S.O. 564(E) द्वारा सिमी पर पिछला प्रतिबंध दिनांक 31 जनवरी, 2019 को लगाया गया था। सिमी, देश में आतंकवाद को बढ़ावा देने, शांति और सांप्रदायिक सद्भाव को बिगाड़ने में लगा हुआ है जो भारत की संप्रभुता, सुरक्षा और अखंडता के लिए हानिकारक है।

फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कार 2024

गुजरात के गांधी नगर में 69वें फिल्मफेयर अवॉर्ड्स का आयोजन हुआ है। इस बार करण जौहर और मनीष पौल ने शो होस्ट किया। विधु विनोद चोपड़ा द्वारा निर्देशित फिल्म '12th फेल' सर्वश्रेष्ठ फ़िल्म (लोकप्रिय) का अवार्ड अपने नाम किया। यह फिल्म आईपीएस ऑफिसर मनोज कुमार शर्मा के जीवन पर आधारित है। इस फिल्म में विक्रांत मस्सी ने उनका किरदार निभाया है। सर्वश्रेष्ठ निर्देशक का अवार्ड विधु विनोद चोपड़ा (12th फेल) को मिला।
प्रमुख विजेता

कैटेगरी 
विजेता
सर्वश्रेष्ठ फ़िल्म (लोकप्रिय)
'12th फेल'
सर्वश्रेष्ठ फ़िल्म (क्रिटिक्स)
'जोरम'
सर्वश्रेष्ठ निर्देशक
विधु विनोद चोपड़ा (12th फेल)
सर्वश्रेष्ठ प्रमुख भूमिका में अभिनेता
रणबीर कपूर बनाम (एनिमल)
सर्वश्रेष्ठ अभिनेता (क्रिटिक्स)
विक्रांत मस्सी (12th फेल)
सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री (लीड रोल)
आलिया भट्ट (रॉकी और रानी की प्रेम कहानी)  
सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री (क्रिटिक्स)
रानी मुखर्जी (श्रीमती चटर्जी बनाम नॉर्वे)
शेफाली शाह बनाम (थ्री ऑफ़ अस)
सर्वश्रेष्ठ सहायक भूमिका में अभिनेता
विकी कौशल (डंकी)
सर्वश्रेष्ठ सहायक भूमिका में अभिनेत्री
शबाना आजमी (रॉकी और रानी की प्रेम कहानी)  
सर्वश्रेष्ठ गीतकार
अमिताभ भट्टाचार्या (तेरे वास्ते) (जरा हटके जरा बचके)
सर्वश्रेष्ठ संगीत एल्बम
'एनिमल' (प्रीतम, विशाल मिश्रा, मनन भारद्वाज,
श्रेयस पुराणिक, जानी, भूपिंदर बब्बल,
आशिम केमसन, हर्षवर्धन रामेश्वर, गुरिंदर सेगल)
सर्वश्रेष्ठ प्लेबैक सिंगर (मेल)
भूपिंदर बब्बल (अर्जन वैली'-एनिमल)
सर्वश्रेष्ठ प्लेबैक सिंगर (फीमेल)
शिल्पा राव (बेशरम रंग-पठान)
सर्वश्रेष्ठ कहानी
अमित राव (OMG 2)
सर्वश्रेष्ठ स्क्रीनप्ले
विधु विनोद चोपड़ा (12th फेल)
सर्वश्रेष्ठ डायलाग 
ईशिता मैट्रा (रॉकी और रानी की प्रेम कहानी)  

FIH Hockey5s Women World Cup: नीदरलैंड्स ने फाइनल में भारत को हराया

ओमान के मस्कट में एचआईएफ हॉकी5 महिला वर्ल्ड कप (FIH Hockey5s Women World Cup 2024) के फाइनल में भारत को हार का सामना करना पड़ानीदरलैंड्स ने 7-2 से जीतकर उद्घाटन सीजन का खिताब जीता। एफआईएच ने पहली बार इस फॉर्मेट में वर्ल्ड कप का आयोजन किया था। दूसरे हाफ में भारतीय महिला टीम ने वापसी करने की कोशिश की और दो गोल किए। भारत की तरफ से ज्योति छत्री (20वें मिनट) और रुताजा दादासो पिसल (23वें मिनट) में गोल किए। हालांकि, भारत डच टीम को नहीं पकड़ सका। फुल टाइम का हूटर से पहले नीदरलैंड्स की कालसे ने एक और गोल कर जीत का अंतर 7-2 कर दिया।

अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट परिषद - आई.सी.सी. ने श्रीलंका क्रिकेट पर निलंबन को तत्‍काल प्रभाव से समाप्‍त कर दिया

अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट परिषद - आई.सी.सी. ने श्रीलंका क्रिकेट पर निलंबन को तत्‍काल प्रभाव से समाप्‍त कर दिया है। अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट परिषद में दो महीने के निलंबन के बाद श्रीलंका क्रिकेट को सदस्‍य के रूप में बहाल किया गया है। दस नवम्‍बर 2023 को श्रीलंका क्रिकेट को आई.सी.सी. सदस्‍य के रूप में जिम्‍मेदारियों के उल्‍लंघन के कारण निलंबित किया गया था।

भारतीय समाचार पत्र दिवस

भारत में प्रत्येक वर्ष 29 जनवरी को भारतीय समाचार पत्र दिवस मनाया जाता है। क्योंकि इसी दिन, 29 जनवरी 1780 को पहला साप्ताहिक भारतीय समाचार पत्र “हिक्कीज़ बंगाल गजट” प्रकाशित हुआ, जिसे “कलकत्ता जनरल एडवरटाइज़र” के नाम से भी जाना जाता है। एशिया में छपने वाला पहला अखबार हिक्की का बंगाल गजट था। इसका प्रकाशन 29 जनवरी 1780 को उस समय देश की राजधानी कोलकाता में हुआ था। समाचार पत्रों ने उस समय काम करने के तरीके को बदल दिया जब समाचारों को इच्छित दर्शकों तक पहुंचने में कई दिन लग जाते थे। लेकिन चूँकि अंग्रेजों को पता था कि समाचार पत्र उनकी सरकार को नुकसान पहुंचा सकते हैं, इसलिए उन्होंने 1782 में उनका प्रकाशन बंद करने का फैसला किया। भारत में प्रिंटिंग प्रेस लाने का श्रेय पुर्तगालियों को और समाचार पत्रों की शुरुआत का श्रेय यूरोपियनों को जाता है। गोवा में वर्ष 1557 में कुछ ईसाई पादरियों ने एक पुस्तक छापी थी, जो भारत में मुद्रित होने वाली पहली किताब थी।

के.एम. करिअप्पा जयंती 2024

28 जनवरी को भारतीय सेना के उद्घाटन कमांडर-इन-चीफ फील्ड मार्शल कोडंडेरा एम. करिअप्पा की जयंती मनाई जाती है। एक राष्ट्रीय नायक के रूप में पहचाने जाने वाले, औपनिवेशिक से स्वतंत्र भारत तक भारतीय सेना को आकार देने में करिअप्पा की महत्वपूर्ण भूमिका पूजनीय बनी हुई है। फील्ड मार्शल के.एम. करिअप्पा का जन्म 28 जनवरी, 1899 को कूर्ग प्रांत के शनिवारसंथे में कोडवा कबीले के एक किसान परिवार में हुआ था। करियप्पा का सैन्य करियर लगभग तीन दशकों तक चला, जिसकी शुरुआत प्रथम विश्व युद्ध के बाद ब्रिटिश भारतीय सेना में उनकी सेवा से हुई। वह रैंकों में आगे बढ़े, क्वेटा में स्टाफ कॉलेज में दाखिला लेने वाले पहले भारतीय अधिकारी बने और बाद में 1/7 राजपूतों की कमान संभाली। वे बटालियन का नेतृत्व करने वाले पहले भारतीय थे। स्वतंत्रता के बाद, उन्होंने जनरल स्टाफ के उप प्रमुख के रूप में कार्य किया और कश्मीर में प्रमुख क्षेत्रों को पुनः प्राप्त करने के लिए रणनीतिक अभियान चलाया। 1953 में सेवानिवृत्त होने के बाद, करिअप्पा ने 1956 तक ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में भारतीय उच्चायुक्त के रूप में कार्य किया। 15 मई, 1993 को समर्पण और सेवा की विरासत छोड़कर उनका निधन हो गया। उनके उत्कृष्ट योगदान को देखते हुए, भारत सरकार ने उन्हें मरणोपरांत 28 अप्रैल, 1986 को फील्ड मार्शल के पद से सम्मानित किया।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2024 RajasthanGyan All Rights Reserved.