Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

19 May 2024

एफएसएसएआई ने फल व्यापारियों को फल पकाने में कैल्शियम कार्बाइड के उपयोग न करने का अनुपालन सुनिश्चित करने के प्रति सचेत किया

भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण (एफएसएसएआई) ने विशेष रूप से आम के मौसम में फलों को कृत्रिम रूप से पकाने के लिए कैल्शियम कार्बाइड पर प्रतिबंध का सख्ती से अनुपालन सुनिश्चित करने के लिए पकने वाले कक्षों का संचालन करने वाले व्यापारियों/फल संचालकों/खाद्य व्यवसाय संचालकों (एफबीओ) को सचेत किया है। एफएसएसएआई राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों के खाद्य सुरक्षा विभागों को एफएसएस अधिनियम, 2006 और उसके तहत बनाए गए नियमों/विनियमों के प्रावधानों के अनुसार ऐसी गैरकानूनी प्रथाओं में शामिल व्यक्तियों के खिलाफ सतर्क रहने, गंभीर कार्रवाई करने और सख्ती से निपटने की सलाह दे रहा है। कैल्शियम कार्बाइड, जो आमतौर पर आम जैसे फलों को पकाने के लिए उपयोग किया जाता है, से एसिटिलीन गैस निकलता है जिसमें आर्सेनिक और फास्फोरस के हानिकारक अंश होते हैं। ये पदार्थ, जिन्हें 'मसाल ' के नाम से भी जाना जाता है, चक्कर आना, मुँह सूखना, जलन, कमजोरी, निगलने में कठिनाई, उल्टी और त्वचा के अल्सर आदि जैसी गंभीर स्वास्थ्य समस्याएं पैदा कर सकते हैं। इसके अलावा, एसिटिलीन गैस के साथ काम करने वालों के लिए भी उतनी ही खतरनाक है। प्रयोग के दौरान यह संभव है कि कैल्शियम कार्बाइड फलों के सीधे संपर्क में आ जाए और फलों पर आर्सेनिक और फास्फोरस के अवशेष छोड़ जाए।

आपराधिक न्याय प्रशासन पर सम्मेलन गुवाहाटी में आयोजित

केंद्रीय कानून और न्याय मंत्रालय ने असम सरकार के सहयोग से 18-19 मई 2024 को गुवाहाटी, असम में दो दिवसीय सम्मेलन 'आपराधिक न्याय प्रणाली के प्रशासन में भारत का प्रगतिशील पथ' का आयोजन किया है। ब्रिटिश काल के आपराधिक कानून को निरस्त करने और देश में आपराधिक न्याय प्रणाली से संबंधित नए कानून के अधिनियमन में सरकार द्वारा किए गए हालिया बदलावों के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए यह सम्मेलन आयोजित किया गया था।

दुनिया के शीर्ष 15 बेहद अमीर व्यक्तियों की सूची में मुकेश अंबानी और गौतम अडानी

ब्लॉमबर्ग बिलियनेयर्स इंडेक्स में दुनिया के शीर्ष 15 बेहद अमीर व्यक्तियों के सूची में दो भारतीयों मुकेश अंबानी और गौतम अडानी को शामिल किया गया है। हिंडरबर्ग रिपोर्ट के प्रकाशन के बाद अपनी कंपनी के स्टॉक में शॉर्टसेलिंग के कारण 2023 में अपना स्थान खोने के बाद गौतम अडानी ने बेहद अमीर व्यक्तियों की सूची में जगह बनाई है। 2023 में शॉर्ट सेलिंग के कारण अडानी की संपत्ति में गिरावट आई और वह शीर्ष 15 सुपर अमीरों की सूची से बाहर हो गए थे। पहली बार, दुनिया के शीर्ष 15 बेहद अमीरों में शामिल प्रत्येक व्यक्ति की नेटवर्थ 100 अरब डॉलर या उससे अधिक है। 110 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ मुकेश अंबाई इस सूची में 12वें स्थान पर हैं। मुकेश अंबानी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) के अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक हैं। आरआईएल पेट्रोकेमिकल्स, तेल और गैस, दूरसंचार, खुदरा और वित्तीय सेवाओं के कारोबार में है। गौतम अडानी 100 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ सूची में 14वें स्थान पर हैं। अदाणी समूह बंदरगाहों, हवाई अड्डों, बिजली उत्पादन और पारेषण, हरित ऊर्जा, खाद्य तेल, सीमेंट और रियल एस्टेट समेत अन्य कारोबार में है।

आईएफ़सी ने महिलाओं को सूक्ष्म ऋण के वित्तपोषण के लिए एचडीएफसी बैंक को $500 मिलियन का ऋण दिया

अंतर्राष्ट्रीय वित्त निगम (आईएफ़सी) ने महिला सूक्ष्म वित्त (माइक्रोफाइनेंस) उधारकर्ताओं को ऋण प्रदान करने के लिए एचडीएफसी बैंक को 500 मिलियन डॉलर का ऋण प्रदान किया है। यह जानकारी एचडीएफसी बैंक द्वारा 17 मई 2024 को प्रदान की गई थी। भारत का सबसे बड़ा निजी क्षेत्र का बैंक ऋण राशि का उपयोग उन महिला स्वयं सहायता समूह (एसएचजी) और संयुक्त देयता समूह (जेएलजी) को ऋण प्रदान करने के लिए करेगा जो एक स्थायी आजीविका पहल में लगे हुए हैं। भारत में सूक्ष्म वित्त पर गैर-बैंकिंग वित्त कंपनियों (एनबीएफसी) और छोटे वित्त बैंकों का वर्चस्व है। एनबीएफसी एसएचजी या जेएलजी को उच्च दर पर ऋण प्रदान करते है। बैंक को CASA (चालू खाता और बचत खाता) जमा के रूप में सस्ते निधि मिलथा है इस कारण वो महिला एसएचजी या जेएलजी को सस्ता ऋण प्रदान कर सकते हैं।

रक्षा पर 12वां भारत-मंगोलिया संयुक्त कार्य समूह उलानबटार में आयोजित हुआ

रक्षा सहयोग को बढ़ावा देने और रक्षा संबंधों को मजबूत करने के लिए, भारत और मंगोलिया के रक्षा मंत्रियों के 12वें संयुक्त कार्य समूह (जेडबल्यूजी) की बैठक 16 और 17 मई 2024 को मंगोलियाई राजधानी उलानबटार में आयोजित की गई थी। रक्षा मंत्रालयों की जेडबल्यूजी हर साल आयोजित की जाती है। भारतीय पक्ष का नेतृत्व भारत सरकार के रक्षा मंत्रालय के संयुक्त सचिव अमिताभ प्रसाद और रक्षा मंत्रालय मंगोलिया के राज्य सचिव ब्रिगेडियर जनरल गंखुयाग दावागदोर्ज ने किया। बैठक के दौरान मंगोलिया में भारतीय राजदूत अतुल मल्हारी गोत्सुर्वे भी मौजूद थे। अमिताभ प्रसाद और अतुल मल्हारी गोत्सुर्वे ने मंगोलियाई उप रक्षा मंत्री, बी बयारमगनई से मुलाकात की और द्विपक्षीय सहयोग के मुद्दों पर चर्चा की। बाद में, भारतीय प्रतिनिधिमंडल ने उलानबटार में मंगोलियाई रक्षा बल के एक प्रशिक्षण प्रतिष्ठान का भी दौरा किया।

अमेरिका में आर्टेमिस-3 मिशन की फील्ड टेस्टिंग शुरू

17 मई को अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा ने आर्टेमिस-3 मिशन के लिए अमेरिकी राज्य एरिजोना की वोल्कैनो फील्ड में सिमुलेशन टेस्टिंग (किसी प्रक्रिया की नकल करना) शुरू की। यहां एस्ट्रोनॉट्स मूनवॉक की प्रैक्टिस कर रहे हैं। नासा 50 साल बाद चांद पर एस्ट्रोनॉट्स को भेजने वाली है। आर्टेमिस-3 मिशन के तहत सितंबर 2026 में 2 एस्ट्रोनॉट्स चांद पर उतरेंगे। नासा के अंतरिक्ष यात्रियों केट रूबिन्स और आंड्रे डगलस ने आर्टेमिस-2 मिशन के लिए चुने गए एस्ट्रोनॉट्स की भूमिका निभाई। इस दौरान इन उन्होंने स्पेससूट जैसे दिखने वाले कपड़े पहने, हार्डवेयर की जांच की। उन्होंने चांद की सतह से सैंपल इकट्ठा करने की भी प्रैक्टिस की। एक हफ्ते तक चलने वाले इस सिमुलेशन टेस्टिंग के लिए 2 टीमें बनाई गई। इनमें अंतरिक्ष यात्री, इंजीनियर, फील्ड एक्सपर्ट्स, फ्लाइट कंट्रोलर्स और वैज्ञानिक शामिल होंगे। यह मून मिशन के हर पहलू की टेस्टिंग करेंगे, जिसके लिए 4 मूनवॉक और 6 एडवांस टेक्नोलॉजी टेस्टिंग की प्लानिंग की गई। 1969 में अपोलो 11 मिशन के समय से ही एरिजोना के रेगिस्तान को लूनर मिशन के लिए ट्रेनिंग ग्राउंड के तौर पर इस्तेमाल किया जा रहा।

संजीव जैन विप्रो के नए COO बने

17 मई को विप्रो ने संजीव जैन को कंपनी का चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर (COO) नियुक्त किया। संजीव जैन को पूर्व COO अमित चौधरी की जगह नियुक्त किया है, जिन्होंने हाल ही में कंपनी से इस्तीफा दिया। विप्रो ने अमित चौधरी की जगह संजीव जैन को कंपनी का नया COO बनाया है, वे बेंगलुरु में रह कर काम करेंगे। संजीव जैन ने 2023 में विप्रो के बिजनेस ऑपरेशंस के ग्लोबल हेड के पद पर कंपनी जॉइन की थी। संजीव जैन कंपनी के MD और CEO श्रीनिवास पल्लिया को रिपोर्ट करेंगे और विप्रो की एग्जीक्यूटिव कमेटी के मेंबर बने रहेंगे। फर्म में शामिल होने के बाद से संजीव जैन विप्रो की टैलेंट सप्लाई चेन का नेतृत्व कर रहे हैं। विप्रो जॉइन करने से पहले संजीव जैन ने किंड्रिल होल्डिंग्स (IBM स्पिन-ऑफ), IBM, कॉग्निजेंट और GE में काम किया।

मिस्र के राजा का 3400 साल बाद चेहरा बनाया

17 मई को द इकोनॉमिक टाइम्स के मुताबिक, वैज्ञानिकों ने मिलकर 14वीं सदी में मिस्र के राजा रह चुके आमेनहोटेप III की ममी के जरिए उनका चेहरा बनाया है। पिछले 3400 सालों में यह पहली बार है, जब दुनिया के अब तक के सबसे अमीर शख्स आमेनहोटेप का चेहरा री-क्रिएट किया गया है। 14वीं शताब्द में आमेनहोटेप बेहद शक्तिशाली थे, मिस्र में उन्हें भगवान की तरह पूजा जाता था। आमेनहोटेप के नेतृत्व में न सिर्फ मिस्र का विकास हुआ, बल्कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी वह महाशक्ति बनकर उभरा था। आमेनहोटेप का चेहरा बनाने के लिए वैज्ञानिकों ने ममी के सिर से डेटा इकट्ठा किया, जिसमें रीक्रिएशन टीम में ब्राजील के ग्राफिक्स डिजानर भी शामिल रहे। आमेनहोटेप मिस्र के राजा तूतनखामुन के दादा थे, जो मिस्र के 18वें राजवंश का हिस्सा थे। उनका नाम सूर्य और वायु के भगवान आमुन के नाम पर रखा गया था, जिन्हें आमेनहोटेप अपना पिता बताते थे। उनके डिप्लोमैटिक खतों के जरिए यह अनुमान लगाया जाता है कि उनके पास बेशुमार दौलत थी। आमेनहोटेप की ममी की स्टडी पर पता चला की उनकी ऊंचाई लगभग 156 सेमी (5 फीट 1 इंच) रही होगी। 1352 BC में करीब 40-50 साल की उम्र में आमेनहोटेप की मौत हो गई थी। आमेनहोटेप की इस ममी को 1881 में खोजा गया था। ये ममी इतनी नाजुक है कि सदियों बाद भी वैज्ञानिकों ने इसे पूरी तरह खोलने की हिम्मत नहीं की।

X का डोमेन twitter.com से बदलकर x.com हुआ

17 मई को अमेरिकी बिजनेसमैन एलन मस्क ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स (X) का डोमेन नेम बदलकर x.com कर दिया है। X के लॉगिन पेज के नीचे अब एक मैसेज भी दिखाई दे रहा है जिसमें लिखा है, 'हम आपको बता रहे हैं कि हम अपना URL बदल रहे हैं, लेकिन आपकी प्राइवेसी और डेटा प्रोटेक्शन सेटिंग्स वही रहेंगी।' 24 जुलाई 2023 को मस्क ने ट्विटर का नाम और लोगो बदलकर X किया था। तब x.com को twitter.com पर रीडायरेक्ट किया गया था। अब मेन डोमेन को x.com करने के साथ ही twitter.com को इसपर रीडायरेक्ट कर दिया गया है। एलन मस्क ने 27 अक्टूबर 2022 में ट्विटर (अब X) को 44 बिलियन डॉलर में खरीदा था। आज के हिसाब से ये रकम करीब 3.6 लाख करोड़ रुपए होती है। तब से लेकर अब तक प्लेटफॉर्म में कई बड़े बदलाव किए गए।

पेरिस ओलिंपिक के लिए भारतीय टेबल टेनिस टीम का ऐलान

16 मई की देर शाम टेबल टेनिस फेडरेशन ऑफ इंडिया (TTFI) ने पेरिस ओलिंपिंक के लिए छह सदस्यीय टीम की घोषणा की। कॉमनवेल्थ गेम्स चैंपियन शरत कमल और मनिका बत्रा भारतीय टेबल टेनिस टीम का नेतृत्व करेंगे। मेंस टीम में शरथ कमल, हरमीत देसाई और मानव ठक्कर हैं। जी साथियान को मेंस टीम में रिजर्व खिलाड़ी के रूप में जगह मिली। विमेंस टीम में मनिका बत्रा, श्रीजा अकुला और अर्चना कामथ हैं। विमेंस टीम के लिए अयहिका मुखर्जी रिजर्व खिलाड़ी होंगी। भारतीय खिलाड़ी पेरिस में सिंगल्स और टीम इवेंट में हिस्सा लेंगे। मेंस सिंगल्स में शरथ कमल औऱ हरमीत देसाई हैं। विमेंस सिंगल्स में मनिका बत्रा और श्रीजा अकुला हैं। ओलिंपिक गेम्स 2024 का आयोजन 26 जुलाई 2024 से फ्रांस के शहर पेरिस में किया जाएगा।

एलोर्डा कप 2024 में निखत जरीन ने गोल्ड जीता

18 मई को भारतीय मुक्केबाज निखत जरीन ने एलोर्डा कप 2024 में गोल्ड मेडल जीत लिया है। निखत ने मुक्केबाजी स्पर्धा में महिलाओं के 52 किलोग्राम में हिस्सा लिया था। निखत ने कजाकिस्तान की जजीरा उराकबायेवा को 5-0 से हराया। 27 वर्षीय निखत ने बैंकॉक में थाइलैंड ओपन इंटरनेशनल बॉक्सिंग टूर्नामेंट में सिल्वर मेडल जीता था। 2011 में निखत ने एआईबीए युवा और जूनियर वर्ल्ड चैंपियनशिप में भारत के लिए गोल्ड हासिल किया था। एलोर्डा कप 2024 में भारत के चार मुक्केबाजों ने प्रतियोगिता में ब्रॉन्ज मेडल जीते। इनमें याइफाबा सिंह सोइभम, अभिषेक यादव, विशाल और गौरव चौहान शामिल हैं।

ब्राजील करेगा फीफा वुमेंस वर्ल्ड कप 2027 की मेजबानी

17 मई को थाईलैंड में फेडरेशन इंटरनेशनेल डी फुटबॉल एसोसिएशन (FIFA) की 74वीं कांग्रेस मीटिंग का आयोजन हुआ। इसमें 2027 में होने वाले 10वें फीफा वुमेंस फुटबॉल वर्ल्ड कप के मेजबान देश ब्राजील के नाम का ऐलान किया। इसके साथ ही ये साउथ अमेरिका में आयोजित होने वाला पहला वुमेंस फुटबॉल वर्ल्ड कप होगा। ब्राजील ने नीदरलैंड्स, बेल्जियम और जर्मनी से मेजबानी की बोली जीती। अप्रैल 2024 में अमेरिका और मैक्सिको ने वुमेंस वर्ल्ड कप की मेजबानी की रेस से खुद को बाहर कर लिया था। ब्राजील ने इससे पहले 1950 और 2014 में मेंस फुटबॉल वर्ल्ड कप की मेजबानी की थी। फीफा वुमेंस फुटबॉल वर्ल्ड कप के अब तक 1991 से लेकर 9 संस्करण खेले जा चुके हैं। ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड ने फीफा वुमेंस फुटबॉल वर्ल्ड कप 2023 की संयुक्त मेजबानी की थी।

समुद्री अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस

पत्तन, पोत परिवहन और जलमार्ग मंत्रालय (एमओपीएसडब्ल्यू) ने महिला नाविकों के महत्वपूर्ण योगदान का सम्मान करते हुए नई दिल्ली में समुद्री महिला अंतर्राष्ट्रीय दिवस मनाया। इस वर्ष का विषय, "सुरक्षित क्षितिज: समुद्री सुरक्षा के भविष्य को आकार देने में महिलाएं" है जो समुद्री क्षेत्र में महिलाओं की सुरक्षा और संरक्षा के महत्व को रेखांकित करता है। समुद्री महिलाओं के लिए आईएमओ अंतर्राष्ट्रीय दिवस हर साल 18 मई को मनाया जाता है।

पद्मश्री लेखिका मालती जोशी का निधन

15 मई को पद्मश्री भारतीय लेखिका मालती जोशी का 90 साल की उम्र में निधन हो गया। वह पिछले कुछ वक्त से आइसोफेगस कैंसर से पीड़ित थीं। मालती जोशी को 2018 में पद्मश्री अवॉर्ड से सम्मानित किया गया था। 1971 में मालती जोशी की पहली कहानी 'धर्मयुग' पब्लिश हुई थी। मालती ने हिंदी और मराठी भाषा को मिलाकर 60 से ज्यादा किताबें लिखीं हैं। मालती जोशी के साहित्य पर देश की कई यूनिवर्सिटीज में शोध किए गए। 'औरत एक रात है', 'समर्पण का सुख', 'पिया पीर ना जानी', 'हादसे और हौंसले' उनकी मशहूर किताबें हैं। मालती की कहानियां मराठी, उर्दू, बांग्ला, तमिल, तेलुगु, पंजाबी, मलयालम, कन्नड़ के साथ अंग्रेजी, रूसी और जापानी भाषाओं में भी पब्लिश हुई।

ICICI बैंक के पूर्व चेयरमैन नारायणन वाघुल का निधन हुआ

18 मई को ICICI बैंक के पूर्व चेयरमैन नारायणन वाघुल का चेन्नई में निधन हो गया है, वे 88 साल के थे। उनके परिवार ने निधन के बारे में जानकारी दी। 39 साल की उम्र में उन्हें सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया का एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर बनाया गया। 1981 में 44 साल की उम्र वे बैंक ऑफ इंडिया के सबसे कम उम्र के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर बने। 1985 में वाघुल ICICI बैंक चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर बने। 2009 में वाघुल को पद्म भूषण पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। वाघुल को इकोनॉमिक टाइम्स लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड से भी सम्मानित किया गया। इसके अलावा वाघुल ने विप्रो, महिंद्रा एंड महिंद्रा, अपोलो हॉस्पिटल्स और मित्तल स्टील सहित कई भारतीय कंपनियों में डॉयरेक्टर के रूप में भी काम किया था।

मंजूश्री खेतान का निधन हुआ

16 मई को केसोराम इंडस्ट्रीज लिमिटेड की चेयरपर्सन मंजूश्री खेतान का कोलकाता में निधन हो गया। 68 वर्षीय मंजूश्री बीते कुछ वक्त से बीमार थीं। मंजूश्री को शिक्षा और समाजसेवा में अहम योगदान के लिए जाना जाता था। मंजूश्री खेतान अक्टूबर 1998 में केसोराम इंडस्ट्रीज के बोर्ड में शामिल हुई थीं। 2013 में उन्हें एग्जीक्यूटिव वाइस चेयरपर्सन बनाया गया था। मंजूश्री अपने पिता और बिजनेसमैन बीके बिड़ला के निधन के बाद केसोराम इंडस्ट्रीज की चेयरपर्सन बनी थीं। समाजसेवा के लिए वह 4 दशक से अशोक हॉल ग्रुप ऑफ स्कूल के साथ काम कर रही थीं। बी.के. बिड़ला का निधन 3 जुलाई 2019 को मुंबई में हुआ था।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2024 RajasthanGyan All Rights Reserved.