Ask Question | login | Register
Notes
Question
Quiz
Tricks
Facts

15 February 2024

श्री मोदी ने अबू धाबी में बोच सनवासी अक्षर पुरूषोतम स्‍वामीनारायण संस्‍था मंदिर का उद्घाटन किया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अबू धाबी में पहले हिंदू मंदिर, बोचसनवासी अक्षर पुरूषोत्तम स्वामीनारायण संस्था मंदिर का उद्घाटन किया। मध्य पूर्व में भारतीय समुदाय के लिए यह एक एतिहासिक क्षण था। उद्घाटन के बाद, प्रधानमंत्री ने संतों के साथ मंदिर में देवताओं की पूजा की। उन्‍होंने पारंपरिक प्रार्थनाओं और अनुष्ठानों में भाग लिया। यह इस क्षेत्र का सबसे बड़ा मंदिर है। यह मंदिर भारत और संयुक्त अरब अमीरात के बीच धार्मिक स्वतंत्रता और गहरे संबंधों के प्रतीक के रूप में खड़ा है। इसे अगले महीने की पहली तारीख को जनता के लिए खोल दिया जाएगा। यह महत्‍वपूर्ण उपलब्धि संयुक्त अरब अमीरात के राष्ट्रपति शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाह्यान के उदार भूमि दान और भारतीय तथा संयुक्त अरब अमीरात के अधिकारियों के संयुक्त प्रयासों के बिना संभव नहीं होती। 27 एकड़ में फैला, 108 फुट ऊंचा और गुलाबी बलुआ पत्थर से बना यह भव्‍य मंदिर समावेशन की भावना का प्रतीक है। मंदिर की ओर जाने वाला मार्ग चेक गणराज्य से आयातित पेड़ों से सजाया गया है। इस पथ के साथ, तीन जल निकायों को सावधानीपूर्वक तैयार किया गया है, जो प्रतीकात्मक रूप से प्राचीन भारत की पवित्र नदियों - गंगा, यमुना और सरस्वती का प्रतिनिधित्व करते हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और दुबई के प्रधानमंत्री दुबई में जेबेल अली मुक्त व्यापार क्षेत्र में भारत मार्ट की आधारशिला रखी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और दुबई के प्रधानमंत्री शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम ने दुबई में जेबेल अली मुक्त व्यापार क्षेत्र में भारत मार्ट की आधारशिला रखी। 'भारत मार्ट', भारतीय व्यवसायों के लिए एक हाइब्रिड बाज़ार है। कार्यक्रम के दौरान, दोनों नेताओं ने भारत और संयुक्‍त अरब अमीरात के बीच द्विपक्षीय व्यापार को प्रोत्‍साहन देने के लिए 'भारत मार्ट' की क्षमता पर बल दिया। भारत मार्ट का लक्ष्य भारत के सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों को खाड़ी, पश्चिम एशिया, अफ्रीका और यूरेशिया में अंतरराष्ट्रीय बाजारों तक अपनी पहुंच बढाने के लिए एक मंच प्रदान करना है। प्रधानमंत्री मोदी ने दुबई में शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम के साथ द्विपक्षीय बैठक भी की। इसमें व्यापार, निवेश, प्रौद्योगिकी, अंतरिक्ष, शिक्षा और सांस्कृतिक क्षेत्र में सहयोग बढाने पर चर्चा की गई। प्रधानमंत्री मोदी ने शेख मोहम्मद को भारत आने का निमंत्रण भी दिया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुबई में 'वर्ल्‍ड गर्वनमेंटस शिखर सम्मेलन को संबोधित किया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुबई में 'वर्ल्‍ड गर्वनमेंटस शिखर सम्मेलन को संबोधित किया। उन्‍होंने आधुनिक दुनिया में पिछली शताब्दी की चुनौतियों की दृढता को स्‍वीकार करते हुए स्वास्थ्य सुरक्षा, भोजन तथा पानी की कमी, ऊर्जा सुलभता, शिक्षा और समावेशी समाज बनाने जैसे महत्वपूर्ण मुद्दों पर प्रकाश डाला। प्रधानमंत्री मोदी ने भारत के उत्थान, जन भागीदारी, सामाजिक समावेशन और सतत विकास का उल्‍लेख किया। उन्होंने कहा कि आज सरकारों को नागरिक कल्याण सुनिश्चित करने के लिए एकसमान संघर्ष का सामना करना पड़ता है। उन्होंने सहयोग की आवश्यकता पर बल देते हुए कहा कि प्रत्येक सरकार अपने नागरिकों के कल्याण के लिए प्रतिबद्ध है, लेकिन चुनौतियों के पैमाने और जटिलता को देखते हुए सहयोग की आवश्यकता है। प्रौद्योगिकी की विघटनकारी प्रकृति को स्वीकार करते हुए उन्होंने कहा कि प्रौद्योगिकी विघटनकारी है, चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक। उन्होंने प्रौद्योगिकी के जोखिमों को कम करते हुए इसकी क्षमता का दोहन करने की आवश्यकता पर बल दिया।

एआई को बढ़ावा देने के लिए यूएई ने फॉल्कन फाउंडेशन की शुरुआत की

मुक्त स्रोत कृत्रिम बुद्धिमत्ता को बढ़ावा देने के लिए संयुक्त अरब अमीरात ने फॉल्कन फाउंडेशन की शुरुआत की है। यह एक गैर-लाभकारी संगठन है, जो जेनेरेटिव एआई मॉडल को बढ़ावा देने के लिए समर्पित है। अबूधाबी की उन्नत प्रौद्योगिकी अनुसंधान परिषद के नेतृत्व में तीस करोड़ डॉलर की इस पहल का उद्देश्य कृत्रिम बुद्धिमत्ता के विकास को लोकतांत्रिक बनाना और तकनीकी विकास में तेज़ी लाना है। फॉल्कन फाउंडेशन, टीआईआई के घरेलू कृत्रिम बुद्धिमत्ता मॉडल को बढ़ावा देगा, हितधारकों, शिक्षाविदों, उद्योगपतियों, के योगदान और उनका लाभ सुनिश्चित कराने के लिए एक खुले तंत्र का निर्माण करेगा। फॉल्कन फाउंडेशन का शुभारंभ, विश्व सरकार शिखर सम्मेलन, 2024 में हुआ। यह पारदर्शी शासन मॉडल को स्थापित करने और ज्ञान के आदान-प्रदान को प्रोत्साहित करने के लिए हितधारकों के सहयोग में एक महत्वपूर्ण कदम है, क्योंकि कृत्रिम बुद्धिमत्ता का लगातार विकास हो रहा है।

रक्षा मंत्रालय ने भारतीय नौसेना के लिए 11 शक्ति इलेक्ट्रॉनिक वारफेयर सिस्टम्स को खरीदने के उद्देश्य से भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड के साथ 2269.54 करोड़ रुपये का अनुबंध किया

रक्षा मंत्रालय ने 13 फरवरी 2024 को नई दिल्ली में हैदराबाद की भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड (बीईएल) के साथ खरीद (भारतीय-आईडीडीएम) श्रेणी के अंतर्गत एक अनुबंध पर हस्ताक्षर किए हैं। इस सौदे के तहत भारतीय नौसेना के लिए संबंधित उपकरण/सामान के साथ 11 शक्ति इलेक्ट्रॉनिक वारफेयर सिस्टम्स की खरीद की जा रही है। इस अनुबंध की कुल लागत 2269.54 करोड़ रुपये है। आधुनिक युग में इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से युद्धक्षेत्र में राष्ट्र सुरक्षा हेतु उपयोग होनी वाली शक्ति युद्धक प्रणाली को स्वदेशी रूप से तैयार, विकसित और निर्मित किया गया है। शक्ति इलेक्ट्रॉनिक युद्धक प्रणाली इलेक्ट्रॉनिक उत्सर्जन को सटीकता के साथ रोकने और घने विद्युत चुम्बकीय वातावरण में इसके प्रतिकूल गतिविधियों को संचालित करने में सक्षम है। शक्ति इलेक्ट्रॉनिक युद्धक प्रणाली को भारतीय नौसेना के युद्धपोतों पर तैनात किया जाएगा।

ओडिशा सरकार की स्वयं (SWAYAM) और खुशी (KHUSI) योजना

राज्य में सार्वजनिक वितरण प्रणाली (PDS) के अंतर्गत आने वाले परिवारों के लिये ओडिशा सरकार ने हाल ही में आजीविका हेतु 1,000 रुपए की एकमुश्त नकद सहायता की घोषणा की है। राज्य सरकार ने 18-35 वर्ष (विशेष श्रेणी के लिये 18-40) आयु वर्ग के ग्रामीण बेरोज़गार युवाओं को नए व्यावसायिक उद्यम शुरू करने के लिये 1 लाख रुपए का ब्याज मुक्त बैंक ऋण प्रदान करने के लिये 'स्वयं' नामक एक नई योजना शुरू की है। राष्ट्रीय स्तर पर गैर-कॉर्पोरेट, गैर-कृषि लघु/सूक्ष्म उद्यमों को 10 लाख रुपए तक का ऋण प्रदान करने के लिये अप्रैल, 2015 में प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY) शुरू की गई थी। राज्य सरकार ने सरकारी स्वास्थ्य केंद्रों में संस्थागत प्रसव और गर्भ के चिकित्‍सकीय समापन के लिये बेल्टेड सैनिटरी नैपकिन वितरित करने हेतु मौजूदा खुशी योजना का विस्तार करते हुए इसे अब खुशी + का नाम दिया है। इसका उद्देश्य राज्य में मासिक धर्म स्वच्छता जागरूकता में सुधार लाना तथा मातृ मृत्यु दर एवं रुग्णता दर को कम करना है। राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण 5 के अनुसार ओडिशा में स्वच्छ मासिक धर्म सुरक्षा का प्रयोग करने वाली महिलाओं की दर उच्च, राष्ट्रीय औसत से अधिक 81.5% है।

नीति आयोग ने कृषि वानिकी पोर्टल और रिपोर्ट लॉन्च की

नीति आयोग ने हाल ही में ‘एग्रोफोरेस्ट्री के साथ बंजर भूमि की हरियाली और बहाली’ (GROW) रिपोर्ट और पोर्टल लॉन्च किया है। नीति आयोग की ग्रो पहल भारत के सभी जिलों में कृषि वानिकी उपयुक्तता का आकलन करने के लिए रिमोट सेंसिंग और GIS का उपयोग करती है। इसका लक्ष्य 2030 तक 26 मिलियन हेक्टेयर ख़राब भूमि को बहाल करना और अतिरिक्त कार्बन सिंक बनाना है। कृषि वानिकी एक भूमि उपयोग प्रणाली है जो उत्पादकता, लाभप्रदता, विविधता और पारिस्थितिकी तंत्र स्थिरता को बढ़ाने के लिए कृषि भूमि पर पेड़ों और झाड़ियों को एकीकृत करती है। इसका अभ्यास सिंचित और वर्षा आधारित दोनों स्थितियों में किया जाता है, जिसमें भोजन, ईंधन, लकड़ी आदि का उत्पादन किया जाता है। कृषि वानिकी में कार्बन भंडारण, जैव विविधता संरक्षण और मिट्टी और जल संरक्षण के माध्यम से आर्थिक, सामाजिक-सांस्कृतिक और पर्यावरणीय लाभ प्रदान करने की क्षमता है।

नई दिल्‍ली में परषोत्‍तम रूपाला ने पशु-पालन बुनियादी ढांचा विकास कोष के नए पोर्टल का शुभारंभ किया

केंद्रीय मत्‍स्‍य, पशुपालन और दुग्‍ध विकास मंत्री परषोत्‍तम रूपाला ने नई दिल्‍ली में पशु-पालन बुनियादी ढांचा विकास कोष के नए पोर्टल का शुभारंभ किया। उन्‍होंने इसका रेडियो जिंगल भी जारी किया। यह कोष पशुपालन क्षेत्र के सूक्ष्‍म लघु और मध्‍यम उद्यमों की सहायता के लिए ऋण गारंटी योजना है, जिसमें कोलेटरल की आवश्यकता नहीं है। श्री रुपाला ने कहा कि सरकार ने 2025-26 तक के लिए 30 हजार करोड़ रुपए के परिव्‍यय से यह कोष जारी रखने की मंजूरी दी है।

इंडोनेशिया में एक दिन के विश्‍व के सबसे बडे चुनाव के लिए मतदान हुआ

इंडोनेशिया में एक दिन के विश्‍व के सबसे बडे चुनाव के लिए मतदान हुआ। राष्‍ट्रपति, उप-राष्‍ट्रपति और संसद के चुनाव के लिए वोट डाले गए हैं। इस बीच अनाधिकृत आंकडों के अनुसार रक्षा मंत्री प्रबोवो सुबियांतो के राष्‍ट्रपति चुने जाने की संभावना है।

उत्तर पूर्वी क्षेत्र विकास मंत्रालय, उत्तर पूर्व परिषद और आईआईएम शिलांग ने डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम नीतिगत अनुसंधान एवं विश्‍लेषण केंद्र के निरंतर संचालन के लिए एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए

एनईसी सचिवालय, शिलांग में डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम नीतिगत अनुसंधान एवं विश्‍लेषण केंद्र के संचालन को जारी रखने और भारतीय प्रबंधन संस्‍थान, शिलांग के साथ गहराई से जुड़ने के लिए एनईसी शिलांग, आईआईएम शिलांग और एमडीओएनईआर के बीच एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए। डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम नीतिगत अनुसंधान एवं विश्लेषण केंद्र आईआईएम, शिलांग, उत्तर पूर्व क्षेत्र विकास मंत्रालय (एमडीओएनईआर) और उत्तर पूर्व परिषद के बीच 15 अक्टूबर, 2016 को हुए एक त्रि-पक्षीय समझौते द्वारा बनाया गया था। इसका उद्देश्य उत्तर पूर्व भारत के राज्यों और कार्यान्वयन एजेंसियों को परियोजनाओं की उचित योजना बनाने और उन्हें क्रियान्वित करने, नवाचारों को बढ़ावा देने और उत्‍तर पूर्व क्षेत्र में सर्वोत्तम प्रथाओं के भंडार के रूप में कार्य करने में सहायता करने के लिए एक अत्याधुनिक केंद्र के रूप में उभरना था।

दूरसंचार इंजीनियरिंग केंद्र और अमृता विश्वविद्यालय ने विश्वसनीय और जिम्मेदार कृत्रिम बुद्धिमत्ता प्रणालियों के क्षेत्र में सहयोग के लिए समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए

विश्वसनीय और जिम्मेदार कृत्रिम बुद्धिमत्ता प्रणाली के क्षेत्र में नवाचार को आगे बढ़ाने के लिए भारत सरकार के संचार मंत्रालय, दूरसंचार विभाग (डीओटी) की तकनीकी शाखा दूरसंचार इंजीनियरिंग केंद्र (टीईसी) और अमृता विश्वविद्यालय के बीच एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए गए। रिस्पॉन्सिबल एआई में अग्रणी विकास के लिए इनकी प्रतिबद्धता को दर्शाते हुए यह सहयोग विशेष रूप से भारत सरकार के उद्देश्यों के अनुरूप निष्पक्षता मूल्यांकन को बढ़ावा देने पर केंद्रित है। साथ ही एआई सिस्टम में पूर्वाग्रह या पक्षपात पर ध्यान देने और इन प्रौद्योगिकियों में जनता के विश्वास को बढ़ावा देने पर आधारित है।

राष्ट्रपति ने बेणेश्वर धाम में विभिन्न स्वयं सहायता समूहों से जुड़ी आदिवासी महिलाओं को संबोधित किया

राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मु ने बेणेश्वर धाम, राजस्थान में विभिन्न स्वयं सहायता समूहों से जुड़ी आदिवासी महिलाओं की एक सभा को संबोधित किया। इस अवसर पर बोलते हुए राष्ट्रपति ने कहा कि भारत ने आत्मनिर्भर बनने का संकल्प लिया है। भारत तभी आत्मनिर्भर हो सकता है, जब भारत का हर नागरिक आत्मनिर्भर बनेगा। बेणेश्वर धाम राजस्थान के आदिवासी बहुल जिले डूंगरपुर के मुख्यालय से लगभग 60 किमी दूर साबला तहसील में एक पवित्र तीर्थ स्थल है। इसे आदिवासियों का हरिद्वार, बगड़ का पुष्कर और बगड़ का कुम्भ भी कहा जाता है।

केंद्रीय मंत्री श्री गिरिराज सिंह ने बिहार के बेगूसराय जिले की ग्राम पंचायतों में पीएम-वाणी सेवा का विस्तार करने के लिए पायलट प्रोजेक्ट 'स्मार्ट ग्राम पंचायत: ग्राम पंचायत के डिजिटलीकरण की दिशा में क्रांति' लॉन्च किया

केंद्रीय ग्रामीण विकास और पंचायती राज मंत्री श्री गिरिराज सिंह ने बेगूसराय जिले के बरौनी ब्लॉक के पपरौर ग्राम पंचायत में एक ऐतिहासिक पहल 'स्मार्ट ग्राम पंचायत: ग्राम पंचायत के डिजिटलीकरण की दिशा में क्रांति' का उद्घाटन किया। यह पहल ग्रामीण भारत में डिजिटल सशक्तिकरण की दिशा में एक महत्वपूर्ण छलांग का संकेत देती है। 'स्मार्ट ग्राम पंचायत: ग्राम पंचायत के डिजिटलीकरण की दिशा में क्रांति' नामक यह पायलट प्रोजेक्ट बिहार के बेगूसराय जिले की सभी ग्राम पंचायतों में पीएम-वाणी (प्रधानमंत्री की वाई-फाई एक्सेस नेटवर्क इंटरफेस) सेवा का विस्तार करने के उद्देश्य से लॉन्च किया गया। बेगूसराय अब पीएम-वाणी योजना के तहत सभी ग्राम पंचायतों को वाई-फाई सेवाओं से लैस करने वाला बिहार का पहला जिला बन गया है।

मैया-सुल्तानगंज बंदरगाह का परीक्षण आयोजित किया गया

भारत में मैया बंदरगाह को बांग्लादेश में सुल्तानगंज बंदरगाह से जोड़ने वाले मैया-अरिचा मार्ग पर पत्थर के एग्रीगेट ले जाने वाले जहाजों की पहली परीक्षण आवाजाही को हाल ही में हरी झंडी दिखाई गई। पत्थर के एग्रीगेट ले जाने वाले बांग्लादेश के झंडे वाले जहाज एमवी देश बांग्ला को बंदरगाह, जहाजरानी और जलमार्ग राज्य मंत्री श्री शांतनु ठाकुर ने पश्चिम बंगाल के मैया अंतर्देशीय सीमा शुल्क बंदरगाह से हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। यह भारत की एक्ट ईस्ट नीति के अनुरूप भारत और बांग्लादेश के बीच द्विपक्षीय सहयोग का एक नया अध्याय है।

केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने बुडापेस्ट को शतरंज ओलंपियाड मशाल सौंपी

केंद्रीय युवा कार्यक्रम और खेल मंत्री श्री अनुराग सिंह ठाकुर ने शतरंज ओलंपियाड के 45वें संस्करण के आधिकारिक मेजबान बुडापेस्ट, हंगरी को नई दिल्ली में शतरंज ओलंपियाड मशाल सौंपी। हैंडऑफ की रस्‍म मेजर ध्यानचंद नेशनल स्टेडियम में संपन्‍न हुई, जहां श्री ठाकुर ने एफआईडीई के अध्‍यक्ष और बुडापेस्ट को ओलंपियाड मशाल सौंपने से पहले भारतीय ग्रैंड मास्टर विश्वनाथन आनंद के साथ एफआईडीई अध्यक्ष, अरकडी ड्वोर्कोविच और हंगेरियन ग्रैंड मास्टर जुडिट पोल्गर के साथ शतरंज की एक दोस्ताना बाजी भी खेली। शतरंज ओलंपियाड का 44वां संस्करण 2022 में चेन्नई में आयोजित किया गया था। उस समय इस वैश्विक आयोजन में 2500 से अधिक खिलाड़ियों और 7000 से अधिक ने भाग लिया था। एफआईडीई शतरंज ओलंपियाड का अगला संस्करण अब इस साल हंगरी के बुडापेस्ट में होगा, जिसकी आधिकारिक घोषणा इस साल की शुरुआत में की गई थी। दिल्ली के इंदिरा गांधी स्टेडियम में 19 जून, 2022 को प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी द्वारा एक समारोह में प्रथम शतरंज ओलंपियाड मशाल रिले की शुरुआत की गई।

सरोजिनी नायडू की 145वीं जयंती

13 फरवरी, 2024 को सरोजिनी नायडू की 145वीं जयंती है, जो भारत के स्वतंत्रता संग्राम की एक प्रतिष्ठित शख्सियत और “भारत की कोकिला” के नाम से मशहूर कवयित्री थीं। सरोजिनी नायडू का जन्म 13 फरवरी 1879 को हैदराबाद में एक बंगाली परिवार में हुआ था। उनके पिता, अघोरेनाथ चट्टोपाध्याय, एक प्रतिष्ठित विद्वान और निज़ाम कॉलेज के प्रिंसिपल थे। नायडू की साहित्यिक प्रतिभा के कारण उन्हें “भारत की कोकिला” की उपाधि मिली। उनकी कविता, ज्वलंत कल्पना और गीतात्मक गुणवत्ता की विशेषता, भारतीय राष्ट्रवादी भावना के साथ गहराई से गूंजती थी। 1912 में प्रकाशित, “इन द बाज़ार्स ऑफ़ हैदराबाद” उनकी सबसे प्रसिद्ध कृतियों में से एक है।इसके साथ ही, नायडू भारत की स्वतंत्रता और महिलाओं के अधिकारों की वकालत करने वाली एक प्रमुख राजनीतिक आवाज बनकर उभरीं। महात्मा गांधी के अहिंसक प्रतिरोध के दर्शन से प्रेरित होकर, वह भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की कट्टर समर्थक बन गईं।

जन्मजात हृदय दोष जागरूकता दिवस 2024

जन्मजात हृदय दोष जागरूकता दिवस प्रतिवर्ष 14 फरवरी को मनाय जाता है। इस दिन कई लोग प्यार और स्नेह का जश्न मनाते हैं, चिकित्सा और स्वास्थ्य वकालत समुदाय एक महत्वपूर्ण दिन मनाने के लिए एकजुट होते हैं। यह दिन जन्मजात हृदय दोष (सीएचडी) के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए समर्पित है, जो दुनिया भर में शिशुओं को प्रभावित करने वाला सबसे आम प्रकार का जन्म दोष है।

भारत के सबसे उम्रदराज टेस्‍ट‍ क्रिकेटर 95 वर्षीय दत्‍ताजीराव गायकवाड़ का निधन

भारतीय टीम के पूर्व टेस्‍ट कप्‍तान दत्‍ताजीराव गायकवाड़ (Dattajirao Gaekwad), जिन्‍होंने देश में सबसे उम्रदराज जीवित टेस्‍ट क्रिकेटर का रिकॉर्ड अपने नाम कर रखा था, उनका हाल ही में निधन हो गया। दत्‍ताजीराव गायकवाड़ की उम्र 95 साल थी। गायकवाड़ का उम्र संबंधी बीमारियों के कारण निधन हो गया। बीसीसीआई (BCCI) ने गायकवाड़ को श्रद्धांजलि दी है। दत्‍ताजीराव गायकवाड़ ने भारत के लिए 9 साल के टेस्‍ट करियर में 11 मैच खेले, जिसमें चार में कप्‍तानी की। 1952 में इंग्‍लैंड के खिलाफ डेब्‍यू करने वाले दत्‍ताजीराव गायकवाड़ ने 2016 में दीपक शोधन की मृत्‍यु के बाद भारत के सबसे उम्रदराज जीवित टेस्‍ट क्रिकेटर का तमगा पाया था। दीपक शोहधन का 87 की उम्र में निधन हुआ था।

Start Quiz! PRINT PDF

« Previous Next Affairs »

Notes

Notes on many subjects with example and facts.

Notes

QUESTION

Find Question on this Topic and many other subjects

Learn More

Test Series

Here You can find previous year question paper and mock test for practice.

Test Series

Download

Here you can download Current Affairs Question PDF.

Download

Join

Join a family of Rajasthangyan on


Contact Us Contribute About Write Us Privacy Policy About Copyright

© 2024 RajasthanGyan All Rights Reserved.